मैसूर शहर के 10 मशहूर पर्यटन स्थल की जानकारी – Best Places To Visit In Mysore Tourism In Hindi

Mysore In Hindi, मैसूर भारत के कर्नाटक राज्य का एक पर्यटन स्थल है जो कई दर्शनीय स्थलों का केंद्र है। आपको बता दें कि यह शहर अपने समृद्ध सांस्कृतिक विरासत और ऐतिहासिक महत्व के कारण भारत के प्रमुख पर्यटन स्थलों के रूप में जाना जाता है। मैसूर को द सिटी ऑफ पैलेसेस के रूप में जाना जाता है और यह कर्नाटक राज्य के तीसरे सबसे ज्यादा आबादी वाले शहरों में से एक है। मैसूर के दर्शनीय स्थल और इसकी सांस्कृतिक विरासत पूरे साल पर्यटकों को आकर्षित करती है। अगर आप भी मैसूर शहर की यात्रा करने जा रहे हैं या घूमने की योजना बना रहें हैं तो इस लेख को जरुर पढ़ें, यहां हम आपको मैसूर के प्रमुख दर्शनीय स्थलों के बारे में जानकारी देने जा रहें हैं।

1. मैसूर में घूमने लायक प्रमुख दर्शनीय और पर्यटन स्थल – Top 10 Tourist Attractions In Mysore In Hindi

वैसे तो मैसूर में घूमने के लिए कई पर्यटन स्थल मौजूद है लेकिन हम आपको मैसूर के टॉप १० पर्यटन स्थल के बारे बताने जा रहे है। आप जब भी मैसूर जाने का प्लान बनाये तो यह आकर्षण स्थलों पर जरुर जाये।

1.1 मैसूर का प्रमुख पर्यटन स्थल मैसूर पैलेस – Mysore Ka Pramukh Paryatan Sthal Mysore Palace In Hindi

मैसूर का प्रमुख पर्यटन स्थल मैसूर पैलेस

मैसूर पैलेस मैसूर शहर का प्रमुख आकर्षण है जो इंडो – सरकेनिक शैली की वास्तुकला एक अच्छा उदाहरण है। आपको बता दें मैसूर पैलेस कर्नाटक राज्य में मैसूर में स्थित एक बेहद खूबसूरत इमारत है जो बड़ी संख्या में पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करती है। शायद आपको यह जानकर हैरानी होगी कि मैसूर पैलेस ताजमहल के बाद स्थानीय और विदेशी पर्यटकों द्वारा सबसे ज्यादा देखी जाने वाली ऐतिहासिक इमारत है। इसके साथ ही मैसूर पैलेस अपने लाइट एंड साउंड शो और जीवंत दशहरा समारोह के लिए प्रसिद्ध है। मैसूर पैलेस को वर्ष 1912 में वोडेयार राजवंश के 24 वें शासक के लिए बनाया गया था और इसे देश के सबसे बड़े महलों में गिना जाता है। अगर आप मैसूर शहर के दर्शनीय स्थलों की यात्रा करने के लिए जा रहें हैं तो मैसूर पैलेस को अपनी सूची में आपको जरुर शामिल करना चाहिए।

और पढ़े: मैसूर पैलेस घूमने की जानकारी और प्रमुख पर्यटन स्थल 

1.2 मैसूर के तीर्थ स्थल सोमनाथपुरा मंदिर – Mysore Ke Tirth Sthal Somanathapura Temple In Hindi

