जैसलमेर के लक्ष्मीनाथ मंदिर के दर्शन की जानकारी – Laxminath Temple Jaisalmer Information In Hindi

Laxminath Temple Jaisalmer In Hindi, जैसलमेर किले के अंदर स्थित लक्ष्मीनाथ मंदिर जैसलमेर के सबसे पुराने व लोकप्रिय मंदिरों में से एक है। जो हिंदू देवता भगवान विष्णु और देवी लक्ष्मी को समर्पित है। कहा जाता है कि यहां की मूर्तियां पूरे देश में सबसे खूबसूरत मूर्तियों में से हैं जो जैसलमेर में एक प्रमुख आस्था केंद्र बना हुआ हैl लक्ष्मीनाथ मंदिर में मुख्य देवताओं के अलावा, अन्य देवताओं की पेंटिंग और मूर्तियों को भी देखा जाता है।

इस मंदिर में एक साधारण वास्तुकला को बड़ी सुन्दरता से अलंकृत किया गया हैl जिसमे मंदिर के दरवाजे में चांदी की रूपरेखा प्रस्तुत की गई हैl और लक्ष्मीनाथ मंदिर में  दीवाली, जन्माष्टमी, निर्जला एकादशी, गीता जयंती और रामनवमी को बड़ी धूमधाम और उत्साह के साथ मनाया जाता हैंl जो पर्यटकों के घूमने के लिए जैसेलमेर की सबसे आकर्षक जगहों में से एक है।

1. लक्ष्मीनाथ मंदिर का इतिहास – Laxminath Temple Jaisalmer History In Hindi

लक्ष्मीनाथ मंदिर का इतिहास
Image Credit: Jean-Philippe Hebrard

लक्ष्मीनाथ मंदिर का इतिहास कई सौ साल पुराना माना जाता है लक्ष्मीनाथ मंदिर का निर्माण सन 1494 में राव लूणकरन के शासन के दौरान किया गया था जो जैसलमेर किले के अन्दर स्थित है। ऐसा माना जाता है कि मंदिर में मूर्तियों को क्षेत्र के एक विद्वान ब्राह्मण सेन पाल शाकद्वीपी ने स्थापित किया था। यह भी कहा जाता है कि मंदिर के खंभों को लोधरुवा गांव से यहां लाया गया था।

और पढ़े: जैसलमेर यात्रा में घूमने की जगहें

2. लक्ष्मीनाथ मंदिर की वास्तुकला – Laxminath Temple Jaisalmer Architecture In Hindi

लक्ष्मीनाथ मंदिर की वास्तुकला
Image Credit: Babulal Suthar

जैसलमेर का प्राचीन मंदिर में एक साधारण वास्तुकला को बड़ी सुन्दरता से अलंकृत किया गया हैl जिसमे मंदिर के दरवाजे में चांदी की रूपरेखा  प्रस्तुत की गई हैl लक्ष्मीनाथ मंदिर में मुख्य देवताओं के अलावा, अन्य देवताओं की पेंटिंग और मूर्तियों को भी देखा जाता है। जो सुंदर कलाकृति के लिए प्रसिद्ध है जो यहाँ के अंदरूनी हिस्सों को समृद्ध बनाती है।

3. लक्ष्मीनाथ मंदिर जैसलमेर के यात्रा के लिए टिप्स – Tips For Visiting Lakshminath Temple Jaisalmer In Hindi

लक्ष्मीनाथ मंदिर जैसलमेर के यात्रा के लिए टिप्स
Image Credit: Govind k
  • लक्ष्मीनाथ मंदिर की यात्रा के समय ध्यान रखे की मंदिर में शार्ट (छोटे) कपडे पहन कर ना जायें l
  • मंदिर में प्रवेश करने से पहले अपने जूते उतारेl
  • मंदिर के अंदर फोटोग्राफी की अनुमति नहीं है तो तो अपने साथ केमरा ले कर न जाये l
  • मंदिर के अंदर पर्स और बेल्ट जैसी चमड़े की वस्तुओं को ले जाने की अनुमति नहीं हैl तो मंदिर के प्रवेश के समय इन वस्तुयों को मंदिर के अन्दर न ले जायेl

