Generic selectors
Exact matches only
Search in title
Search in content
Search in posts
Search in pages

Rajsamand In Hindi, राजसमंद राजस्थान राज्य में उदयपुर शहर से 67 किमी की दूरी पर स्थित एक छोटा शहर है जिसको अपना नाम दुनिया की सबसे छोटी झील राजसमंद झील से मिला है। कुम्भलगढ़ और हल्दीघाटी के प्रसिद्ध ऐतिहासिक क्षेत्रों के अलावा राजसमंद विभिन्न संप्रदायों के लिए धार्मिक महत्व भी रखता है। राजसमंद, श्रीनाथजी के मंदिर के लिए भी प्रसिद्ध है जो कि वैष्णव समुदाय के प्रमुख देवता थे। इसके अलावा यहां पर द्वारकाधीश मंदिर और भगवान भगवान विष्णु का प्रसिद्ध मंदिर (चारभुजा) भी यहाँ स्थित है।

इन सभी मंदिरों के अलावा आप यहां पर भगवान शिव को समर्पित कर मंदिर भी देख सकते हैं। अपने पर्यटन स्थलों के अलावा राजसमंद अपने संगमरमर शिल्प के लिए सबसे प्रसिद्ध है। बता दें कि यह देश में सबसे बड़ा बड़ा संगमरमर उत्पादन इकाई और जिला है। अगर आप राजसमंद और इसके पर्यटन स्थलों के बारे में अन्य जानकारी चाहते हैं तो इस लेख को जरुर पढ़ें, यहां हम आपको राजसमंद के इतिहास और इसके प्रमुख पर्यटन स्थलों के बारे में बता रहें हैं।

1. राजसमंद का इतिहास – Rajsamand History In Hindi

राजसमंद का इतिहास

राजसमंद का इतिहास वर्ष 1660 से शुरू होता है जब महाराणा राज सिंह ने यहां पर राजसमंद झील का निर्माण किया था और इसका शहर का नाम झील नाम पर रखा था। राजस्थान में स्थित राजसमंद शहर का इतिहास युद्ध, साहस, और वीरता की कहानियों के भरा हुआ है। यह शहर 1991 में अस्तित्व में आया, जब इसे उदयपुर जिले से अलग किया गया था। राजसमंद, उदयपुर के हिस्से के रूप में 1857 में टंट्या टोपे के नेतृत्व में अंग्रेजों के खिलाफ आजादी की लड़ाई का गवाह बना। कुम्भलगढ़ का किला भी यहीं स्थित है जो महाराणा प्रताप का जन्म स्थल है। हल्दीघाटी की लड़ाई भी यहीं लड़ी गई थी और यहां पर महाराणा प्रताप सबसे प्रसिद्ध घोड़ा चेतक भी मारा गया था।

2. राजसमंद में क्या खरीदारी करेगे – Rajasmand Shopping In Hindi

राजसमंद में क्या खरीदारी करेगे

संगमरमर के उत्पादन के लिए सबसे प्रसिद्ध है, यहां पर आप संगमरमर से बने नेमप्लेट्स, फूलदान, स्मारक, मंदिर, पेन स्टैंड, छोटे जानवर, धार्मिक मूर्तियाँ या छोटे आभूषण के बक्से भी खरीद सकते हैं। यहां के मोलेला में टेराकोटा मूर्तियां बनाने की कला काफी प्रसिद्ध है, जिसमें मिट्टी की मूर्तियों सपाट सतह के रूप में बनाया जाता है। भूरे रंग की मिट्टी को सुंदर रंगीन मूर्तियों को सपाट सतह पर बनाया जाता है जो कि पूरे भारत में एकमात्र स्थान है।

3. राजसमंद में घूमने लायक आकर्षण और पर्यटन स्थल – Best Places To Visit In Rajsamand In Hindi

अगर राजस्थान राज्य के राजसमंद शहर की यात्रा करने जा रहें तो आप इसके अलावा यहां स्थित अन्य पर्यटन स्थलों की सैर भी कर सकते हैं, जिनके बारे में हम आपको बताने जा रहें हैं।

