Generic selectors
Exact matches only
Search in title
Search in content
Search in posts
Search in pages

Jaisalmer Fort In Hindi, जैसलमेर का किला राजस्थान के सबसे प्रसिद्ध किलो और दुनिया के सबसे बड़े किलो में से एक जैसलमेर शहर का सबसे लोकप्रिय पर्यटक स्थल है। जो  यूनेस्को की विश्व धरोहर स्थल में से एक है। तिरुकुटा पहाड़ी पर स्थित जैसलमेर का किला 1156 में राव जैसल द्वारा बनाया गया था, जो कि जयसलम के सबसे शक्तिशाली शासकों में से एक था। थार रेगिस्तान के सुनहरे हिस्सों पर स्थित होने के कारण, इस किले को ‘सोनार किला’ या ‘स्वर्ण किले’ के नाम से भी जाना जाता है। पिछली कुछ शताब्दियों में, इस किले ने कई लड़ाइयों को देखा है और राजस्थान में शानदार किलों में से एक होने का गौरव सफलतापूर्वक प्राप्त किया है। लगभग साठ फीट ऊंचा, प्रवेश द्वार बेहतरीन गुणवत्ता वाले शीशम से बनाया गया है। किले के अंदर, राजपूताना गौरव के पूर्व राजाओं के अस्तबल और किले भी हैं।

जैसलमेर किले से एक और जुडी दिलचस्प बात यह है कि एक जासूसी उपन्यास जैसलमेर के किले पर आधारित था, जो एक प्रसिद्ध भारतीय निर्देशक सत्यजीत रे द्वारा लिखा गया था, जिसे बाद में सोनार किला नामक फिल्म में परिवर्तित कर दिया गया। जैसलमेर का किला, थार रेगिस्तान की सुनहरी रेत पर बसा हुआ न केवल एक किला है, बल्कि घरों, मंदिरों, दुकानों और रेस्तरां के साथ एक मिनी-टाउन है l जैसलमेर का किला जैसलमेर में घूमने के लिए सबसे आकर्षक जगहों में से एक है जो पर्यटकों के साथ-साथ इतिहास शोकिनो को भी आकर्षित करता हैl

1. जैसलमेर किले का इतिहास – Jaisalmer Fort History In Hindi

 जैसलमेर किले का इतिहास

जैसलमेर किला वर्ष 1156 ईस्वी में रावल जैसल नामक भाटी राजपूत शासक द्वारा बनाया गया था जिसने अपने भतीजे भोजदेव को गद्दी से उतरने के लिए  गौर के सुल्तान के साथ साजिश की थी। किले ने कई लड़ाइयों और युद्धों की पृष्ठभूमि के रूप में कार्य किया है। दिल्ली के सुल्तान द्वारा दो मुस्लिम आक्रमणों के बाद 1276 ई में महारावल जेतासी द्वारा किले की रक्षा संरचना के रूप में रंग बुर्ज को किले में जोड़ा गया थाl

तेरहवीं शताब्दी में अला-उद-दीन-खिलजी द्वारा किले पर फिर से हमला किया गया, जिसने राजपूत महिलाओं को आत्म-हीनता के लिए मजबूर कर दिया। 1541 में हुमायूँ के हमले के बाद मुगल के खिलाफ रावल की अवज्ञा अंततः टूट गई और उसने अपनी बेटी की शादी अकबर से की जो हुमायूँ का उत्तराधिकारी था। मध्ययुगीन काल में सिल्क मार्ग के साथ जैसलमेर का किला एक महत्वपूर्ण व्यापार और व्यवसायिक पड़ाव बन गया था l