4. लक्ष्मीनाथ मंदिर का प्रवेश शुल्क – Entry Fee Of Laxminath Temple Jaisalmer In Hindi

लक्ष्मीनाथ मंदिर भक्तो के प्रवेश के लिए बिलकुल निशुल्क है यहाँ पर्यटकों को माता के दर्शन के लिए किसी भी प्रकार के शुल्क का भुगतान नही करना पड़ता है l

5. लक्ष्मीनाथ मंदिर के खुलने और बंद होने का समय – Laxminath Temple Jaisalmer Timing In Hindi

अगर आप जैसलमेर में लक्ष्मीनाथ मंदिर घूमने की योजना बना रहे है तो आपको बता दे की लक्ष्मी नाथ मंदिर पर्यटकों के लिए प्रतिदिन सुबह 5.00 बजे से दोपहर 1.00 बजे तक और शाम 5.00 बजे से 11.00 तक खुला रहता हैl

6. लक्ष्मीनाथ मंदिर घूमने जाने का सबसे अच्छा समय – Best Time To Visit Laxminath Temple Jaisalmer In Hindi

लक्ष्मीनाथ मंदिर घूमने जाने का सबसे अच्छा समय
Image Credit: Pradeep Mondal

अगर आप जैसलमेर में लक्ष्मीनाथ मंदिर जाने का प्लान बना रहे है तो हम आपको बता दे कि सर्दियों का मौसम (अक्टूबर से मार्च) लक्ष्मीनाथ मंदिर जैसलमेर जाने के लिए सबसे अच्छा समय होता है। जहा शुरुआती सुबह और शामें विशेष रूप से अच्छी होती हैं यहाँ गर्मियों के मौसम में आने से बचें, क्योंकि कठोर धूप और गर्मी आपको जैसलमेर जाने से हतोत्साहित कर सकती हैं।

और पढ़े: रणकपुर जैन मंदिर के बारे में जानकारी और इसके दर्शनीय स्थल

7. लक्ष्मीनाथ मंदिर जैसलमेर के आसपास के लोकप्रिय स्थल – Best Places To Visit Near Laxminath Temple Jaisalmer In Hindi

अगर आप जैसलमेर में लक्ष्मीनाथ मंदिर घूमने के लिए जा रहे है तो हम आपको बता दे कि यहाँ जैसलमेर में लक्ष्मीनाथ मंदिर के अलवा भी आप किले, महल, मंदिर व अन्य प्रसिद्ध पर्यटक स्थल घूमने जा सकते हैं। जिनके बारे हम यहाँ आपको बताने जा रहे है-

8. जैसलमेर में खाने के लिए प्रसिद्ध भोजन – Best Local Food Items Of Jaisalmer In Hindi

जैसलमेर में खाने के लिए प्रसिद्ध भोजन

जैसलमेर सदियों पुरानी संस्कृति और परंपरा वाला एक रेगिस्तानी स्थान है। राजस्थान के अन्य स्थानों की तुलना में जैसलमेर का भोजन अद्वितीय है। जैसलमेर के व्यंजन उनकी संस्कृति में समृद्धता और रेगिस्तान में उनकी निकटता को दर्शाते हैं। आप यहाँ आसानी से भरपूर पौष्टिक भोजन पा सकते हैं। राजस्थान के अन्य भागों के विपरीत, जैसलमेर में तेल और मक्खन में लिपटा हुआ खाना यहां ज्यादा मिलता है। यहां के पारंपरिक भोजन में दाल बाटी चूरमा, मुर्ग-ए- सब्ज, पंचधारी लड्डू, मसाला रायता, पोहा, जलेबी, घोटुआ, कड़ी पकौडा शामिल हैं। अगर यहां आपको स्नैक्स खाने का मन है तो हनुमान चॉक सबसे बेहतर जगह है, वहीं अगर आप डेजर्ट आइटम्स का स्वाद लेना चाहते हैं तो अमर सागर पोल से बेहतर जगह और कोई नहीं है। यहां आपको डेजर्ट से जुड़े सभी फूड आइटम्स मिल जाएंगे।

