Generic selectors
Exact matches only
Search in title
Search in content
Search in posts
Search in pages

Akshardham Temple Delhi In Hindi, स्वामीनारायण अक्षरधाम मंदिर भारत का एक प्रसिद्ध मंदिर है जो दिल्ली में स्थित है। अक्षरधाम मंदिर साल 2005 में खोला गया था, जो भगवान स्वामीनारायण को समर्पित है। यमुना अदि के तट पर स्थित अक्षरधाम मंदिर हिंदू धर्म और इसकी प्राचीन संस्कृति को दर्शाता है। इस मंदिर की सबसे खास बात यह है कि इस मंदिर ने दुनिया के सबसे बड़े व्यापक हिंदू मंदिर के रूप में गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में अपनी जगह बनाई है। स्वामीनारायण अक्षरधाम मंदिर की प्रमुख मूर्ति स्वामीनारायण की मूर्ति है और इसके साथ 20,000 भारत के दिव्य महापुरूषों की मुर्तिया भी शामिल हैं। बताया जाता है कि इस मंदिर का निर्माण जटिल नक्काशीदार संगमरमर और बलुआ पत्थर से करवाया गया है।
यह मंदिर 100 एकड़ की भूमि में फैला हुआ है। अक्षरधाम मंदिर यहाँ आने वाले पर्यटकों को एक अध्यात्मिक ज्ञान की यात्रा पर ले जाता है। मंदिर के दर्शन करने के बाद भक्तों को एक अदभुद आनंद की प्राप्ति होती है। अगर आप अक्षरधाम मंदिर के बारे में अन्य जानकारी चाहते हैं तो इस लेख को जरुर पढ़ें, यहां हम आपको अक्षरधाम मंदिर के बारे में पूरी जानकारी देने जा रहें हैं।

1. अक्षरधाम मंदिर का इतिहास – Akshardham Mandir History In Hindi

अक्षरधाम मंदिर का इतिहास

6 नवंबर 2005 को खोला गया अक्षरधाम मंदिर BAPS (पूर्ण रूप: बोचासनवासी श्री अक्षर पुरुषोत्तम स्वामीनारायण संस्थान) द्वारा निर्मित है। परिसर का प्रमुख आकर्षण यानी अक्षरधाम मंदिर है जिसमें 141 फीट ऊंचे और 350 फुट लंबे, 315 फीट चौड़े स्मारक हैं। मंदिर में देवताओं, संगीतकारों, नृत्यों, वनस्पतियों और जीवों की छवियों के साथ नक्काशीदार दीवारें और अच्छी वास्तुकला की छत हैं। यहाँ की हर चीज़ें भारतीय सांस्कृतिक पहलुओं के बारे में बताती हैं।

और पढ़े: कमल मंदिर घूमने की जानकरी और आसपास के पर्यटन स्थल

2. दिल्ली के अक्षरधाम मंदिर की वास्तुकला तकनीक – Akshardham Temple Architectural Techniques In Hindi

दिल्ली के अक्षरधाम मंदिर की वास्तुकला तकनीक

स्वामीनारायण अक्षरधाम मंदिर का निर्माण भारतीय वस्तुकला की कई प्राचीन शैलियों से किया गया है। इस मंदिर के निर्माण में महर्षि वास्तु वास्तुकला के सिद्धांतों का सावधानीपूर्वक पालन किया गया है। बता दें कि मंदिर के निर्माणकर्ताओं ने शिल्पा शास्त्रों के मानदंडों का पालन किया है और इसलिए इस विशाल मंदिर के जीवनकाल को अधिकतम करने के लिए स्टील और कंक्रीट का कोई उपयोग नहीं किया है। अक्षरधाम पूरी तरह से राजस्थानी गुलाबी बलुआ पत्थर और इतालवी करारा संगमरमर से बना मंदिर है। इसमें विभिन्न देवताओं, आचार्यों और साधुओं की 20,000 मर्तियों के साथ नौ गुंबद है।

3. अक्षरधाम मंदिर के अन्दर के प्रमुख आकर्षण – Attractions Inside Akshardham Temple In Hindi

