बीकानेर के श्री लक्ष्मीनाथ मंदिर के दर्शन की जानकरी – Shri Laxminath Temple Bikaner In Hindi

Shri Laxminath Temple In Hindi, राजस्थान के बीकानेर का श्री लक्ष्मीनाथ मंदिर यहां के सबसे पुराने मंदिरों में से एक है। यह मंदिर भगवान विष्णु और देवी लक्ष्मी को समर्पित हैं। लक्ष्मीनाथ मंदिर बीकानेर का प्रमुख पवित्र स्थल हैं। मंदिर में स्थापित मूर्तियों को चांदी की नाजुक और जटिल कलाकृतियों के लिए जाना जाता हैं। लक्ष्मीनाथ मंदिर के सबसे लोकप्रिय त्यौहार निर्जला एकादशी, जन्माष्टमी, गीता जयंती, दिवाली और रामनवमी हैं,जिस दोरान भारत के बिभिन्न कोनो से श्रद्धालुओं की भीड़ मंदिर में देखी जा सकती है। लक्ष्मीनाथ मंदिर पर्यटकों और तीर्थयात्रियों के लिए बीकानेर में घूमने के लिए सबसे लोकप्रिय जगहों में से एक है जहाँ पर्यटक और श्रद्धालु अपना कुछ समय शांत वतावरण के बीच भगवान की भक्ति में व्यतीत करने के लिए आते।

यदि आप श्री लक्ष्मीनाथ मंदिर के बारे में और अधिक जानना चाहते है तो हमारे इस लेख को पूरा जरूर पढ़े –

Table of Contents

लक्ष्मीनाथ जी का मंदिर का इतिहास – Laxminath Temple Bikaner History In Hindi

लक्ष्मीनाथ जी का मंदिर का इतिहास
Image Credit: Gori Shankar Jangid

श्री लक्ष्मीनाथ मंदिर का निर्माण बीकानेर के महाराजा राव लूणकरन ने 14 वीं शताब्दी में करवाया था। माना जाता है महाराजा राव लूणकरन भगवान विष्णु और देवी लक्ष्मी के आराध्य थे इसीलिए उन्होंने भगवान विष्णु और देवी लक्ष्मी को समर्पित मंदिर का निर्माण करबाया था।

बीकानेर के लक्ष्मीनाथ मंदिर की वास्तुकला – Laxminath Temple Architecture In Hindi

14 वीं शताब्दी में निर्मित श्री लक्ष्मीनाथ मंदिर का निर्माण लाल बलुआ पत्थर और संगमरमर का उपयोग करके बनाया गया था और इस मंदिर में कई खूबसूरत पेंटिंग, मूर्तियां और चांदी की उत्तम कारीगरी भी देखी जा सकती है।

श्री लक्ष्मीनाथ मंदिर बीकानेर की यात्रा के लिए टिप्स – Tips To Visit Bikaner’s Lakshminath Temple In Hindi

श्री लक्ष्मीनाथ मंदिर बीकानेर की यात्रा के लिए टिप्स
Image Credit: Arun Kumar
  • लक्ष्मीनाथ मंदिर की यात्रा के समय किसी भी प्रकार की चमड़े की वस्तुओं को साथ लेकर न चले क्योंकि उन्हें मंदिर परिसर के अंदर ले जाने की अनुमति नहीं है।
  • लक्ष्मीनाथ मंदिर में प्रवेश करने से पहले अपने जूते और मोजे बाहर अवश्य उतारे।
  • लक्ष्मीनाथ मंदिर की यात्रा के समय अपने साथ केमरा न ले जायें क्योंकि मंदिर परिसर के अंदर कैमरा ले जाने और फोटोग्राफी की अनुमति नही है।
  • लक्ष्मीनाथ मंदिर जाने से पहले मंदिर में होने वाली आरती के समय की पुष्टि अवश्य कर लें क्योंकि आरती में शामिल होना आपको अविस्मरणीय आध्यात्मिक अनुभव प्रदान करती है।
  • और बता दे ग्रीष्मकाल में बीकानेर बहुत गर्म होता है इसलिए गर्म मौसम के अनुकूल आरामदायक कपड़े और शूज पहन कर यात्रा करें।

और पढ़े : जैसलमेर के लक्ष्मीनाथ मंदिर के दर्शन की जानकारी

श्री लक्ष्मीनाथ मंदिर की यात्रा में आप क्या-क्या कर सकते हैं – Things To Do Inside Shri Lakshminath Temple In Hindi

  • लक्ष्मीनाथ मंदिर बीकानेर शहर के मध्य में स्थित है तो पैदल यात्रा करके मंदिर जा सकते हैं।
  • कुछ समय एकांत और शांति का अनुभव करने के लिए मंदिर परिसर में स्थित पार्क में कुछ समय व्यतीत कर सकते हैं।
  • लक्ष्मीनाथ मंदिर में आप मंदिर में मौजूद रंगीन चित्रों, नक्काशी और कुशल हस्तकला को देख सकते हैं।
  • लक्ष्मीनाथ मंदिर में शाम के समय होने वाली आरती में शामिल होकर अविस्मरणीय आध्यात्मिकता का अनुभव कर सकते है।

