श्री हेमकुंड साहिब यात्रा की जानकारी और इसके प्रमुख पर्यटन स्थल – Hemkund Sahib Yatra Information In Hindi

Hemkund Sahib Yatra In Hindi : श्री हेमकुंड साहिब पर्यटन स्थल हिमालय पर्वत के बीचो-बीच उत्तराखंड के चमोली जिले में स्थित है। हर साल हजारों सिखों द्वारा इस पूजनीय पवित्र तीर्थ स्थल का दौरा किया जाता है। हेमकुंड साहिब का शाब्दिक अर्थ “लेक ऑफ स्नो” हैं और यह दुनिया का सबसे ऊंचा गुरुद्वारा हैं जिसकी ऊँचाई समुद्र तल से 4633 मीटर है। हेमकुंड साहिब पर्यटन स्थल बर्फ से ढके पहाड़ों पर स्थित है। श्री हेमकुंड साहिब गुरद्वारे को श्री हेमकुंट साहिब के नाम से भी जाना जाता है। हेमकुंड साहिब गुरुद्वारे के नजदीक कई झरने, हिमालय का मनोरम दृश्य और घने जंगल हैं, जो ट्रेकिंग की सुविधा प्रदान करते हैं। श्री हेमकुंड साहिब गुरुद्वारा वह स्थान जो श्री गुरु गोविन्द सिंह जी की आत्मकथा से सम्बंधित हैं और बर्फ से ढंकी सात पहाड़ियों के लिए जाना गया हैं।

यदि आप भी हेमकुंड पर्यटन स्थल के बारे में अधिक से अधिक जानना चाहते हैं तो हमारे इस आर्टिकल पूरा जरूर पढ़े।

1. हेमकुंड साहिब का इतिहास – Hemkund Sahib History In Hindi

हेमकुंड साहिब का इतिहास

हेमकुंड साहिब के इतिहास का पता सिखों के दसवें और अंतिम गुरु, गुरु गोविंद सिंह की आत्मकथा से चलता हैं। उनकी आत्मकथा में यह स्थल लगभग दो शताब्दियों से अस्पष्ट और अछूता बताया गया है। यहाँ के स्थानीय निवासी इस झील के प्रति आस्था रखते थे। संतोख सिंह (1787-1843) जो एक सिख इतिहासकार और कवि थे। उन्होंने अपनी शानदार कल्पना के साथ दुश दामन की कहानी का वर्णन किया है। जिसका अर्थ “दुष्टों का वशीकरण” होता हैं। यह भी माना जाता हैं कि इस स्थान पर गुरु गोविन्द सिंह ने ध्यान किया था। सिख समुदाय के सामूहिक प्रयास से यहाँ एक भव्य गुरुद्वारा बनाया गया था, जिसे वर्तमान में हेमकुंड साहिब गुरुद्वारा के नाम से जाना जाता हैं।

2. श्री हेमकुंड साहिब गुरुद्वारा की संरचना – Hemkund Sahib Architecture In Hindi

श्री हेमकुंड साहिब गुरुद्वारा की संरचना

हेमकुंड साहिब सफेद संगमरमर से निर्मित एक भव्य सितारा की तरह प्रतीत होने वाली संरचना है और यह एक सुंदर झील के किनारे पर स्थित है। हेमकुंड साहिब की संरचना के पीछे एक जल निकाय लक्ष्मण गंगा का खूबसूरत स्रोत है और इतनी अधिक ऊंचाई पर निर्मित होने वाला यह एक मात्र गुरुद्वारा हैं। हेमकुंड साहिब गुरुद्वारा सबसे पहला प्रोटोकॉल स्टील से दिल्ली में बनाया गया था। यहाँ गिरने वाली बर्फ को अच्छे से सँभालने के लिए छत को जंगलों और गर्तों के साथ डिजाइन किया गया था। महिलाओं के स्नान की सुविधा को ध्यान में रखते हुए हेमकुंड झील को गुरुद्वारे के भूतल की ओर मोड़ दिया गया था और पुरुषो को खुली झील में स्नान करने के लिए स्वतंत्रता थी। हेमकुंड गुरुद्वारा में प्रवेश करने पर सबसे पहले हाल में पहुंचा जाता हैं जिसे खूबसूरत ढंग से रौशनी और अन्य रंगोलियों से सजाया गया हैं। सिख धर्म के गुरुओं के चित्र दीवार पर सजाए गए हैं और गुरूद्वारे के चारो कोनो पर चार दरवाजे बने हुए हैं। पास में ही एक लंगर हाल हैं जहां तीर्थ यार्त्रियों को भोजन की उत्तम व्यवस्था की जाती हैं।