और पढ़े: पांडुपोल के हनुमानजी के मंदिर के दर्शन की जानकारी

9. लक्ष्मीनाथ मंदिर जैसलमेर कैसे पंहुचा जाये – How To Reach Laxminath Temple Jaisalmer In Hindi

अगर आप राजस्थान के जैसलमेर में लक्ष्मीनाथ मंदिर  घूमने जाने का प्लान बना रहे है तो यहाँ आप हवाई, ट्रेन और सड़क मार्ग से यात्रा करके लक्ष्मीनाथ मंदिर पहुच सकते हैं।

9.1 फ्लाइट से लक्ष्मीनाथ मंदिर जैसलमेर कैसे पहुचे- How To Reach Laxminath Temple By Flight In Hindi

फ्लाइट से लक्ष्मीनाथ मंदिर जैसलमेर कैसे पहुचे

अगर आप फ्लाइट से लक्ष्मीनाथ मंदिर की यात्रा करने का प्लान बना रहे तो बता दे कि जोधपुर हवाई अड्डा जैसलमेर का निकटतम घरेलू हवाई अड्डा है जो कि पूरे वर्ष कार्यात्मक है। दिल्ली, मुंबई, चेन्नई, कोलकाता और उदयपुर जैसे प्रमुख शहरों से जोधपुर के लिए नियमित उड़ानें हैं। तो आपको पहले जोधपुर हवाई अड्डा पहुचना होगा। जो जैसलमेर शहर से लगभग 5 से 6 घंटे की ड्राइव पर है। और फिर जैसलमेर पहुचने के बाद आप टैक्सी या कैब से लक्ष्मीनाथ मंदिर पहुच सकते है।

9.2 ट्रेन से लक्ष्मीनाथ मंदिर जैसलमेर कैसे जाये – How To Laxminath Temple By Train In Hindi

 ट्रेन से लक्ष्मीनाथ मंदिर जैसलमेर कैसे जाये

अगर आप ट्रेन से लक्ष्मीनाथ मंदिर जाना चाहते है तो इसका सबसे निकटम रेलवे स्टेशन जैसलमेर रेलवे स्टेशन है। जो प्रमुख शहरो से रेल मार्ग के माध्यम से जुड़ा हुआ है तो आप ट्रेन से यात्रा करके जैसलमेर रेलवे स्टेशन पहुच सकते है और वहा से आप टैक्सी या कैब से लक्ष्मीनाथ मंदिर पहुच सकते हैंl

9.3 सड़क मार्ग से लक्ष्मीनाथ मंदिर कैसे पहुचे – How To Reach Laxminath Temple By Road In Hindi

सड़क मार्ग से लक्ष्मीनाथ मंदिर कैसे पहुचे

जैसलमेर राजस्थान के सभी प्रमुख शहरो से सड़क मार्ग से जुड़ा हुआ हैl जैसलमेर रोडवेज के सुव्यवस्थित नेटवर्क द्वारा शेष भारत की सेवा करता है। राजस्थान रोडवेज के डीलक्स और साधारण बसें और साथ ही कई निजी बसें जैसलमेर को जोधपुर, जयपुर, बीकानेर, बाड़मेर, माउंट आबू, अहमदाबाद आदि से जोड़ती हैं। तो आप यहाँ बस टैक्सी या अपनी निजी कार से यात्रा करके लक्ष्मीनाथ मंदिर पहुच सकते है।

और पढ़े: धनोप माता मंदिर भीलबाड़ा के दर्शन की जानकारी

10. लक्ष्मीनाथ मंदिर जैसलमेर का नक्शा – Laxminath Temple Jaisalmer Map

11. लक्ष्मीनाथ मंदिर की फोटो गैलरी – Laxminath Temple Images

https://www.instagram.com/p/B4jfp1XHq33/?utm_source=ig_web_button_share_sheet

View this post on Instagram

Laxminath temple Inside Golden fort Jaisalmer

A post shared by Jaisalmer Street (@jaisalmerstreet) on

और पढ़े:

Featured Image Credit: Nekane B

Leave a Comment