श्री लक्ष्मीनाथ मंदिर के बारे में रोचक जानकरी – Shri Lakshminath Temple Interesting Facts In Hindi

श्री लक्ष्मीनाथ मंदिर के बारे में रोचक जानकरी
Image Credit: Vimal Verma
  • लक्ष्मी नाथ मंदिर का निर्माण 1504 में शुरू हुआ और 1526 में मंदिर का निर्माण पूर्ण हुआ, मंदिर का निर्माण पूरा होने में 22 साल का समय लगा।
  • मंदिर को बनाने में इस्तेमाल किये गये लाल बलुआ पत्थर जैसलमेर से लाया गया था। और इसके अलावा मंदिर के निर्माण में संगमरमर का भी उपयोग किया गया था।
  • लक्ष्मीनाथ मंदिर में भगवान विष्णु और देवी लक्ष्मी मंदिर के अलावा श्री नीलकंठ महादेव, श्री बद्रीनारायणजी, श्री मगविद्याजी, श्री सूर्यनारायणजी और श्री रूपचतुर्भुजी के अन्य मंदिर भी शामिल हैं।

और पढ़े : सास बहू मंदिर उदयपुर घूमने की जानकरी

लक्ष्मीनाथ मंदिर बीकानेर खुलने और बंद होने का समय – Laxminath Temple Bikaner Timings In Hindi

लक्ष्मीनाथ मंदिर श्रद्धालुओं के प्रवेश और भगवान के दर्शन के लिए सुबह 5.00 बजे से दोपहर 1.00 बजे तक और शाम 5.00 बजे से रात 11.00 बजे तक खुला रहता है और आपकी जानकारी के लिए बता दे मंदिर की सुखद और आनंदमयी यात्रा के लिए 1-2 घंटे का समय मंदिर में अवश्य व्यतीत करें।

लक्ष्मीनाथ मंदिर का प्रवेश शुल्क –Lakshminath Temple Entry Fees In Hindi

लक्ष्मीनाथ मंदिर में श्रद्धालुओं का प्रवेश बिलकुल निशुल्क है।

लक्ष्मीनाथ मंदिर बीकानेर घूमने जाने का सबसे अच्छा समय – Best Time To Visit Laxminath Temple In Hindi

Best Time To Visit Laxminath Temple In Hindi
Image Credit: Oyrik Mukhopadhyay

लक्ष्मीनाथ मंदिर बीकानेर घूमने जाने के लिए सबसे अच्छा समय अक्टूबर से मार्च का समय होता है, क्योंकि इस समय बीकानेर का मौसम खुशनुमा रहता है, इसीलिए सर्दियों के मौसम में बीकानेर की यात्रा करना काफी अच्छा माना जाता है। और आपको बता दे मार्च से शुरू होने वाली ग्रीष्मकाल के दौरान बीकानेर की यात्रा से बचें क्योंकि इस समय बीकानेर राजस्थान का तापमान 45 डिग्री सेल्सियस तक पहुँच जाता है जो आपकी बीकानेर की यात्रा को हतोत्साहित कर सकता है।

और पढ़े : राजस्थान के 20 सबसे प्रमुख मंदिर

लक्ष्मीनाथ मंदिर के आसपास के प्रमुख पर्यटक स्थल – Best Places To Visit Near Laxminath Temple In Hindi

यदि आप राजस्थान के प्रमुख पर्यटक स्थल बीकानेर में लक्ष्मीनाथ मंदिर घूमने जाने का प्लान बना रहे है तो हम आपको अवगत करा दे की बीकानेर लक्ष्मीनाथ मंदिर, के अलावा भी अन्य प्रसिद्ध किलो, धार्मिक स्थलों, पार्को व अन्य पर्यटक स्थलों से भरा हुआ है, जिन्हें आप अपनी बीकानेर की यात्रा के दोरान घूम सकते हैं-

बीकानेर का प्रसिद्ध भोजन – Famous Food Of Bikaner In Hindi

राजस्थान के बीकानेर शहर में सबसे पसंदीदा फुड नमकीन, भुजिया और पापड़ है। राजस्थानी स्नैक्स जैसे कचौरी और समोसा हैं। बीकानेर में गट्टे की सब्जी, दाल बाटी चूरमा, खट्टा, पकौड़ी के साथ-साथ घेवर  और रबड़ी भी हैं।

बीकानेर में रुकने  के लिए उपलब्ध होटल – Where To Stay In Bikaner In Hindi

बीकानेर की यात्रा में कहा रुके – Where To Stay In Bikaner In Hindi

राजस्थान का बीकानेर शहर विभिन कलाकृतियों और दर्शनीय स्थलों का धनी हैं। आप यहां घूम-घूम कर थक जायेंगे लेकिन यहां की खूबसूरती खत्म नही होगी। तो हम आपको बता दें की आपके आराम करने के लिए बीकानेर शहर में लो-बजट से लेकर हाई-बजट तक के होटल मौजूद है। आप अपने बजट और आवश्यकता के अनुसार होटल ले सकते हैं। जिनमे से कुछ अच्छी होटलों के बारे हम आपको बताने जा रहे है-

