भारत की 8 सबसे प्रसिद्ध और सबसे ऊँची मीनारे  - 8 Most Famous And Tallest Minar In India In Hindi

भारत की 8 सबसे प्रसिद्ध और सबसे ऊँची मीनारे  – 8 Most Famous And Tallest Minar In India In Hindi

8 Most Famous And Tallest Minar In India In Hindi, विश्व के सबसे प्राचीन देशो में से एक भारत अपने ऐतिहासिक किलो, …

Read moreभारत की 8 सबसे प्रसिद्ध और सबसे ऊँची मीनारे  – 8 Most Famous And Tallest Minar In India In Hindi

भारत के प्रमुख ऐतिहासिक स्थल

भारत के प्रमुख ऐतिहासिक स्थल – Historical Monuments In India In Hindi

Bharat Ke Historical Monuments In Hindi, भारत के ऐतिहासिक और सांस्कृतिक महत्व को ऊंचाईयों तक ले जाने का श्रेय देश की ऐतिहासिक, पारंपरिक और भव्य विरासत को जाता हैं। जिसमे भारत देश की प्राचीन और आश्चर्यजनक शिल्प कौशल का परिचय देती हुई कई ईमारत, मंदिर, मस्जिद, किले, चर्च और गुरुद्वारे आदि देश का प्रतिनिधित्व कर रहे है। भारत वर्ष इतिहास की बेजोड़ किस्सों-कहानियों से भरा हुआ देश हैं। यदि हम भारत वर्ष के इतिहास पर प्रकाश डालते है, तो पाएंगे की देश का इतिहास और प्राचीन साम्राज्य कई राजा और महाराजो के द्वारा निर्मित की गई विशाल कलाकृतियों और रचनाओ की देन हैं। आइए हम भारत देश की ऐसी ऐतिहासिक विरासतों के बारे में जानते है, जिनका परिचय नीचे दिया गया हैं।

Read moreभारत के प्रमुख ऐतिहासिक स्थल – Historical Monuments In India In Hindi

महाराणा प्रताप की कहानी - History Of Maharana Pratap In Hindi

महाराणा प्रताप की कहानी – History Of Maharana Pratap In Hindi

Maharana Pratap In Hindi, महाराणा प्रताप उत्तर-पश्चिमी भारत के एक प्रसिद्ध राजपूत योद्धा (Rajput Warrior) और राजस्थान स्थित मेवाड़ (Mewar) के राजा थे। वे सबसे महान राजपूत योद्धाओं में से एक थे। वह अपने क्षेत्र को जीतने के लिए मुगल शासक अकबर के प्रयासों को असफल करने के लिए पहचाने जाते हैं।

Read moreमहाराणा प्रताप की कहानी – History Of Maharana Pratap In Hindi

फतेहपुर सीकरी का इतिहास - Fatehpur Sikri History In Hindi

फतेहपुर सीकरी का इतिहास – Fatehpur Sikri History In Hindi

History Of Fatehpur Sikri In Hindi, फतेहपुर सीकरी उत्तर प्रदेश के आगरा जिले में एक शहर है। यह आगरा से 40 किमी दूर पश्चिम दिशा में स्थित है। सम्राट अकबर ने 1571 में मुगल साम्राज्य की राजधानी के रूप में इस शहर की स्थापना की थी। यह 1571 से 1585 तक अकबर की राजधानी रही। लेकिन पंजाब में अभियान के कारण अकबर ने इसे 1610 में पूरी तरह छोड़ दिया। फतेहपुर सीकरी में कई प्राचीन धरोहर है और यहां अकबर के द्वारा बनवाये गए कई किले हैं जो आज भी उसी अवस्था में मौजूद हैं। इस शहर का अपना एक इतिहास है, यही कारण है कि लोग मुगल कालीन किलों, दरगाहों और अन्य स्थलों को देखने के लिए दूर दूर से आते हैं। फतेहपुर सीकरी में भारी संख्या में पर्यटकों के आने के कारण यहां के लोगों को काफी रोजगार मिला है।

Read moreफतेहपुर सीकरी का इतिहास – Fatehpur Sikri History In Hindi

भारत के वीर शहीदों को समर्पित नेशनल वॉर मेमोरियल - National War Memorial Information In Hindi

भारत के वीर शहीदों को समर्पित नेशनल वॉर मेमोरियल – National War Memorial Information In Hindi

