रणकपुर जैन मंदिर के बारे में जानकारी और इसके दर्शनीय स्थल – Ranakpur Jain Temple Information In Hindi

Ranakpur Jain Temple In Hindi, रणकपुर जैन मंदिर (चतुर्मुख धारणा विहार) भारत के राजस्थान राज्य में अरावली पर्वत माला की घाटियों के बीच में पाली जिले के सादरी शहर के निकट स्थित हैं। जोकि जैन धर्म के प्रमुख तीर्थकर ऋषभनाथ को समर्पित है। रणकपुर जैन मंदिर सादड़ी राजस्थान की सुंदरता इसके चारो ओर से जंगल से घिरे होने की वजह से ओर अधिक बढ़ जाती हैं। रणकपुर जैन मदिर जैन धर्म से सम्बंधित प्रमुख तीर्थ स्थलों में शामिल हैं और मंदिर की सुन्दर संरचना पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करती है।

यदि आप भी रणकपुर मंदिर के बारे में अधिक से अधिक जानकारी प्राप्त करना चाह्तेह हैं तो हमारे इस लेख को पूरा जरूर पढ़े।

1. रणकपुर जैन मंदिर हिस्ट्री – Ranakpur Jain Temple Itihas In Hindi

रणकपुर जैन मंदिर हिस्ट्

रणकपुर जैन मंदिर का इतिहास बहुत ही प्राचीन हैं जोकि हमें मेवाड़ राजवंश के समय में ले जाता हैं। जैन समुदाय के निर्माण सम्बन्धी गतिविधियों को मेवाड़ राजवंश के द्वारा ही संरक्षित किया गया हैं। धन्ना शाह ने एक सपने के अनुसार इस मंदिर का निर्माण करबाने के लिए राणा कुंभा से कुछ जमीन मांगी और इसके बदले में उनका नाम मंदिर के साथ जोड़ने के लिए सहमत हुए। रणकपुर जैन मंदिर की वास्तुकला को एक साधारण वास्तुकार दीपक ने तैयार किया था। माना जाता है कि मंदिर के निर्माण में 60 वर्ष का समय लग गया था और इस अद्भुत मंदिर का निर्माण 1458 ईस्वी तक चला।

और पढ़े: राजस्थान के 20 सबसे प्रमुख मंदिर

2. रणकपुर जैन मंदिर की वास्तुकला – Ranakpur Jain Temple Architecture In Hindi

रणकपुर जैन मंदिर की वास्तुकला

रणकपुर मंदिर की संरचना विशाल है जिसमे चौमुखा मंदिर, अंबा माता मंदिर, पार्श्वनाथ मंदिर और सूर्य मंदिर आदि शामिल हैं। आदिनाथ तीर्थ कर को समर्पित चौमुखा मंदिर यहाँ का सबसे आकर्षित मंदिर हैं। इस मंदिर में 29 हॉल, 1444 खंभे और 80 गुंबद बने हुए हैं। मंदिर के अन्दर नृत्य करती हुई अप्सराओं की नक्काशी देखने लायक होती हैं। इसके अलावा हड़ताली मंदिर में चार अलग-अलग प्रवेश द्वार देखने को मिलेंगे जोकि मंदिर में चारो दिशा से आने की अनुमति देते हैं और केंद्रीय कक्ष की ओर जाते हैं जहां भक्त गर्भगृह में भगवान आदिनाथ की चार मुखी वाली आकर्षित संगमरमर की मूर्ति के दर्शन का लाभ उठा सकते है। मंदिर की संरचना को गौर से देखने पर पता चलता हैं कि इसकी वास्तुकला और पत्थर की नक्काशी राजस्थान के एक अन्य प्राचीन मीरपुर जैन मंदिर से मेल खाती हैं।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि 48,000 वर्ग फुट के एक विशाल  तहखाने समेत रणकपुर मंदिर के मंदिर परिसर में निर्मित किये गए स्तंभों और गुंबदों के साथ कुल मिलकर चार आकर्षित मंदिर शामिल हैं। मंदिर में बने 2 स्तंभों की नक्काशी एक सामान हैं इसके अलावा छत पर बारीक स्क्रॉलवर्क और ज्यामितीय पैटर्न में कलाकृति देखने को मिलती हैं। इसके अलावा रणकपुर मंदिर की संरचना में कई मंडप, सुंदर बुर्ज, मंदिर निर्मित प्रार्थना कक्ष, दो विशाल घंटियाँ और आकर्षित खिड़कियां आदि शामिल हैं।