3. श्री हेमकुंड साहिब की ऊंचाई – Hemkund Sahib Height In Hindi

हेमकुंड साहिब गुरुद्वारा समुद्र तल से 4633 मीटर की ऊंचाई पर स्थित हैं।

और पढ़े: गंगोत्री धाम की यात्रा और प्रमुख पर्यटन स्थल की जानकारी 

4. श्री हेमकुंड साहिब गुरुद्वारा खुलने और बंद होने का समय – Gurudwara Shri Hemkund Sahib Opening Time In Hindi

श्री हेमकुंड साहिब गुरुद्वारा खुलने और बंद होने का समय
Image Credit: Sandeep Kumar

श्री हेमकुंड साहिब यात्रा मई से अक्टूबर के दौरान कुछ महीने के बीच ही की जा सकती है, इसके बाद श्री हेमकुंड साहिब गुरुद्वारा यात्रा बंद कर दी जाती है।

5. हेमकुंड साहिब की प्रारंभ तिथि 2021 – Hemkund Sahib Yatra Opening Date 2021 In Hindi

हेमकुंड साहिब को 25 मई 2021 (मई से अक्टूबर) को पर्यटकों के लिए खोला गया हैं। उत्तराखंड स्थित हेमकुंड साहिब को खोलने का निर्णय समिति की घोषणा के अनुसार लिया जाता हैं।

6. श्री हेमकुंड साहिब यात्रा का प्रवेश शुल्क – Hemkund Sahib Yatra Entry Fee In Hindi

हेमकुंड साहिब यहाँ आने वाले पर्यटकों के लिए बिलकुल फ्री हैं। हेमकुंड साहिब घूमने पर पर्यटकों को किसी तरह का कोई प्रवेश शुल्क अदा नही करना पड़ता हैं।

7. श्री हेमकुंड साहिब यात्रा में ट्रेकिंग – Hemkund Sahib Yatra Trekking In Hindi

श्री हेमकुंड साहिब यात्रा में ट्रेकिंग

हेमकुंड साहिब में एक पवित्र तीर्थ स्थल होने के अलावा ट्रेकिंग के लिए एक शानदार डेस्टिनेशन भी हैं। इस स्थान पर केवल मई से अक्टूबर माह तक ही पहुंचा जा सकता हैं। हेमकुंड साहिब की यात्रा के दौरान बर्फ से ढंके पहाड़ो और खूबसूरत प्राकृतिक परिवेश को देखने का अनुभव लिया जा सकता हैं। कुछ यात्रा खच्चरों से भी की जाती हैं जोकि  पर्यटकों के लिए एक अलग अनुभव साबित हो सकता हैं। हेमकुंड साहिब के लिए जाने वाला वाला रास्ता पंच प्रयाग से होकर गुजरता हैं और जोशीमठ को पार करने के बाद अलकनंदा के रास्ते होते हुए बद्रीनाथ जाने का प्राचीन मार्ग है। हेमकुंड की यात्रा के दौरान इस शानदार ट्रेकिंग का आनंद भी पर्यटक लेते हुए नजर आते हैं।

और पढ़े: उत्तराखंड के प्रसिद्ध हिल स्टेशन लैंसडाउन यात्रा की पूरी जानकारी

8. श्री हेमकुंड साहिब गुरुद्वारा के आसपास के प्रमुख पर्यटन और आकर्षण स्थल – Hemkund Sahib Ke Darshaniya Sthal In Hindi

हेमकुंड साहिब पर्यटन स्थल के आसपास कई ऐसे स्थान हैं जहां आप घूमने जा सकते हैं और इन आकर्षित रमणीय स्थान की सुन्दरता का आनंद ले सकते हैं। तो आइए हेमकुंड के सबसे नजदीकी पर्यटन स्थलों को दौरा हम अपने इस लेख के माध्यम से करते हैं।