अक्षरधाम मंदिर के अन्दर के प्रमुख आकर्षण

3.1 सहजनानंद दरशन – द हॉल ऑफ वैल्यूज – Sahajanand Darshan (The Hall Of Values) In Hindi

जैसा कि नाम से पता चलता है द हॉल ऑफ वैल्यूज़, दृढ़ता, अहिंसा, पारिवारिक सद्भाव, प्रार्थना और नैतिकता जैसे मूल्यों का गहराई से ज्ञान लेने के लिए बनाया गया है। हिंदू संस्कृति के कालातीत संदेशों को ऑडियो-एनिमेट्रोनिक शो द्वारा बताया जाता है। हॉल में घनश्याम महाराज, स्वामीनारायण के बाल रूप में दुनिया का सबसे छोटा एनिमेट्रोनिक रोबोट है।

3.2 संगीत फाउंटेन या वाटर शो – Musical Fountain (The Water Show) In Hindi

संगीत फाउंटेन या वाटर शो

Image Credit: Kishore Das

अक्षरधाम की यात्रा यहां के लेजर वॉटर शो के बिना अधूरी सी है। 24 मिनट के इस शो में वॉटर, प्रोजेक्शन, म्यूजिक, फायर, लेजर, एनिमेशन और टेक्नोलॉजी की मदद से एक ऐसा शो तैयार किया गया है जो एक शानदार अनुभव देता है। मंदिर द्वारा इस शो को आनंद वॉटर शो नाम दिया है। जो भी लोग इस शो को देखने के लिए आते हैं वो एक पल भी अपनी आंख नहीं झपकाते। अक्षरधाम मंदिर अपने तरह का सबसे अलग शो होने का दावा करता है।

टाइमिंग – यह शाम 7:30 बजे शुरू होता है।

3.3 बोट राइड (संस्कृत विहार) – Boat Ride (Sanskriti Vihar) In Hindi

अगर आप अक्षरधाम के दर्शन करने के लिए जा रहें हैं तो आपको यहां की सांस्कृतिक नाव की सवारी जरुर करना चहिये। यह यात्रा भारतीय संस्कृति और विरासत के पुराने पन्नों परिचित करवाती है। इसमें वैदिक भारतीयों जैसे आर्यभट्ट, ब्रह्मगुप्त, कालिदास, चाणक्य और बहुत कुछ का योगदान है। इसके बाद यह सवारी तक्षशिला को दिखाता है, जो दुनिया का पहला विश्वविद्यालय है जिसमें घुड़सवारी और युद्ध के सबक शामिल हैं। वैदिक काल से यह कबीर, मीरा, रामानंद जैसी प्रसिद्ध शख्सियतों को दिखाते हुए धीरे-धीरे मध्य युग में चली जाती है।

3.4 नीलकंठ दर्शन- विशाल पर्दे पर फिल्म – Neelkanth Darshan (Giant Screen Film) In Hindi

नीलकंठ दर्शन- विशाल पर्दे पर फिल्म

Image Credit: Vrutik Valand

एक महान विशालकाय थियेटर में नीलकण्ठ नामक एक योगी की कथा के माध्यम से भारत की जानकारी दी जाती है, जिसमें देश की संस्कृति और आध्यात्मिकता के माध्यम से जीवन दर्शन में उतारा जाता है।

3.5 नारायण सरोवर – Narayan Sarovar In Hindi

भारतीय संस्कृति ने हमेशा से जल निकायों का महिमामंडन किया और उनका सम्मान किया है। भारत में गंगा, यमुना, कावेरी आदि कई नदियों को धार्मिक महत्व दिया जाता है। नारायण सरोवर को केंद्रीय अक्षरधाम मंदिर के आसपास बनाया गया है। सरोवर में 151 पवित्र नदियों और झीलों का पानी शामिल है।

और पढ़े: दिल्ली के शनिधाम मंदिर दर्शन की पूरी जानकारी 

4. अक्षरधाम मंदिर खुलने का समय – Akshardham Temple Delhi Timing In Hindi

अक्षरधाम मंदिर खुलने का समय

Image Credit: Nitin Suryawnshi

प्रवेश का समय: सुबह 9:30 बजे से 6:30 बजे तक
प्रदर्शनी का समय: 10:30 बजे से शाम 6:00 बजे तक
प्रदर्शनी का समय: 10 बजे से शाम 5 बजे तक
अक्षरधाम मंदिर वाटर शो टाइमिंग: 7:45 बजे