National War Memorial In Hindi राष्ट्रीय युद्ध स्मारक या नेशनल वॉर मेमोरियल भारत सरकार द्वारा नई दिल्ली के इंडिया गेट के आसपास के क्षेत्र में अपने सशस्त्र बलों को सम्मानित करने के लिए बनाया गया स्मारक है। आखिरकार 60 साल के बाद भारत के सैनिकों का इंतज़ार खत्म हुआ है। भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीर शहीदों की याद में दिल्ली के इंडिया गेट के पास बनाए गए नेशनल वॉर मेमोरियल का उद्घाटन 25 फरवरी 2019 को किया। आजादी के बाद कई बड़ी लड़ाइयां लड़ने वाले भारत के वीर सैनिकों की याद और सम्मान के रूप में इस वॉर मेमोरियल को बनाया है। 40 एकड़ में फैले इस नेशनल वॉर मेमोरियल को 176 करोड़ रुपये की लागत से बनाया गया है। हेक्सागोन के आकार में बने इस एक मेमोरियल के केंद्र में 15.5 मीटर ऊंचा स्मारक स्तंभ भी स्थित है, जिसके नीचे ज्योति जलती रहेगी। इस मेमोरियल में शहीदों के नाम और 21 परमवीर चक्र विजेताओं की मूर्तियाँ भी लगाईं गई है। अगर आप इस नेशनल वॉर मेमोरियल के बारे में और भी जानना चाहते हैं तो इस लेख को जरुर पढ़ें, यहाँ हम आपको भारत के वीर शहीदों को समर्पित नेशनल वॉर मेमोरियल के बारे में सारी रोचक जानकारी देने जा रहे हैं।

Read moreभारत के वीर शहीदों को समर्पित नेशनल वॉर मेमोरियल – National War Memorial Information In Hindi

जंतर मंतर का इतिहास और घूमने की जानकारी – Jantar Mantar Jaipur History In Hindi

जंतर मंतर का इतिहास और घूमने की जानकारी – Jantar Mantar Jaipur History In Hindi

Jantar Mantar In Hindi, जयपुर के रीगल शहर में सिटी पैलेस के पास स्थित जंतर मंतर दुनिया में सबसे बड़ी पत्थर से बनी खगोलीय वेधशाला है। जिसका निर्माण राजा सवाई जय सिंह ने 1727-33 में करवाया था। अपने समृद्ध सांस्कृतिक, विरासत और वैज्ञानिक मूल्य के कारण यह यूनेस्‍को की विश्‍व धरोहर स्‍थलों की सूचि में भी शामिल है। इस वैधशाला का निर्माण अच्छी किस्म के संगमरमर और पत्थरों से किया गया है। इस विशाल वेधशाला बनाने का मुख्य उद्देश्य अंतरिक्ष और समय के बारे में जानकारी इकट्ठा करना और उसका अध्यन करना था। इस जगह पर एक राम यंत्र भी रखा हुआ है जिसका इस्तेमाल उस समय उंचाई मापने के लिए किया जाता था। जंतर मंतर एक पूर्व युग के ज्ञान और गणितीय कौशल के गवाह के रूप में गर्व से खड़ा है, जो यहां आने वाले पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करता है।

Read moreजंतर मंतर का इतिहास और घूमने की जानकारी – Jantar Mantar Jaipur History In Hindi

हम्पी घूमने की जानकारी और 30 पर्यटक स्थल - Hampi In Hindi

हम्पी घूमने की जानकारी और 30 पर्यटक स्थल – 30 Best Place To Visit In Hampi Tourism In Hindi

Hampi In Hindi हम्पी भारत के कर्नाटक राज्य में तुंगभद्रा नदी के तट पर स्थित एक विशाल मंदिर हैं। जोकि अपने सुंदर और विशाल नक्काशीदार मंदिरों के लिए दुनिया भर में प्रसिद्ध हैं। खास तौर पर यहां निर्मित विरुपाक्ष मंदिर के लिए जो कि विजय नगर साम्राज्य के संरक्षक देवता को समर्पित किया गया है। हम्पी यहां की पहाड़ियों और घाटियों की गहराई में स्थित एक ऐतिहासिक स्थल हैं। खंडहरों के रूप में फैले हुए हम्पी शहर को 1986 में यूनेस्को की विश्व धरोहर में भी शामिल किया जा चुका हैं। हम्पी शहर विजयनगर साम्राज्य का एक अभिन्न अंग रह चुका हैं। यह लगभग 500 प्राचीन स्मारकों, हलचल वाले स्ट्रीट मार्केट, खूबसूरत मंदिरों, गढ़, खजाने और मनोरम अवशेषों से घिरा हुआ एक भव्य आकर्षित स्थल हैं। हम्पी पर्यटकों को बार-बार यहां आने के लिए आमंत्रित करता हैं।

Read moreहम्पी घूमने की जानकारी और 30 पर्यटक स्थल – 30 Best Place To Visit In Hampi Tourism In Hindi

जलियांवाला बाग का इतिहास और घूमने की जगह- Jallianwala Bagh History In Hindi

जलियांवाला बाग का इतिहास और घूमने की जगह- Jallianwala Bagh History In Hindi

Jallianwala Bagh in Hindi, अमृतसर के प्रसिद्ध स्वर्ण मंदिर के पास स्थित जलियांवाला बाग एक सार्वजनिक पार्क है जिसमें अंग्रेजो द्वारा नरसंहार की याद में बना एक स्मारक है। इस दुखद घटना ने देश पर एक बहुत बुरा असर छोड़ा था और इसके बाद इस घटना में में अपनी जान गंवाने वाले मासूमों लोगो की याद स्वतंत्रता के बाद एक स्मारक बनाया गया था। जलियांवाला बाग में 1951 में भारत सरकार द्वारा स्थापित नरसंहार स्मारक का उद्घाटन डॉ राजेंद्र प्रसाद द्वारा 13 अप्रैल 1961 में किया गया था। जिस जगह अंग्रेजो द्वारा हत्या की घटना हुई थी उस जगह को अब एक सुंदर पार्क में बदल दिया गया है।

