Generic selectors
Exact matches only
Search in title
Search in content
Search in posts
Search in pages

Kumbhalgarh Wildlife Sanctuary In Hindi, कुम्भलगढ़ वन्यजीव अभयारण्य राजस्थान राज्य का एक लोकप्रिय पर्यटन स्थल और अभयारण्य है, जो राजसमंद जिले में 578 वर्ग किमी के कुल सतह क्षेत्र को कवर करता है। यह वन्यजीव अभयारण्य अरावली पर्वतमाला के पार उदयपुर, राजसमंद और पाली के कुछ हिस्सों को घेरता है। इस अभयारण्य में कुंभलगढ़ किला भी शामिल है और इसी किले के नाम पर इस क्षेत्र का नाम कुम्भलगढ़ वन्यजीव अभयारण्य पड़ा है। कुम्भलगढ़ का यह पहाड़ी घना जंगल राजस्थान के रेगिस्तानी क्षेत्र से बिलकुल अलग है, जो यहां आने पर्यटकों को एक सुखद एहसास करवाता है।

इस पार्क का हरा भरा हिस्सा राजस्थान के दो अलग-अलग राजस्थान के दो हिस्सों मेवाड़ और मारवाड़ के बीच एक विभाजन रेखा का काम करता है। आपको बता दें कि आज जिस जगह पर यह अभयारण्य स्थित है वो जगह कभी शाही शिकार का मैदान था और 1971 में इसे एक अभयारण्य के रूप में बदल दिया गया था। यहां बहने वाली बनास नदी अभयारण्य की भी शोभा बढ़ाती है और इसके लिए पानी का एक प्राथमिक स्त्रोत भी है। अगर आप कुम्भलगढ़ वन्यजीव अभयारण्य के बारे में और जानना चाहते हैं तो इस लेख को जरुर पढ़ें, इसमें हम कुम्भलगढ़ अभयारण्य के बारे में कई आवश्यक जानकारी देने जा रहे हैं।

कुंभलगढ़ वन्यजीव अभयारण्य में जीव – Animals At Kumbhalgarh Wildlife Sanctuary In Hindi

कुंभलगढ़ अभयारण्य में वनस्पति – Flora Of Kumbhalgarh Wildlife Sanctuary In Hindi

कुंभलगढ़ वाइल्डलाइफ सैंक्चुअरी में जीप सफारी – Jeep Safari At Kumbhalgarh Wildlife Sanctuary In Hindi

कुम्भलगढ़ वन्यजीव अभयारण्य में जीप सफारी की लागत – Kumbhalgarh Wildlife Sanctuary Jeep Safari Cost In Hindi

कुंभलगढ़ वाइल्डलाइफ सैंक्चुअरी एंट्री फी – Kumbhalgarh Wildlife Sanctuary Entry Fee In Hindi

कुम्भलगढ़ वन्यजीव अभयारण्य का समय – Kumbhalgarh Wildlife Sanctuary Timings In Hindi

कुंभलगढ़ वन्यजीव अभयारण्य में ट्रेकिंग – Trekking At Kumbhalgarh Wildlife Sanctuary In Hindi

कुम्भलगढ़ वन्यजीव अभयारण्य का दौरा करने का सबसे अच्छा समय – Best Time To Visit Kumbhalgarh Wildlife Sanctuary In Hindi

कुम्भलगढ़ वन्यजीव अभयारण्य के पास रुकने की जगह – Accommodation Near Kumbhalgarh Wildlife Sanctuary In Hindi

कुंभलगढ़ वन्यजीव अभयारण्य के पास रेस्टोरेंट – Restaurants Near Kumbhalgarh Wildlife Sanctuary In Hindi

कुम्भलगढ़ वन्यजीव अभयारण्य तक कैसे पहुँचे – How To Reach Kumbhalgarh Wildlife Sanctuary In Hindi

  1. हवाई मार्ग से कुम्भलगढ़ वन्यजीव अभयारण्य तक कैसे पहुँचे – How To Reach Kumbhalgarh Wildlife Sanctuary By Airplane In Hindi
  2. सड़क मार्ग से कुम्भलगढ़ वन्यजीव अभयारण्य तक कैसे पहुँचे – How To Reach Kumbhalgarh Wildlife Sanctuary By Road In Hindi
  3. ट्रेन से कुम्भलगढ़ वन्यजीव अभयारण्य तक कैसे पहुँचे – How To Reach Kumbhalgarh Wildlife Sanctuary By Train In Hindi

कुंभलगढ़ वन्यजीव अभयारण्य की लोकेशन का मैप – Kumbhalgarh Wildlife Sanctuary Location