4. राजसमंद के धार्मिक स्थल कांकरोली मंदिर – Rajsamand Ke Dharmik Sthal Kankroli Temple In Hindi

राजसमंद के धार्मिक स्थल कांकरोली मंदिर

Image Credit: Bhagyshri Shah

अगर आप राजस्थान के राजसमंद शहर की यात्रा करने जा रहें हैं तो आपको यहां के प्रसिद्ध कांकरोली मंदिर की यात्रा करने के लिए भी जरुर जाना चाहिए। यह मंदिर राजसमंद का एक प्रसिद्ध मंदिर है जो दिखने में बेहद आकर्षक है। कांकरोली मंदिर भगवान कृष्ण को समर्पित एक प्रसिद्ध मंदिर है जिसको द्वारकाधीश मंदिर के रूप में भी जाना जाता है। यह मंदिर हजारों भक्तों को अपनी तरफ आकर्षित करता है, जो यहां इस मंदिर में भगवान कृष्ण का आशीर्वाद लेने के लिए आते हैं। इसके अलावा यहां मंदिर में पत्थर की जटिल नक्काशी इस मंदिर के आकर्षण को बढ़ाती है। यह मंदिर संगमरमर से बना है और यह झील के लिए के लिए एक उत्कृष्ट दृष्टिकोण के रूप में भी कार्य भी करता है।

4.1 राजसमंद के पर्यटन स्थल कुंभलगढ़ किला – Rajsamand Ke Paryatan Sthal Kumbhalgarh Fort In Hindi

राजसमंद के पर्यटन स्थल कुंभलगढ़ किला

कुंभलगढ़ किला राजस्थान का एक प्रमुख पर्यटन स्थल है जो राजसमंद जिले में उदयपुर शहर के उत्तर-पश्चिम में 82 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। कुंभलगढ़ किला राजस्थान राज्य के पांच पहाड़ी किलों में से एक है जिसको साल 2013 में यूनेस्को द्वारा विश्व धरोहर स्थल घोषित किया गया था। अरावली पर्वतमाला की तलहटी पर बना हुआ यह किला पर्वतमाला की तेरह पहाड़ी चोटियों से घिरा हुआ है और 1,914 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है। यह आकर्षक किला एक जंगल के बीच स्थित है जिसको एक वन्यजीव अभयारण्य में बदल दिया है।

और पढ़े: कुंभलगढ़ किले का इतिहास और इसके पास प्रमुख पर्यटन स्थल 

4.2 राजसमंद के दर्शनीय स्थल कुम्भलगढ़ वन्यजीव अभयारण्य – Rajsamand Mein Dekhne Layak Jagah Kumbhalgarh Wildlife Sanctuary In Hindi

राजसमंद के दर्शनीय स्थल कुम्भलगढ़ वन्यजीव अभयारण्य

कुम्भलगढ़ वन्यजीव अभयारण्य राजस्थान राज्य का एक लोकप्रिय पर्यटन स्थल और अभयारण्य है, जो राजसमंद जिले में 578 वर्ग किमी के कुल सतह क्षेत्र को कवर करता है। यह वन्यजीव अभयारण्य अरावली पर्वतमाला के पार उदयपुर, राजसमंद और पाली के कुछ हिस्सों को घेरता है। इस अभयारण्य में कुंभलगढ़ किला भी शामिल है और इसी किले के नाम पर इस क्षेत्र का नाम कुम्भलगढ़ वन्यजीव अभयारण्य पड़ा है। कुम्भलगढ़ का यह पहाड़ी घना जंगल राजस्थान के रेगिस्तानी क्षेत्र से बिलकुल अलग है, जो यहां आने पर्यटकों को एक सुखद एहसास करवाता है।

और पढ़े: कुम्भलगढ़ वन्यजीव अभयारण्य में घूमने की जानकारी 

4.3 राजसमंद के आकर्षण स्थल राजसमंद झील – Rajsamand Ke Aakarshan Sthal Rajsamand Lake In Hindi

