दिल्ली की मोती मस्जिद घूमने की जानकारी – Moti Masjid Delhi Information In Hindi

Moti Masjid Delhi In Hindi, मोती मस्जिद दिल्ली के प्रमुख पर्यटन स्थलों में से एक हैं। यह मस्जिद “पर्ल मस्जिद” के नाम से भी जानी जाती है। मोती मस्जिद दिल्ली के लाल किले में स्थित बहुत ही खूबसूरत सरचना है जोकि पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करती है। इस मस्जिद का निर्माण मुग़ल बादशाह औरंगजेब के शासन काल में करवाया गया था। मोती मस्जिद की वास्तुकला देखने के लिए पर्यटक दूर दूर से लाल किले में प्रवेश करते हैं। मोती मस्जिद हम्माम के पश्चिम में स्थित और दीवान-ए-खास के निकट बनी हुई है।

औरंगजेब ने अपने विश्राम करने के कमरे से लेकर मोती मस्जिद तक जाने का रास्ता बनबाया हैं। औरंगजेब द्वारा निर्मित करवाई गई संरचनाओ में यह मस्जिद सबसे शानदार संरचना हैं। यदि आप दिल्ली के लाल किले में स्थित इस खूबसूरत मोती मस्जिद के बारे में अधिक जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो हमारे इस लेख को पूरा जरूर पढ़े –

1. नई दिल्ली की मोती मस्जिद का इतिहास – Moti Masjid History In Hindi

नई दिल्ली की मोती मस्जिद का इतिहास
Image Credit: Ralph Cheung

मोती मस्जिद के इतिहास से पता चलता है की दिल्ली के लाल किला में स्थित इस अनोखी मस्जिद का निर्माण मुग़ल बादशाह औरंगजेब ने अपनी दूसरी पत्नी नवाब बाई के लिए बनबाया था। इस मंदिर के निर्माण में करीब 1 साल का समय लगा था। मोती मस्जिद में जेनाना महिलाओं को प्रवेश की अनुमति भी प्राप्त थी। औरंगजेब ने इस मस्जिद का निर्माण प्रार्थना हॉल के रूप में करवाया था। सन 1857 के भारतीय विद्रोह के बाद इस मस्जिद को बहुत नुकसान हुआ था। हालाकि मोती मस्जिद का पुनः निर्माण करवाया गया था।

और पढ़े: दिल्ली में घूमने वाली सबसे अच्छी जगहें 

2. मोती मस्जिद दिल्ली संरचना – Moti Masjid Delhi Architecture In Hindi

मोती मस्जिद दिल्ली संरचना
Image Credit: Aatish Arora

मोती मस्जिद की संरचना की बात करे तो इस मस्जिद की संरचना को इंडो-इस्लामिक वास्तुकला में बनाया गया है। मोती मस्जिद लाल किला परिसर में छोटे बॉक्स के समान बनी हुई संरचना है। सफ़ेद संगमरमर के पत्थरों से सजी हुई इस मस्जिद में सोने के गुम्बद बने हुए है। मोती मस्जिद के पूर्वी तरफ के मुख्य प्रवेश द्वार के पास एक छोटा सा दरवाजा है जिसमें सजी हुई तांबे की प्लेटें लगी हुई है। इस मस्जिद में उत्तर में एक दरवाजा है जिसमे महिलाओं को प्रवेश की अनुमति होती थी। मोती मस्जिद के आँगन में एक तालाब भी है जोकि एक विशाल अभ्यारण है। इस अभ्यारण का नाम वुजू खान है। मोती मस्जिद के निर्माण में लगभग 160000 की लागत आगई थी।

3. दिल्ली की मोती मस्जिद का निर्माण किसने करवाया – Delhi Ki Moti Masjid Kisne Banwai In Hindi

दिल्ली के लाल किले में मोती मस्जिद का निर्माण मुग़ल बादशाह औरंगजेब ने करवाया था।

4. मोती मस्जिद का निर्माण कब हुआ था – Moti Masjid Dilli Ka Nirmaan Kab Hua Tha In Hindi

मोती मस्जिद का निर्माण कब हुआ था
Image Credit: Irfan Momin

मोती मस्जिद का निर्माण 1659 से 1660 ईस्वी में करवाया गया था।

5. मोती मस्जिद में लगने वाला प्रवेश शुल्क – Moti Masjid Delhi Entry Fees In Hindi

मोती मस्जिद पर्यटकों के लिए बिल्कुल फ्री हैं।

6. मोती मस्जिद दिल्ली खुलने और बंद होने का समय – Moti Masjid Delhi Timing In Hindi