8.1 पांडुकेश्वर – Pandukeshwar In Hindi

पांडुकेश्वर
Image Credit: Himanshu Dixit

हेमकुंड साहिब के प्रमुख पर्यटन स्थलों में पांडुकेश्वर चमोली जिले का एक छोटा सा गांव है जो समुद्र तल से 6300 फीट की ऊँचाई पर स्थित है। माना जाता हैं कि इस गांव की स्थापना पांडवों के पिता महाराज पांडु ने की थी। पांडुकेश्वर पर्यटन स्थल का एक प्रमुख आकर्षण योगध्यान बद्री मंदिर है जोकि भगवान विष्णु को समर्पित है। पांडुकेश्वर के नजदीक ही पंथ माता मूर्ति मंदिर हैं। इसके अलावा मन गांव और अलका पुरी जैसे अन्य आकर्षित पर्यटन स्थल हेमकुंड साहिब के करीब हैं।

8.2 गोदिन्धम – Godind Dham In Hindi

गोदिन्धम
Image Credit: Amber Deep Singh

हेमकुंड साहिब का आकर्षण गोदिन्धम पुष्पावती नदी के तट पर बसा एक छोटा सा पर्यटन गांव है। गोदिन्धम मुख्य रूप से घांघरिया के रूप में जाना जाता है और हेमकुंड साहिब पर्यटन स्थल के रास्ते में आखिरी गांव है। गोदिन्धम समुद्र तल से 3049 मीटर की ऊँचाई पर ऊपरी उत्तरी हिमालय पर्वतमाला पर स्थित है। यह स्थान पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करता हैं।

8.3 लक्ष्मण मंदिर – Laxman Temple In Hindi

लक्ष्मण मंदिर

हेमकुंड साहिब का प्रसिद्ध लक्ष्मण मंदिर हेमकुंड साहिब के पास हेमकुंड झील के किनारे पर स्थित एक दर्शनीय स्थान स्थित है जोकि शेषनाग के अवतार श्री लक्ष्मण जी को समर्पित हैं। माना जाता है कि इस मंदिर का निर्माण उस स्थान पर किया गया है जहां भगवान राम के छोटे भाई लक्ष्मण जी ने तपस्या की थी।

8.4 नंदा देवी राष्ट्रीय उद्यान – Nanda Devi National Park In Hindi

नंदा देवी राष्ट्रीय उद्यान

हेमकुंड साहिब का आकर्षण नंदा देवी नेशनल पार्क 7817 मीटर की ऊँचाई पर स्थित है और यह नंदा देवी बायोस्फीयर रिजर्व का हिस्सा है। नंदा देवी राष्ट्रीय उद्यान 630. 33 वर्ग किलोमीटर के क्षेत्र में फैला हुआ है और इसमें नंदा देवी अभ्यारण शामिल है। नंदा देवी नेशनल पार्क को त्रिशूल, डुनागिरी, नंदा देवी और बेथरटोली जैसी चोटियाँ इस पार्क को घेरती हैं।

और पढ़े: नंदा देवी राष्ट्रीय उद्यान घूमने की जानकारी 

8.5 कागभुसंडी ताल – Kagbhusandi Tal In Hindi

कागभुसंडी ताल
Image Credit: Iman Sengupta

हेमकुंड साहिब में देखने लायक स्थान कागभुसंडी ताल हाथी पर्वत के तल पर एक छोटी सी झील है। यह आकर्षित झील एक किलोमीटर लंबी है और कांकुल दर्रे के पास 5,230 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है। कागभुसंडी ताल का दौरा पर्यटकों द्वारा अधिक संख्या में किया जाता हैं।

8.6 फूलों की घाटी राष्ट्रीय उद्यान – Valley Of Flowers National Park In Hindi

फूलों की घाटी राष्ट्रीय उद्यान

हेमकुंड साहिब के आकर्षित पर्यटन स्थलों में पश्चिमी हिमालय में स्थित फूलों की घाटी एक प्राकृतिक और सुंदर राष्ट्रीय उद्यान है। जोकि अल्पाइन फूलों की घास के मैदानों के लिए जाना जाता है। इस स्थान को वर्ष 2005 में यूनेस्को द्वारा विश्व धरोहर स्थलों की सूची में भी शामिल कर लिया गया हैं। फूलों की घाटी राष्ट्रीय उद्यान को शुरुआत में भुइंदर घाटी के नाम से जाना जाता था लेकिन बाद में ब्रिटिश पर्वतारोही फ्रैंक एस स्माइथ द्वारा वर्ष 1931 में इसका नाम बदलकर वैली ऑफ फ्लॉवर्स कर दिया गया।

