Generic selectors
Exact matches only
Search in title
Search in content
Search in posts
Search in pages

Lodhi Garden In Hindi, लोधी गार्डन भारत की राजधानी दिल्ली में सफदरजंग मकबरे और खान मार्केट के पास स्थित एक आकर्षित पर्यटन उद्यान है। इस खूबसूरत लोधी पार्क में सैय्यद शासक मोहम्मद शाह और लोधी वंश के राजा सिकंदर लोधी की कब्रें बनी हुई हैं। लोधी पार्क को ‘लेडी विलिंगडन पार्क’ के नाम से भी जाना जाता था। लेकिन आजादी के बाद इस पार्क का नाम बदलकर लोधी गार्डन कर दिया गया था।

खूबसूरत वातावरण के साथ-साथ लोधी पार्क यहां के लोगो के लिए सुबह-शाम व्ययाम करने की जगह बन गया हैं। पिकनिक मानाने के लिए दूर-दूर से पर्यटक इस स्थान पर आते है। यदि आप भी इस खूबसूरत गार्डन से जुडी बातो को जानना चाहते हैं, तो हमारे इस लेख को पूरा जरूर पढ़े।

1. लोधी गार्डन का इतिहास – Lodhi Garden History In Hindi

लोधी गार्डन का इतिहास

लोधी गार्डन के इतिहास पर नजर डालने पर हम पाते है कि इस गार्डन का परिदृश्य पहली बार सामने उस वक्त आया, जब 1414 में सैय्यद राजवंश के दूसरे शासक मोहम्मद शाह का मकबरा अलाउद्दीन आलम द्वारा यहां निर्मित करबाया गया था। वर्ष 1517 में सिकंदर लोधी का मकबरा उनके पुत्र इब्राहिम लोधी ने यहां बनबाया था। लोधी वंश के अंतिम शासक इब्राहीम लोधी थे। मुगल वंश के तीसरे सम्राट अकबर ने इस बगीचे को वेधशाला के रूप में इस्तेमाल किया था। अंग्रेजो ने भी इस महत्वपूर्ण स्थान के महत्व को माना और नियमित रूप से ब्रिटिश राज के तहत यहां पर जीर्णोद्धार किया। हालाकि भारत के गवर्नरजनरल की पत्नी मर्कुएस ऑफ विल्लिंगडॉन ने इस खूबसूरत गार्डन को उजाड़ दिया था। 9 अप्रैल 1936 को पार्क के उद्घाटन के समय इसे ‘लेडी विलिंगडन पार्क’ नाम दिया गया और भारत की आजादी के बाद इसे लोधी गार्डन के नाम से संबोधित किया गया।

और पढ़े: हजरत निजामुद्दीन औलिया दरगाह दिल्ली के बारे में जानकारी 

2. लोधी गार्डन की संरचना – Lodhi Garden Architecture In Hindi

लोधी गार्डन की संरचना

लोधी गार्डन की संरचना बहुत ही शानदार और देखने लायक हैं। आइए हम आपको लोधी पार्क की वास्तुकला, प्राकृतिक आकर्षण और मानव निर्मित सुंदरता का एक शानदार संगम प्रस्तुत करते है। लोधी गार्डन के बीच में बारा गुंबद है जोकि एक बड़े मलबे वाला गुंबद है। हालाकि बारा गुम्बद कोई मकबरा नही हैं बल्कि तीन गुंबद वाली मस्जिद के निकट का रास्ता है। बारा गुंबद के फ्रंट में एक ग्लास डोम है जिसे इसकी खूबसूरत चमकदार टाइलों के लिए जाना जाता हैं। लोधी गार्डन में बनी छत में कुरान शिलालेख के साथ प्लास्टर का काम है, जोकि हिंदू और इस्लामी वास्तुकला प्रतिनिधित्व करता है। पार्क की सबसे दिलचस्प बात यहां के ग्लास डोम में रखे गए एक अज्ञात परिवार के अवशेष हैं। जिसका निर्माण सिकंदर लोदी के समय के दौरान किया गया था। गार्डन में एक सुंदर जलकुंड होने के अवशेष मिलते हैं जोकि यमुना नदी को सिकंदर लोदी के मकबरे के साथ जोड़ता हैं। मुगल सम्राट अकबर के द्वारा सात शक्तिशाली मेहराब का निर्माण भी यहां किया गया था। सैय्यद वंश के अंतिम शासक मोहम्मद शाह का मकबरा यहां के सबसे बड़े मकबरों में से एक हैं।