मोती मस्जिद खुलने का समय सुबह 7 बजे से दोपहर के 12 बजे तक और दोपहर 1:30 से 6:30 बजे का होता हैं।

और पढ़े:  भारत के वीर शहीदों को समर्पित नेशनल वॉर मेमोरियल

7. मोती मस्जिद दिल्ली के आसपास में घूमने के लिए प्रमुख पर्यटन और दर्शनीय स्थल – Best Tourist Attractions Near Moti Masjid Delhi In Hindi

मोती मस्जिद भारत की राजधानी दिल्ली में स्थित हैं दिल्ली में आपको घूमने के लिए मोती मस्जिद के साथ साथ एक से बढ़कर एक पर्यटन स्थल मिल जायंगे। आप इन खूबसूरत पर्यटन स्थलों की यात्रा करके आपनी यात्रा को यादगार बना सकते हैं।

7.1 हुमायूँ का मकबरा – Humayun Tomb In Hindi

हुमायूँ का मकबरा

दिल्ली की सबसे मशहूर जगहों में से एक हुमायूँ का मकबरा है जोकि दिल्ली के निज़ामुद्दीन पूर्व क्षेत्र में स्थित है। यह मकबरा सम्राट हुमायूँ का अंतिम विश्राम स्थल है। यह शानदार मकबरा वर्ष 1569-70 में हुमायूँ के प्रमुख संघचालक बेगा बेगम द्वारा बनाया गया था। इसे फ़ारसी वास्तुकार मिराक मिर्ज़ा घियाथ द्वारा डिज़ाइन किया गया था। अपने शानदार डिजाइन और शानदार इतिहास के कारण, हुमायूँ का मकबरा वर्ष 1993 में यूनेस्को की विश्व विरासत सूची में शामिल किया गया था।यह शानदार मकबरा विशाल, अलंकृत मुगल गार्डन के बीच में स्थित है और इसकी सुंदरता सर्दियों के महीनों के दौरान बढ़ जाती है।

और पढ़े: हुमायूँ का मकबरा घूमने की जानकारी 

7.2 लाल किला – Red Fort In Hindi

लाल किला

दिल्ली के सबसे ख़ास स्थानों में लाल किले का नाम सबसे ज्यादा लोकप्रिय है। लाल किले में प्रसिद्ध मोती मस्जिद स्थित है। लाल किले का निर्माण शाहजहाँ द्वारा करवाया गया था। यह प्राचीन ऐतिहासिक दुर्ग पर्यटकों को बहुत ज्यादा पसंद आता है। लाल किला यमुना नदी के किनारे स्थित है। यह मध्ययुगीन शहर शाहजहानाबाद का एक हिस्सा था, जिसे आज पुरानी दिल्ली के नाम से जाना जाता है। यह 2007 में यूनेस्को की विश्व धरोहर स्थल बना। भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण इस शानदार स्मारक की सुरक्षा और संरक्षण के लिए वर्तमान में जिम्मेदार है।

और पढ़े: लाल किला दिल्ली के बारे में पूरी जानकारी

7.3 इंडिया गेट – India Gate In Hindi

इंडिया गेट

दिल्ली में मोती मस्जिद के बाद प्रसिद्ध और लोकप्रिय स्थानों में इंडिया गेट भी शामिल है। यह प्रसिद्ध अखिल भारतीय युद्ध स्मारक, नई दिल्ली में राजपथ के साथ स्थित है। इसकी तुलना अक्सर फ्रांस में आर्क डी ट्रायम्फ, मुंबई में गेटवे ऑफ इंडिया और रोम में कॉन्स्टेंटाइन के आर्क से की जाती है। यह 42 मीटर लंबा ऐतिहासिक ढांचा सर एडविन लुटियन द्वारा डिजाइन किया गया था और यह देश के सबसे बड़े युद्ध स्मारक में से एक है। इंडिया गेट हर साल गणतंत्र दिवस परेड की मेजबानी के लिए भी प्रसिद्ध है।

और पढ़े: इंडिया गेट दिल्ली घूमने की जानकारी 

7.4 इस्कॉन (हरे कृष्ण) मंदिर – ISKCON Temple In Hindi

इस्कॉन (हरे कृष्ण) मंदिर
Image Credit: Manoj Rathore

इस्कॉन मंदिर जिसे हरे राम हरे कृष्ण मंदिर के रूप में भी जाना जाता है भगवान कृष्ण को समर्पित है। इसकी स्थापना वर्ष 1998 में अच्युत कनविंडे द्वारा की गई थी और यह नई दिल्ली के कैलाश क्षेत्र के पूर्व में हरे कृष्णा हिल्स में स्थित है। सेंटर हॉल “हरे राम हरे कृष्ण” की स्वर्गीय धुन को दर्शाता है।

