Generic selectors
Exact matches only
Search in title
Search in content
Search in posts
Search in pages

National War Memorial In Hindi राष्ट्रीय युद्ध स्मारक या नेशनल वॉर मेमोरियल भारत सरकार द्वारा नई दिल्ली के इंडिया गेट के आसपास के क्षेत्र में अपने सशस्त्र बलों को सम्मानित करने के लिए बनाया गया स्मारक है। आखिरकार 60 साल के बाद भारत के सैनिकों का इंतज़ार खत्म हुआ है। भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीर शहीदों की याद में दिल्ली के इंडिया गेट के पास बनाए गए नेशनल वॉर मेमोरियल का उद्घाटन 25 फरवरी 2019 को किया। आजादी के बाद कई बड़ी लड़ाइयां लड़ने वाले भारत के वीर सैनिकों की याद और सम्मान के रूप में इस वॉर मेमोरियल को बनाया है। 40 एकड़ में फैले इस नेशनल वॉर मेमोरियल को 176 करोड़ रुपये की लागत से बनाया गया है। हेक्सागोन के आकार में बने इस एक मेमोरियल के केंद्र में 15.5 मीटर ऊंचा स्मारक स्तंभ भी स्थित है, जिसके नीचे ज्योति जलती रहेगी। इस मेमोरियल में शहीदों के नाम और 21 परमवीर चक्र विजेताओं की मूर्तियाँ भी लगाईं गई है। अगर आप इस नेशनल वॉर मेमोरियल के बारे में और भी जानना चाहते हैं तो इस लेख को जरुर पढ़ें, यहाँ हम आपको भारत के वीर शहीदों को समर्पित नेशनल वॉर मेमोरियल के बारे में सारी रोचक जानकारी देने जा रहे हैं।

  1. नेशनल वॉर मेमोरियल को क्यों बनाया गया- Why The National War Memorial Was Built In Hindi
  2. नेशनल वॉर मेमोरियल में क्या है – About The National War Memorial In Hindi
  3. नेशनल वॉर मेमोरियल की वास्तुकला और डिजाइन – National War Memorial Architecture And Design In Hindi
  4. नेशनल वार मेमोरियल की खास बातें – Features Of The National War Memorial in Hindi
  5. नेशनल वार मेमोरियल टाइमिंग – National War Memorial Timing In Hindi
  6. नेशनल वार मेमोरियल की लोकेशन का मैप – National War Memorial Location
  7. नेशनल वार मेमोरियल की फोटो गैलरी – National War Memorial Images

1. नेशनल वॉर मेमोरियल को क्यों बनाया गया- Why The National War Memorial Was Built In Hindi

नेशनल वॉर मेमोरियल को क्यों बनाया गया- Why The National War Memorial Was Built In Hindi

वार मेमोरियल को बनाने की मांग 60 साल पहले तब उठी थी जब प्रथम विश्व युद्ध और अफगान अभियान में भारत के करीब 84,000 वीर सैनिक शहीद हुए थे और उनकी याद में अंग्रेजों ने इंडिया गेट बनवाया था। इसके बाद में 1971 अमर जवान ज्योति का निर्माण करवाया गया था जो भारत-पास युद्ध में शहीद हुए 3,843 सैनिकों समर्पित है। यह दोनों ही स्मारक किसी खास लड़ाई में शहीद सैनिकों को समर्पित है। भारत की आजादी के बाद भी कई युद्ध लड़ें गए उनमे कई सैनिकों ने अपनी जान गवां दी। उन सभी शहीद जवानों की कुर्बानी को याद और उनके सम्मान के रूप में समर्पित एक राष्ट्रीय स्मारक की जरूरत महसूस हुई। शहीदों के सम्मान में स्मारक बनाने की मांग सबसे पहले 60 साल पहले उठी थी लेकिन मोदी सरकार ने साल 2015 इसको बनाने की अंतिम मंजूरी दी और अब करीब 3 साल के बाद यह स्मारक बनकर तैयार है।

2. नेशनल वॉर मेमोरियल में क्या है – About The National War Memorial In Hindi

नेशनल वॉर मेमोरियल में चार लेयर यानी चार चक्र हैं जिसमे से सबसे अंदर अमर चक्र है जिसमें एक 15.5 मीटर ऊंचा स्मारक स्तंभ स्थित है, जिसमें अमर ज्योति जलेगी। लेफ्टिनेंट जनरल पी.एस.राजेश्वर ने कहा की यह अमर ज्योति शहीद सैनिकों की आत्मा की अमरता के रूप में जलती रहेगी और देश उनके बलिदान को कभी नहीं भूलेगा। दूसरी लेयर में वीरता चक्र है जिसमें भारतीय सेना, आर्मी, एयर फोर्स और नेवी के द्वारा लड़ी गई खास 6 लड़ाइयों को बताया गया है। तीसरे चक्र जो 25700 सैनिकों के नाम जिन्होंने आजादी के बाद देश के अपनी जान दी थी। बता दें कि इन शहीद जवानों के नाम 1.5 मीटर की दीवार पर लिखें हैं। सुरक्षा चक्र में 695 पेड़ जो देश की रक्षा में तैनात जवानों को दर्शाते हैं।