कुंभलगढ़ वन्यजीव अभयारण्य की फोटो गैलरी – Kumbhalgarh Wildlife Sanctuary Images

1. कुंभलगढ़ वन्यजीव अभयारण्य में जीव – Animals At Kumbhalgarh Wildlife Sanctuary In Hindi

कुंभलगढ़ वन्यजीव अभयारण्य में जीव - Animals At Kumbhalgarh Wildlife Sanctuary In Hindi

कुंभलगढ़ वन्यजीव अभयारण्य जानवरों की विभिन्न प्रजातियों का घर है जिसमें वुल्फ, तेंदुए, हरे, जैकाल, नीलगाय, चौसिंगा, चिंकारा और जंगल बिल्ली जैसे जानवर प्राकृतिक निवास पाते हैं। यह राज्य का एक मात्र ऐसा अभयारण्य जहां पर वुल्फ को आप अपने प्राकृतिक आवास में देख सकते हैं। अभयारण्य लगभग 40 तरह के भेड़ियों का घर हैं। गर्मियों के मौसम में आप यहां पर भेड़ियों के झुंड को घूमते हुए आसानी से देख सकते हैं। यहां ठंडी बेरी झील के पास मगरमच्छ और जलपक्षी भी देखे जा सकते हैं। कुम्भलगढ़ वन्यजीव अभयारण्य पक्षियों की भी उत्कृष्ट विविधता पाई जाती है जिनमें उल्लू, बुलबुल, मोर, कबूतर, ग्रे जंगल फाउल, पैराकेट्स, व्हाइट ब्रेस्टेड किंगफिशर और गोल्डन ओरिओल का नाम शामिल है। बता दें कि इन सभी को मिलाकर अभयारण्य में पक्षियों की कुल 200 से भी ज्यादा प्रजातियाँ पाई जाती है जिसकी वजह से यह जगह पक्षी प्रेमियों के लिए स्वर्ग के सामान है।

2. कुंभलगढ़ अभयारण्य में वनस्पति – Flora Of Kumbhalgarh Wildlife Sanctuary In Hindi

कुंभलगढ़ अभयारण्य में वनस्पति - Flora Of Kumbhalgarh Wildlife Sanctuary In Hindi

कुंभलगढ़ अभयारण्य में कई प्रकार के वनस्पतियों का भी आनंद लिया जाता है जिनमें कई पेड़-पौधे और हर्बल गुण वाले औषधीय पौधे भी शामिल हैं। अभयारण्य में मुख्य रूप से ढोक, सालार, खैर जैसे हर्बल वनस्पतियों की विविधता देखी जाती है आप इन पेड़ पौधों के साथ पक्षियों और जानवरों के प्राकृतिक आवास का आनंद लेने के लिए एक कुंभलगढ़ अभयारण्य में सफारी की यात्रा भी कर सकते हैं। हर साल, कुम्भलगढ़ में पेड़ पोधों की प्राकृतिक सुंदरता देखने के लिए कई पर्यटक यहां आते हैं।

और पढ़े: कुंभलगढ़ किले का इतिहास और इसके पास प्रमुख पर्यटन स्थल

3. कुंभलगढ़ वाइल्डलाइफ सैंक्चुअरी में जीप सफारी – Jeep Safari At Kumbhalgarh Wildlife Sanctuary In Hindi

कुंभलगढ़ वाइल्डलाइफ सैंक्चुअरी में जीप सफारी - Jeep Safari At Kumbhalgarh Wildlife Sanctuary In Hindi

Image Credit: Bhaskar

कुम्भलगढ़ वन्यजीव अभयारण्य में कुंभलगढ़ से ठंडी बेरी तक 15 किमी लंबी सफारी मार्ग सबसे ज्यादा लोकप्रिय है। बता दें कि कुंभलगढ़ से ठंडी बेरी जाने और वापस आने में लगभग 3.5 घंटे का समय लगता है। इस अभयारण्य चार पहिया ड्राइव ट्रैक है। कुंभलगढ़ के कई होटल कोटड़ी, घनेराव, नारलाई और रणकपुर के आसपास के क्षेत्र में जीप या घोड़े की सफारी भी करवाते हैं। घोड़े की सफारी में कुंभलगढ़ से घनेराव तक ठंडी बेरी के रास्ते शामिल हैं जिसमें ठंडी बेरी से सुमेर, रणकपुर से ठंडी बेरी; और रूपनमाता से रणकपुर तक सफारी की जा सकती है। अगर आप इन रास्तों पर सफारी के लिए जा रहे हैं तो आप तेंदुए, भालू और सांभर को उनके प्राकृतिक आवास के रूप में देख सकते हैं, इसके साथ ही आप अभयारण्य के अंत में स्थित रणकपुर में जैन मंदिर को देखने के लिए भी जा सकते हैं।