7.5 लोटस टेम्पल – Lotus Temple In Hindi

लोटस टेम्पल

नई दिल्ली में स्थित लोटस टेम्पल बहाई शानदार संरचना हैं और मोती की यात्रा के दौरान देखने लायक जगह हैं। इस इमारत की संरचना एक शानदार सफेद पंखुड़ी वाले कमल के रूप में की गई है और यह दुनिया के सबसे अधिक देखे जाने वाले प्रतिष्ठानों में से एक है। इस मंदिर के डिजाइन की अवधारणा कनाडाई वास्तुकार फारिबोरज़ साहबा ने बनाई थी और वर्ष 1986 में पूरी हुई थी।

और पढ़े: लोटस टेंपल दिल्ली की जानकरी 

7.6 स्वामीनारायण अक्षरधाम मंदिर – Swaminarayan Akshardham Temple In Hindi

स्वामीनारायण अक्षरधाम मंदिर

भारतीय संस्कृति, आध्यात्मिकता और वास्तुकला का एक प्रतीक स्वामीनारायण अक्षरधाम मंदिर 2005 में निर्मित भगवान स्वामीनारायण का निवास है। यमुना नदी के तट पर स्थित मंदिर हिंदू धर्म और इसकी संस्कृति को दर्शाता है।

और पढ़े: अक्षरधाम मंदिर के दर्शन की जानकारी

7.7 क़ुतुब मीनार – Qutubminar In Hindi

कुतुब मीनार

कुतुब मीनार दुनिया का सबसे ऊंचा टॉवर और दिल्ली का दूसरा सबसे बड़ा स्मारक है। एक यूनेस्को विश्व विरासत स्थल, यह महरौली में स्थित है और इसका निर्माण 1192 में दिल्ली सल्तनत के संस्थापक कुतुब उद-दीन-ऐबक द्वारा शुरू किया गया था। बाद में, टॉवर का निर्माण सदियों से विभिन्न शासकों द्वारा किया गया था। इस शानदार स्मारक का नजारा आपको भारत के समृद्ध इतिहास से रूबरू कराता है।

और पढ़े: क़ुतुब मीनार की जानकारी 

7.8 जंतर मंतर – Jantar Mantar In Hindi

जंतर मंतर

संसद मार्ग नई दिल्ली के दक्षिण कनॉट सर्किल में स्थित जंतर मंतर एक विशाल वेधशाला है जिसे समय और स्थान के अध्ययन में मदद करने और सुधारने के लिए बनाया गया है। यह महाराजा जय सिंह द्वारा वर्ष 1724 में बनाया गया था और यह जयपुर, उज्जैन, वाराणसी और मथुरा में स्थित पांच ऐसे वेधशालाओं के संग्रह का एक हिस्सा है।

7.9 लोधी गार्डन – Lodhi Garden In Hindi

लोधी गार्डन

दिल्ली के सफदरजंग मकबरे और खान मार्केट के पास स्थित लोधी गार्डन एक उद्यान है जिसमें सैय्यद शासक मोहम्मद शाह और लोधी राजा सिकंदर लोधी

और पढ़े: लोधी गार्डन घूमने की जानकारी और आसपास के पर्यटन स्थल

7.10 वेस्ट टू वंडर पार्क – Waste To Wonder Park In Hindi

वेस्ट टू वंडर पार्क
Image Credit: Saumitra Shashank

वेस्ट टू वंडर पार्क में औद्योगिक और कचरे से निर्मित दुनिया के प्रतिष्ठित सात अजूबों की प्रतिकृतियां हैं। दुनिया के अपने तरह के थीम पार्क में से एक राजीव गांधी स्मृति वन में इसका उद्घाटन किया गया था।

8. नई दिल्ली की मोती मस्जिद घूमने जाने का सबसे अच्छा समय – Best Time To Visit Moti Masjid Delhi In Hindi

नई दिल्ली की मोती मस्जिद घूमने जाने का सबसे अच्छा समय
Image Credit: Tanusree Roy

मोती मस्जिद दिल्ली घूमने जाने का सबसे अच्छा समय फ़रवरी से अप्रैल और अगस्त से नवम्बर का माना जाता है।