बता दें कि स्मारक के सैनिकों के जन्म से लेकर शहीद होने तक का जिक्र है। यहां एक ऐसी गैलरी भी है जहां पर सैनिकों की बहादुरी प्रदर्शित किया गया है। यह स्मारक उन शहीदों की कहानी को बताता है जिन्होंने देश को सुरक्षित रखने के लिए अपनी जान दी है।

और पढ़े:  इंडिया गेट दिल्ली घूमने की जानकारी

3. नेशनल वॉर मेमोरियल की वास्तुकला और डिजाइन – National War Memorial Architecture And Design In Hindi

नेशनल वॉर मेमोरियल की वास्तुकला और डिजाइन - National War Memorial Architecture And Design In Hindi

राष्ट्रीय युद्ध स्मारक का मुख्य वास्तुकार योगेश चंद्रहासन (Yogesh Chandrahasan) हैं। वेब डिज़ाइन लैब को वास्तुशिल्प डिजाइन की अवधारणा के लिए और परियोजना के निर्माण के समन्वय के लिए चुना गया था।

एक वैश्विक डिजाइन प्रतियोगिता आयोजित की गई थी और परिणाम अप्रैल 2017 की शुरुआत में घोषित किया गया था और चेन्नई स्थित आर्किटेक्ट्स, Webe Design Lab के प्रस्ताव को राष्ट्रीय युद्ध स्मारक के लिए विजेता घोषित किया गया था।

परियोजना को डिजाइन करने वाले चेन्नई के वास्तुकार योगेश चंद्रहासन ने कहा, “पूरी अवधारणा इस विचार पर आधारित है कि युद्ध स्मारक एक ऐसी जगह होनी चाहिए जहां हम मृत्यु का शोक नहीं मनाते हैं, लेकिन सैनिकों के जीवन का जश्न मनाते हैं और उनके द्वारा दिए गए बलिदान का उन्हें सम्मान देते हैं।

4. नेशनल वार मेमोरियल की खास बातें – Features Of The National War Memorial in Hindi

  • नेशनल वार मेमोरियल स्मारक उद्घाटन भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी ने 25 फरवरी 2019 में किया, जो 40 एकड़ में फैला हुआ है।
  • नेशनल वॉर मेमोरियल को 176 करोड़ रुपये की लागत से बनाया गया है और एक वैश्विक प्रतिस्पर्धा के माध्यम से इसका डिजाइन किया गया है।
  • नेशनल वार मेमोरियल की मुख्य संरचना को चार चक्रों के रूप में बनाया गया है। जिसमें सभी में सशस्त्र बलों के विभिन्न मूल्यों को बताया गया है।
  • नेशनल वार मेमोरियल को आजादी के बाद की सभी लड़ाई में शहीद हुए 25,942 वीर भारतीय सैनिकों के सम्मान के रूप में बनाया गया है, जो भविष्य में सशस्त्र बलों के समारोह के रूप में भी काम करेगा।
  • इस वार मेमोरियल में आम लोग साल भर जा सकते हैं और इसमें कोई भी एंट्री फीस नहीं है।
  • आपको बता दें कि इस मेमोरियल के मुख्य क्षेत्र और परम योदा स्टाल में आम लोगों के लिए समय की पावंदी होगी और हर साल यहाँ पर रिट्रीट सेरेमनी भी आयोजित होगी।

5. नेशनल वार मेमोरियल टाइमिंग – National War Memorial Timing In Hindi

आपको बता दें कि नेशनल वार मेमोरियल जनता के लिए हर दिन खुला रहेगा। इसकी सबसे खास बात यह है कि यहाँ पर घूमने के लिए कोई एंट्री फीस नहीं ली जाएगी। नेशनल वॉर मेमोरियल साल में नवंबर से अप्रैल से सुबह 9 बजे से शाम साढ़े छह बजे तक खुला रहेगा और वहीं अप्रैल से अक्टूबर तक खुलने का समय सुबह 9 बजे से शाम साढ़े सात बजे तक रहेगा। यहाँ कुछ खास दिनों के दौरान यहाँ पर फूल चढ़ाने के समारोह का आयोजन भी किया जायेगा। प्रतिदिन यहाँ पर सूर्यास्त से पहले रिट्रीट सेरेमनी होगी और हर रविवार को सुबह सुबह 9:50 बजे चेंज ऑफ गार्ड सेरेमनी का आयोजन किया जायेगा जो करीब 30 मिनट तक चलेगी।

और पढ़े:  जानिए सारागढ़ी के युद्ध का इतिहास और कहानी

6. नेशनल वार मेमोरियल की लोकेशन का मैप – National War Memorial Location

7. नेशनल वार मेमोरियल की फोटो गैलरी – National War Memorial Images

Featured Image: Indiatoday.com

और पढ़े:

Write A Comment