Generic selectors
Exact matches only
Search in title
Search in content
Search in posts
Search in pages

Mizoram In Hindi, मिजोरम पर्यटन स्थल भारत के पूर्व–उत्तर में स्थित एक खूबसूरत राज्य है। मिजोरम भारत का सबसे छोटा राज्य है जिसका नाम अपने मूल जनजाति “मिजो” के नाम पर पड़ा हैं। मिजोरम नाम का मतलब ही “पहाड़ों की भूमि” होता है। मिजोरम पहले असम राज्य का जिला था लेकिन फरवरी 1987 में इसके असम से अलग करके भारत के 23वें राज्य के रूप में दर्जा दिया गया। सन 1954 तक मिजोरम को “लुशाई पर्वतीय जिले” के नाम से जाना जाता था। मिजोरम पहाड़ों की भूमि होने के कारन बहुत ही आकर्षक राज्य है। मिजोरम स्टेट में प्रवेश करने के लिए भारतीय पर्यटकों को इनर लाइन परमिट ( ILP) की जरुरत पड़ती है। बिना इनर लाइन परमिट के भारतियों की एंट्री नही हो पाती है। मिजोरम की राजधानी आइजोल के लेंगपुई एअरपोर्ट पर इस ILP को दिखाना जरुरी होता है। मिजोरम राज्य पर्यटन की दृष्टि से काफी शानदार जगह है।

प्रकृति का आनंद लेने के लिए दूर-दूर से पर्यटक यहाँ आते हैं और लम्बा समय व्यतीत करते हैं। मिजोरम की कला और संस्कृति का सही नमूना यहाँ के दर्शनीय स्थलों पर घूमने के बाद ही पता चलता हैं। मिजोरम में कई ऐसी जगह है जहाँ पर घूमने के बाद आपको बहुत सुकून और शांति का अनुभव होगा। मिजोरम को “सोंगबर्ड ऑफ़ इंडिया” के नाम से भी जाना जाता है। मिजोरम पर्यटन की यात्रा गर्मियों के दिनों में भी पर्यटकों के लिए आनंददायक साबित होती हैं। मिजोरम को अपनी खूबसूरत 21 पहाड़ी श्रृंखलाओं के लिए भी जाना जाता है। अगर आप मिजोरम के बारे में अधिक से अधिक जानना चाहते हैं तो हमारे इस लेख को पूरा जरूर पढ़े।

1. मिजोरम राज्य का इतिहास – Mizoram History In Hindi

मिजोरम राज्य का इतिहास

मिजोरम के इतिहास के बारे में ज्यादा अधिक जानकारी नही है। परन्तु ऐसा कहा जाता है की जब मिजो ट्राइब्स द्वारा चीन की सीमा पार की गई तब से मिजोरम के इतिहास के बारे में जानकारी मिलती है। 16वी शताब्दी में मिजोरम का इतिहास अस्तित्व में आया। मिजोरम में 18वी और 19वी शताब्दी में बहुत सारे जनजातीय युद्ध हुए थे। जिसके बाद सन 1898 में मिजोरम ब्रिटिश शासन के अधीन हो गया था। सन 1946 में मिजोरम की पहली राजनीतिक पार्टी मिजो कॉमन पीपल्स का गठन हुआ था। सन 1947 के बाद मिजोरम को एक अलग राज्य बनाने की मांग उठने लगी। फिर सन 1987 में मिजोरम को अलग राज्य का दर्जा दिया गया।

2. मिजोरम की राजधानी – Capital Of Mizoram In Hindi

मिजोरम की राजधानी आइजोल है।

3. मिजोरम की भाषा क्या है – Mizoram Language In Hindi

मिजोरम की भाषा क्या है

मिजोरम की मुख्य भाषा “मिज़ो” है। मिजोरम में अधिकतर मिज़ो जाती के लोग निवास करते थे। इसलिए मिजो यहाँ की स्थानीय भाषा बन गई। हालाकि समय के साथ अब बहुत विकास होने के कारण हिंदी तथा अंग्रेजी भाषा की अधिकता भी हो गई है। परन्तु मिजोरम के पुराने लोग मिज़ो के अलावा अन्य कोई ज्यादा भाषाएँ नही जानते है।