और पढ़े: जैसलमेर यात्रा में घूमने की जगहें

2. जैसलमेर फोर्ट की वास्तुकला – Jaisalmer Fort Architecture In Hindi

जैसलमेर फोर्ट की वास्तुकला

जैसलमेर किला इस्लामी और राजपुताना शैली की वास्तुकला का एक अद्भुत देहाती संरचना है। स्वर्ण किले के परिसर में कई इमारतें जेसे महल मंदिर,घर,कुये, हवेलिया शामिल है जिन्हें हल्के पीले बलुआ पत्थरों से तैयार किया गया था, जिसमे  एक जटिल नक्काशी और डिजाइन युक्त बालकनी, खिड़कियां और हवेलियों में मेहराब की सजावट दिखाई देती है। किले में हवा पोल, गणेश पोल, रंग पोल और जवाहर पोल,जैसे कई प्रवेश द्वार है जो विशिष्ट और उत्कृष्ट रूप से तैयार किए गए हैं। और ज़िगज़ैग मार्ग पर अंतिम द्वार दशहरा चौक की ओर जाता है। सोनार किला ’किले का मुख्य आकर्षण महारावल पैलेस है जो अपने संगमरमर के सिंहासन के लिए लोकप्रिय है। जिसेके ठीक सामने ताज़िया टॉवर नामक पाँच मंजिला टॉवर स्थित है।  किले का एक अन्य प्रमुख आकर्षण जवाहर पैलेस है जिसमें एक शानदार डिजाइन और वास्तुकला है। जवाहर पैलेस को प्राचीन समय में शाही निवास के रूप में इस्तेमाल किया गया था।

3. जैसलमेर दुर्ग के महत्वपूर्ण तथ्य – Important Facts Of Jaisalmer Kila In Hindi

जैसलमेर दुर्ग के महत्वपूर्ण तथ्य

  • जैसलमेर का किला मुस्लिम और राजपूत दोनों वास्तुकला शैलियों को समेटे हुआ है l 1156 ई.पू., किला कई हिंदू और बाद में मुस्लिम राजाओं के हाथों में था, जिन्होंने इसकी वास्तुकला में योगदान दिया था।
  • जैसलमेर के किले कि दीवारे सुबह के समय सूरज की किरणों से छलनी हो जाती हैं, जिससे यह विशाल महल पीले रेगिस्तान के दृश्य में अदृश्य हो जाता था। इसका उपयोग राजाओं ने अपने दुश्मनों से किले को बचाने के लिए किया था।
  • जैसलमेर का किला भारत का एक मात्र किला है जिसमे लोग किले के परिसर में रहते हैं और दुकानों को व्यावसायिक उद्देश्यों के लिए स्थापित किया गया है। किले के परिक्षेत्र में होटल और एक पुरानी हवेली भी है।
  • किले की दीवारों की मुख्य तीन परतें हैं-पहली दीवार में नींव को मजबूत करने के लिए ठोस पत्थर के ब्लॉक थे, दूसरी दीवार किले की संपूर्णता के आसपास चलती है जो एक रक्षात्मक अवरोधक के रूप में कार्य करती है और तीसरी दीवार का इस्तेमाल सैनिकों द्वारा बड़े पैमाने पर पत्थर फेंकने और दुश्मनों पर उबलते हुए तेल या पानी डालने के लिए किया जाता था l जो अक्सर दूसरी और तीसरी दीवार के बीच फंस जाते थे।

4. जैसलमेर किला का खुलने और बंद होने का समय – Jaisalmer Fort Timing In Hindi

  • जैसलमेर का किला पर्यटकों के घूमने लिए सुबह 9.00 बजे से शाम 5.00 बजे तक खुला रहता हैl

5. जैसलमेर किले का प्रवेश शुल्क – Jaisalmer Fort Entry Fees In Hindi

  • जैसलमेर किले में भारतियों के घूमने के लिए: 30 रुपये प्रति व्यक्ति
  • जैसलमेर किले में विदेशी पर्यटकों के लिए: 70 रूपये प्रति व्यक्ति एंट्री फीस हैl
  • यहाँ अगर आप केमरा ले जाना चाहते है तो उसके लिए 50 रूपये और वीडियो केमरा के लिए 150 रुपये की टिकट और लेना होगाl

6. जैसलमेर किला घूमने जाने का सबसे अच्छा समय – Best Time To Visit Jaisalmer Fort In Hindi

जैसलमेर किला घूमने जाने का सबसे अच्छा समय

जैसलमेर रेगिस्तान के पास स्थित होने के कारण नवंबर से जनवरी जैसलमेर किले की यात्रा करने का सबसे आदर्श समय माना जाता है, जब आप सूरज की चमकदार किरणों और सर्दियों की ठंड का आनंद ले सकते हैं। जो आपकी यात्रा और अधिक रोमंचक बना देगी। इसलिए आप अपनी सर्दियों की छुट्टियों के लिए जैसलमेर किले की यात्रा का प्लान कर सकते हैं।

और पढ़े: पांडुपोल के हनुमानजी के मंदिर के दर्शन की जानकारी

7. जैसलमेर किले के आसपास में घूमने लायक लोकप्रिय पर्यटक स्थल – Popular Tourist Places Around Jaisalmer Fort In Hindi