राजसमंद के आकर्षण स्थल राजसमंद झील

Image Credit: Ganpatlal Prajapati

राजसमंद झील राजस्थान की प्रसिद्ध झील है जो राजसमंद शहर का प्रमुख आकर्षण है। बता दें कि यह झील उदयपुर से 66 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। राजसमंद झील का निर्माण 17 वीं शताब्दी में महाराणा राज सिंह ने 196 वर्ग मील के कुल जलग्रहण क्षेत्र के साथ गोमती नदी पर बांध बना कर किया था। आपको बता दें कि राजसमंद झील भारत की दूसरी सबसे बड़ी कृत्रिम झील है, जो सूर्यास्त के समय जब सूरज की शीतल रोशनी इस झील पर पड़ती है तो यह बेहद अनोखी और आश्चर्यजनक दिखाई देती है।

और पढ़े: राजसमंद झील घूमने की जानकारी और इसके पर्यटन स्थल

4.4 राजसमंद के घूमने लायक जगह हल्दीघाटी – Rajsamand Me Wali Jagha Haldighati In Hindi

राजसमंद के घूमने लायक जगह हल्दीघाटी

हल्दीघाटी राजसमंद जिले का गौरव है। इस स्थान को महान महाराणा प्रताप के शिष्ट कामों के लिए यह स्थान दुनिया भर में जाना जाता है। हल्दीघाटी उदयपुर से 44 किलोमीटर दूर है। बता दें कि यह स्थान अरावली श्रेणी के बीच में स्थित है। यह संकीर्ण हल्दी रंग का पहाड़ी क्षेत्र जिसने मेवाड़ राजवंश के सम्मान की रक्षा में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाई जिसकों हल्दीघाटी के रूप में जाना जाता है।हल्दीघाटी राजस्थान का एक प्रसिद्ध ऐतिहासिक स्थल है जो महाराणा प्रताप की वीरता के लिए जाना जाता है। 1576 में हल्दीघाटी मेवाड़ के राणा प्रताप सिंह और अंबर के राजा मान सिंह के बीच एक विशाल युद्ध हुआ। महाराणा प्रताप और उनके घोड़े ‘चेतक’ हल्दीघाटी युद्ध के नायक थे। इस खूनी लड़ाई में चेतक के साथ कई लोगों की जान गई थी। अगर राजसमंद की यात्रा करते हैं तो आपको इस ऐतिहासिक स्थल को देखने के लिए जरुर जाना चाहिए।

5. राजसमंद में खाने के लिए स्थानीय भोजन – Restaurants And Local Food In Rajsamand In Hindi

राजसमंद में खाने के लिए स्थानीय भोजन

अपनी जलवायु की वजह से राजस्थान में सब्जियों को ज्यादा इस्तेमाल नहीं किया जाता। यहां की फसल भी बहुत कम पानी में पैदा होती है जिनमें दाल, अनाज के नाम शामिल है, जिनका इस्तेमाल यहां के स्थानीय व्यंजनों में किया जाता है। राजसमंद में शाकाहारी और आम भोजन आसानी से उपलब्ध है। राजस्थान में स्थित होने की यहां का खाना मसालेदार होता है। राजस्थानी लोग हरी और लाल मिर्च से प्यार करते हैं। यहां के प्रसिद्ध भोजन में दाल बाटी, गट्टे (दही और बेसन की करी ), पितोद की सब्जी ( दाल के केक से बनी करी), पापड़ की सब्जी, केरी-सांगरी, बाजरे की रोटी घी (स्पष्ट मक्खन) और गुड़, खीच(अलग-अलग आटे से बनी दलिया जैसी ) जैसे व्यंजन हैं जिनका स्वाद लेने के बाद आप अपनी इस यात्रा को हमेशा याद रखेंगे।