और पढ़े: नागालैंड राज्य के इतिहास से लेकर संस्कृति के बारे में पूरी जानकारी 

4. मिजोरम का त्योहार – Famous Festival Of Mizoram In Hindi

मिजोरम का त्योहार

मिजोरम के लोग ज्यादातर कृषि पर निर्भर है तो यहाँ के प्रमुख त्यौहार भी कृषि से ही सम्बंधित है। मिजोरम के लोग बहुत ही ख़ुशी और उल्लास से हर त्यौहार मानते है। अलग–अलग त्यौहार की अलग–अलग वेशभूषा होती है। मिजोरम के लोग साथ मिलकर सभी त्यौहारों का आयोजन करते है। मिजोरम में मार्च के महीने में मनाया जाने वाला त्यौहार ‘छपरा कुट’ बहुत हर्ष उल्लास के साथ मनाया जाता है, बता दें कि यह त्यौहार कटाई से सम्बंधित है। इस उत्सव में चेरव और बांस नृत्यों का प्रदर्शन किया जाता हैं। मिजोरम में अगस्त और सितम्बर माह में मनाया जाने वाला प्रमुख त्यौहार “मीम कुट” है।

मीम कुट बहुत ही धार्मिक त्यौहार है जो निकले हुए साल में मरने वाले लोगो की रोटी, सब्जियां तथा मक्का आदि के सम्मान में मनाया जाता है। मीम कुट त्यौहार में भी मुख्य रूप से नाच गाना होता है। जब मिजोरम के लोग कटाई से फ्री हो जाते है तो भगवान् जी का धन्यवाद करने के लिए एक खास त्यौहार “पावल कुट” मनाते है और यह त्यौहार 2 दिन तक चलता हैं। नवम्बर और सितम्बर के महीने में थाफलावांग कुट त्यौहार प्रमुख रूप से मनाया जाता हैं। इन सभी त्यौहारों के कारण हर साल हजारों की संख्या में पर्यटक मिजोरम घूमने आते है और यहाँ के त्यौहारों का भरपूर आनंद लेते है।

5. मिजोरम का पहनावा – Culture Of Mizoram In Hindi

मिजोरम का पहनावा

मिजोरम का पहनावा बहुत ही सुन्दर हैं जिसे देखकर खूबसूरत एहसास का अनुभव होता हैं। मिजोरम में अलग-अलग त्यौहारों पर अलग-अलग ड्रेस पहनी जाती है और त्यौहार पर सबसे अच्छे दिखने की कोशिश की जाती हैं। मिजोरम का पहनावा उसकी संस्कृति को बयाँ करता हैं, जिसमे उनके द्वारा अलग प्रकार की खास पोशाके पहनी जाती है। मिजोरम की महिलायें नृत्य करते समय कव्रेची ब्लाउस को पौंची के साथ पहनती है। यह पहनावा बहुत ही ट्रेडिसनल होता है और बहुत ही आकर्षक लगता है। मिजोरम की पारंपरिक पोशाक में सफ़ेद और काले रंग ज्यादा देखने को मिलते है। महिलाओं की खास ड्रेस में पुंछी ड्रेस है, जोकी बहुत ही खूबसूरत होती है। लूसी जनजाति की महिलाए सूती स्कर्ट पहनती है। मिजोरम के पुरुष साधारण कपडे पहनते है जोकि लाल और सफ़ेद रंगों के होते है

6. मिजोरम का मुख्य भोजन – Famous Food Of Mizoram In Hindi

मिजोरम का मुख्य भोजन

मिजोरम पूर्वोत्तर क्षेत्र में होने के कारण चावल की खेती के लिए फेमस है। मिजोरम के लोग चावल बहुत पसंद करते है। चावल के साथ-साथ मिजोरम में मांस, मछलियाँ तथा ताज़ी सब्जियां बहुत पसंद की जाती है। मिजोरम के प्रसिद्ध भोजनों में मुख्य रूप से मीसा मच गरीब, वौक्सा रेप, अरसा बुछिकर, कोठा पीठा, पूअर मच और दाल प्रमुख है। मिजोरम में खाना केले के पत्तों में परोसा जाता है जोकि यहाँ की संस्कृति है और केले के पत्तो में खाने का स्वाद ही कुछ अलग हो जाता है। मिजोरम के लोग सरसों के तेल में पका हुआ खाना पसंद करते है और बहुत ही कम तेल में फ्राई किया जाने वाला खाना मिजोरम के सभी होटल्स में देखने को मिलेगा।

