Generic selectors
Exact matches only
Search in title
Search in content
Search in posts
Search in pages

Parshuram Mahadev Temple In Hindi, परशुराम मंदिर राजस्थान राज्य के पाली जिले में स्थित है। यह प्रसिद्ध मंदिर भगवान शिव या महादेव को समर्पित है। परशुराम मंदिर एक प्राचीन गुफा है जहां तक पर्यटकों को 500 सीढ़ियों से चढ़कर जाना होता है। यह मंदिर अरावली पहाड़ियों के ऊपर से भी एक शानदार दृश्य प्रस्तुत करता है। आप इस मंदिर के द्वार तक पहुंचने के लिए एक छोटा ट्रेकिंग अनुभव ले सकते हैं। परशुराम मंदिर कुंभलगढ़ वन में सबसे अच्छा स्थान माना जाता है। यह सिर्फ एक धार्मिक स्थल ही नहीं है बल्कि दूर-दूर से आने वाले पर्यटक भी यहां के सुंदर वातावरण की वजह से आकर्षित होते हैं। परशुराम मंदिर के अतीत के बारे में कई कहानियां भी बताई जाती है, जिसके बारे में आप मंदिर के पुजारियों से भी जान सकते हैं। मंदिर के दर्शन के समय यहां स्थित भगवान गणेश का पवित्र मंदिर और नौ कुंड भी देख सकते हैं। इन कुंडों की सबसे खास बात यह है कि यह कभी नहीं सूखते।

1. परशुराम महादेव मंदिर का इतिहास – Parshuram Mahadev Temple History In Hindi

परशुराम महादेव मंदिर का इतिहास

Image Credit: Gunwanti Panwar

परशुराम महादेव मंदिर के इतिहास की बात करें तो बता दें कि भगवान विष्णु का छठा अवतार कहे जाने वाले संत परशुराम ने अपनी कुल्हाड़ी से एक गुफा बनाई थी और अरावली पर्वत की तलहटी में भगवान शिव की पूजा की थी। इसी वजह से यहां पहाड़ी के ऊपर परशुराम को समर्पित मंदिर बनाया गया था जिसे हम परशुराम महादेव मंदिर के नाम से जानते हैं।

2. परशुराम मंदिर राजस्थान में मेले का आयोजन – Parshuram Mahadev Mandir Me Mela In Hindi

यदि आप श्रवण सुकला सप्तमी और सप्तमी के विशेष अवसरों के दौरान मंदिर के दर्शन करने के लिए आते हैं तो आप यहां पर इस समय आयोजित होने वाले विशाल मेले को देख सकते हैं। यहां कई ट्रस्ट भी हैं जो इस त्योहार के दौरान संगीतमय रातों का आयोजन करते हैं। यहां पर भक्तों को भोजन और रहने की सुविधा भी प्रदान करते हैं।

और पढ़े: ब्रह्माजी मंदिर पुष्कर के दर्शन और पर्यटन स्थल की जानकारी 

3. परशुराम महादेव के मंदिर खुलने और बंद होने का समय – Parshuram Mahadev Temple Timing In Hindi

इस मंदिर के द्वार पूरे सप्ताह खुले रहते हैं और भक्त सुबह 6 से शाम 7 बजे तक किसी भी दिन मंदिर के दर्शन करने के लिए आ सकते हैं।

4. परशुराम महादेव मंदिर जोधपुर का प्रवेश शुल्क – Parshuram Mahadev Temple Jodhpur Entrance Fee In Hindi

मंदिर में प्रवेश के लिए कोई शुल्क नहीं लिया जाता।

5. परशुराम महादेव मंदिर घूमने जाने का सबसे अच्छा समय – Best Time To Visit Parshuram Mahadev Temple In Hindi

परशुराम महादेव मंदिर घूमने जाने का सबसे अच्छा समय

अगर आप परशुराम महादेव मंदिर की यात्रा के लिए जाना चाहते हैं तो बता दें कि यहां आने का अच्छा समय अक्टूबर से फरवरी के महीनों के समय होता है। अगस्त और सितंबर के महीनों में यहां आयोजित होने वाले भव्य मेले में शामिल होने के लिए आप इस समय भी मंदिर भी जा सकते हैं।

और पढ़े: अर्बुदा देवी मंदिर का इतिहास और पौराणिक कथा

6. परशुराम महादेव मंदिर पाली के आसपास में घूमने लायक पर्यटन और आकर्षण स्थल – Places To Visit Near Parshuram Mahadev Temple Pali In Hindi

