Generic selectors
Exact matches only
Search in title
Search in content
Search in posts
Search in pages

Vidyadhar Garden Jaipur In Hindi, मुगल और राजपूत वास्तुकला का एक अनूठा मिश्रण प्रदर्शित करते हुआ विद्याधर बाग़ जयपुर शहर के प्रमुख आकर्षणों में से एक है। यह उद्यान 1988 में जयपुर के मुख्य वास्तुकार विद्याधर भट्टाचार्य की स्मृति में बनाया गया था। विद्याधर गार्डन के विशाल मैदान में फैले हई नियमित झीलों, फव्वारों और फूलों के बिस्तरों के अलावा, विस्तृत मंडप पर्यटकों के लिए आकर्षण बने हुए हैं।

जहाँ गार्डन में हरियाली और वास्तुकला के अलावा भगवान कृष्ण के भित्ति चित्रों को भी देखा जा सकता है। पिंक सिटी के केंद्र में स्थित, विद्याधर गार्डन सोने के एम्बर जेसे सूर्यास्त को देखने के लिए आदर्श स्थान है, जो शाम को यहाँ के हरे-भरे शांत आवरण में चमकता हुआ प्रतीत होता है। और जो अपने शांत बातावरण और सुन्दरता के कारण पर्यटकों के घूमने के लिए जयपुर की सबसे अच्छी जगहों में से एक है।

1. विद्याधर बाग़ की वास्तुकला – Vidyadhar Bhag Jaipur Architecture In Hindi

Vidyadhar Bhag Jaipur Architecture In Hindi

Image Credit: Sam Maywood

प्राचीन शिल्प शास्त्र के आधार पर निर्मित विद्याधर बाग़ मुगल और राजपूत वास्तुकला का एक अनूठा मिश्रण है। जिसमे नियमित झीलों, फव्वारों और फूलों के बिस्तरों के अलावा, उद्यान में विस्तृत मंडप, और आंगन गैलरी भी हैं। जहाँ दीवारों और स्तंभों को भगवान कृष्ण के जीवन और समय का चित्रण सुंदर रूपांकन डिजाइनों के साथ की गई है। इसके अलावा गार्डन को बेहतर बनाने के लिए जटिल दर्पण की नक्काशी भी गई है।

और पढ़े: कोटा में घूमने लायक दर्शनीय स्थल की सम्पूर्ण जानकारी

2. विद्याधर गार्डन जयपुर खुलने और बंद होने का समय – Vidyadhar Garden Jaipur Timings In Hindi

विद्याधर गार्डन जयपुर खुलने और बंद होने का समय

Image Credit: Priyanshi Verma

आपको बता दे की विद्याधर गार्डन पर्यटकों के लिए प्रतिदिन सुबह 8.00 बजे से 5.30 बजे तक खुला रहता है। विद्याधर गार्डन की पूर्ण यात्रा के लिए  2 से 3 घंटे का पर्याप्त समय निकालकर यात्रा करे ।

3. विद्याधर बाग़ जयपुर की एंट्री फीस – Vidyadhar Garden Ticket Price In Hindi

यदि आप जयपुर में विद्याधर बाग़ घूमने का प्लान बना रहे है तो हम आपको सूचित कर दे की विद्याधर बाग़ में घूमने के लिए पर्यटकों को किसी भी प्रकार की एंट्री फ़ीस नही देनी होती है।

4. विद्याधर गार्डन जयपुर घूमने जाने का सबसे अच्छा समय – Best Time To Visit The Vidyadhar Garden Jaipur In Hindi

विद्याधर गार्डन जयपुर घूमने जाने का सबसे अच्छा समय

Image Credit: Libin Lal Mohamed

अगर आप जयपुर में विद्याधर गार्डन घूमने जाने का प्लान बना रहे है तो आपको बता दे की विद्याधर गार्डन जयपुर घूमने के लिए अक्टूबर से मार्च का समय सबसे बेहतर समय माना जाता है। विद्याधर गार्डन जाने के लिए सर्दियाँ का समय आदर्श समय है क्योंकि इस दौरान मौसम बहुत सुहावना होता है।

और पढ़े: पिंक सिटी जयपुर में घूमने की 10 खास जगह

5. विद्याधर गार्डन जयपुर के आसपास के प्रमुख आकर्षण स्थल – Best Tourist Attractions Near Vidyadhar Garden Jaipur In Hindi