मैसूर के तीर्थ स्थल सोमनाथपुरा मंदिर

सोमनाथपुरा मैसूर के प्रमुख दर्शनीय और धार्मिक स्थलों में से एक है। आपको बता दें कि यह पवित्र नदी कावेरी के तट पर एक छोटा सा शांत शहर है। यह शहर अपने चन्नेकसवा मंदिर या केशव मंदिर के लिए प्रसिद्ध है। आपको बता दें यह मंदिर होयसाल वास्तुकला का सबसे अच्छा नमूना है। यह एक वैष्णव हिंदू मंदिर है जो भगवान कृष्ण को समर्पित है। यह मंदिर इतना ज्यादा आकर्षक है कि इसे देखने और दर्शन करने दूर -दूर से पर्यटक आते हैं। चेन्नेकसावा मंदिर होयसला साम्राज्य के राजाओं द्वारा उनके राज्य के विभिन्न हिस्सों में बनाए गए 1500 मंदिरों में से एक है। इसके साथ ही यह प्रसिद्ध होयसला वास्तुकला का एक उत्कृष्ट उदाहरण है। आज यह मंदिर पूजा स्थल के रूप में उपयोग नहीं किया जाता क्योंकि इसे हमलावर मुस्लिम सेनाओं द्वारा तोड़ दिया गया था लेकिन आज भी इस मंदिर को देखने के लिए भारी संख्या में पर्यटक आते हैं।

1.3 मैसूर पर्यटन में देखने लायक जगह बृंदावन गार्डन – Mysore Paryatan Me Dekhne Layak Jagah Brindavan Gardens In Hindi

मैसूर पर्यटन में देखने लायक जगह बृंदावन गार्डन

बृंदावन गार्डन मैसूर का एक प्रमुख पर्यटन स्थल है जो कर्नाटक के मंड्या जिले में स्थित है। यह गार्डन दिखने में बेहद खूबसूरत और इसका प्राकृतिक वातावरण हर किसी को अपनी तरफ आकर्षित करता है। जब आप इस गार्डन में प्रवेश करेंगे तो प्रवेश द्वार के पास गुलाब के बागों और फूलों को देख कर हैरान रह जायेंगे। बता दें कि इस गार्डन के निर्माण का कार्य 1927 में शुरू हुआ और यह वर्ष 1932 में पूरा हुआ। यह 150 एकड़ भूमि में फैला हुआ है और यह देश के सबसे अच्छे उद्यानों में से एक है। बृंदावन गार्डन में पर्यटक एक वनस्पति पार्क और कई फव्वारे भी देख सकते हैं। म्यूजिकल फाउंटेन इस उद्यान के सबसे प्रमुख आकर्षणों में से एक है, लेकिन इस रंगीन फव्वारे का आनंद लेने के लिए पर्यटकों को सूर्यास्त के समय गार्डन का दौरा करना होगा।

1.4 मैसूर सिटी में परिवार के साथ घूमने की अच्छी जगह मैसूर चिड़ियाघर – Mysore City Me Parivar Ke Sath Ghumne Ki Achi Jagah Mysore Zoo In Hindi

मैसूर सिटी में परिवार के साथ घूमने की अच्छी जगह मैसूर चिड़ियाघर

श्री चामराजेंद्र जूलॉजिकल उद्यान मैसूर के प्रमुख दर्शनीय स्थलों में से एक है। आपको बता दें कि इस उद्यान को मैसूर चिड़ियाघर के रूप में भी जाना जाता है, जो भारत में सबसे अच्छे जूलॉजिकल गार्डन में से एक है। श्री चामराजेंद्र जूलॉजिकल उद्यान की स्थापना वर्ष 1892 में महाराजा चामराजा वोडेयार द्वारा की गई थी। यह गार्डन मैसूर में महल के पास स्थित है जो 157 एकड़ क्षेत्र में फैला हुआ है। यह भारत के सबसे पुराने और सबसे प्रसिद्ध चिड़ियाघरों में से एक है। अगर आप मैसूर के दर्शनीय के पर्यटन स्थलों की यात्रा करने के लिए जा रहें हैं तो आप इस गार्डन में शांति के कुछ पल बिता सकते हैं और यहां बोटिंग का मजा भी ले सकते हैं। मैसूर चिड़ियाघर जानवरों के लिए एक प्राकृतिक आवास के रूप में काम करता है। पर्यटक यहां पर बिल्लियों, जलीय से लेकर स्थलीय पक्षी, सरीसृप की प्रजातियों को देख सकते हैं।

1.5 मैसूर का प्रसिद्ध मंदिर चामुंडेश्वरी मंदिर – Chamundeshwari Temple Mysore Ke Prasidh Mandir In Hindi

