जैसलमेर के तनोट माता के मंदिर के दर्शन की जानकारी – Tanot Mata Temple Information In Hindi

Tanot Mata Mandir In Hindi, तनोट माता मंदिर राजस्थान के जैसलमेर से 120 किलोमीटर दूर तनोट गाँव में स्थित है। तनोट माता को देवी हिंगलाज का पुनर्जन्म माना जाता है। 1965 के भारत-पाकिस्तान युद्ध के दौरान, तनोट पर भारी हमले और गोलाबारी हुई थी। लेकिन  मंदिर में कोई भी गोला या बम नहीं फटा। इसने लोगों के विश्वास और अधिक बढ़ा दिया कि मंदिर में स्वयं देवी विराजमान है। इस कारण से तनोत माता का मंदिर पर्यटकों के लिए आस्था का केंद्र बना हुआ है। युद्ध के बाद, सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) ने मंदिर का पुनर्निर्माण किया और आज भी मंदिर का प्रबंधन बीएसएफ ट्रस्ट द्वारा किया जाता है। भारतीय सेना ने मंदिर परिसर के भीतर एक विजय स्तम्भ बनाया है, जहा हर साल 16 दिसंबर को पाकिस्तान पर भारत की जीत को उत्सव के रूप में मनाया जाता है।

तनोट माता मंदिर भारत-पाकिस्तान की एक महत्वपूर्ण सीमा लोंगेवाला के साथ निकटता में स्थित है, जहा भारत सरकार के अधिकारियों की अनुमति के बिना कोई भी व्यक्ति नही पहुंच सकता है। अपनी स्थलाकृति के कारण, यह बड़ी मात्रा में पवन ऊर्जा का दोहन कर सकता है, इस प्रकार पर्यटक यहाँ पवन ऊर्जा ऊर्जा संयंत्रों की पंक्तियों को भी देख सकते हैं। यहाँ मंदिर से सटा हुआ एक संग्रहालय भी है जो युद्ध काल से एकत्रित कुछ ऐतिहासिक कलाकृतियों को प्रदर्शित करता है। यह उन यात्रियों के लिए एक आदर्श स्थान है जो भारतीय सेना और मंदिर को श्रद्धांजलि देना चाहते हैं।

1. श्री तनोट माता मंदिर का इतिहास – Tanot Mata Mandir History In Hindi

श्री तनोट माता मंदिर का इतिहास
Image Credit: Abhishek Indoria

सबसे पुराने चरण साहित्य के अनुसार, मंदिर की स्थापना आठवीं शताब्दी की शुरुआत में  मानी जाती है। जहा तनोट माता दिव्य देवी हिंगलाज माता के अवतार के रूप में हैं, और वह बाद में करणी माता का रूप लेती हैं। और इस मंदिर का 1965 के लोंगेवाला युद्ध के साथ भी एक बड़ा संबंध है । 1965 भारत और पाकिस्तान के युद्ध के बाद तनोट माता मंदिर को देश भर में प्रसिद्धि मिली, जब सीमा के दूसरी तरफ से पाकिस्तान ने तनोट गाँव को निशाना बनाकर गोलाबारी कर रहे थे। जिस दोरान लगभग  3000 से अधिक बम लॉन्च किए गए थे, लेकिन उनमें से कोई भी बम तनोट माता मंदिर के आसपास के क्षेत्र में नहीं फटा था, इस प्रकार माना जाता है कि माता अपने नागरिकों और भारतीय सैनिकों की एक बड़ी टीम की रक्षा कर रही थी।

2. तनोट राय माता मंदिर के देखने के साथ क्या क्या कर सकते है – Things To Do At Tanot Mata Mandir In Hindi

तनोट राय माता मंदिर के देखने के साथ क्या क्या कर सकते है
Image Credit: Jagadish Kumar Sethy
  • तनोट माता मंदिर में दर्शन करने के बाद आप उसी के आसपास क्षेत्र में स्थापित संग्रहालय का एक चक्कर लगा सकते हैं। जहाँ 1965 और 1971 के भारत-पाकिस्तान युद्धों के दौरान इस्तेमाल किए गए हथियारों और गोला-बारूद की एक सार्वजनिक प्रदर्शनी आयोजित करता है।
  • माता के दर्शन के बाद आप थार रेगिस्तान में एक ऊंट सफारी की योजना बना सकते हैं
  • और यहाँ आप जैसलमेर के राजसी किलों की दर्शनीय यात्रा का प्लान भी कर सकते हैं।

3. तनोट माता मंदिर के दर्शन का समय – Tanot Mata Mandir Timings In Hindi

तनोट माता मंदिर के दर्शन का समय
Image Credit: Rajesh Parmar

तनोट माता मंदिर सांस्कृतिक और ऐतिहासिक पर्यटकों के आकर्षण का केंद्र होने के नाते आपको  मंदिर के संचालन के बारे में पता होना आपके लिए मददगार हो सकता है। तो हम आपको बता दे कि मंदिर सुबह 6.00 से भक्तों के लिए खुलता है और हर शाम 8.00 बजे आरती पूजा के बाद बंद हो जाता है। तो आप सुबह से शाम की आरती के समय तक कभी भी तनोट माता के मंदिर जा सकते है।