5. अक्षरधाम मंदिर का प्रदर्शनी या प्रवेश शुल्क – Akshardham Temple Ticket Price In Hindi

वयस्क- 170 रूपये
वरिष्ठ नागरिक- 125 रूपये
4 साल से 21 वर्ष के लिए- 100 रूपये
4 साल से कम उम्र के बच्चों के लिए- फ्री

6. अक्षरधाम मंदिर में वाटर शो देखने का शुल्क – Akshardham Temple Water Show Entry Fees In Hindi

अक्षरधाम मंदिर में वाटर शो देखने का शुल्क

Image Credit: Kishore Das

वयस्क- 80 रूपये
वरिष्ठ नागरिक- 80 रूपये
4 साल से 21 वर्ष के लिए- 50 रूपये
4 साल से कम उम्र के बच्चों के लिए- फ्री

और पढ़े: योगमाया मंदिर के दर्शन और इतिहास की जानकारी 

7. अक्षरधाम मंदिर कब बंद रहता है – Akshardham Temple Kab Band Rehta Hai

अक्षरधाम मंदिर सोमवार के दिन बंद रहता है

8. अक्षरधाम मंदिर दर्शन के लिए टिप्स – Tips For Akshardham Temple Darshan In Hindi

अक्षरधाम मंदिर दर्शन के लिए टिप्स

Image Credit: Ishan Mistri

  • आपको बता दें कि अक्षरधाम मंदिर परिसर के अंदर किसी भी प्रकार के इलेक्ट्रॉनिक वस्तु ले जाना वर्जित है। इसलिए अपने साथ मोबाइल फोन या कैमरा न ले जाएं।
  • प्रवेश द्वार पर सभी पर्यटकों की जाँच की जाती है।
  • यह मंदिर सोमवार को बंद रहता है।
  • मंदिर के पास पर्याप्त पार्किंग स्थान उपलब्ध है।
  • मंदिर के अंदर खाने की वस्तुओं को अंदर नहीं ले जाया जा सकता।
  • मंदिर की गरिमा का सम्मान करने के लिए उचित पोशाक पहने।

9. स्वामीनारायण अक्षरधाम मंदिर घूमने जाने का सबसे अच्छा समय – Best Time To Visit Swaminarayan Akshardham Temple In Hindi

स्वामीनारायण अक्षरधाम मंदिर घूमने जाने का सबसे अच्छा समय

स्वामीनारायण अक्षरधाम मंदिर जाने का सबसे अच्छा समय दोपहर 3 बजे का होता है क्योंकि आप जितना जल्दी प्रदर्शनियों के साथ मुक्त हो जाएं उतना अच्छा रहेगा और शाम के समय आसानी से फाउंटेन शो में शामिल हो सकते हैं।

और पढ़े: इंडिया गेट दिल्ली घूमने की जानकारी 

10. कैसे पहुंचे स्वामीनारायण अक्षरधाम टेम्पल दिल्ली – How To Reach Swaminarayan Akshardham Temple Delhi In Hindi

अक्षरधाम मंदिर दिल्ली का प्रसिद्ध मंदिर है। अगर आप स्वामीनारायण अक्षरधाम मंदिर के दर्शन करने के लिए जाना चाहते हैं तो बता दें कि ब्लू लाइन मेट्रो के जरिए मंदिर आसानी से पहुंचा जा सकता है। यह मेट्रो नोएडा की ओर जाती है और अक्षरधाम मेट्रो स्टेशन पर जाती है। मेट्रो स्टेशन से या तो आप रिक्शा ले सकते हैं या स्वामीनारायण अक्षरधाम परिसर तक पहुंचने के लिए चल सकते हैं।

10.1 फ्लाइट से स्वामीनारायण अक्षरधाम मंदिर दिल्ली कैसे पहुंचे – How To Reach Swaminarayan Akshardham Temple Delhi By Air In Hindi