मैसूर का प्रसिद्ध मंदिर चामुंडेश्वरी मंदिर

चामुंडेश्वरी मंदिर एक प्रसिद्ध मंदिर है जो चामुंडी हिल्स पर 1000 फीट की ऊंचाई पर मैसूर के पूर्वी किनारे पर स्थित है। चामुंडेश्वरी मंदिर देवी दुर्गा के नाम चामुंडा देवी को समर्पित है। इस मंदिर में देवी की मूर्ति के अलावा नंदी और महिषासुर की मूर्ति भी स्थापित है। चामुंडेश्वरी मंदिर को शक्ति पीठ माना जाता है और यह 18 महा शक्ति पीठों में से एक है। तीर्थ यात्री इस मंदिर तक या तो सीढ़ियों से पहुंच सकते हैं या ड्राइव करके भी जा सकते हैं। बता दें कि चामुंडेश्वरी मंदिर में रोजाना तीथ यात्रियों की ज्यादा भीड़ नहीं होती इसलिए भक्त आसानी से मंदिर के दर्शन कर सकते हैं।

और पढ़े: कर्नाटक में घूमने के लिए 15 प्रसिद्ध तीर्थ स्थल और मंदिर 

1.6 मैसूर टूरिज्म के दर्शनीय स्थल रेल संग्रहालय – Rail Museum Mysore Darshaniya Sthal In Hindi

मैसूर टूरिज्म के दर्शनीय स्थल रेल संग्रहालय
Image Credit: Uma Shankar

दिल्ली के राष्ट्रीय रेलवे संग्रहालय बाद मैसूर का रेल संग्रहालय भारत में अपनी तरह का दूसरा संग्रहालय है। यह भारतीय रेलवे द्वारा 1979 में बनाया गया था और तब से अब तक रेलवे संग्रह का सुरक्षित स्थान रहा है। इस संग्रहालय में आप तस्वीरें और विभिन्न वस्तुओं के संग्रह से भारतीय रेलवे की यात्रा और विकास को देख सकते हैं। रेल संग्रहालय में लोकोमोटिव का शानदार संग्रह है। पहले अधिकांश प्रदर्शनियों को मैसूर पैलेस में रखा गया था जिसे बाद में इस रेल संग्रहालय में स्थानांतरित कर दिया गया। यहाँ प्रदर्शन के लिए लाइट, टिकट, टिकटिंग मशीन, घड़ियाँ, सिग्नल संकेत, और हाथ से संचालित भाप वाटर पंप रखे गए हैं। यहां का प्रमुख आकर्षण एक एक बैटरी से चलने वाली मिनी टॉय ट्रेन है जो पर्यटकों को संग्रहालय के मैदान के चारों ओर घुमाती है।

1.7 मैसूर के आकर्षण स्थल करणजी झील – Mysore Ke Aakarshan Sthal Karanji Lake In Hindi

मैसूर के आकर्षण स्थल करणजी झील

करणजी झील का नाम भी मैसूर शहर के दर्शनीय स्थलों की लिस्ट में शामिल हैं। अगर आप अपने परिवार के साथ मैसूर शहर की यात्रा करने जा रहें हैं तो करणजी झील के पास आराम के कुछ पल बिता सकते हैं। करणजी झील झील को कभी फव्वारा झील भी कहा जाता है। बहुत सारे लोग अपने परिवार के लोगों और दोस्तों के साथ अक्सर यहां पिकनिक मनाने के लिए आते हैं। पर्यटक अपने साथ यहाँ भोजन भी पैक करके ला सकते हैं। बता दे कि अगर आप कॉफ़ी प्रेमी हैं तो यहां पर झील के पास एक कॉफी की दुकान भी स्थित है। करणजी झील पक्षी प्रेमियों के लिए एक आदर्श जगह है क्योंकि जहां पर पक्षियों की 147 प्रजातियाँ देखी जा सकती है। झील में एक तितली पार्क भी है जो सुंदर तितलियों की 45 से अधिक प्रजातियों का घर है, जो बेहद रंगबिरंगी हैं। अगर आप मैसूर की यात्रा करने जा रहें हैं तो आपको करणजी झील घूमने के लिए अवश्य जाना चाहिए।