3. लोधी गार्डन के रोचक तथ्य – Interesting Facts About Lodhi Garden In Hindi

लोधी गार्डन के रोचक तथ्य

  • लोधी गार्डन भारत के दिल्ली शहर में स्थित हैं।
  • लोधी गार्डन 90 एकड़ के क्षेत्र में फैला हुआ हैं।
  • लोधी पार्क 15 वी शताब्दी सैय्यद और लोदी राजवंशों के विस्तृत वास्तुशिल्प कार्यों का दावा प्रस्तुत करता हैं।
  • सिकंदर लोदी का मकबरा सन 1517 में बनाया गया था।

और पढ़े: दिल्ली में घूमने वाली सबसे अच्छी जगहें 

4. लोधी गार्डन के अन्दर घूमने लायक जगह और प्रमुख दर्शनीय स्थल –Best Places To Visit Inside Lodhi Garden In Hindi

लोधी गार्डन के पर्यटन स्थलों में देखने के लिए कई ऐतिहासिक कब्र के अलावा भी स्मारकों को देखा जा सकता हैं। पर्यटक इस स्थान पर घूमने के लिए बड़ी तादाद में आते हैं। तो आइए लोधी गार्डन के पर्यटक स्थलों का दौरा हम इस आर्टिकल के माध्यम से करते हैं।

4.1 लोदी गार्डन में मोहम्मद शाह मकबरा – Mohammed Shah Tomb At Lodi Gardens In Hindi

लोदी गार्डन में मोहम्मद शाह मकबरा

लोदी गार्डन के प्रमुख आकर्षण में अल-उद-दीन आलम शाह द्वारा निर्मित सैय्यद वंश के तीसरे सम्राट मोहम्मद शाह को श्रद्धांजलि के रूप में यह सबसे पहली कब्र हैं। इस मकबरे का निर्माण सन 1444 में किया गया था। यह एक अष्टकोणीय आकार का मकबरा है। कमल के मुकुट के तरह की गई नुक्काशी देखने लायक हैं।

4.2 सिकंदर लोदी मकबरा – Tomb Of Sikandar Lodi In Hindi

सिकंदर लोदी मकबरा

सिकंदर लोधी का मकबरा वर्ष 1517 में इब्राहिम लोदी द्वारा निर्मित करबाया गया था। लोधी गार्डन के उत्तर-पश्चिमी क्षेत्र में यह शीश गुम्बद स्थित है। मोहम्मद शाह और मुबारक शाह के मकबरे में साथ कुछ समानताएँ भी हैं।

और पढ़े: पिंजौर गार्डन से जुड़ी जानकारी और इतिहास 

4.3 लोदी गार्डन में बड़ा गुंबद – Bara Gumbad In Lodi Gardens In Hindi

लोदी गार्डन में बड़ा गुंबद

लोधी गार्डन में देखने वाली जगहों में सुल्तान सिकंदर लोदी के शासनकाल में निर्मित किया बड़ा गुम्बद यहां के सबसे बड़े मकबरों में से एक हैं। बड़ा गुम्बद का आकर चौकोर हैं और यह मुहम्मद शाह के मकबरे से उत्तर-पूर्व में स्थित हैं। बड़े गुम्बद के अंदरूनी हिस्से में प्लास्टर का काम और खूबसूरत पेंटिंग देखने को मिल जाती हैं। बारा गुम्बद मस्जिद मकबरे के ठीक नजदीक में स्थित है।

4.4 लोदी गार्डन में शीश गुंबद – Sheesh Gumbad In Lodi Gardens In Hindi

लोदी गार्डन में शीश गुंबद

लोधी गार्डन में देखने लायक स्थान बर गुम्बद से कुछ मीटर की दूरी पर शीश गुम्बद में हिंदू और इस्लामी वास्तुकला का शानदार मिश्रण प्रस्तुत करता है। इस गुम्बद को चमकता हुआ गुंबद भी कहां जाता है।

4.5 लोदी गार्डन में अथपुला – Athpula In Lodi Gardens In Hindi

लोदी गार्डन में अथपुला

लोधी गार्डन का आकर्षण अथपुला सिकंदर लोदी के मकबरे के पूर्वी भाग में स्थित है। इसका निर्माण सम्राट अकबर के शासन काल में करबाया गया था। अथपुला एक पत्थर का पुल है जोकि बगीचे में एक छोटे से जलमार्ग पर मेहराब और खंभे के रूप में हैं।

और पढ़े:  चंडीगढ़ के आसपास घूमने की 10 जगह 

5. लोधी गार्डन के आसपास के प्रमुख आकर्षण स्थल और पर्यटन स्थल –Tourist Attraction Near Lodhi Garden In Hindi