परशुराम महादेव मंदिर पाली राजस्थान में स्थित है जो एक ऐसा क्षेत्र है जहां पर घूमने के लिए बहुत कुछ है अगर आप पाली घूमने की योजना बना रहें हैं और इसके पास स्थित पर्यटन स्थलों की सैर करना चाहते हैं तो नीचे हम पाली शहर के पर्यटन स्थलों की जानकारी दे रहे हैं, जहां आपको अपनी यात्रा के दौरान जरुर जाना चाहिए।

6.1 लखोटिया गार्डन – Lakhotia Garden In Hindi

लखोटिया गार्डन

Image Credit: Pritesh Jain

लखोटिया गार्डन पाली का एक प्रमुख पर्यटन स्थल है। आपको बता दें कि यह गार्डन लाखोटिया तालाब से घिरा हुआ है और इसी की वजह से इसे अपना नाम मिला है। लखोटिया गार्डन एक बहुत विशाल उद्यान है जिसमें बैठे की लिए बहुत सारी साफ और हरी भरी जगह भी है। दिन के समय काफी लोग इस खूबसूरत गार्डन को देखने के लिए आते हैं। बात दें कि इस गार्डन का प्रमुख आकर्षण यहां केंद्र में स्थित शिव मंदिर है जो पर्यटकों को बेहद आकर्षित करता है। यह सुंदर मंदिर नीलकंठ को समर्पित है और पर्यटकों को बेहद रोमांचित करता है। लखोटिया गार्डन पाली की एक ऐसी जगह है जिसे आपको अपनी लिस्ट में जरुर शामिल करना चाहिए।

6.2 बांगुर संग्रहालय – Bangur Museum In Hindi

बांगुर संग्रहालय

Image Credit: Sumeet Singroha

पाली में एक साफ सुथरा छोटा संग्रहालय, जिसमें आप तांबे के सिक्के, पेंटिंग, आर्मरेस्ट और जनजातीय हस्तशिल्प के अदभुद संग्रह को देख सकते हैं। आपको बता दें कि इस संग्रहालय में कई उपकरण है जो पुरापाषाण काल ​​के हैं। इसके अलावा बांगुर संग्रहालय में चित्रकला और हथियारों का सबसे शानदार संग्रह हैं, जो राजस्थान की संस्कृति का वर्णन करते हैं। तुगलक, खिलजी और शासकों से संबंधित यहां पर कई सिक्के रखे हुए हैं। यह संग्रहालय पारंपरिक कला और शिल्प को भी बर्तनों से लेकर गहनों तक प्रदर्शित करता है जो स्थानीय और क्षेत्रीय संस्कृति के बारे में बताते हैं। इस संग्रहालय की एक यात्रा आपके लिए यादगार साबित होगी और आपको राजस्थान राज्य के बारे में और अधिक जागरूक करेगी।

और पढ़े: खाटू श्याम जी मंदिर जयपुर, राजस्थान

6.3 जवाई बांध – Jawai Dam In Hindi

जवाई बांध

Image Credit: Vijay Yadav

यह जवाई नदी पर बना है प्रमुख बांध है जो लगभग 70 साल पुराना है और राजस्थान में सबसे बड़ा बांध है। आपको बता दें कि यह बांध यहां के आस-पास के गाँव के लिए जीवन रेखा के रूप में काम करता है। यह बांध दिखने में बेहद सुंदर और आकर्षक है। अगर आप पाली घूमने के लिए जा रहें हैं तो आपको इस बांध की सैर जरुर करना चाहिए। जवाई बांध ठंड से बचने के लिए दुनिया के विभिन्न हिस्सों से सर्दियों के दौरान आने वाले प्रवासी पक्षियों के प्रवास का एक प्रमुख स्थान है। क्रेन और गीज़ आम प्रवासी पक्षी हैं जिन्हें इस बांध के पास अक्सर देखा जा सकता है। इसके अलावा आप भालू और हाइना को बांध पर पानी पीते देख सकते हैं।

6.4 ओम बन्ना मंदिर – Om Banna Temple In Hindi

ओम बन्ना मंदिर

Image Credit: Lokesh Dilar

ओम बन्ना मंदिर पाली का एक प्रमुख मंदिर है जो दुनिया के बाकी मंदिरों से बिलकुल अलग है। पाली के इस मंदिर को बुलेट बाबा मंदिर के नाम से भी जाना जाता है। आपको बता दें कि ओम बन्ना मंदिर का अपना एक अलग खास महत्व है। जब आप इस मंदिर में प्रवेश करेंगे तो आपको यहां पर किसी देवी या देवता की मूर्ति नहीं बल्कि कांच के अंदर एक रॉयल एनफील्ड बाइक दिखेगी और यहां के व्यक्ति की फोटो भी दिखेगी। आपको यह तस्वीर और किसी की नहीं बल्कि खुद ओम बन्ना की है। ऐसा कहा जाता है कि यहां पाली हाईवे पर ओम बन्ना की आत्मा दुर्घटनाओं से लोगों की रक्षा करती इसलिए लोग उनकी पूजा करते हैं और उन्हें फूलों की माला भी चढ़ाते हैं। अगर आप पाली की यात्रा करने जा रहें हैं तो आपको एक बार ओम बन्ना के मंदिर जरुर जाना चाहिए।

