कपिल मुनि मंदिर के दर्शन की जानकारी – Kolayat Temple Bikaner In Hindi

Kolayat Temple In Hindi, बीकानेर से लगभग 51 किलोमीटर की दूरी पर स्थित कोलायत मंदिर बीकानेर का एक महत्वपूर्ण तीर्थ स्थल है, जो ‘सांख्य’ दर्शन के प्रचारक कपिल मुनि के साथ जुड़ा हुआ है। कहा जाता है कि यह संत हिंदू भगवान, भगवान विष्णु के पांचवा अवतार थे। कोलायत मंदिर एक उल्लेखनीय पौराणिक मंदिर है, जो श्रद्धालुओं के लिए बीकानेर का एक प्रमुख आस्था केंद्र बना हुआ है। कोलायत मंदिर के स्नान घाट श्रद्धालुओं के बीच बहुत लोकप्रिय हैं जहाँ कई तीर्थयात्री और ‘साधु’ या संत झील के पवित्र जल में डुबकी लगाते हैं।

एक हिंदू पौराणिक कथा के अनुसार, कपिला मुनि एक बार मानव जाति को बुराई के चंगुल से छुड़ाने के उद्देश्य से गहरे ध्यान में लगे और उन्होंने यहां स्थित पुराने पीपल के पेड़ के नीचे मोक्ष या आत्मज्ञान प्राप्त किया था। और उनकी म्रत्यु के बाद इसी पीपल के पेड़ के नीचे उनके शव को दफनाया गया था।

Table of Contents

बीकानेर के कोलायत मंदिर की वास्तुकला – Kolayat Temple Bikaner Architecture In Hindi

भव्य कोलायत मंदिर का निर्माण संगमरमर और बलुआ पत्थर से निर्माण किया गया है जिसके अन्दर संत कपिला मुनि की मूर्ति स्थापित है।

कोलायत मेला बीकानेर की जानकारी – Kolayat Fair In Hindi

Kolayat Fair In Hindi
Image Credit: Puneet Jajra

कोलायत मेला अक्टूबर और नवंबर की अवधि में ‘कार्तिक’ के महीने में पूर्णिमा’ के दौरान आयोजित होता है। कोलायत मेले के रूप में जाना जाने वाला भव्य मेला हर साल धूमधाम और हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है। तीर्थयात्री इस अवसर के दौरान कोलायत मंदिर के मैदान में आते हैं और कपिल सरोवर में डुबकी लगाते और ऋषि कपिला मुनि की प्रशंसा में भजन गाते हैं। और माना जाता है कपिल सरोवर में एक पवित्र डुबकी लगाने से सारे पाप नष्ट हो जाते है। परंपराओं के अनुसार, पूजा के बाद पवित्र सरोवर के जल से दीप जलाए जाते हैं। कोलायत मेले के दौरान कोलायत झील के सभी 52 घाटों को खूबसूरती से सजाया गया है। और इस मेले के साथ एक पशु मेला आयोजित किया जाता है। कोलायत मेला बीकानेर का प्रमुख त्यौहार रूप में जाना जाता है जिसमे देश के कोने-कोने से श्रद्धालु शामिल होते है।

और पढ़े : शिल्पग्राम मेला उदयपुर घूमने की जानकारी

कोलायत मंदिर बीकानेर खुलने और बंद होने का समय – Kolayat Temple Bikaner Timing In Hindi

कोलायत मंदिर बीकानेर खुलने और बंद होने का समय

कोलायत मंदिर श्रद्धालुओं के प्रवेश और दर्शन के लिए प्रतिदन सुबह 6.00 बजे से शाम 8.00 बजे तक खुला रहता है,और आपको बता दे कोलायत मंदिर की सुखद यात्रा के लिए 1-2 घंटे का समय अवश्य दें।