यदि आप जयपुर में विद्याधर बाग़ घूमने का प्लान बना रहे है तो हम आपको बता दे की जयपुर में विद्याधर गार्डन के अलावा भी अन्य आकर्षक पर्यटक स्थल है जिन्हें आप अपनी जयपुर की यात्रा के दोरान भूलना नही चाहेंगे –

जयपुर के प्रसिद्ध धार्मिक स्थल और प्रमुख मंदिर –

  • अक्षरधाम मंदिर
  • बिरला मंदिर
  • गलताजी मंदिर
  • मोती डूंगरी गणेश मंदिर
  • जगत शिरोमणि मंदिर
  • गोविंद देव जी मंदिर

जयपुर में घूमने के लिए अच्छी जगह –

  • चोखी ढाणी
  • राज मंदिर सिनेमा
  • समोदे पैलेस
  • अमर जवान ज्योति
  • सांभर झील

जयपुर के दर्शनीय स्थल –

  • अल्बर्ट हॉल संग्रहालय
  • रामबाग पैलेस
  • अनोखी म्‍यूजियम ऑफ हैंड प्रिंटिग
  • म्यूज़ियम ऑफ लेगासीज
  • वैक्‍स म्‍यूज‍ियम
  • आम्रपाली संग्रहालय
  • नाहरगढ़ बायोलॉजिकल पार्क
  • जेम एंड ज्वैलरी संग्रहालय
  • सनराइज ड्रीम वर्ल्ड

जयपुर में देखने लायक जगह –

  • चांद बावड़ी
  • मसाला चौक
  • वृंदावन गार्डन
  • स्टेच्यू सर्कल जयपुर
  • सेंट्रल पार्क जयपुर
  • चांद पोल
  • विद्याधर गार्डन
  • माधवेंद्र पैलेस स्कल्पचर पार्क
  • ईसरलाट / सरगासूली टॉवर
  • ज़ूलॉजिकल गार्डन जयपुर
  • कनक वृंदावन गार्डन
  • जवाहर कला केन्द्र

जयपुर के फेमस फेस्टिवल और उत्सव –

  • एलीफेंट फेस्टिवल
  • पतंग महौत्सव
  • साहित्य उत्सव
  • जयपुर के प्रसिद्ध पर्यटन स्थल –
  • हवा महल
  • आमेर का किला
  • सिटी पैलेस
  • नाहरगढ़ किला
  • जंतर मंतर
  • जयगढ़ किला
  • रामबाग पैलेस
  • महारानी की छतरी

6. जयपुर में खाने के लिए प्रसिद्ध भोजन – Jaipur Famous Food In Hindi

जयपुर में खाने के लिए प्रसिद्ध भोजन
जयपुर खाने के शौकीन लोगों के लिए बेहद लोकप्रिय स्थलों में से एक है। यहां के कई पारंपरिक व्यंजन और मिठाईयां पूरे भारत में मशहूर हैं। दाल बाटी चूरमा, इमरती और घेवर जैसी मिठाइयों और निश्चित रूप से प्रसिद्ध चाट जैसे भव्य व्यंजनों का स्वाद लिए बिना जयपुर की यात्रा अधूरी है। राजस्थानी व्यंजन राजस्थान की सुंदरता, गरिमा और समृद्धि का प्रतीक है। कुछ व्यंजनों का स्वाद आप जयपुर में ही ले सकते हैं, उनमें दाल बाटी चूरमा, मिस्सी रोटी, बाजरे की रोटी, मिर्ची बड़ा, गट्टे की सब्जी और कढ़ी ,घेवर, इमरती, हलवा, चोइर्मा, गजक, मूंग थाल और बहुत कुछ शामिल हैं। हालांकि जयपुर में लजीज व्यंजनों के लिए कई विकल्प है, फिर भी अगर आप जयपुर की यात्रा पर हैं, तो यहां के स्ट्रीट फूड का स्वाद लेना ना भूलें। यहां के जौहरी बाजार की लेन स्ट्रीट फूड के लिए मशहूर है।

और पढ़े: राजस्थान के इतिहास और संस्कृति के बारे में जानकारी

7. विद्याधर बाग़ जयपुर कैसे पहुंचे – How To Reach Vidyadhar Garden Jaipur In Hindi

अगर आप जयपुर में विद्याधर गार्डन घूमने का प्लान बना रहे है तो आप हवाई, ट्रेन या सड़क मार्ग से यात्रा करके विद्याधर गार्डन पहुंच सकते हैं।