और पढ़े: मणिपुर राज्य के बारे में पूरी जानकारी 

7. मिजोरम राज्य के बारे में तथ्य – Facts About Mizoram In Hindi

मिजोरम राज्य के बारे में तथ्य

Image Credit: Saurabh Phadke

  • मिजोरम 20 फरवरी 1987 को भारत के 23 वें राज्य के रूप में अस्तित्व में आया।
  • कर्क रेखा मिजोरम को लगभग बीच में से काटकर गुजरती हैं।
  • दाल, संतरा, मक्का, टमाटर, चावल, अदरक और गन्ने मिजोरम की प्रमुख खेती हैं।
  • मिजोरम में स्थित पलक झील यहाँ की सबसे बड़ी झील हैं।
  • मिजोरम की राजधानी आइजोल हैं।
  • मिजोरम में कुल 8 जिले हैं। (लौंगतलाई, चमफाई, सैहा, मामिट, लुंगलेई, कोलासिब,  सरछिप)

8. मिजोरम घूमने लायक आकर्षण और पर्यटन स्थल – Tourist Attraction In Mizoram In Hindi

मिजोरम राज्य पर्यटन के लिए बहुत ही खूबसूरत और आकर्षक जगह है। मिजोरम स्टेट की यात्रा पर आप एक से बढ़कर एक सुन्दर स्थानों पर जा सकते हैं। मिजोरम में आसपास बहुत ही आकर्षक और शानदार पर्यटक स्थान है। जोकि आपकी यात्रा को और भी रोचक और आनंदपूर्ण बना देंगे।

8.1 आइजोल – Aizawl In Hindi

आइजोल

मिजोरम भारत का एक छोटा सा राज्य है और इसी वजह से यहाँ ज्यादा पर्यटन स्थल नही है। मिजोरम में घूमने लायक जगहों में से मिजोरम की राजधानी आइजोल है। आइजोल मिजोरम का सबसे बड़ा शहर और मिजोरम में घूमने वाली जगहों में सबसे प्रमुख है। आइजोल मिजोरम के प्रमुख संग्रहालय के रूप में जाना जाने वाला स्थान हैं। आइजोल में हम्मिफांग, तामदिल झील और चानमारी जैसे शानदार स्थान है। इन आकर्षित स्थानों पर घूमकर आप अपनी यात्रा को बहुत ही शानदार बना सकते है।

8.2 वैंटावंग फॉल्स – Vantawng Falls In Hindi

वैंटावंग फॉल्स

मिजोरम में देखने लायक स्थानों में शामिल वैंटावंग फॉल्स मिजोरम राज्य का सबसे ऊंचा जलप्रपात और भारत का 13 वां सबसे ऊँचा झरना हैं। वैंटावंग फॉल्स मिजोरम का आकर्षण है और यह आइजोल से लगभग 137 किलोमीटर की दूरी पर स्थित हैं।

8.3 रेइक आइजोल – Reiek Aizawl In Hindi

रेइक आइजोल

रेइक पहाड़ी मिजोरम की सबसे ऊँची पहाड़ी के रूप में जानी जाती हैं जोकि 1600 मीटर की ऊंचाई पर स्थित हैं। यह स्थान अपने यहाँ रोमांस करने के लिए कपल्स को आमंत्रित करता हैं। पहाड़ी क्षेत्र शहर की हलचल से दूर एक शांत वातावरण की खोज करने वालो के लिए आदर्श स्थान हैं। राज्य की राजधानी आइजोल से लगभग 29 किलोमीटर की दूरी पर स्थित इस पर्यटन स्थल का दौरा पर्यटकों द्वारा भारी संख्या में किया जाता हैं।

और पढ़े:  गुजरात में घूमने की 17 ऐसी जगह, जहां आपको जरुर जाना चाहिए

8.4 सेरछिप – Serchhip In Hindi

सेरछिप

मिजोरम के प्रमुख दर्शनीय स्थलों में से एक सेरछिप पर्यटन स्थान है। सेरछिप में घूमने लायक स्थानों में छिन्गपुई ठलान और ह्रिंत्रेंगना फेफड़े बहुत ही ज्यादा प्रसिद्ध है। यह स्थान आपको बहुत ही अलग अनुभव का आनंद देने वाले है। सेरछिप में कई गाँव ऐसे है, जहां घूमने के बाद आपको मिजोरम से जुडी कई जानकारियाँ प्राप्त हो सकती है।