1.8 मैसूर शहर में घूमने की खुबसूरत जगह जगनमोहन पैलेस – Mysore Sher Me Ghumne Ki Khubsurat Jagah Jaganmohan Palace In Hindi

मैसूर शहर में घूमने की खुबसूरत जगह जगनमोहन पैलेस

जगनमोहन पैलेस मैसूर शहर में देखने की सबसे अच्छी जगहों में से एक है। आपको बता दें कि जगनमोहन पैलेस एक शानदार इमारत है, जिसके नाम के साथ एक शानदार इतिहास जुड़ा हुआ है। 1869 में निर्मित जगनमोहन पैलेस का उपयोग मैसूर के वोडेयर्स द्वारा किया गया था, जब उनका मुख्य निवास अम्बा विलास पैलेस का अग्नि दुर्घटना के बाद जीर्णोद्धार क्या गया था। इस पैलेस को शासनकाल के दौरान शहर के वोडेयार किंग्स के सबसे खूबसूरत योगदानों में गिना जाता है। अब जगनमोहन पैलेस को एक शानदार आर्ट गैलरी में बदल दिया गया था और आज यहाँ कई कलाकृति देखी जा सकती है।

1.9 मैसूर के दर्शनीय स्थल सेंट फिलोमेना चर्च – Mysore Ke Darshaniya Sthal St Philomena’s Church In Hindi

मैसूर के दर्शनीय स्थल सेंट फिलोमेना चर्च

सेंट फिलोमेना चर्च मैसूर में देखने की सबसे अच्छी जगहों में शामिल है क्योंकि यह चर्च एशिया के दूसरे सबसे लंबे चर्च के रूप में जाना जाता है। बता दें कि सेंट फिलोमेना चर्च का निर्माण कैथोलिक संत और रोमन कैथोलिक चर्च के शहीद संत फिलोमेना को श्रद्धांजलि देने के लिए किया गया था। यह चर्च मैसूर का प्रमुख ऐतिहासिक स्थल है जहाँ का दौरा आपको अपनी मैसूर यात्रा के दौरान अवश्य करना चाहिए। सेंट फिलोमेना चर्च मैसूर की सबसे खूबसूरत संरचनाओं में से एक है और यह शाम के समय आकाश में देखने पर और भी ज्यादा सुंदर दिखता है।

1.10 मैसूर के धार्मिक स्थल त्रिनेश्वरस्वामी मंदिर – Mysore Ke Dharmik Sthal Trinesvaraswamy Temple In Hindi

मैसूर के धार्मिक स्थल त्रिनेश्वरस्वामी मंदिर

त्रिनेश्वरस्वामी मंदिर मैसूर शहर में मैसूर किले के बाहर स्थित है। यह मंदिर त्रिनेश्वर को समर्पित है जिसका मतलब होता है तीन नेत्र वाले शिव। बता दें कि इस मंदिर का गोपुर 18 वीं शताब्दी में नष्ट हो गया था, लेकिन मंदिर द्रविड़ वास्तुकला की सुंदरता आज भी पर्यटकों को आकर्षित करती है।

और पढ़े: कर्नाटक के टॉप 10 पर्यटन स्थलों की जानकारी 

2. मैसूर सिटी का स्थानीय भोजन – Mysore Food In Hindi

मैसूर सिटी का स्थानीय भोजन

अगर आप मैसूर के दर्शनीय स्थलों की सैर करने जा रहें हैं तो बता दें कि यहां घूमने के अलावा आप कई तरह के स्वादिष्ट भोजन का स्वाद भी ले सकते हैं। मैसूर के लोकल फूड में इडली, बड़ा, पूड़ी सागू, बोंडा, खारा बाथ / उप्पिथु / उपमा, उथापम, पूड़ी, शविगे बाथ, मसाला डोसा, पेपर डोसा, खुला डोसा, रवा डोसा, ओनियन डोसा, हरा (पालक) डोसा, नीर डोसा, ब्राह्मण भोजन, बाजजी / पकोड़ा के अलावा भी खाने की चीजें मिल जायेंगी।

