कर्नाटक के मुरुदेश्वर मंदिर के दर्शन की जानकारी – Murudeshwar Temple Karnataka In Hindi

Murudeshwar Temple In Hindi, मुरुदेश्वर मंदिर भारत के कर्नाटक राज्य में कंडुका पहाड़ी पर स्थित है और भगवान शिव को समर्पित हैं। मुरुदेश्वर मंदिर में स्थित भगवान शिव की प्रतिमा को दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी शिव प्रतिमा माना जाता हैं। मंदिर में पुजने वाले प्रमुख देवता श्री मृद्या लिंग है जोकि मूल आत्मा लिंग (भगवान शंकर) का हिस्सा माने जाते हैं। भोलेनाथ की विशाल और भव्य प्रतिमा को देखने के लिए तीर्थ यात्री दूर दूर से आते हैं। भगवान शिव की प्रतिमा की ऊंचाई इतनी अधिक हैं कि इसे दूर से ही देखा जा सकता हैं। बता दें कि भगवान शिव की मूर्ती को बनाने में दो वर्ष का समय लग गया था।

मुरुदेश्वर मंदिर तीन ओर से अरब सागर से घिरा हुआ हैं। मुरुदेश्वर मंदिर और इसके इतिहास के बारे में अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए हमारे इस लेख को पूरा अवश्य पढ़े।

Table of Contents

मुरुदेश्वर मंदिर का इतिहास – Murudeshwar Temple History In Hindi

Murudeshwar Temple History In Hindi

मुरुदेश्वर मंदिर का इतिहास रामायण काल से इत्तेफाक रखता हैं। कहते हैं कि जब लंका पति रावण भगवान शिव की आराधना करने के उपरांत आत्मलिंग लेकर लंका की ओर जा रहा था, तब उन्हें रास्ते में ही आत्मलिंग को जमीन पर रखना पड़ा और परिणामस्वरूप शिव लिंग उसी स्थान पर स्थापित हो गया। रावन ने शिव लिंग को उठाने की पूरी कोशिश की नाकाम होने के बाद वह शिवलिंग की उसी स्थान पर स्थापना करके अपनी नगरी की ओर बढ़ गया। आत्मलिंग जिस वस्त्र से ढंका हुआ था वह वस्त्र उड़ कर म्रिदेश्वर में जा गिरा जिसे वर्तमान में मुरुदेश्वर के नाम से जाना जाता हैं। शिव पुराण (Story Of Murudeshwar Hindu Temple In Hindi) में इस कथा को विस्तृत से दिया गया हैं।

और पढ़े: कर्नाटक में घूमने के लिए 15 प्रसिद्ध तीर्थ स्थल और मंदिर

मुरुदेश्वर मंदिर की संरचना – Murudeshwar Temple Architecture In Hindi

Murudeshwar Temple Architecture In Hindi

मुरुदेश्वर मंदिर कि उंचाई (Murudeshwar Temple Height) 123 फिट हैं और साथ ही भगवान शिव की विशाल प्रतिमा एक मनमोहक दृश्य प्रस्तुत करती हैं। मुरुदेश्वर मंदिर के मुख्य द्वार को गोपुर नाम से जाना जाता हैं। बता दें कि मुरुदेश्वर मंदिर की पूरी सतह को जटिल और विस्तृत नक्काशीदार बनाया गया हैं। गर्भगृह के अलावा पूरे मंदिर का आधुनिकीकरण किया गया हैं।

मुरुदेश्वर मंदिर में पूजा अर्चना का समय – Murudeshwar Temple Timings In Hindi

मुरुदेश्वर मंदिर में पूजा अर्चना का समय

  • दर्शन का समय : सुबह 6:00 बजे से दोपहर 1:00 बजे तक।
  • पूजा का समय : सुबह 6:30 से सुबह 7:30 बजे तक।
  • रुद्राभिषेकम : सुबह 6:00 से दोपहर 12:00 तक।
  • दोपहर की पूजा का समय : दोपहर 12:15 से दोपहर 1:00 बजे तक।
  • दोपहर 1 से 3 बजे तक मंदिर बंद रहता है।
  • दर्शन का समय : दोपहर 3:00 से रात 8:15 बजे तक।
  • रुद्राभिषेकम : दोपहर 3:00 से शाम 7:00 तक।
  • शाम की पूजा का समय : शाम 7:15 से 8:15 बजे तक।