7.1 फ्लाइट से विद्याधर गार्डन जयपुर कैसे पहुंचे – How To Reach Vidyadhar Garden Jaipur By Flight In Hindi

 फ्लाइट से विद्याधर गार्डन जयपुर कैसे पहुंचे

अगर आप अपने परिवार या दोस्तों के साथ फ्लाइट से यात्रा करके विद्याधर गार्डन जयपुर जाने का प्लान बना रहे है तो आपको बता दे की विद्याधर गार्डन का सबसे निकटतम हवाई अड्डा सांगानेर हवाई अड्डा है जो विद्याधर गार्डन से लगभग 13 किलोमीटर की दूरी पर है। तो आप भारत के प्रमुख शहरो से फ्लाइट से यात्रा करके सांगानेर हवाई अड्डा जयपुर पहुंच सकते है और सांगानेर हवाई अड्डा से टैक्सी ,केब या बस से यात्रा करके विद्याधर गार्डन पहुंच सकते हैं।

7.2 ट्रेन से विद्याधर गार्डन जयपुर कैसे पहुंचे – How To Reach Vidyadhar Garden Jaipur By Train In Hindi

ट्रेन से विद्याधर गार्डन जयपुर कैसे पहुंचे

आपको बता दे की विद्याधर गार्डन का सबसे निकटतम रेलवे स्टेशन मेड़ता रोड जंक्सन रेलवे स्टेशन जयपुर है, जो विद्याधर गार्डन से लगभग 10 किलोमीटर की दूरी पर है। तो आप ट्रेन से यात्रा करके मेड़ता रोड जंक्शन रेलवे स्टेशन जयपुर पहुंच सकते है और वहा से टैक्सी या केब से विद्याधर गार्डन पहुंच सकते है।

7.3 सड़क मार्ग से विद्याधर बाग़ जयपुर कैसे जाये – How To Reach Vidyadhar Bhag Jaipur By Road In Hindi

सड़क मार्ग से विद्याधर बाग़ जयपुर कैसे जाये

अगर आप विद्याधर गार्डन जयपुर की सड़क मार्ग से यात्रा करने की योजना बना रहे है तो बता दे कि जयपुर, राष्ट्रीय राजमार्ग 8, 11 और 12 के नेटवर्क के माध्यम से भारत के सभी प्रमुख शहरों से जुड़ा हुआ है। जहा राजस्थान राज्य सड़क परिवहन निगम (आरएसआरटीसी) द्वारा जयपुर और दिल्ली के बीच एक बहुत अच्छी बस सेवा भी उपलब्ध है। तो यहाँ आप बस, केब, टैक्सी या कार से यात्रा करके विद्याधर गार्डन जयपुर पहुंच सकते है।

और पढ़े: राजस्थान के 20 सबसे प्रमुख मंदिर

8. विद्याधर बाग़ जयपुर का नक्शा – Vidyadhar Bhag Jaipur Map

9. विद्याधर गार्डन की फोटो गैलरी – Vidyadhar Garden Images

View this post on Instagram

The Vidyadhar garden is a pristine garden located in the heart of Jaipur. This picturesque garden is aesthetically designed and was built for Jaipur's chief Architect, Vidyadhar Bhattacharya. Apart from the crystal waters, the tranquil lakes, flower beds and well-maintained gardens, the Vidyadhar Garden has a lot to offer. Nestled in the lap of a popular valley in Jaipur, the garden offers a panoramic view of the city and is the pride of Jaipur's heavy heritage and culture. The garden was strategically built to the decrees of the ancient 'Shilpa Shasthra' and is situated close to the Sisodia gardens. The garden is the perfect amalgamation of contemporary Hindu and Mughal styles with its wonderful, sylvan lakes, terraced lawns, fountains and the majestic pavilions. Managed by the Government of Rajasthan, the Vidyadhar Garden is a vast expanse of imperial architecture and dazzling greenery. #VidyadharKaBagh #Tibari #Beautiful #MughalGarden #CharBagh #Gardens #Monsoon #MughalRajput #MughalRajputArchitecture #Architecture #GhatKiGuni #Valley #Jaipur #JaipurDiaries #JaipurJournal #Rajasthan #India #IncredibleIndia #Wanderer #Wanderlust #Travel #Traveller #TravelLog

A post shared by Swapnil Saxena (@swapnil.1690) on

और पढ़े:

Featured Image Credit: Rohan Das

Write A Comment