3. मैसूर घूमने का सबसे अच्छा समय – Best Time To Visit Mysore In Hindi

मैसूर घूमने का सबसे अच्छा समय

मैसूर में उष्णकटिबंधीय जलवायु है, लेकिन मॉनसून और सर्दियों के समय इस शहर की यात्रा करने का सबसे अच्छा समय है। जुलाई से फरवरी तक मानसून – सर्दियों के महीनों में यहां का मौसम बेहद सुखद होता है। इन महीनों में आप शहर की खूबसूरती देखते हुए दर्शनीय स्थलों की यात्रा कर सकते हैं। गर्मियों का मौसम यहां के दर्शनीय स्थलों की यात्रा करने के लिए उचित नहीं है।

और पढ़े: बैंगलोर में घूमने वाली जगहें 

4. मैसूर कर्नाटक कैसे पंहुचा जाये – How To Reach Mysore Karnataka In Hindi

अगर आप मैसूर शहर की यात्रा करने की योजना बना रहें हैं तो बता दें कि आप यहां हवाई, सड़क और रेल मार्ग द्वारा यात्रा कर सकते हैं। मैसूर के लिए नियमित रूप से बसें भी उपलब्ध हैं जिनकी मदद से आप मैसूर की यात्रा आसानी से कर सकते हैं।

4.1 फ्लाइट से मैसूर कैसे पहुंचे – How To Reach Mysore By Flight In Hindi

फ्लाइट से मैसूर कैसे पहुंचे

अगर आप मैसूर की यात्रा हवाई जहाज द्वारा करना चाहते हैं तो बता दें कि बैंगलोर हवाई अड्डा यहां का प्रमुख हवाई अड्डा है। अगर आप देश के बाहर से यात्रा कर रहें हैं तो इस हवाई अड्डे के लिए फ्लाइट ले सकते हैं। मैसूर शहर के अंदर एक घरेलू हवाई अड्डा है जो चेन्नई, मुंबई, बैंगलोर, नई दिल्ली और कोलकाता जैसे प्रमुख शहरों से जुड़ा हुआ है।

4.2 सड़क मार्ग से मैसूर कैसे जाये – How To Reach Mysore By Road In Hindi

सड़क मार्ग से मैसूर कैसे जाये

अगर आप सड़क मार्ग द्वारा यात्रा करने जा रहें हैं तो बता दें कि मैसूर बैंगलोर के दक्षिण पश्चिम की ओर 139 किमी है। इन दोनों शहरों को जोड़ने वाली सड़के काफी अच्छी हैं। बैंगलोर से मैसूर तक सड़क मार्ग से जाना एक शानदार अनुभव है और इसमें लगभग 3 घंटे लगेंगे। कर्नाटक सड़क परिवहन निगम का मैसूर में शानदार परिवहन की सुविधा प्रदान करता है।

4.3 कैसे जाये मैसूर ट्रेन से – How To Reach Mysore By Train In Hindi

कैसे जाये मैसूर ट्रेन से

मैसूर शहर का प्रमुख रेलवे स्टेशन शहर के मध्य में स्थित में स्थित है। मैसूर रेलवे स्टेशन की तीन लाइनें हैं जो शहर को बैंगलोर, हासन और चामराजनगर से जोड़ती हैं।

4.4 मैसूर में स्थानीय परिवहन – Local Transport In Mysore In Hindi

मैसूर में स्थानीय परिवहन

मैसूर शहर की यात्रा करने के लिए आप ऑटो रिक्शा किराये पर करना सबसे अच्छा तरीका क्योंकि इसमें आप मीटर की रीडिंग के हिसाब से पैसे दे सकते हैं। बता दें कि रात में 10 बजे के बाद ऑटो चालक मीटर रीडिंग से 50% अधिक शुल्क लेते हैं, इसलिए आप रात के समय टैक्सी भी किराये पर ले सकते हैं।

और पढ़े: जोग जलप्रपात शिमोगा कर्नाटक 

5. मैसूर कर्नाटक का नक्शा – Mysore Karnataka Map

6. मैसूर की फोटो गैलरी – Mysore Images

और पढ़े:

Leave a Comment