मुरुदेश्वर मंदिर में लगने वाला प्रवेश शुल्क – Entry Fee Of Murudeshwar Temple In Hindi

मुरुदेश्वर मंदिर में लगने वाला प्रवेश शुल्क

  • मुरुदेश्वर मंदिर में आने वाले भक्तो से कोई एंट्री फीस नही ली जाती हैं।

       नोट : मुरुदेश्वर मंदिर में रुद्राभिषेकम की टिकट 55 रुपए प्रति दो व्यक्ति हैं।

मुरुदेश्वर मंदिर का निर्माण किसने करबाया था – Who Built Murudeshwar Temple In Hindi

मुरुदेश्वर मंदिर का निर्माण आर एन शेट्टी ने करबाया था जोकि एक व्यवसायी और परोपकारी थे।

और पढ़े: कर्नाटक के टॉप 10 पर्यटन स्थलों की जानकारी 

मुरुदेश्वर मंदिर के आसपास में घूमने लायक प्रमुख पर्यटन स्थल – Best Places To Visit Around Murudeshwar Temple In Hindi

मुरुदेश्वर मंदिर की यात्रा के दौरान आपको यहाँ कई आकर्षित और प्राकृतिक स्थान देखने को मिलेंगे जोकि आपकी यात्रा को खूबसूरत बना देंगे। मुरुदेश्वर में आकर्षित उद्यान, मंदिर, बीच (समुद्री तट) और ऐतिहासिक किले आपको अपनी ओर आकर्षित करते हुए नजर आयेंगे।

स्टेचू पार्क मुरुदेश्वर – Statue Park Murudeshwar In Hindi

स्टेचू पार्क मुरुदेश्वर

मुरुदेश्वर के आसपास घूमने वाली प्रमुख जगहों में शामिल स्टेचू पार्क मुरुदेश्वर का प्रमुख आकर्षण हैं। स्टेचू पार्क में भगवान शिव की लगभग 15 मीटर ऊँची प्रतिमा स्थापित हैं जोकि पर्यटकों के आकर्षण का केंद्र बनी हुई हैं। पार्क अपने खूबसूरत वातावरण, प्राकृतिक हरियाली और सुन्दर फूलो के लिए जाना जाता है। साथ ही मूर्ती पार्क मुरुदेश्वर में खूबसूरत तालाब में बतखो का झुण्ड और झरने देखने लायक होते हैं।

मुरुदेश्वर किला – Murudeshwar Fort In Hindi

Murudeshwar Fort In Hindi
Image Credit: Saksham Kulshrestha

मुरुदेश्वर मंदिर के आसपास देखने लायक जगहों में शामिल मुरुदेश्वर किला एक प्रमुख आकर्षण हैं। बता दें कि मुरुदेश्वर किला यहाँ के प्रसिद्ध मुरुदेश्वर मंदिर के पीछे स्थित हैं। मुरुदेश्वर किले का इतिहास विजयनगर साम्राज्य से सम्बंधित राजाओं से सम्बंधित हैं। माना जाता हैं कि टीपू सुल्तान के बाद किसी ने भी मुरुदेश्वर किला का जीर्णोद्धार नहीं कराया था।

भटकल बीच मुरुदेश्वर – Bhatkal Beach Murudeshwar In Hindi

भटकल बीच मुरुदेश्वर

मुरुदेश्वर मंदिर के आसपास घूमने वाली जगहों में भटकल बीच एक प्रमुख पर्यटन स्थल है। जोकि पर्यटकों के अपनी खूबसूरत मखमली रेत पर आने और मस्ती करने के लिए आमंत्रित करता हैं। भटकल बीच अरब सागर के किनारे पर स्थित हैं और अपने आकर्षित नारियल के पेड़ों से घिरा हुआ हैं।

नेत्रानी द्वीप मुरुदेश्वर – Murudeshwar Netrani Island In Hindi

Murudeshwar Netrani Island In Hindi
Image Credit: Ajith Shetty

मुरुदेश्वर पर्यटन स्थल की यात्रा के दौरान नेत्रानी द्वीप पर जाना पर्यटकों को बेहद ही रास आता हैं। नेत्रानी द्वीप को ‘कबूतर द्वीप’ के नाम से भी जाना जाता हैं जोकि कर्णाटक के मुरुदेश्वर में समुद्री तट पर स्थित है। यदि हम ऊंचाई से नेत्रानी द्वीप को देखते हैं तो यह एक दिल की भाती दिखाई देता हैं। अरब सागर के शांत जल में पर्यटक स्कूबा डाइविंग, नौका बिहार और अलग अलग तरह की मछलियों को पकड़ने और देखने का आनंद ले सकते हैं।

