कुम्भलगढ़ वन्यजीव अभयारण्य में घूमने की जानकारी- Kumbhalgarh Wildlife Sanctuary Information In Hindi

कुम्भलगढ़ वन्यजीव अभयारण्य में घूमने की जानकारी – Kumbhalgarh Wildlife Sanctuary Information In Hindi

Kumbhalgarh Wildlife Sanctuary In Hindi, कुम्भलगढ़ वन्यजीव अभयारण्य राजस्थान राज्य का एक लोकप्रिय पर्यटन स्थल और अभयारण्य है, जो राजसमंद जिले में 578 वर्ग किमी के कुल सतह क्षेत्र को कवर करता है। यह वन्यजीव अभयारण्य अरावली पर्वतमाला के पार उदयपुर, राजसमंद और पाली के कुछ हिस्सों को घेरता है। इस अभयारण्य में कुंभलगढ़ किला भी शामिल है और इसी किले के नाम पर इस क्षेत्र का नाम कुम्भलगढ़ वन्यजीव अभयारण्य पड़ा है। कुम्भलगढ़ का यह पहाड़ी घना जंगल राजस्थान के रेगिस्तानी क्षेत्र से बिलकुल अलग है, जो यहां आने पर्यटकों को एक सुखद एहसास करवाता है।

Read moreकुम्भलगढ़ वन्यजीव अभयारण्य में घूमने की जानकारी – Kumbhalgarh Wildlife Sanctuary Information In Hindi

कुंभलगढ़ किले का इतिहास और इसके पास प्रमुख पर्यटन स्थलों का भ्रमण - Places To Visit And History Of Kumbhalgarh Fort In Hindi

कुंभलगढ़ किले का इतिहास और इसके पास प्रमुख पर्यटन स्थल – History Of Kumbhalgarh Fort In Hindi

Kumbhalgarh Fort In Hindi, कुंभलगढ़ किला राजस्थान का एक प्रमुख पर्यटन स्थल है जो राजसमंद जिले में उदयपुर शहर के उत्तर-पश्चिम में 82 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। कुंभलगढ़ किला राजस्थान राज्य के पांच पहाड़ी किलों में से एक है जिसको साल 2013 में यूनेस्को द्वारा विश्व धरोहर स्थल घोषित किया गया था। अरावली पर्वतमाला की तलहटी पर बना हुआ यह किला पर्वतमाला की तेरह पहाड़ी चोटियों से घिरा हुआ है और 1,914 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है। यह आकर्षक किला एक जंगल के बीच स्थित है जिसको एक वन्यजीव अभयारण्य में बदल दिया है। यह किला चित्तौड़गढ़ महल राजस्थान का दूसरा सबसे बड़ा और सबसे खास मेवाड़ किला है जिसकों देखकर कोई भी इसकी तरफ आकर्षित हो सकता है। अगर आप राजस्थान या इसके उदयपुर शहर की यात्रा कर रहे हैं तो आपको कुंभलगढ़ किला (Kumbhalgarh Fort) को देखने के लिए भी जरुर जाना चाहिए।

Read moreकुंभलगढ़ किले का इतिहास और इसके पास प्रमुख पर्यटन स्थल – History Of Kumbhalgarh Fort In Hindi