8.7 डिवाइन आयुर्वेदिक स्पा – Divine Ayurvedic Spa In Hindi

डिवाइन आयुर्वेदिक स्पा

हेमकुंड साहिब गुरुद्वारा की यात्रा में घूमने लायक स्थान डिवाइन आयुर्वेदिक स्पा तपोवन बाई पास रोड भंडारी स्विस कॉटेज ऋषिकेश में स्थित हैं। यह स्थान हेमकुंड साहिब से एक किलोमीटर से भी कम दूरी पर स्थित हैं।

8.8 शिवानंद आश्रम ऋषिकेश उत्तराखंड – Sivananda Ashram Rishikesh In Hindi

शिवानंद आश्रम ऋषिकेश उत्तराखंड
Image Credit: Dheeraj Kariwala

हेमकुंड साहिब का मशहूर पर्यटन स्थल शिवानंद आश्रम राम झूला के पास स्थित हैं जोकि हेमकुंड साहिब गुरुद्वारा से एक किलोमीटर कि दूरी पर स्थित हैं।

और पढ़े: ऋषिकेश में घूमने वाली जगह और पर्यटन स्थल 

8.9 परमार्थ निकेतन मंदिर – Parmarth Niketan Temple Rishikesh In Hindi

परमार्थ निकेतन मंदिर

परमार्थ निकेतन मंदिर जोकि राम झूले के निकट स्थित हैं हेमकुंड साहिब का एक दर्शनीय स्थल हैं। हेमकुंड साहिब से परमार्थ निकेतन मंदिर की दूरी एक किलोमीटर से भी कम हैं। परमार्थ निकेतन मंदिर पर्यटकों को अपनी ओर अधिक आकर्षित करता हैं।

8.10 भीम पुल इन उत्तराखण्ड – Bheem Pul In Hindi

भीम पुल इन उत्तराखण्ड
Image Credit: Gaurav Sisodia

भीम पुल हेमकुंड साहिब का एक अन्य पर्यटन स्थल हैं जोकि हेमकुंड साहिब से लगभग 14 किलोमीटर की दूरी पर मन गाँव, बद्रीनाथ में स्थित हैं। भीम पुल देखने के लिए पर्यटकों लम्बी कतार लगी रहती हैं।

और पढ़े: जागेश्वर धाम यात्रा की जानकारी

9. श्री हेमकुंड साहिब यात्रा पर खाने के लिए स्थानीय भोजन – Local Food On Hemkund Sahib Yatra In Hindi

श्री हेमकुंड साहिब यात्रा पर खाने के लिए स्थानीय भोजन

हेमकुंड साहिब तीर्थ स्थल भारत के उत्तराखंड राज्य में स्थित हैं और यहाँ के स्थानीय भोजन में उत्तराखंड के प्रसिद्ध व्यंजन भांग की चटनी, गढ़वाल का फन्नाह, फानू, बड़ी, कंदली का साग, चैन्सू, कुमौनी रायता, झंगोरा की खीर, गुलगुला, अर्सा, सिंगोरी, आलू का झोल आदि प्रमुख रूप से शामिल हैं।

10. श्री हेमकुंड साहिब यात्रा में कहां रुके – Where To Stay In Hemkund Sahib Yatra In Hindi

 श्री हेमकुंड साहिब यात्रा में कहां रुके

हेमकुंड साहिब और इसके प्रमुख पर्यटन स्थलों की यात्रा करने के बाद यदि आप यहां रुकना चाहते हैं तो हम आपकी जानकारी के लिए बता दें कि हेमकुंड साहिब गुरुद्वारा के नजदीक ही लों-बजट से लेकर हाई-बजट के कई होटल उपलब्ध हैं। होटल का चुनाव आप अपनी आवश्यकतानुसार कर सकते हैं।

  • होटल नारायण पैलेस
  • द टटवा
  • द रॉयल विलेज – औली रिजॉर्ट
  • क्लिफ्टटॉप क्लब रिज़ॉर्ट – औली
  • मोनाल रिज़ॉर्ट