5.1 हुमायूँ का मकबरा – Humayun Tomb In Hindi

हुमायूँ का मकबरा

हुमायूं का मकबरा मुगल सम्राट हुमायूं का अंतिम विश्राम स्थल है। दिल्ली के निज़ामुद्दीन पूर्व क्षेत्र में स्थित यह भारतीय उपमहाद्वीप में पहला उद्यान मकबरा है। वास्तुकला का यह शानदार मकबरा वर्ष 1569-70 में हुमायूँ के प्रमुख संघ चालक बेगा बेगम द्वारा बनाया गया था।

और पढ़े: हुमायूँ का मकबरा घूमने की जानकारी 

5.2 कुतुब मीनार – Qutub Minar In Hindi

कुतुब मीनार

कुतुब मीनार दुनिया का सबसे ऊंचा टॉवर और दिल्ली का दूसरा सबसे बड़ा स्मारक है। यूनेस्को विश्व विरासत स्थल महरौली में स्थित है और इसका निर्माण 1192 में दिल्ली सल्तनत के संस्थापक कुतुब उद-दीन-ऐबक द्वारा शुरू किया गया था। बाद में, टॉवर का निर्माण सदियों से विभिन्न शासकों द्वारा किया गया था।

और पढ़े: क़ुतुब मीनार की जानकारी 

5.3 लाल किला – Red Fort In Hindi

लाल किला

लाल किला नई दिल्ली की राष्ट्रीय राजधानी में एक ऐतिहासिक दुर्ग है। शहर के केंद्र में स्थित यह मुगल वंश के संरक्षणों का मुख्य निवास था। इसका निर्माण शाहजहाँ ने वर्ष 1939 में अपनी राजधानी आगरा से दिल्ली शिफ्ट होने के परिणामस्वरूप किया था।

और पढ़े: लाल किला दिल्ली के बारे में पूरी जानकारी 

5.4 इंडिया गेट – India Gate In Hindi

इंडिया गेट

इंडिया गेट के नाम से प्रसिद्ध अखिल भारतीय युद्ध स्मारक नई दिल्ली में राजपथ के साथ स्थित है। इसकी तुलना अक्सर फ्रांस में आर्क डी ट्रायम्फ, मुंबई में गेटवे ऑफ इंडिया और रोम में कॉन्स्टेंटाइन के आर्क से की जाती है। यह 42 मीटर लंबा ऐतिहासिक ढांचा सर एड्विन लुटियन द्वारा डिजाइन किया गया था और यह देश के सबसे बड़े युद्ध स्मारक में से एक है।

और पढ़े: इंडिया गेट दिल्ली घूमने की जानकारी 

5.5 लोटस टेम्पल – Lotus Temple In Hindi

लोटस टेम्पल

नई दिल्ली में स्थित लोटस टेम्पल बहाई विश्वास को समर्पित है। इस इमारत की शानदार संरचना एक शानदार सफेद पंखुड़ी वाले कमल के रूप में की गई है और यह दुनिया के सबसे अधिक देखे जाने वाले प्रतिष्ठानों में से एक है। इस मंदिर के डिजाइन की अवधारणा कानडाई और फारिबोरज़ साहबा ने बनाई थी और वर्ष 1986 में पूरी तरह से हुई थी।

और पढ़े: लोटस टेंपल दिल्ली की जानकरी 

5.6 स्वामीनारायण अक्षरधाम मंदिर- Swaminarayan Akshardham Temple In Hindi

स्वामीनारायण अक्षरधाम मंदिर

भारतीय संस्कृति, आध्यात्मिकता और वास्तुकला का एक प्रतीक, स्वामीनारायण अक्षरधाम मंदिर 2005 में निर्मित भगवान स्वामीनारायण का निवास स्थान है। यमुना नदी के तट पर स्थित मंदिर हिंदू धर्म और इसकी संस्कृति को दर्शाता है। भगवान स्वामीनारायण को समर्पित अक्षरधाम ने गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दुनिया के सबसे बड़े व्यापक हिंदू मंदिर के रूप में अपनी जगह बनाई है। इन्में आठ अस्थाई रूप से नक्काशीदार मंडप हैं।

और पढ़े: दिल्ली के शनिधाम मंदिर दर्शन की पूरी जानकारी 

5.7 जंतर मंतर दिल्ली – Jantar Mantar In Hindi

जंतर मंतर दिल्ली

संसद मार्ग पर नई दिल्ली के दक्षिण कनॉट सर्किल में स्थित जंतर मंतर एक विशाल वेधशाला है। जिसका समय और स्थान के अध्ययन में मदद करने और सुधारने के लिए बनाया गया है। यह महाराजा जय सिंह द्वारा वर्ष 1724 में बनाया गया था और यह जयपुर, उज्जैन, वाराणसी और मथुरा में पांच ऐसे वेधशालाओं के संग्रह का एक हिस्सा है।