कपिल मुनि मंदिर का प्रवेश शुल्क – Kapil Muni Mandir Entry Fees In Hindi

कपिल मुनि मंदिर श्रद्धालुओं को प्रवेश के लिए कोई प्रवेश शुल्क नही देना होता है।

कोलायत मंदिर की यात्रा के लिए टिप्स – Tips For Visiting Kolayat Temple In Hindi

  • अगर आप कोलायत मंदिर की यात्रा अक्टूबर और नवंबर के दोरान करते है तो आप ‘कार्तिक’ के महीने में पूर्णिमा’ के दौरान आयोजित होने वाले कोलायत मेला में अवश्य शामिल हो सकते हैं।
  • कोलायत मंदिर में प्रवेश करने से पहले अपने जूते और मोजे बाहर अवश्य उतारे।
  • कोलायत मंदिर की यात्रा के समय अपने साथ केमरा न ले जायें क्योंकि मंदिर परिसर के अंदर कैमरा ले जाने और फोटोग्राफी की अनुमति नही है।
  • कोलायत मंदिर जाने से पहले मंदिर में होने वाली आरती के समय की पुष्टि अवश्य कर लें क्योंकि आरती में शामिल होना आपको अविस्मरणीय आध्यात्मिक अनुभव प्रदान करती है।
  • और बता दे ग्रीष्मकाल में बीकानेर बहुत गर्म होता है इसलिए गर्म मौसम के अनुकूल आरामदायक कपड़े और शूज पहन कर यात्रा करें।

कपिल मुनि मंदिर बीकानेर घूमने का सबसे अच्छा समय – Best Time To Visit Kolayat Temple In Hindi

कपिल मुनि मंदिर बीकानेर घूमने का सबसे अच्छा समय
Image Credit: Rakesh Sharma

कोलायत मंदिर बीकानेर घूमने जाने के लिए सबसे अच्छा समय अक्टूबर से मार्च का समय होता है, इस समय आप ‘कार्तिक’ महीने में पूर्णिमा’ के दौरान आयोजित होने वाले कोलायत मेला में शामिल हो सकते हैं। सर्दियों के समय बीकानेर का मौसम काफी खुशनुमा रहता है, इसीलिए सर्दियों के मौसम में बीकानेर की यात्रा करना काफी अच्छा माना जाता है। और आपको बता दे मार्च से शुरू होने वाली ग्रीष्मकाल के दौरान बीकानेर की यात्रा से बचें क्योंकि इस समय बीकानेर राजस्थान का तापमान 45 डिग्री सेल्सियस तक पहुँच जाता है जो आपकी बीकानेर की यात्रा को हतोत्साहित कर सकता है।

और पढ़े : चित्तौड़गढ़ कालिका मंदिर के दर्शन की जानकारी

कोलायत मंदिर के आसपास के आकर्षण स्थल – Best Places To Visit Near Kolayat Temple In Hindi

यदि आप राजस्थान के प्रमुख पर्यटक स्थल बीकानेर में कोलायत मंदिर घूमने जाने का प्लान बना रहे है तो हम आपको अवगत करा दे की बीकानेर कोलायत मंदिर, के अलावा भी अन्य प्रसिद्ध किलो, धार्मिक स्थलों, पार्को व अन्य पर्यटक स्थलों से भरा हुआ है, जिन्हें आप अपनी बीकानेर की यात्रा के दोरान घूम सकते हैं-

बीकानेर का प्रसिद्ध भोजन – Famous Food Of Bikaner In Hindi

बीकानेर का प्रसिद्ध भोजन - Famous Food Of Bikaner In Hindi

राजस्थान के बीकानेर शहर में सबसे पसंदीदा फुड नमकीन, भुजिया और पापड़ है। राजस्थानी स्नैक्स जैसे कचौरी और समोसा हैं। बीकानेर में गट्टे की सब्जी, दाल बाटी चूरमा, खट्टा, पकौड़ी के साथ-साथ घेवर  और रबड़ी भी हैं।

बीकानेर में उपलब्ध होटल- Where To Stay In Bikaner In Hindi

बीकानेर में उपलब्ध होटल - Accomdations In Bikaner In Hindi

राजस्थान का बीकानेर शहर विभिन कलाकृतियों और दर्शनीय स्थलों का धनी हैं। आप यहां घूम-घूम कर थक जायेंगे लेकिन यहां की खूबसूरती खत्म नही होगी। तो हम आपको बता दें की आपके आराम करने के लिए बीकानेर शहर में लो-बजट से लेकर हाई-बजट तक के होटल मौजूद है। आप अपने बजट और आवश्यकता के अनुसार होटल ले सकते हैं। जिनमे से कुछ अच्छी होटलों के बारे हम आपको बताने जा रहे है-

  • होटल चिराग
  • होटल पाणिग्रहण
  • होटल मरुधर पैलेस
  • होटल हीरालाल
  • श्री राम हेरिटेज