जामिया मस्जिद मुरुदेश्वर – Jamia Masjid Murudeshwar In Hindi

Jamia Masjid Murudeshwar In Hindi
Image Credit: Mohammed Rayyan

मुरुदेश्वर की प्रसिद्ध जामिया मस्जिद देखने के लिए पर्यटक भारी संख्या में आते हैं। जामिया मस्जिद भटकल में स्थित हैं और यहाँ कि सबसे पुरानी मस्जिदों में से एक मानी जाती हैं। तीन मंजिला जामिया मस्जिद की संरचना में में फ़ारसी शिलालेख, प्राचीन इतिहास और आध्यात्मिकता की महक आती हैं।

मुरुदेश्वर बीच – Murudeshwar Beach In Hindi

मुरुदेश्वर बीच

मुरुदेश्वर समुद्री तट पर्यटकों को बेहद ही रोमांचित करता हैं। मुरुदेश्वर मंदिर की यात्रा पर आने वाले पर्यटक मुरुदेश्वर बीच की ओर रुख करना कभी नही भूलते हैं। मुरुदेश्वर बीच पर आप वाटर स्पोर्ट का हिस्सा बन सकते हैं और यह बीच पर्यटकों के लिए एक शानदार पिकनिक डेस्टिनेशन के रूप में जाना जाता हैं। मुरुदेश्वर मंदिर के निकट नाव पर सवारी करना पर्यटकों के बीच लौकप्रिय हैं। बता दें कि मुरुदेश्वर बीच के आकर्षण में शामिल आकर्षित पहाड़ियां, हरे-भरे पेड़, नारियल के सुन्दर पेड़, उड़ने वाले सीगल, किंगफिशर पक्षियाँ आदि शामिल हैं।

और पढ़े: श्रवणबेलगोला के प्रमुख पर्यटन और तीर्थ स्थल की जानकारी 

मुरुदेश्वर में क्या खरीदारी करे – Murudeshwar Shopping In Hindi

मुरुदेश्वर में क्या खरीदारी करे

मुरुदेश्वर मंदिर और इसके पर्यटक स्थलों की यात्रा के दौरान आप मुरुदेश्वर में खरीदारी का आनंद भी ले सकते हैं। मुरुदेश्वर में आपको खरीदारी करने के कई विकल्प मिलेंगे यहाँ आप स्मृति चिन्ह, मूर्तियाँ, हस्तशिल्प वस्तुए और इसके अलावा पेन से लेकर ज्वेलरी बॉक्स तक आप मुरुदेश्वर बाजार में खरीद सकते हैं। खूबसूरत कपडे भी मुरुदेश्वर में आप खरीद सकते हैं।

मुरुदेश्वर मंदिर के दर्शन करने का सबसे अच्छा समय – Best Time To Visit Murudeshwar Temple In Hindi

Best Time To Visit Murudeshwar Temple In Hindi

मुरुदेश्वर मंदिर की यात्रा के लिए सबसे अच्छा समय अक्टूबर से मई के बीच का माना जाता हैं। मुरुदेश्वर मंदिर में शिवरात्री का त्यौहार बहुत ही धूमधाम से मनाया जाता हैं जोकि फरवरी-मार्च के दौरान आता है। शिवरात्री के अवसर पर भक्त भोलेनाथ के दर्शन करने के लिए भारी संख्या में आते हैं। मुरुदेश्वर मंदिर घूमने और भगवान शिव के दर्शन करने के लिए 2-3 घंटे पर्याप्त होते हैं।

मुरुदेश्वर मंदिर के आसपास कहां रुके – Where To Stay In Murudeshwar In Hindi

Where To Stay In Murudeshwar In Hindi

मुरुदेश्वर मंदिर और इसके प्रमुख पर्यटन स्थलों की यात्रा करने के बाद यदि आप यहाँ किसी अच्छे निवास स्थान की तलाश कर रहे हैं। तो हम आपको बता दें कि मुरुदेश्वर में आपको लो-बजट से लेकर हाई-बजट तक होटल मिल जाएंगे। आप अपनी सुविधा और बजट के अनुसार होटल का चुनाव कर सकते हैं।