5.8 मुगल गार्डन – Mughal Garden In Hindi

मुगल गार्डन

राष्ट्रपति महल की “आत्मा” के रूप में लोकप्रिय मुगल गार्डन राष्ट्रपति भवन परिसर के अंदर स्थित है। लेडी एडिंग के लिए वर्ष 1917 में सर विज्ञापनिन लुटियंस द्वारा डिजाइन किया गया है। यह उद्यान 13 एकड़ के विशाल क्षेत्र को कवर करता है और ब्रिटिश शैली के साथ मुगल वास्तुकला का अद्भुत समावेश है।

और पढ़े: राष्ट्रपति भवन के बारे में जानकारी और रोचक तथ्य 

5.9 चांदनी चौक – Chandni Chawk In Hindiचांदनी चौक

 

पुरानी दिल्ली के सबसे पुराने चार्ट में से एक चांदनी चौक पुरानी दिल्ली का मुख्य केंद्र है। इसका निर्माण 17 वीं शताब्दी में भारत के मुगल शासक शाहजहाँ ने किया था। यह लाल किले के सामने स्थित है। 17 वीं शताब्दी के युग के बाद से, इस स्थान को दिल्ली में “शॉपर्स स्वर्ग” कहा जाता है। चांदनी चौक पर खरीदारी करना मजेदार है क्योंकि बाजार कई गलियों में बंटा हुआ है और इन संकरी गलियों में कपड़े, इत्र, इलेक्ट्रॉनिक आइटम, आभूषण, मोमबत्तियां, भगवान की मूर्तियों और जीवन शैली से जुड़ी कई चीजें कम कीमतों पर मिलती हैं।

और पढ़े:  चांदनी चौक को बाजारों का स्वर्ग क्यों कहां जाता हैं जानिए 

5.10 सिटी वॉक मॉल – City Walk Mall In Hindi

सिटी वॉक मॉल

सिलेक्ट सिटी वॉक मॉल दिल्ली के सबसे लोकप्रिय शॉपिंग मॉल में से एक है। शहर के साकेत उपनगर में स्थित यह मॉल आंतरिक और घरेलू दोनों ब्रांड के स्टोरों से भरा हुआ है। बच्चों के लिए मजेदार और गेम्स जोन और एक विशाल पीवीआर मल्टीप्लेक्स के अलावा मॉल में ओम्पटीन फूड चेन रेस्तरां के साथ विशाल फूड कोर्ट भी है।

और पढ़े: दिल्‍ली के बेस्‍ट शॉपिंग मार्केट

6. लोदी गार्डन में वनस्पति और जीव – Flora And Fauna In Lodi Garden In Hindi

लोदी गार्डन में वनस्पति और जीव

लोदी गार्डन में देखने के लिए एक गुलाब का बगीचा, एक छोटी झील और एक ग्रीनहाउस है। जहां विभिन्न प्रकार के पेड़-पौधो के अलावा जीव जन्तुओ को भी देखा जा सकता हैं। जैसे कि उल्लू, म्यानह, पतंग, बेबब्लर्स, पैराकेट्स, किंगफिशर और हॉर्नबिल आदि।

7. लोधी गार्डन के खुलने और बंद होने का समय – Lodhi Garden Timing In Hindi

लोधी गार्डन सप्ताह के 7 दिन खुला रहता है सुबह 6 बजे से शाम 7.30 बजे तक

8. लोधी गार्डन का प्रवेश शुल्क – Lodhi Garden Entry Fee In Hindi

लोधी गार्डन का प्रवेश शुल्क

लोधी गार्डन घूमने के लिए पर्यटकों को कोई प्रवेश शुल्क देने की आवश्यकता नही है क्योंकि यह पार्क सभी के लिए निशुल्क हैं।

9. लोधी गार्डन घूमने जाने का सबसे अच्छा समय – Best Time To Visit Lodhi Garden In Hindi

लोधी गार्डन घूमने का सबसे अच्छा समय अप्रैल से सितंबर माह में सुबह 5:00 बजे से शाम 8:00 बजे तक है। अक्टूबर से मार्च तक सुबह 6:00 बजे से रात 8:00 के बजे तक का रहता हैं।