3. पाली के रणकपुर जैन मंदिर के दर्शन के लिए टिप्स – Tips For Visiting Ranakpur Jain Temple In Hindi

पाली के रणकपुर जैन मंदिर के दर्शन के लिए टिप्स

  • पाली के रणकपुर जैन मंदिर में मोबाइल और केमरा ले जाने की अनुमति अतिरिक्त (Ranakpur Jain Temple Camera Fee) शुल्क के साथ दी जाती हैं।
  • पूजा करने की अनुमति केवल जैन मंदिर में दी जाती हैं।

और पढ़े: पाली जिले में घुमने लायक टॉप 5 पर्यटन स्थल की जानकारी

4. रणकपुर जैन मंदिर किस नदी के किनारे है – River Near Ranakpur Temple In Hindi

रणकपुर मंदिर माघी नदी के किनारे स्थित हैं।

5. रणकपुर जैन मंदिर कहाँ स्थित है – Where Is Ranakpur Jain Temple In Hindi

रणकपुर जैन मंदिर भारत के राजस्थान राज्य में अरावली पर्वत के निकट पाली जिले के सादरी नामक शहर के निकट स्थित हैं।

6. रणकपुर जैन मंदिर खुलने और बंद होने का समय – Ranakpur Jain Temple Timings In Hindi

रणकपुर जैन मंदिर खुलने और बंद होने का समय सुबह 9 बजे से शाम के 5 का होता हैं।

7. कुंभलगढ़ से रणकपुर की दूरी – Ranakpur Jain Temple To Kumbhalgarh Distance In Hindi

कुंभलगढ़ से रणकपुर की दूरी

कुंभलगढ़ से रणकपुर की दूरी लगभग 33 किलोमीटर हैं।

और पढ़े: कुम्भलगढ़ वन्यजीव अभयारण्य में घूमने की जानकारी

8. रणकपुर का जैन मंदिर किसने बनवाया था – Who Built Ranakpur Jain Temple In Hindi

रणकपुर के जैन मंदिर का निर्माण राजा कुम्भा ने करबाया था।

9. रणकपुर के जैन मंदिर में लगाने वाला प्रवेश शुल्क – Ranakpur Jain Temple Entrance Fee In Hindi

रणकपुर जैन मंदिर में भारतीयों नागरिको के लिए कोई प्रवेश शुल्क नहीं लगता हैं लेकिन विदेशी पर्यटकों के लिए 200INR का प्रवेश शुल्क लगता है।

और पढ़े: कुंभलगढ़ किले का इतिहास और इसके पास प्रमुख पर्यटन स्थल

10. रणकपुर जैन मंदिर के आसपास में घूमने लायक प्रमुख दर्शनीय स्थल – Best Places To Visit Near Ranakpur Jain Temple In Hindi

जैन धर्म से सम्बंधित रणकपुर तीर्थ स्थल के आसपास पर्यटकों और भी कई आकर्षित और घूमने वाली स्थान मिलेंगे। पर्यटक इन स्थानों पर घूमने जा सकते हैं और दर्शनों का लाभ उठा सकते हैं।

10.1 सुपार्श्वनाथ मंदिर – Suparshwanath Jain Temple In Hindi

सुपार्श्वनाथ मंदिर

रणकपुर जैन मंदिर की आकर्षण में शामिल यहाँ एक दर्शनीय सुपार्श्वनाथ को समर्पित खूबसूरत मंदिर बना हुआ है। सुपार्श्वनाथ मंदिर के भीतर की बनाबट बाकई आकर्षित हैं और मंदिर की दीवारों पर की गई  कामुक कारीगरी देखने लायक हैं।

10.2 मुछाला महावीर मंदिर रणकपुर – Muchhala Mahavir Temple Ranakpur In Hindi

मुछाला महावीर मंदिर रणकपुर
Image Credit: Umang Shah

रणकपुर के दर्शनीय स्थलों में शामिल मुछाला महावीर मंदिर भगवान महावीर को समर्पित हैं। मुछाला महावीर मंदिर रणकपुर के कुंभलगढ़ अभयारण्य में स्थित है। मुछाला महावीर मंदिर का सबसे प्रमुख आकर्षण यहां स्थित भगवान महावीर की मूछों वाली आकर्षित प्रतिमा हैं। इसके अलावा मंदिर के प्रवेश द्वार पर स्थित हाथियों की दो मूर्तिया पर्यटकों को मोहित करती हैं।