अगर आप जैसलमेर में जैसलमेर किले के यात्रा का प्लान बना रहे है  तो आपको बता दे की जैसलमेर में जैसलमेर किले के अलावा भी अन्य प्रसिद्ध लोकप्रिय पर्यटक स्थल है जिन्हें आप अपनी जैसलमेर यात्रा की सूची में अवश्य शामिल कर सकतें है –

8. जैसलमेर का मशहूर भोजन – Best Local Food Items Of Jaisalmer In Hindi

जैसलमेर का मशहूर भोजन

जैसलमेर सदियों पुरानी संस्कृति और परंपरा वाला एक रेगिस्तानी स्थान है। राजस्थान के अन्य स्थानों की तुलना में जैसलमेर का भोजन अद्वितीय है। जैसलमेर के व्यंजन उनकी संस्कृति में समृद्धता और रेगिस्तान में उनकी निकटता को दर्शाते हैं। आप यहाँ आसानी से भरपूर पौष्टिक भोजन पा सकते हैं। राजस्थान के अन्य भागों के विपरीत, जैसलमेर में तेल और मक्खन में लिपटा हुआ खाना यहां ज्यादा मिलता है। यहां के पारंपरिक भोजन में दाल बाटी चूरमा, मुर्ग-ए- सब्ज, पंचधारी लड्डू, मसाला रायता, पोहा, जलेबी, घोटुआ, कड़ी पकौडा शामिल हैं। अगर यहां आपको स्नैक्स खाने का मन है तो हनुमान चॉक सबसे बेहतर जगह है, वहीं अगर आप डेजर्ट आइटम्स का स्वाद लेना चाहते हैं तो अमर सागर पोल से बेहतर जगह और कोई नहीं है। यहां आपको डेजर्ट से जुड़े सभी फूड आइटम्स मिल जाएंगे।

और पढ़े: माउंट अबू का अचलगढ़ क़िला और इसके पर्यटन स्थल घूमने की जानकारी

9. जैसलमेर किला जैसलमेर कैसे पहुचे – How To Reach Jaisalmer Fort Jaisalmer In Hindi

अगर आप राजस्थान के जैसलमेर में जैसलमेर का किला घूमने जाने का प्लान बना रहे है तो आप हवाई, ट्रेन और सड़क मार्ग से यात्रा करके जैसलमेर किला पहुच सकते हैं।

9.1 फ्लाइट से जैसलमेर किला कैसे पहुचे – How To Reach Jaisalmer Fort By Flight In Hindi

 फ्लाइट से जैसलमेर किला कैसे पहुचे

अगर आप फ्लाइट से जैसलमेर किले की यात्रा करना चाहते है तो जोधपुर हवाई अड्डा निकटतम घरेलू हवाई अड्डा है जो कि पूरे वर्ष कार्यात्मक है। दिल्ली, मुंबई, चेन्नई, कोलकाता और उदयपुर जैसे प्रमुख शहरों से जोधपुर के लिए नियमित उड़ानें हैं। तो आपको पहले जोधपुर हवाई अड्डा पहुचना होगा। जो जैसलमेर शहर से लगभग 5 से 6 घंटे की ड्राइव पर है। और फिर जैसलमेर किला पहुचने के लिए आप बस या टैक्सी किराये पर ले सकते हैंl

9.2 ट्रेन से जैसलमेर किला कैसे पहुचे – How To Reach Jaisalmer Fort By Train In Hindi

ट्रेन से जैसलमेर किला कैसे पहुचे

अगर आप ट्रेन से जैसलमेर किला जाना चाहते है तो इसका अपना खुद का प्रमुख रेलवे स्टेशन है जो प्रमुख शहरों से रेल मार्ग से जुड़ा हुआ है l तो आप ट्रेन से यात्रा करके जैसलमेर रेलवे स्टेशन पहुच सकते है और वहा से आप टैक्सी या कैब से जैसलमेर किला पहुच सकते है।

9.3 सड़क मार्ग से जैसलमेर दुर्ग कैसे पहुचे – How To Reach Jaisalmer Fort By Road In Hindi

सड़क मार्ग से जैसलमेर दुर्ग कैसे पहुचे

जैसलमेर राजस्थान के सभी प्रमुख शहरो से सड़क मार्ग से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है, तो आप बस, कार या टैक्सी से जैसलमेर किला पहुच सकते हैl

और पढ़े: अजमेर का किशनगढ़ किला घूमने की जानकरी

10. जैसलमेर किला जैसलमेर का नक्शा – Jaisalmer Fort Jaisalmer Map

11.जैसलमेर किला की फोटो गैलरी – Jaisalmer Fort Images

 

और पढ़े:

Write A Comment