7. परशुराम महादेव मंदिर पाली में घूमने के अन्य स्थान – Other Famous Tourist Spot Near Parshuram Mahadev Temple In Hindi

परशुराम महादेव मंदिर पाली में घूमने के अन्य स्थान

पाली को अपने आकर्षक मंदिरों के लिए भी जाना जाता है जिनमें कई एक से बढ़कर एक मंदिर शामिल हैं। बता दें यहां पर्यटक हिंगलाज माँ मंदिर, श्री नवलखा पार्श्वनाथ जैन मंदिर, जैन मंदिर, देवगिरी मंदिर, रामेश्वर महादेव मंदिर, सोमनाथ मंदिर, साईं बाबा मंदिर, करणी माता मंदिर, बंगोर मंदिर, इलोजी मंदिर, महालक्ष्मी मंदिर की यात्रा कर सकते हैं। इन सभी मंदिरों के अलावा पाली में गीता भवन, बजरंग बाग, हवास बांध जैसे पर्यटन स्थल भी हैं।

और पढ़े: बीकानेर के करणी माता मंदिर के दर्शन की जानकारी और पर्यटन स्थल

8. परशुराम महादेव मंदिर राजस्थान कैसे जाये – How To Reach Parshuram Mahadev Temple Rajasthan In Hindi

अगर अप परशुराम मंदिर की यात्रा करने की योजना बना रहे हैं और यह जानना चाहते हैं कि आप मंदिर तक कैसे पहुंच सकते हैं तो बता दें कि मंदिर का निकटतम रेलवे स्टेशन रानी और फालना रेलवे स्टेशन है जो भारत के सभी प्रमुख शहरों से बहुत अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है। हवाई यात्रा करने वाले पर्यटक उदयपुर हवाई अड्डे पर भी उड़ान भर सकते हैं और फिर मंदिर तक पहुँचने के लिए वहां से परिवहन के किसी भी स्थानीय साधन की मदद ले सकते हैं।

8.1 सड़क द्वारा परशुराम महादेव मंदिर कैसे पहुंचें – How To Reach Parshuram Mahadev Temple By Road In Hindi

सड़क द्वारा परशुराम महादेव मंदिर कैसे पहुंचें

अगर आप सड़क द्वारा परशुराम मंदिर की यात्रा करना कहते हैं तो बता दें कि यह मंदिर राजसमंद जिले में कुंभलगढ़ में और उदयपुर से 98 किमी दूर स्थित है। यहां से बस या टैक्सी द्वारा आसानी से मंदिर पहुंचा जा सकता है।

8.2 परशुराम महादेव मंदिर रेल से कैसे पहुंचें – How To Reach Parshuram Mahadev Temple In By Train Hindi

परशुराम महादेव मंदिर रेल से कैसे पहुंचें

परशुराम मंदिर के लिए दिल्ली, आगरा, मुंबई, चेन्नई, बीकानेर, जोधपुर, जयपुर, अहमदाबाद जैसे प्रमुख शहरों रेलवे स्टेशनों के लिए निकटतम स्टेशन फालना और रानी रेलवे स्टेशन है। यहां से बस या टैक्सी द्वारा मंदिर पहुंचा जा सकता है।

8.3 कैसे पहुंचें परशुराम महादेव मंदिर हवाई मार्ग से – How To Reach Parshuram Mahadev Temple By Air In Hindi

कैसे पहुंचें परशुराम महादेव मंदिर हवाई मार्ग से

परशुराम मंदिर को निकटतम उदयपुर हवाई अड्डा है जो दिल्ली, कोलकाता, मुंबई, अहमदाबाद, जोधपुर और जयपुर के लिए नियमित घरेलू उड़ानों से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है। हवाई अड्डे से से बस या टैक्सी द्वारा मंदिर पहुंचा जा सकता है।

और पढ़े: उदयपुर के प्रमुख पर्यटन स्थल

9. परशुराम महादेव मंदिर राजस्थान का नक्शा – Parshuram Mahadev Temple Rajasthan Map

10. परशुराम महादेव मंदिर की फोटो गैलरी – Parshuram Mahadev Temple Images

View this post on Instagram

Har Har Mahadev

A post shared by Anil Gehlot? (@anil__gehlot_1510) on

और पढ़े:

Write A Comment