8.5 लुंगलेई शहर – Lunglei City In Hindi

लुंगलेई शहर

मिजोरम के प्रमुख पर्यटन स्थलों में से एक शहर लुंगलेई है। लुंगलेई का मतलब “चट्टान का पुल” होता है। लुंगलेई शहर आइजोल शहर के पास स्थित है। लुंगलेई में प्रकृति का ऐसा नजारा देखने को मिलता है जैसे यहाँ सब कुछ हाथ से सजाया गया हो। प्रकृति से प्यार करने वाले पर्यटकों के लिए लुंगलेई बहुत ही खूबसूरत जगह है। लुंगलेई में आप ट्रेकिंग का आनंद उठा सकते है। लुंगलेई अपनी खूबसूरत चट्टानों के कारण बहुत फेमस है। एक बार आप इस शानदार जगह पर जरूर आए।

8.6 चंपई – Champhai  In Hindi

चंपई
मिजोरम राज्य के प्रमुख दर्शनीय स्थलों में चम्पई पर्यटन स्थल बहुत फेमस है। चम्पई मिजोरम का बहुत ही खूबसूरत शहर है। यह सुन्दर पहाड़ियों से सजा हुआ स्थान है। चम्पई में कुंग्रवी नाम की एक गुफा है जो बहुत ही पुरानी और दर्शनीय है। इसके अलावा चम्पई में दर्शनीय स्थलों में तियु लुइ नामक नदी, रिहदिल झील, लियोनिहारी लुन्गलेन तलांग भी शामिल है। आप चम्पई में ट्रेकिंग का आनंद भी ले सकते है।

और पढ़े: गुवाहाटी के पर्यटन स्थल और घूमने की जानकारी 

8.7 ममित जिला  – Mamit District In Hindi

ममित जिला 

Image Credit: Ropuia Ralte

मिजोरम के प्रमुख दर्शनीय स्थलों में ममित जिला भी शामिल है। ममित जिला मिजोरम का चौथा सबसे बड़ा जिला है। ममित जिला बहुत ही सुन्दर शहर है। यह शहर बड़ा होने के साथ-साथ अपनी भव्यता और मेहमान नवाजी के लिए जाना जाता हैं। ममित जिला मिजोरम का आकर्षण होने के साथ ही साथ असम, त्रिपुरा और मिजोरम से जुड़ा हुआ है।

8.8 साईहा – Saiha In Hindi

साईहा

Image Credit: PK Gurung

मिजोरम में घूमने वाली जगहों में साईहा शहर भी शामिल है। साईहा शहर समुद्र तल से 729 मीटर की उंचाई पर स्थित है। मिजोरम के साईहा शहर की जनसँख्या में पिछले सालो में एक दम से बहुत तेज गति से बृद्धि हुई है। पहले साईहा शहर का नाम सियाहा था। सियाहा का अर्थ “एक हाथी का दांत” होता है परन्तु मिजोरम के मिजोस ने इस शहर का नाम साईहा कर दिया। पर्यटन की दृष्टि से साईहा शहर बहुत ही आकर्षक है। यदि आप मिजोरम पर्यटन की यात्रा पर निकले हैं तो इस खूबसूरत शहर में घूमना न भूले।

8.9 कोलासिब – Kolasib District In Hindi

कोलासिब

Image Credit: Lalhruaitluanga Hrahsel

मिजोरम स्टेट के दर्शनीय स्थलों में से एक कोलासिब जिला बहुत ही आकर्षक जगह है। कोलासिब जिला सिलचर बस स्टैंड से लगभग 64 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। आप जब भी मिजोरम घूमने का प्लान बनाए तो अपनी यात्रा में इस दुर्गम रस्ते वाले शानदार जिले का नाम जोड़ना ना भूले। यह जिला पर्यटन की दृष्टि से बहुत ही सुन्दर शहर है। अपनी शानदार कलाकृतियों के लिए भी विख्यात हैं।

8.10 ह्मुइफंग मिजोरम – Hmuifang Tlang Chanchin In Hindi

ह्मुइफंग मिजोरम

Image Credit: Iman Sengupta

मिजोरम के प्रमुख आकर्षण में शामिल ह्मुइफ़ांग या ह्मुइफ़ांग त्लांग एक खूबसूरत स्थान हैं। आइज़ोल से लगभग 50 किलोमीटर की दूरी पर स्थित हैं। यह हिल स्टेशन अपने साहसिक और वन्य जीवन की गतिविधियों के लिए पर्यटकों के बीच बहुत अधिक लौकप्रिय हैं।