  • श्री विनायक रेजीडेंसी (Shree Vinayaka Residency)
  • आरएनएस गेस्ट हाउस (RNS Guest House)
  • होटल कोला पैराडाइज़ (Hotel Kola Paradise)
  • सेंट्रल लॉज (Central Lodge)
  • पंचवज्रा होमस्टे (Panchavajra Homestay)

मुरुदेश्वर का प्रसिद्ध स्थानीय भोजन – Famous Food Of Murudeshwar In Hindi

मुरुदेश्वर का प्रसिद्ध स्थानीय भोजन

मुरुदेश्वर अपने खूबसूरत पर्यटन स्थलों और आकर्षित वातावरण के लिए तो प्रसिद्ध है ही लेकिन यहाँ का भोजन भी बहुत स्वादिष्ट होता हैं। मुरुदेश्वर के लजीज भोजन का स्वाद आपको उंगलिया चाटने पर मजबूर कर देगा। मुरुदेश्वर में दक्षिण-भारतीय, उत्तर-भारतीय और चीनी व्यंजनों को आप चख सकते हैं। इसके अलावा आप मुरुदेश्वर के स्थानीय व्यंजनों में डोसा, बिसी बेले बाथ, अक्की रोटी, जलादा रोटी, इडली, वड़ा, सांभर, केसरी बाथ, रग्गी मुडडे, उप्पितु, वंगी बाथ और पारंपरिक मिठाईयों में शामिल मैसूर पाक, ओब्बट्टू, धारवाड़ पेड़ा और चिरौटी आदि शामिल हैं।

और पढ़े: हम्पी के मशहूर चेरियट पत्थर से बने मंदिर की पूरी जानकरी 

मुरुदेश्वर कैसे पहुंचे – How To Reach Murudeshwar Temple In Hindi

मुरुदेश्वर घूमने के लिए आप फ्लाइट, ट्रेन और बस में से किसी का भी चुनाव कर सकते हैं।

फ्लाइट से मुरुदेश्वर कैसे जाए – How To Reach Murudeshwar Temple By Flight In Hindi

फ्लाइट से मुरुदेश्वर कैसे जाए

मुरुदेश्वर मंदिर जाने के लिए यदि आपने हवाई मार्ग का चुनाव किया हैं। तो बता दें कि मुरुदेश्वर मंदिर हवाई मार्ग के माध्यम से संपर्क में नहीं हैं। लेकिन मुरुदेश्वर का सबसे निकटतम हवाई अड्डा मंगलोर (Mangalore International Airport) हैं, जोकि लगभग 159 किलोमीटर की दूरी पर स्थित हैं। मंगलोर हवाई अड्डे से आप यहाँ के स्थानीय साधनों की मदद से मुरुदेश्वर मंदिर आसानी से पहुँच जाएंगे।

ट्रेन से मुरुदेश्वर मंदिर कैसे जाए – How To Reach Murudeshwar Temple By Train In Hindi

How To Reach Murudeshwar Temple By Train In Hindi

मुरुदेश्वर मंदिर की यात्रा के लिए यदि आपने रेल मार्ग का चुनाव किया हैं। तो हम आपको बता दें कि मुरुदेश्वर जंक्शन यहाँ का प्रमुख रेलवे स्टेशन हैं। जोकि देश के प्रमुख रेलवे स्टेशनो से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ हैं। बता दें कि मुरुदेश्वर रेल्वे स्टेशन से मुरुदेस्वर मंदिर लगभग 3 किलोमीटर की दूरी पर स्थित हैं।

बस से मुरुदेश्वर कैसे जाए – How To Reach Murudeshwar Temple By Bus In Hindi

How To Reach Murudeshwar Temple By Bus In Hindi

मुरुदेश्वर मंदिर जाने के लिए यदि आपने सड़क मार्ग का चुनाव किया हैं। तो हम आपको बता दें कि मुरुदेश्वर मंदिर सड़क मार्ग के माध्यम से अपने आसपास के सभी शहरो से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ हैं। आप बस, टैक्सी या अपने निजी साधनों की मदद से आसानी से मुरुदेस्वर मंदिर पहुँच जाएंगे।

और पढ़े: चित्रदुर्ग किला घूमने की जानकारी और इसके प्रमुख पर्यटन स्थल

मुरुदेश्वर मंदिर मुरुदेश्वर का नक्शा – Murudeshwar Temple Map

मुरुदेश्वर मंदिर की फोटो गैलरी – Murudeshwar Temple Images

View this post on Instagram

???

A post shared by S ? N G E E ✝️H. K (@sangeeth___k) on

और पढ़े:

Leave a Comment