11. श्री हेमकुंड साहिब यात्रा पर जाने के लिए सबसे अच्छा समय – Best Time To Visit Gurudwara Shri Hemkund Sahib In Hindi

श्री हेमकुंड साहिब यात्रा पर जाने के लिए सबसे अच्छा समय

हेमकुंड साहिब की यात्रा के लिए सबसे अच्छा समय मई और अक्टूबर के बीच का माना जाता है। क्योंकि वर्ष की इस अवधि के दौरान ही बर्फ से सड़कें साफ रहती हैं और इन महीनों के दौरान उत्तराखंड मानसून का अनुभव प्रदान करता है। हालाकि मानसून की वजह से पर्यटकों को कभी-कभी परेशानी का सामना भी करना पढ़ सकता हैं।

और पढ़े: देवप्रयाग की यात्रा के बारे में पूरी जानकारी

12. श्री हेमकुंड साहिब कैसे जाये – How To Reach Shri Hemkund Sahib Gurudwara In Hindi

हेमकुंड साहिब की यात्रा के लिए आप फ्लाइट, ट्रेन और बस में से किसी का भी चुनाव कर सकते हैं।

12.1 श्री हेमकुंड साहिब फ्लाइट से कैसे पहुंचे – How To Reach Hemkund Sahib By Flight In Hindi

श्री हेमकुंड साहिब फ्लाइट से कैसे पहुंचे

हेमकुंड साहिब की यात्रा के लिए यदि आपने हवाई मार्ग का चुनाव किया हैं तो हम आपको बता दें कि हेमकुंड साहिब के सबसे निकटतम हवाई अड्डा जॉली ग्रांट हवाई अड्डा (Jolly Grant Airport) है। जोकि देहरादून शहर में स्थित हैं और हेमकुंड साहिब से लगभग 310 किलोमीटर की दूरी पर हैं।

12.2 ट्रेन से श्री हेमकुंड साहिब कैसे पहुंचे – How To Reach Hemkund Sahib By Train In Hindi

ट्रेन से श्री हेमकुंड साहिब कैसे पहुंचे

हेमकुंड साहिब की यात्रा के लिए यदि आपकी पहली पसंद रेल मार्ग है, तो हम आपको बता दें कि हेमकुंड साहिब गुरूद्वारे के सबसे निकटतम रेलवे स्टेशन देहरादून और हरिद्वार में हैं। इन दोनों स्टेशन से हेमकुंड पहुंचने के लिए पर्यटको को बस और टैक्सी आसानी से मिल जाएंगी।

12.3 बस से श्री हेमकुंड साहिब कैसे पहुंचे – How To Reach Hemkund Sahib By Bus In Hindi

श्री हेमकुंड साहिब कैसे पहुंचे बस से

हेमकुंड साहिब जाने के लिए सडक मार्ग भी एक अच्छी पसंद हो सकती हैं। क्योंकि जोशीमठ के लिए हरिद्वार और देहरादून दोनों शहरों से निजी बसें उपलब्ध हैं। जोशीमठ के लिए ये बसें सुबह जल्दी निकल जाती हैं और जोशीमठ तक पहुंचने में लगभग 9-11 घंटे का समय लेती हैं। जोशीमठ से टैक्सी पर्यटकों को गोविन्द घाट तक ले जाती हैं।

और पढ़े: हिडिम्बा देवी मंदिर का इतिहास, कहानी और रोचक तथ्य 

इस आर्टिकल में आपने हेमकुंड साहिब की यात्रा से जुड़ी जानकारी को जाना है आपको हमारा यह लेख केसा लगा हमे कमेंट्स में बताना ना भूलें।

इसी तरह की अन्य जानकारी हिन्दी में पढ़ने के लिए हमारे एंड्रॉएड ऐप को डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक करें। और आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

13. श्री हेमकुंड साहिब का नक्शा – Shri Hemkund Sahib Gurudwara Map

14. श्री हेमकुंड साहिब की फोटो गैलरी – Shri Hemkund Sahib Gurudwara Images

https://www.instagram.com/p/BJdZmgTBk-N/?utm_source=ig_web_button_share_sheet

View this post on Instagram

Click by Rubal films

A post shared by ??DHAN GURU NANAK?? (@manpreet3784) on

और पढ़े:

Leave a Comment