और पढ़े: पश्चिम बंगाल के पर्यटन स्थल की जानकारी 

9. मिजोरम की यात्रा करने का सबसे अच्छा समय – Best Time To Visit Mizoram In Hindi

मिजोरम की यात्रा करने का सबसे अच्छा समय

Image Credit: Pankaj Malpotra

मिजोरम पर्यटन की यात्रा पर जाने के लिए सर्दियों का मौसम सबसे अच्छा माना जाता हैं क्योंकि इस मौसम के दौरान पर्यटकों को किसी तरह की असुविधा का सामना नही करना पड़ता हैं। हालाकि इस पहाड़ी क्षेत्र में आप साल के किसी भी महीने में घूमने जा सकते है। आप मिजोरम तथा इसके आसपास के पर्यटन स्थलों को घूमने का सबसे ज्यादा आनंद सर्दियों के समय ही ले पायेंगे।

10. मिजोरम राज्य में कहाँ रुके – Where To Stay In Mizoram In Hindi

मिजोरम राज्य में कहाँ रुके

मिजोरम और इसके प्रमुख पर्यटन स्थलों की यात्रा करने के बाद यदि आप किसी होटल की तलाश में हैं तो हम आपको बता दें कि मिजोरम में कई लो-बजट से लेकर हाई-बजट के होटल मौजूद हैं। आप अपनी सुविधानुसार होटल का चुनाव कर सकते हैं।

  • होटल आरिनी (Hotel Arini)
  • जे आई टी होटल (I.T Hotel)
  • होटल रीजेंसी (Hotel Regency)
  • डेविड का होटल क्लोवर (David’s Hotel Clover)
  • द ग्रैंड आइज़ॉल (The Grand Aizawl)

और पढ़े: पंजाब पर्यटन में घूमने की सबसे प्रसिद्ध जगह की जानकारी 

11. मिजोरम कैसे जाए – How To Reach Mizoram In Hindi

यदि आपने मिजोरम की यात्रा का प्लान बनाया है तो हम आपको बता दे की आप मिजोरम जाने के लिए फ्लाइट, ट्रेन और बस में से किसी का भी चुनाव कर सकते है। मिजोरम की राजधानी आइजोल बहुत सारे शहरों से स्थानीय रूप से जुड़ा हुआ है। आपको मिजोरम जाने में किसी भी प्रकार की कोई समस्या का सामना नही करना पड़ेगा। आप आसानी से मिजोरम पहुँच सकते है।

11.1 मिजोरम फ्लाइट से कैसे पहुँचे – How To Reach Mizoram By Flight In Hindi

मिजोरम फ्लाइट से कैसे पहुँचे

यदि आपने मिजोरम की यात्रा के लिए आपने हवाई मार्ग का चुनाव किया हैं तो हम आपको बता दें कि आप मिजोरम की राजधानी आइजोल के प्रमुख हवाई अड्डे के माध्यम से मिजोरम आसानी से पहुँच सकते है। आइजोल गुआहाटी, कोलकाता जैसे प्रमुख शहरों से बहुत अच्छी तरह से हवाई मार्ग से जुड़ा हुआ है।

11.2 ट्रेन से मिजोरम कैसे पहुँचे – How To Reach Mizoram By Train In Hindi

ट्रेन से मिजोरम कैसे पहुँचे

यदि आपने मिजोरम की यात्रा का प्लान ट्रेन से जाने का बनाया है तो हम आपको बता दे कि मिजोरम के कोलासिब जिले के बैराबी शहर में मिजोरम का प्रमुख रेलवे स्टेशन है। जिसके माध्यम से आप आसानी से मिजोरम पहुँच सकते है।

11.3 कैसे पहुंचे मिजोरम सड़क मार्ग से – How To Reach Mizoram By Bus In Hindi

कैसे पहुंचे मिजोरम सड़क मार्ग से

मिजोरम पर्यटन स्थल खुद ही एक नेशनल हाईवे पर स्थित है जोकि गुवाहाटी, सिलचर और शिलांग तक फैला हुआ है। यदि आपने सड़क मार्ग से मिजोरम जाने का प्लान बनाया है तो हम आपको बता दे की आपको नियमित रूप से चलने वाली बसे मिल जाएगी। क्योंकि मिजोरम सड़क मार्ग के माध्यम से अपने आसपास के सभी शहरो से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ हैं।

और पढ़े:  काजीरंगा नेशनल पार्क के बारे में पूरी जानकारी 

12. मिजोरम का नक्शा – Mizoram Map

13. मिजोरम की फोटो गैलरी – Mizoram Images

View this post on Instagram

Mizo Cheraw dance. #mizoram

A post shared by Chris (@chrisworldcitizen) on

और पढ़े:

Write A Comment