  • होटल चिराग
  • होटल पाणिग्रहण
  • होटल मरुधर पैलेस
  • होटल हीरालाल
  • श्री राम हेरिटेज

लक्ष्मीनाथ मंदिर बीकानेर कैसे पहुंचे – How To Reach Laxminath Temple Bikaner In Hindi

अगर आप लक्ष्मीनाथ मंदिर बीकानेर घूमने जाने की योजना बना रहें हैं तो हम आपको बता दें आप सड़क, रेल और हवाई मार्ग से यात्रा करके लक्ष्मीनाथ मंदिर बीकानेर  पहुंच सकते है। अगर आप बीकानेर जाने के लिए परिवहन के विभिन्न तरीकों के बारे में जानना चाहते हैं तो नीचे दी गई जानकारी को अवश्य पढ़ें।

फ्लाइट से लक्ष्मीनाथ मंदिर बीकानेर कैसे जाये – How To Reach Laxminath Temple Bikaner By Flight In Hindi

फ्लाइट से लक्ष्मीनाथ मंदिर बीकानेर कैसे जाये - How To Reach Laxminath Temple Bikaner By Flight In Hindi

यदि आप लक्ष्मीनाथ मंदिर बीकानेर पहुंचने के लिए हवाई मार्ग का चुनाव करते हैं तो हम आपको बता दें कि जोधपुर हवाई अड्डा बीकानेर का सबसे निकटतम हवाई अड्डा है। यह हवाई अड्डा बीकानेर से लगभग 251 किलोमीटर दूरी पर स्थित है। जो भारत के प्रमुख शहरो से हवाई मार्ग से जुड़ा हुआ है, तो आप भारत के किसी भी प्रमुख शहरो से फ्लाइट से यात्रा करके जोधपुर हवाई अड्डा पहुंच सकते है और हवाई अड्डे से लक्ष्मीनाथ मंदिर बीकानेर पहुंचने के लिए बस या टेक्सी किराये पर लेकर अपने गंतव्य स्थान तक पहुंच सकते है।

ट्रेन से लक्ष्मीनाथ मंदिर बीकानेर कैसे जाये – How To Reach Laxminath Temple By Train In Hindi

अगर आप ट्रेन के माध्यम से लक्ष्मीनाथ मंदिर जाने की योजना बना रहे है, तो हम आपको बता दें लक्ष्मीनाथ मंदिर का सबसे निकटतम रेलवे स्टेशन बीकानेर रेलवे स्टेशन है जो लक्ष्मीनाथ मंदिर से लगभग 2.5 किलोमीटर की दूरी पर हैं। जोकि देश के प्रमुख शहरों दिल्ली, कोलकाता, आगरा, जयपुर, इलाहाबाद आदि से बहुत अच्छी तरह से जुड़ा हुआ हैं। तो आप भारत के किसी भी प्रमुख शहरो से ट्रेन से यात्रा करके बीकानेर जंक्शन पहुंच सकते है। और रेलवे स्टेशन से लक्ष्मीनाथ मंदिर तक पहुचने के लिए आप टैक्सी, ऑटो या यहां चलने वाले स्थानीय साधनों से अपने गंतव्य स्थान तक पहुंच सकते है।

सड़क मार्ग से लक्ष्मीनाथ मंदिर कैसे पहुंचे – How To Reach Laxminath Temple Bikaner By Road In Hindi

सड़क मार्ग से लक्ष्मीनाथ मंदिर कैसे पहुंचे - How To Reach Laxminath Temple Bikaner By Road In Hindi

बीकानेर राजस्थान के प्रमुख शहरो से सड़क मार्ग द्वारा अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है, जोकि भारत के प्रमुख बड़े नगरों जैसे दिल्ली, आगरा, जोधपुर, अजमेर, अहमदाबाद, जयपुर,  कोटा और उदयपुर से नियमित रूप से चलने वाली बसों के माध्यम से जुड़ा हुआ हैं। आप राज्य परिवहन की बसे या अपने निजी साधन से यात्रा करके लक्ष्मीनाथ मंदिर बीकानेर पहुंच सकते हैं।

और पढ़े : बीकानेर घूमने की जानकारी और टॉप 20 दर्शनीय स्थल

इस आर्टिकल में आपने बीकानेर के श्री लक्ष्मीनाथ मंदिर के दर्शन की जानकरी को जाना है आपको हमारा यह आर्टिकल केसा लगा हमे कमेन्ट करके जरूर बतायें।

इसी तरह की अन्य जानकारी हिन्दी में पढ़ने के लिए हमारे एंड्रॉएड ऐप को डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक करें। और आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

लक्ष्मीनाथ मंदिर बीकानेर का नक्शा – Laxminath Temple Bikaner Map

लक्ष्मीनाथ मंदिर की फोटो गैलरी – Laxminath Temple Images

https://www.instagram.com/p/B4U7oYIHumn/?utm_source=ig_web_button_share_sheet

और पढ़े :

Leave a Comment