और पढ़े: मालपुरा के श्री डिग्गी कल्याण मंदिर के दर्शन की पूरी जानकारी

4. तनोट माता के मंदिर का प्रवेश शुल्क – Tanot Mata Temple Entry Fees In Hindi

तनोट माता के मंदिर का प्रवेश शुल्क
Image Credit: Arnab Das

अगर आप तनोट माता मंदिर की यात्रा का प्लान बना रहे है तो हम आपको बता दे की तनोट माता मंदिर में तीर्थ यात्रियों के प्रवेश के लिए कोई भी शुल्क नही लिए जाता है।

5. तनोट माता मंदिर के आसपास में घूमने लायक प्रमुख पर्यटक और आकर्षण स्थल – Best Tourist Attractions Near Tanot Mata Mandir Jaisalmer In Hindi

अगर आप तनोट माता मंदिर घूमने के लिए जा रहे है तो तनोट माता मंदिर के आसपास भी अन्य प्रमुख पर्यटक स्थल भी है, जहा आप घूम सकते हैं। जिनके बारे हम यहाँ आपको यहाँ बताने जा रहे है-

6. तनोट माता मंदिर घूमने जाने का सबसे अच्छा समय – Best Time To Visit Tanot Mata Mandir In Hindi

तनोट माता मंदिर घूमने जाने का सबसे अच्छा समय
Image Credit: Sanjit Kumar Bardhan

थार रेगिस्तान के पास स्थित होने के कारण नवंबर से जनवरी तनोट माता मंदिर की यात्रा करने का सबसे आदर्श समय माना जाता है, जब आप सूरज की चमकदार किरणों और सर्दियों की ठंड का आनंद ले सकते हैं। जो आपकी यात्रा और अधिक रोमंचक बना देगी। इसलिए आप अपनी सर्दियों की छुट्टियों के लिए जैसलमेर और तनोट माता मंदिर की यात्रा का प्लान कर सकते हैं।

और पढ़े: इंदरगढ़ के बिजासन माता मंदिर के दर्शन की पूरी जानकारी

7. तनोट माता मंदिर जैसलमेर कैसे पंहुचा जाये – How To Reach Tanot Mata Temple Tanot In Hindi

अगर आप  तनोट माता मंदिर की यात्रा का प्लान बना रहे है तो आप हवाई, रेलवे और सड़क मार्ग से तनोट माता मंदिर पहुँच सकते हैं। यह जैसलमेर शहर से 120 किमी की दूरी पर स्थित है।

7.1 फ्लाइट से माता मंदिर केसे पहुचे – How To Reach Tanot Mata Mandir By Flight In Hindi

फ्लाइट से माता मंदिर केसे पहुचे

यदि आप फ्लाइट से तनोट माता मंदिर जाने का प्लान बना रहे है तो आपको बता दे कि जैसलमेर शहर का सबसे नजदीकी हवाई अड्डा जोधपुर हवाई अड्डा है। जो कि पूरे वर्ष कार्यात्मक है। यहाँ दिल्ली, मुंबई, चेन्नई, कोलकाता और उदयपुर जैसे प्रमुख शहरों से जोधपुर के लिए नियमित उड़ानें हैं। जहाँ से आप जैसलमेर के लिए एक टैक्सी किराए पर ले सकते है जिसमें जैसलमेर पहुचने के लिए लगभग 4 घंटे लगेंगे। और फिर जैसलमेर से, तनोट माता मंदिर तक पहुंचने के लिए आप एक निजी टैक्सी किराए पर ले सकते है जिसमें लगभग 2 घंटे लगेंगे।

7.2 ट्रेन से तनोट माता मंदिर केसे पहुचे – How To Reach Tanot Mata Temple By Train In Hindi

ट्रेन से तनोट माता मंदिर केसे पहुचे

तनोट माता मंदिर का सबसे निकटम रेलवे स्टेशन जैसलमेर है जो तनोट माता मंदिर से 123 किलोमीटर की दूरी पर है तो आप ट्रेन से यात्रा करके जैसलमेर पहुच सकते है। और आप वहां से टैक्सी या कैब से तनोट माता मंदिर पहुच सकते हैं।

7.3 सड़क मार्ग से तनोट माता मंदिर केसे पहुचे – How To Reach Tanot Mata Temple By Road In Hindi

सड़क मार्ग से तनोट माता मंदिर केसे पहुचे

अगर आप सड़क मार्ग से यात्रा करके तनोट माता मंदिर जाने का पलान बना रहे है तो तनोट माता मंदिर पहुंचने का सबसे अच्छा जैसलमेर मार्ग है। यहाँ आप बस, कार या टैक्सी से सड़क मार्ग के द्वारा तनोट माता मंदिर पहुच सकते है। यह जैसलमेर से 120 किमी की दूरी पर स्थित है और पहुंचने में लगभग 2  घंटे का समय लगता है।

और पढ़े: जैसलमेर यात्रा में घूमने की जगहें 

8. श्री तनोट माता मंदिर तनोट, राजस्थान का नक्शा – Tanot Mata Mandir Rajasthan Map

9. तनोट माता मंदिर की फोटो गैलरी – Tanot Mata Mandir Images

और पढ़े:

Leave a Comment