10.3 नरलाई रणकपुर – Narlai Ranakpur In Hindi

1096653815

नरलाई रणकपुर
Image Credit: Deepak vyas

रणकपुर जैन मंदिर के प्रमुख आकर्षण में शामिल रणकपुर से लगभग 6 किमी की दूरी एक पहाड़ी के पास स्थित नरलाई नामक एक छोटा सा गाँव हैं। यह नारलाई गांव अपने आंगन में निर्मित हिन्दू और जैन मंदिरो के लिए प्रसिद्ध हैं। इन मंदिरों में पर्यटकों को प्राचीन काल के अवशेषों को देखने का अवसर प्राप्त होता हैं।

10.4 सूर्य नारायण मंदिर – Sun Temple In Hindi

151364612

सूर्य नारायण मंदिर
Image Credit: Deep Pancholi

सूर्य मंदिर रणकपुर में स्थित एक दर्शनीय मंदिर हैं जोकि 13 वीं शताब्दी के दौरान का माना जाता हैं। हालाकि एक बार नष्ट होने के बाद 15 वीं शताब्दी मंदिर का पुनिर्माण कार्य किया गया। मंदिर की देख रेख का कार्य उदयपुर शाही परिवार के ट्रस्ट की निगरानी में किया जाता हैं। सूर्य नारायण मंदिर की संरचना गोलाकार हैं जोकि अपने सात घोड़ो के रथ सवार भगवान् सूर्य देव की आकर्षित प्रतिमा के लिए पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करती हैं।

और पढ़े: दिलवाड़ा जैन मंदिर माउंट आबू की पूरी जानकारी

10.5 सेठी की बदी मंदिर – Sethi Badi Temple In Hindi

सेठी की बदी मंदिर

रणकपुर जैन मंदिर के प्रमुख आकर्षण में शामिल सेठी की बदी मंदिर श्वेतांबर से संबंधित एक बड़ा जैन मंदिर है। यह मंदिर अपनी दीवार पर बने आकर्षित चित्रों के लिए जाना जाता हैं।

10.6 चौगान का मंदिर – Chaugan Temple In Hindi

जैन धर्म से संबधित चौगान मंदिर को अगले समय के चक्र में पहले तीर्थ कर की मृत्यु के लिए जाना जाता है। यह मंदिर पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करता हैं जिससे मंदिर में आने वाले आंगतुको की संख्या बहुत अधिक देखी जा सकती हैं।

10.7 सादड़ी रणकपुर – Sadri Ranakpur Rajasthan In Hindi

सादड़ी रणकपुर
Image Credit: Arulazagan Rathinam

सादड़ी राजस्थान राज्य में पाली जिले के रणकपुर में स्थित एक खूबसूरत गाँव है जोकि अपने धार्मिक मंदिरो के लिए जग जाहिर हैं। यहां के प्रमुख आकर्षण में शामिल परशुराम महादेव मंदिर, वराहवतार मंदिर, रणकपुर जैन मंदिर, श्री महाकाली मंदिर, श्री परशुराम महादेव मंदिर, श्री वोक्कल माता मंदिर और चिंतामणि पारसनाथ मंदिर आदि शामिल हैं। इसके अलावा घनेराव रावला, कुंभलगढ़ राष्ट्रीय वन, नरेंद्र रावला आदि शामिल हैं।

10.8 चतुर्मुख मंदिर – Chaturmukh Temple In Hindi

चतुर्मुख मंदिर
Image Credit: Ketan Punmiya

चतुर्मुख मंदिर रणकपुर का प्रमुख दर्शनीय स्थल हैं जोकि 15 वी शताब्दी में निर्मित किया गया था। आदिनाथ को समर्पित यह मंदिर जैन धर्म से सम्बंधित बड़े तीर्थकरो में शामिल हैं। पर्यटकों द्वारा इस मंदिर का दौरा बहुत अधिक संख्या में किया जाता हैं।

और पढ़े: फतेह सागर झील का इतिहास और घूमने की जानकारी

11. रणकपुर में खरीदारी – Shopping In Ranakpur In Hindi

रणकपुर में खरीदारी

रणकपुर का बाजार बहुत ही दिलचस्प है। हालाकि गाँव छोटा हैं लेकिन बाजार में आकर्षित वस्तुओं की कोई कमी नहीं हैं। रणकपुर का बाजार सोना, चांदी और मिटटी के वर्तनो के लिए अधिक प्रसिद्ध हैं। बाजार में खूबसूरत नक्काशीदार चिन्हों के साथ साथ शानदार कठपुतलियाँ देखी जा सकती हैं।