9. दिल्ली में खाने के लिए प्रसिद्ध भोजन – Famous Foods In Delhi In Hindi

दिल्ली में खाने के लिए प्रसिद्ध भोजन

दिल्ली अपने स्वादिष्ट व्यंजनों के लिए पूरे भारत में प्रसिद्ध है आप दिल्ली की यात्रा के दौरान यहाँ के पकवानों का स्वाद चख कर उँगलियाँ चाटते रह जायेंगे। दिल्ली के कुछ ख़ास और प्रसिद्ध भोजन छोला भटूरा, गोलगप्पे, दही भल्ला, दिल्ली के रोल्स, मसालेदार कचौड़ी, छोले समोसे, बिशन स्वरुप की चाट, लाजबाब आलू चाट, राम लड्डू, रबड़ी फालूदा, कवाब, पराठा, छोले कुल्चे, बेसन का चीला आदि हैं।

10. मोती मस्जिद के आसपास कहाँ रुके – Where To Stay Near Moti Masjid Delhi In Hindi

 मोती मस्जिद के आसपास कहाँ रुके

मोती मस्जिद दिल्ली के निकट रुखने के लिए आपको कई होटल और रिसोर्ट मिल जाएंगे जहां आप सुविधापूर्वक रुक सकते हैं।

  • शुक्ला होटल और लॉज
  • द ताज महल होटल न्यू दिल्ली
  • होटल ज्वेल्स पैलेस

और पढ़े:  योगमाया मंदिर के दर्शन और इतिहास की जानकारी

11. मोती मस्जिद दिल्ली कैसे पहुंचे – How To Reach Moti Masjid Delhi In Hindi

मोती मस्जिद जाने के लिए आप फ्लाइट, ट्रेन और बस में से किसी का भी चुनाव कर सकते हैं।

11.1 फ्लाइट से मोती मस्जिद कैसे जाये – How To Reach Moti Masjid By Flight In Hindi

फ्लाइट से मोती मस्जिद कैसे जाये

मोती मस्जिद घूमने के लिए यदि आपने हवाई मार्ग का चुनाव किया है तो हम आपको बता दे कि दिल्ली का इंदिरा गाँधी अन्तर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा सबसे अच्छा विकल्प हैं। हवाई अड्डे से आप स्थानीय साधनो की मदद से लाल किला और मोती मस्जिद तक आसानी से पहुंच सकते हैं।

11.2 ट्रेन से मोती मस्जिद कैसे पहुंचे – How To Reach Moti Masjid Delhi By Train In Hindi

 ट्रेन से मोती मस्जिद कैसे पहुंचे

मोती मस्जिद जाने के लिए यदि आपने रेलवे मार्ग का चुनाव किया हैं तो हम आपको बता दें कि दिल्ली रेलवे जंक्शन पुरानी दिल्ली में स्थित हैं। इसके अलावा हज़रत निज़ामुद्दीन और आनंद विहार रेलवे स्टेशन दिल्ली के अन्य रेलवे स्टेशन हैं। आप इनमे से किसी भी स्टेशन का चुनाव कर सकते हैं और दिल्ली में चलने वाले स्थानीय साधनों की मदद से मोती मस्जिद तक का सफ़र तय कर सकते हैं।

11.3 बस से मोती मस्जिद दिल्ली कैसे जाये – How To Reach Moti Masjid By Bus In Hindi

बस से मोती मस्जिद दिल्ली कैसे जाये

मोती मस्जिद जाने के लिए यदि आपने सड़क मार्ग की योजना बनाई हैं तो बता दें कि दिल्ली अपने आसपास के सभी शहरो से सड़क मार्ग के माध्यम से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ। आप बस या अन्य किसी साधन से मोती मस्जिद तक आसानी से पहुँच जाएंगे।

और पढ़े:  पिंजौर गार्डन से जुड़ी जानकारी और इतिहास 

इस आर्टिकल में आपने मोती मस्जिद दिल्ली के बारे में विस्तार से जाना है आपको यह आर्टिकल केसा लगा हमे कमेन्ट करके जरूर बतायें।

इसी तरह की अन्य जानकारी हिन्दी में पढ़ने के लिए हमारे एंड्रॉएड ऐप को डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक करें। और आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

12. मोती मस्जिद दिल्ली का नक्शा – Moti Masjid Delhi Map

13. मोती मस्जिद की फोटो गैलरी – Moti Masjid Images

Image Credit: Ajay Sangwan
Image Credit: Ambrish Varshney
Image Credit: Joy Bose

और पढ़े:

Leave a Comment