फ्लाइट से स्वामीनारायण अक्षरधाम मंदिर दिल्ली कैसे पहुंचे

इंदिरा गांधी अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा शहर के पश्चिम भाग में स्थित है और दुनिया के सबसे अच्छे हवाई अड्डों में से एक है। इसके तीन ऑपरेशनल टर्मिनल हैं- टर्मिनल 1 सी / 1 डी जो घरेलू टर्मिनल है, जिसका इस्तेमाल इंडिगो, स्पाइसजेट और गोएयर जैसे टर्मिनल 3, अंतरराष्ट्रीय उड़ानों और घरेलू वाहक जेट एयरवेज और एयर इंडिया और टर्मिनल 2 द्वारा उपयोग किए जाने वाले टर्मिनल 3 के दौरान किया जाता है। हवाई अड्डे से मुख्य शहर की यात्रा करने के लिए आप टर्मिनल 3 से चलने वाली दिल्ली एयरपोर्ट मेट्रो एक्सप्रेस का उपयोग कर सकते हैं। वैकल्पिक रूप से, आप हवाई अड्डे के बाहर उपलब्ध दिल्ली परिवहन निगम (डीटीसी) बसों का उपयोग कर सकते हैं या टैक्सी बुक कर सकते हैं।

10.2 स्वामीनारायण अक्षरधाम मंदिर दिल्ली कैसे पहुंचें सड़क मार्ग से – How To Reach Swaminarayan Akshardham Mandir Delhi By Road In Hindi

स्वामीनारायण अक्षरधाम मंदिर दिल्ली कैसे पहुंचें सड़क मार्ग से

दिल्ली देश के सभी प्रमुख शहरों से सड़क मार्ग से जुड़ा हुआ है। दिल्ली में कई बस टर्मिनल हैं और प्रमुख ऑपरेटर दिल्ली परिवहन निगम (DTC) है। कश्मीरी गेट आईएसबीटी, जिसे “आईएसबीटी” कहा जाता है, सबसे बड़ा टर्मिनल है। अन्य प्रमुख टर्मिनलों में सराय काले खान आईएसबीटी (हजरत निजामुद्दीन रेलवे स्टेशन के पास), आनंद विहार आईएसबीटी, बीकानेर हाउस (इंडिया गेट के पास), मंडी हाउस (बाराखंभा रोड के पास) और मजनू डी टीला हैं।

10.3 दिल्ली के स्वामीनारायण अक्षरधाम टेम्पल ट्रेन से कैसे पहुंचे – How To Reach Swaminarayan Akshardham Temple By Train In Hindi

दिल्ली के स्वामीनारायण अक्षरधाम टेम्पल ट्रेन से कैसे पहुंचे

दिल्ली में चार मुख्य स्टेशन हैं – दिल्ली जंक्शन जिसे “पुराणी दिल्ली” भी कहा जाता है, मध्य दिल्ली में स्थित नई दिल्ली, शहर के दक्षिण भाग में हज़रत निज़ामुद्दीन और पूर्व में आनंद विहार है। दिल्ली जंक्शन और नई दिल्ली रेलवे स्टेशन मेट्रो लाइन 2 से जुड़े हुए हैं, जबकि आनंद विहार मेट्रो लाइन 3 से जुड़ा हुआ है। हज़रत निज़ामुद्दीन दक्षिण की ओर जाने वाली अधिकांश ट्रेनों के लिए प्रस्थान बिंदु है और आनंद विहार पूर्व में चलने वाली अधिकांश सेवाओं को संचालित करता है। आपको शहर के विभिन्न हिस्सों में ले जाने के लिए सभी स्टेशनों के बाहर टैक्सी और बसें उपलब्ध हैं।

और पढ़े: राष्ट्रपति भवन के बारे में जानकारी और रोचक तथ्य 

11. अक्षरधाम मंदिर दिल्ली का नक्शा – Swaminarayan Akshardham Temple Map

12. अक्षरधाम मंदिर दिल्ली की फोटो गैलरी – Swaminarayan Akshardham Temple Images

View this post on Instagram

#akshardhamtemple #oneplus7photography📷

A post shared by Jeevan chauhan (@jeevanchauhan.jv) on

View this post on Instagram

Morning Clicked #akshardham temple

A post shared by Nishant Kumar (@whoisnishantkr) on

और पढ़े:

Write A Comment