4. कुम्भलगढ़ वन्यजीव अभयारण्य में जीप सफारी की लागत – Kumbhalgarh Wildlife Sanctuary Jeep Safari Cost In Hindi

6 व्यक्तियों के लिए 2500 रूपये प्रति जीप

5. कुंभलगढ़ वाइल्डलाइफ सैंक्चुअरी एंट्री फी – Kumbhalgarh Wildlife Sanctuary Entry Fee In Hindi

कुंभलगढ़ वाइल्डलाइफ सैंक्चुअरी एंट्री फी - Kumbhalgarh Wildlife Sanctuary Entry Fee In Hindi

Image Credit: Pranay Jangid

सोमवार से शुक्रवार एंट्री फी 100 रूपये होती है और शनिवार और रविवार को 75 रूपये होती है।

6. कुम्भलगढ़ वन्यजीव अभयारण्य का समय – Kumbhalgarh Wildlife Sanctuary Timings In Hindi

कुंभलगढ़ वाइल्डलाइफ सैंक्चुअरी सुबह 7:00 बजे से शाम के 06:00 तक खुला रहता है।

और पढ़े: सहेलियों की बाड़ी उदयपुर घूमने की जानकारी

7. कुंभलगढ़ वन्यजीव अभयारण्य में ट्रेकिंग – Trekking At Kumbhalgarh Wildlife Sanctuary In Hindi

कुंभलगढ़ वन्यजीव अभयारण्य में ट्रेकिंग - Trekking At Kumbhalgarh Wildlife Sanctuary In Hindi

कुंभलगढ़ वन्यजीव अभयारण्य का पहाड़ी क्षेत्र ट्रेकिंग अभियानों के लिए आदर्श जगह है। इस अभयारण्य में जैन तीर्थंकरों तक जाने वाला प्राकृतिक रास्ता एक लोकप्रिय ट्रेकिंग मार्ग है जो 3.7 किलोमीटर लंबा है। इसके अलावा अन्य लोकप्रिय ट्रेकिंग मार्गों में कुंभलगढ़ से थंडी बेरी (14 किमी), रणकपुर से रणकपुर (15 किमी), रणकपुर से कुंभलगढ़ (25 किमी), रूपनगर से सुमेर (98 किमी), मालगढ़ से मग्गा (8 किमी),रणकपुर से ठंडी बेरी (15 किमी) और रूपनमाता से रणकपुर (30 किमी) के नाम शामिल है। प्रवेश शुल्क का भुगतान करते समय आपको प्राप्त होने वाला प्रवेश परमिट टिकट ट्रेकिंग करने के लिए एक मात्र अवश्यक दस्तावेज है।

8. कुम्भलगढ़ वन्यजीव अभयारण्य का दौरा करने का सबसे अच्छा समय – Best Time To Visit Kumbhalgarh Wildlife Sanctuary In Hindi

कुम्भलगढ़ वन्यजीव अभयारण्य का दौरा करने का सबसे अच्छा समय - Best Time To Visit Kumbhalgarh Wildlife Sanctuary In Hindi

कुम्भलगढ़ वन्यजीव अभयारण्य घूमने जाने की योजना बना रहे हैं और यहां जाने के सबसे अच्छे समय के बारे में जानना चाहते हैं तो आपको बता दें कि वैसे तो यह अभयारण्य पूरे साल खुला रहता है लेकिन अगर आप यहां के जानवरों को देखना चाहते हैं तो मार्च से लेकर दिसंबर तक के महीनों में यहां की यात्रा करें।

9. कुम्भलगढ़ वन्यजीव अभयारण्य के पास रुकने की जगह – Accommodation Near Kumbhalgarh Wildlife Sanctuary In Hindi

कुम्भलगढ़ वन्यजीव अभयारण्य के पास रुकने की जगह - Accommodation Near Kumbhalgarh Wildlife Sanctuary In Hindi

अभयारण्य की यात्रा करने वाले पर्यटकों के लिए अभयारण्य में और इसके बाहर रहने के विकल्प मौजूद हैं। फॉरेस्ट रेस्ट हाउस थांडी बेरी, रणकपुर, सुमेर, सदरी और रूपनमाता में स्थित है। यहां सभी जगह पर दो से तीन कमरें 200-400 प्रति रात के हिसाब से मिल जाते हैं। रेस्ट हाउस में बुकिंग के लिए आप राजसमंद में सहायक वन संरक्षक, कुंभलगढ़ डब्ल्यूएलएस, डीएफओ वन्यजीव कार्यालय से संपर्क कर सकते हैं।

10. कुंभलगढ़ वन्यजीव अभयारण्य के पास रेस्टोरेंट – Restaurants Near Kumbhalgarh Wildlife Sanctuary In Hindi