कोलायत मंदिर बीकानेर कैसे पहुंचे – How To Reach Kolayat Temple Bikaner In Hindi

अगर आप कोलायत मंदिर बीकानेर घूमने जाने की योजना बना रहें हैं तो हम आपको बता दें आप सड़क, रेल और हवाई मार्ग से यात्रा करके कोलायत मंदिर बीकानेर पहुंच सकते है। अगर आप बीकानेर जाने के लिए परिवहन के विभिन्न तरीकों के बारे में जानना चाहते हैं तो नीचे दी गई जानकारी को अवश्य पढ़ें।

फ्लाइट से कपिल मुनि मंदिर बीकानेर कैसे पहुंचे – How To Reach Kolayat Temple Bikaner By Flight In Hindi

फ्लाइट से कपिल मुनि मंदिर बीकानेर कैसे पहुंचे - How To Reach Kolayat Temple Bikaner By Flight In Hindi

यदि आप कोलायत मंदिर बीकानेर पहुंचने के लिए हवाई मार्ग का चुनाव करते हैं तो हम आपको बता दें कि जोधपुर हवाई अड्डा बीकानेर का सबसे निकटतम हवाई अड्डा है। यह हवाई अड्डा बीकानेर से लगभग 251 किलोमीटर दूरी पर स्थित है। जो भारत के प्रमुख शहरो से हवाई मार्ग से जुड़ा हुआ है, तो आप भारत के किसी भी प्रमुख शहरो से फ्लाइट से यात्रा करके जोधपुर हवाई अड्डा पहुंच सकते है और हवाई अड्डे से कोलायत मंदिर बीकानेर पहुंचने के लिए बस या टेक्सी किराये पर लेकर अपने गंतव्य स्थान तक पहुंच सकते है।

ट्रेन से कपिल मुनि मंदिर कैसे जाये – How To Reach Kolayat Temple By Train In Hindi

ट्रेन से कपिल मुनि मंदिर कैसे जाये - How To Reach Kolayat Temple By Train In Hindi

अगर आप ट्रेन के माध्यम से कोलायत मंदिर जाने की योजना बना रहे है, तो हम आपको बता दें कोलायत मंदिर का सबसे निकटतम रेलवे स्टेशन बीकानेर रेलवे स्टेशन है जो कोलायत मंदिर से लगभग 52 किलोमीटर की दूरी पर हैं। जोकि देश के प्रमुख शहरों दिल्ली, कोलकाता, आगरा, जयपुर,इलाहाबाद आदि से बहुत अच्छी तरह से जुड़ा हुआ हैं। तो आप भारत के किसी भी प्रमुख शहरो से ट्रेन से यात्रा करके बीकानेर जंक्शन पहुंच सकते है। और रेलवे स्टेशन से कोलायत मंदिर तक पहुचने के लिए आप टैक्सी, ऑटो या यहां चलने वाले स्थानीय साधनों से यात्रा कर सकते है।

सड़क मार्ग से कोलायत मंदिर बीकानेर कैसे जाये – How To Reach Kolayat Temple Bikaner By Road In Hindi

बीकानेर राजस्थान के प्रमुख शहरो से सड़क मार्ग द्वारा अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है, जोकि भारत के प्रमुख बड़े नगरों जैसे दिल्ली, आगरा, जोधपुर, अजमेर, अहमदाबाद, जयपुर,  कोटा और उदयपुर से नियमित रूप से चलने वाली बसों के माध्यम से जुड़ा हुआ हैं। आप राज्य परिवहन की बसे या अपने निजी साधन से यात्रा करके कोलायत मंदिर बीकानेर पहुंच सकते हैं।

और पढ़े : राजस्थान के 20 सबसे प्रमुख मंदिर

इस आर्टिकल में आपने कपिल मुनि मंदिर के बारे में जाना है आपको हमारा यह आर्टिकल केसा लगा हमे कमेन्ट करके जरूर बतायें।

इसी तरह की अन्य जानकारी हिन्दी में पढ़ने के लिए हमारे एंड्रॉएड ऐप को डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक करें। और आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

कोलायत मंदिर बीकानेर का नक्शा – Kolayat Temple Bikaner Map

कोलायत मंदिर की फोटो गैलरी – Kolayat Temple Images

और पढ़े :

Featured Image Credit: Jaiveer Singh Bhati

Leave a Comment