12. रणकपुर जैन मंदिर घूमने जाने का सबसे अच्छा समय – Best Time To Visit Ranakpur Jain Temple In Hindi

 रणकपुर जैन मंदिर घूमने जाने का सबसे अच्छा समय

रणकपुर जैन मंदिर घूमने जाने के लिए सबसे अच्छा समय अक्टूबर से नवंवर के बीच का माना जाता हैं। क्योंकि इस मौसम में यात्रा करना आसान और सुखद होता हैं।

13. रणकपुर जैन मंदिर के आसपास कहां रुके – Where To Stay Near Ranakpur Temple In Hindi

रणकपुर जैन मंदिर के आसपास कहां रुके

रणकपुर जैन मंदिर के आसपास आपको रणकपुर और सादरी नामक स्थान पर आवास की सुविधा मिल जाएगी जहां पर आपनी बजट और सुविधा के अनुसार होटल का चयन कर सकते हैं।

  • रूपम रिज़ॉर्ट (Roopam Resort)
  • चंद्रा हिल रिसोर्ट (Chandra Hill Resort)
  • आइडियल लेक व्यू रिजॉर्ट (Ideal Lake View Resort)
  • मन होटल (Mana Hotels)
  • रणकपुर सफारी रिज़ॉर्ट (Ranakpur Safari Resort)

और पढ़े: जालोर टूरिज्म के टॉप 10 पर्यटन स्थल घूमने की जानकारी 

14. रणकपुर जैन मंदिर पाली कैसे पंहुचा जाये – How To Reach Ranakpur Jain Temple Pali In Hindi

रणकपुर जैन मंदिर की यात्रा के लिए आप फ्लाइट, ट्रेन और बस में से किसी का भी चुनाव कर सकते हैं।

14.1 फ्लाइट से रणकपुर जैन मंदिर कैसे पहुचे – How To Reach Ranakpur Jain Temple By Flight In Hindi

फ्लाइट से रणकपुर जैन मंदिर कैसे पहुचे

रणकपुर जैन मंदिर की यात्रा के लिए यदि आपने हवाई मार्ग का चुनाव किया हैं तो हम आपको बता दें कि उदयपुर का महाराणा प्रताप हवाई अड्डा या दाबोक हवाई अड्डा या उदयपुर हवाई अड्डा रणकपुर के सबसे नजदीक है। जोकि मंदिर से लगभग 108 किलोमीटर की दूरी पर स्थित हैं। हवाई अड्डे से आप स्थानीय साधनों की मदद से मंदिर आसानी से पहुँच जाएंगे।

14.2 ट्रेन से रणकपुर जैन मंदिर कैसे जाये – How To Reach Ranakpur Jain Temple By Train In Hindi

ट्रेन से रणकपुर जैन मंदिर कैसे जाये

रणकपुर जैन मंदिर जाने के लिए यदि आपने रेलवे मार्ग का चुनाव किया हैं तो बता दें कि फालना रेलवे स्टेशन जोकि लगभग 29 किलोमीटर की दूरी पर हैं सबसे निकट हैं। लेकिन उदयपुर रेलवे स्टेशन रणकपुर जैन मंदिर से लगभग 96 किलोमीटर की दूरी पर स्थित हैं। स्टेशन से आप राज्य परिवहन द्वारा चलाए जा रहे साधनों का उपयोग करके मंदिर आसानी से पहुँच जाएंगे।

14.3 पाली के रणकपुर जैन मंदिर बस से कैसे जाए – How To Reach Ranakpur Jain Temple By Bus In Hindi

पाली के रणकपुर जैन मंदिर बस से कैसे जाए

रणकपुर जैन मंदिर सड़क मार्ग के माध्यम से अपने आसपास के नजदीकी शहरो से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ हैं इसलिए आप बस या अपने निजी साधन से भी रणकपुर जैन मंदिर घूमने के लिए जा सकते हैं।

और पढ़े: परशुराम महादेव मंदिर के दर्शन और इसके पर्यटन स्थल की जानकारी 

15. रणकपुर जैन मंदिर पाली का नक्शा – Ranakpur Jain Temple Pali Map

16. रणकपुर जैन मंदिर की फोटो गैलरी – Ranakpur Jain Temple Images

View this post on Instagram

Good vibes ?

A post shared by ASPUNAMIYA (@aayushpunamiya) on

और पढ़े:

Leave a Comment