कुंभलगढ़ वन्यजीव अभयारण्य के पास रेस्टोरेंट - Restaurants Near Kumbhalgarh Wildlife Sanctuary In Hindi

कुम्भलगढ़ के होटलों में आप कई तरह के स्वादिष्ट राजस्थानी और बहु-व्यंजन थाली का स्वाद ले सकते हैं। इसके साथ ही अभयारण्य में भी भोजन खरीदने की सुविधा मौजूद है।

और पढ़े: फतेह सागर झील का इतिहास और घूमने की जानकारी

11. कुम्भलगढ़ वन्यजीव अभयारण्य तक कैसे पहुँचे – How To Reach Kumbhalgarh Wildlife Sanctuary In Hindi

अभयारण्य कुंभलगढ़ किले से 3 किलोमीटर की दूरी पर, राजसमंद से 48 किलोमीटर, नाथद्वारा से 51 किलोमीटर और उदयपुर शहर से 98 किमी की दूरी पर स्थित है। आपको बता दें कि यहां वन विभाग का कोई वाहन संचालित नहीं है इसलिए पर्यटकों को कुंभलगढ़ या केलवाड़ा से वाहन किराए पर लेना होगा। उदयपुर से अभयारण्य तक बस या निजी टैक्सी की मदद से आसानी से पहुंचा जा सकता है।

11.1 हवाई मार्ग से कुम्भलगढ़ वन्यजीव अभयारण्य तक कैसे पहुँचे – How To Reach Kumbhalgarh Wildlife Sanctuary By Airplane In Hindi

हवाई मार्ग से कुम्भलगढ़ वन्यजीव अभयारण्य तक कैसे पहुँचे - How To Reach Kumbhalgarh Wildlife Sanctuary By Airplane In Hindi

कुम्भलगढ़ वन्यजीव अभयारण्य का निकटतम हवाई अड्डा उदयपुर हवाई अड्डा है, जो कुम्भलगढ़ से करीब 115 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। हवाई अड्डे से कुम्भलगढ़ वन्यजीव अभयारण्य के लिए आप बस, टैक्सी या कार किराए पर ले सकते हैं।

11.2 सड़क मार्ग से कुम्भलगढ़ वन्यजीव अभयारण्य तक कैसे पहुँचे – How To Reach Kumbhalgarh Wildlife Sanctuary By Road In Hindi

सड़क मार्ग से कुम्भलगढ़ वन्यजीव अभयारण्य तक कैसे पहुँचे - How To Reach Kumbhalgarh Wildlife Sanctuary By Road In Hindi

कुम्भलगढ़ वन्यजीव अभयारण्य उदयपुर शहर से 98 किमी की दूरी पर स्थित है। उदयपुर शहर तक सड़क मार्ग द्वारा आना आपके लिए बहुत आरामदायक साबित हो सकता है। क्योंकि यह शहर भारत के कई प्रमुख शहरों से रोड़ मार्ग द्वारा अच्छी तरह जुड़ा हुआ है। राजस्थान के सभी प्रमुख शहरों से कुम्भलगढ़ के लिए बसें आसानी से मिल जाती है। इसके अलावा आप कार, टैक्सी या कैब किराए पर लेकर भी कुम्भलगढ़ वन्यजीव अभयारण्य पहुंच सकते हैं।

11.3 ट्रेन से कुम्भलगढ़ वन्यजीव अभयारण्य तक कैसे पहुँचे – How To Reach Kumbhalgarh Wildlife Sanctuary By Train In Hindi

ट्रेन से कुम्भलगढ़ वन्यजीव अभयारण्य तक कैसे पहुँचे - How To Reach Kumbhalgarh Wildlife Sanctuary By Train In Hindi

कुम्भलगढ़ में कोई रेलवे स्टेशन नहीं है इसलिए कुम्भलगढ़ वन्यजीव अभयारण्य जाने के लिए आप फालना रेलवे स्टेशन के लिए ट्रेन पकड़ सकते हैं, इसके साथ ही विकल्प के रूप में आपके पास उदयपुर रेलवे स्टेशन भी है। उदयपुर रेलवे स्टेशन के लिए आपको भारत के सभी प्रमुख शहरों से ट्रेन मिल जायेगी। रेलवे स्टेशन पहुंचने के बाद आप अभयारण्य टैक्सी, कैब या बस की मदद से पहुंच सकते हैं।

और पढ़े: जगदीश मंदिर का इतिहास और घूमने की जानकारी

12. कुंभलगढ़ वन्यजीव अभयारण्य की लोकेशन का मैप – Kumbhalgarh Wildlife Sanctuary Location

13. कुंभलगढ़ वन्यजीव अभयारण्य की फोटो गैलरी – Kumbhalgarh Wildlife Sanctuary Images

और पढ़े:

Write A Comment