अमृतसर घुमने आने वाले लोग इस पार्क को देखने जरुर आते हैं और इस जगह की दुखद कहानी हर किसी के रोंगटे खड़े कर देती है। जलियांवाला बाग 6.5 एकड़ भूमि में फैला हुआ है जो भारत के इतिहास के सबसे बुरे दिनों की याद दिलाता है, बता दें कि रौलेट एक्ट के विरोध में इस पार्क में एक सभा हो रही थी तब जब जनरल डायर के आदेश उस भीड़ में गोलियां चलवा दी गई थी जिसमे कई निर्दोष लोग मारे गए थे। अगर आप अमृतसर घूमने आते हैं तो यहां के जलियांवाला बाग को देखने के लिए एक बार जरुर जायें।

Read moreजलियांवाला बाग का इतिहास और घूमने की जगह- Jallianwala Bagh History In Hindi

कांगड़ा किले का इतिहास और घूमने की जानकारी - Kangra Fort History In Hindi

कांगड़ा किले का इतिहास और घूमने की जानकारी – Kangra Fort History In Hindi

Kangra Fort In Hindi, कांगड़ा किला, भारत के हिमाचल प्रदेश राज्य के कांगड़ा शहर के बाहरी इलाके में धर्मशाला शहर से 20 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। यह किला अपनी हजारों साल की भव्यता, आक्रमण, युद्ध, धन और विकास का बड़ा गवाह है। यह शक्तिशाली किला त्रिगर्त साम्राज्य की उत्पत्ति को बताता है जिसका उल्लेख महाभारत महाकाव्य में मिलता है। बता दें कि यह किला हिमालय का सबसे बड़ा और शायद भारत का सबसे पुराना किला है, जो ब्यास और उसकी सहायक नदियों की निचली घाटी पर स्थित है।

इस किले के बारे में कहा जाता है कि एक समय ऐसा भी था कि जब इस किले में अकल्पनीय धन रखा गया था जो इस किले के अंदर स्थित बृजेश्वरी मंदिर में बड़ी मूर्ति को चढ़ाया जाता था। इसी खजाने की वजह से इस किले पर कई बार हमला हुआ था और लगभग हर शासक चाहे वो आक्रमणकारी हो या देशी शासक सभी ने कांगड़ा किले पर अपना कब्ज़ा करने की कोशिश की थी। यहाँ आने वाले पर्यटक कांगड़ा किले के इतिहास के बारे में जानने के लिए बेहद उत्सुक रहते हैं और यह किला हिमाचल में आकर्षण का एक अनूठा नमूना है। आइये आपको काँगड़ा किले के इतिहास के बारे में जानकारी देते हैं।

Read moreकांगड़ा किले का इतिहास और घूमने की जानकारी – Kangra Fort History In Hindi

गंगटोक में घूमने की 15 खास जगह - Top 15 Places To Visit In Gangtok In Hindi

गंगटोक में घूमने की 15 खास जगह – Top 15 Places To Visit In Gangtok In Hindi

Gangtok Tourism In Hindi गंगटोक सिक्किम राज्य का सबसे बड़ा शहर है। गंगटोक पर्यटन स्थल बहुत ही आकर्षक, प्राकर्तिक और बादलों में लिपटी हुई ऐसी जगह है जो यहाँ आने वाले पर्यटकों के दिल-दिमाग को ताजा कर देती है। बता दें कि सिक्किम की राजधानी गंगटोक आपको कंचनजंगा का शानदार दृश्य दिखाता है। गंगटोक सिक्किम राज्य का सबसे बड़ा शहर है जो पूर्वी हिमालय पर्वत माला पर शिवालिक पहाड़ियों के ऊपर 1437 मीटर की ऊंचाई स्थित है। गंगटोक की घुमावदार पहाड़ी और सड़कें बहुत ही ज्याद आकर्षक है। गंगटोक की सबसे खास बात यह है कि यह दुनिया की तीसरी सबसे ऊंची पर्वत चोटी कंचनजंगा पर्वत की अद्भुद जगह है। गंगटोक में प्राकृतिक सुंदरता जैसी बहुत सी चीजें है और इसके मुख्य आकर्षणों में त्सोमो झील, बान झाकरी, ताशी व्यू पॉइंट के नाम शामिल है। गंगटोक उत्तरी भारत में व्हाइट वाटर राफ्टिंग के लिए तीसरा सबसे अच्छा स्थान है जो पर्यटकों को यहाँ आने के लिए मजबूर करता है।

Read moreगंगटोक में घूमने की 15 खास जगह – Top 15 Places To Visit In Gangtok In Hindi