नाथद्वारा-कांकरोली रोड पर गजानन होटल बेहद शानदार भोजन प्रदान करता है। इसके अलावा कुम्भलगढ़ किले के पास कुम्भल पैलेस रेस्तरां सस्ता और घर जैसा खाना प्रदान करता है। किले के पास स्थित गुजरात रेस्तरां, कुछ शानदार मिठाइयों के घरेलू गुजराती और राजस्थानी भोजन परोसता है।

6. राजसमंद घूमने जाने के लिए सबसे अच्छा समय – Best Time To Visit Rajsamand In Hindi

राजसमंद घूमने जाने के लिए सबसे अच्छा समय

Image Credit: Nandu Aadiwasi

राजसमंद घूमने के लिए अक्टूबर से मार्च सबसे अच्छे महीने हैं। भले ही राजसमंद की यात्रा करना साल भर करते हैं, लेकिन गर्मियों में और यहां तक कि मानसून में भी तापमान 42 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच जाता है। सर्दियां अपेक्षाकृत ठंडी होती हैं, जिन दिनों में औसत तापमान 26 डिग्री सेल्सियस रहता है जबकि रातें 9 डिग्री सेल्सियस के हिसाब से ठंडी होती हैं।

और पढ़े: जयपुर शहर के प्रमुख दर्शनीय स्थल 

7. राजसमंद कैसे जाये – How To Reach Rajsamand In Hindi

राजसमंद सड़क मार्ग से शेष भारत से अच्छी तरह जुड़ा हुआ है।राजसमंद के लिए नियमित रूप से बस सेवाएं चलती हैं। राजसमंद के लिए कोई सीधी उड़ान या रेल रूट नहीं है। राजसमंद का निकटतम हवाई अड्डा उदयपुर में महाराणा प्रताप हवाई अड्डा है। इसका निकटतम रेलवे स्टेशन उदयपुर जंक्शन है जो NH से लगभग 68 किमी दूर है।

7.1 फ्लाइट से कैसे पहुंचे राजसमंद – How To Reach Rajsamand By Air In Hindi

फ्लाइट से कैसे पहुंचे राजसमंद

राजसमंद से निकटतमहवाई अड्डा उदयपुर हवाई अड्डा है, जो इस खूबसूरत शहर से 67 किमी दूर है। आपको राजसमंद ले जाने के लिए हवाई अड्डे से टैक्सी और बसें आसानी से मिल जायेंगी।

7.2 राजसमंद सड़क मार्ग से कैसे पहुंचें – How To Reach Rajsamand By Road In Hindi

राजसमंद सड़क मार्ग से कैसे पहुंचें

राजसमंद सड़कों के माध्यम से अन्य शहरों से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है। जयपुर, भीलवाड़ा, अजमेर, बीवर, उदयपुर, कोटा, जोधपुर, अहमदाबाद, इंदौर और नई दिल्ली से बसों से जुड़ा हुआ है। आप सड़क मार्ग द्वारा किसी भी वाहन से आराम से इस शहर तक पहुँच सकते है।

7.3 कैसे पहुंचे राजसमंद ट्रेन से – How To Reach Rajsamand By Train In Hindi

कैसे पहुंचे राजसमंद ट्रेन से

राजसमंद का अपना कोई रेलवे स्टेशन नहीं है। इस शहर का निकटतम प्रमुख रेलवे स्टेशन उदयपुर है जो 59 किमी दूर है। भारत के सभी प्रमुख शहरों से चलने वाली सभी प्रमुख ट्रेनें उदयपुर में रुकती हैं। उदयपुर से राजसमंद जाने के लिए टैक्सी और बसें आसानी से उपलब्ध हैं।

और पढ़े: गुरु शिखर का इतिहास और जानकारी

8. राजसमंद का नक्शा – Rajsamand Map

9. राजसमंद की फोटो गैलरी – Rajsamand Images

View this post on Instagram

???

A post shared by M®.BhågWaN_ MēWaRA (@____mr.bhagwan_mewara) on

और पढ़े:

Write A Comment