10. दिल्ली का स्थानीय भोजन – Local Food Of Delhi In Hindi

दिल्ली का स्थानीय भोजन

दिल्ली शहर भारत की राजधानी हैं और यहां स्वादिष्ट व्यंजनों की भरमार देखने को मिलती है। यदि आप दिल्ली के लोधी गार्डन या अन्य पर्यटक स्थल घूमने के लिए दिल्ली आएं हुए हैं, तो दिल्ली के स्थानीय भोजन को चखना न भूले। यहां के प्रसिद्ध भोजन सामग्री में पराठा, चाट, बट्टर चिक्कन, कैबाब्स, छोले-भटूरे, विरयानी, निहारी, रोल्स और मोमोस आदि आपको मिल जाएंगे।

और पढ़े: दिल्ली का मशहूर स्ट्रीट फूड

11. लोधी गार्डन के पास कहाँ रुके – Where To Stay In Delhi In Hindi

लोधी गार्डन के पास कहाँ रुके

लोधी गार्डन और इसके पर्यटक स्थल घूमने के बाद यदि आप यहां रुकना चाहते है, तो हम आपको बता दें कि लोधी गार्डन दिल्ली में स्थित हैं और दिल्ली में कई लो-बजट से लेकर हाई-बजट तक के होटल आपको मिल जायंगे।

12. लोधी गार्डन कैसे जाये – How To Reach Lodhi Garden In Hindi

लोधी गार्डन जाने के लिए आप फ्लाइट, ट्रेन और बस में से किसी का भी चुनाव कर सकते हैं। क्योंकि दिल्ली शहर सभी तरह की संचार व्यवस्थाओं से संपन्न हैं।

12.1 फ्लाइट से लोधी गार्डन कैसे पहुंचे – How To Reach Lodhi Garden By Flight In Hindi

फ्लाइट से लोधी गार्डन कैसे पहुंचे

दिल्ली शहर नेशनल और इंटरनेशनल सभी प्रकार की उड़ानों से अच्छी तरह से संचालित करता हैं। नई दिल्ली में स्थित इंदिरा गांधी अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे के लिए आप अपनी उडान भर सकते हैं। दिल्ली एअरपोर्ट से स्थानीय साधनों के माध्यम से लोधी पार्क पहुंच जाएंगे।

12.2 लोधी गार्डन ट्रेन से कैसे पहुंचे – How To Reach Lodhi Garden By Train In Hindi

लोधी गार्डन ट्रेन से कैसे पहुंचे

लोधी गार्डन जाने के लिए यदि आपने रेल मार्ग का चुनाव किया हैं, तो हम आपको बता दें कि रेलवे नेटवर्क के माध्यम से दिल्ली को भारत के सभी प्रमुख शहरो से जोड़ा गया है। देश की राजधानी दिल्ली के तीन महत्वपूर्ण रेलवे स्टेशन हज़रत निज़ामुद्दीन रेलवे स्टेशन, नई दिल्ली रेलवे स्टेशन और पुरानी दिल्ली रेलवे स्टेशन है। रेलवे स्टेशन से आप यहां के स्थानीय साधनों के माध्यम से लोधी गार्डन पहुंच जाएंगे।

12.3 लोधी गार्डन कैसे पहुंचे बस से – How To Reach Lodhi Garden By Bus In Hindi

लोधी गार्डन कैसे पहुंचे बस से

लोदी गार्डन जाने के लिए यदि आपने सड़क मार्ग का चुनाव किया हैं, तो हम आपको बता दें कि दिल्ली शहर सड़क मार्ग के माध्यम से अपने पडोसी शहर और देश के प्रमुख शहरो से बहुत अच्छी तरह से जुड़ा हुआ हैं। दिल्ली में तीन प्रमुख बस स्टैंड कश्मीरी गेट,  इंटर स्टेट बस टर्मिनस (ISBT) और सराय काले-खान बस टर्मिनस हैं। स्टैंड से आप स्थानीय साधनों की मदद से लोधी गार्डन पहुंच जाएंगे।

12.4 मेट्रो से लोधी गार्डन कैसे जाये – How To Reach Lodhi Garden By Metro Rail In Hindi

मेट्रो से लोधी गार्डन कैसे जाये

जे.एल.एन. मेट्रो स्टेशन लोधी गार्डन के सबसे नजदीकी मेट्रो स्टेशन है।

और पढ़े: दिल्ली में घूमने वाली सबसे अच्छी जगहें 

13. लोधी गार्डन का नक्शा – Lodhi Garden Map

14. लोधी गार्डन की फोटो गैलरी – Lodhi Garden Images

View this post on Instagram

The history never leaves you ! @shivyam

A post shared by Bedant Nayak (@bedantnayak) on

View this post on Instagram

Beauty of History

A post shared by Shweta Tamhankar (@art_touching_life) on

और पढ़े:

Write A Comment