Generic selectors
Exact matches only
Search in title
Search in content
Search in posts
Search in pages

Free Food In India In Hindi, भारत के इन बड़े रसोईघर में से 5 ऐसे किचन जहा आप फ्री खाने का लुफ्त उठा सकते है। ये  सिर्फ फ्री खाना नहीं है बल्कि प्रसाद की तरह है अगर आप भी कभी इन जगहों पर घूमने निकले तो रेस्टोरेंट में ज्यादा पैसा देकर खाने से अच्छा होगा कि आप इन जगहों पर अपने खाने की व्यवस्था कर सकते है क्योकि इन जगहों पर बने खाने में एक अलग ही स्वाद होता है।

“ हमारे धर्म ग्रन्थो में लिखा है कि मनुष्य भूखे की भूख मिटाना, मानवता की सेवा करने का सबसे बड़ा तरीका है और इसी चीज़ को ध्यान में रखकर देश के कई धर्म स्थल इस सामाजिक कल्याण के काम को पूरा करने के लिए हमेशा पर्याप्त प्रयास करते रहते है।“

भारत की पांच ऐसी जगह जहा फ्री में भरपेट स्वादिष्ट भोजन मिलता है – Free Food In India In Hindi

1. फ्री में स्वादिष्ट खाने के लिए इस्कॉन टेम्पल (ISKCON TEMPLE), हुबली

फ्री में स्वादिष्ट खाने के लिए इस्कॉन टेम्पल (ISKCON TEMPLE), हुबली

Image Credit: Shreenivas Singri

अक्षय पत्र इस्कॉन फाउंडेशन का एक गैर-लाभकारी संगठन है। इसकी मेगा-रसोई हुबली में स्थित है। इसमें 5 घंटे से भी कम समय में कम से कम 150,000 लोगो के लिए भोजन पकाए जाने के लिए स्वचालित व्यवस्था है।

चैरिटी इसका मुख्य स्रोत है, जो ग्रामीण स्कूलों में विशेषाधिकार प्राप्त बच्चों के लिए मध्य-भोजन भोजन प्रदान करता है। यह प्रसाद के रूप में दोपहर का भोजन और रात के खाने के लिए मुफ्त भोजन प्रदान किया जाता है।

“शाम आरती और मंदिर का वातावरण आपको एक अलग दुनिया में ले जाता है।

2. मुफ्त में स्वादिष्ट भोजन का आनंद ले अमृतसर के स्वर्ण मंदिर

मुफ्त में स्वादिष्ट भोजन का आनंद ले अमृतसर के स्वर्ण मंदिर

 अमृतसर का स्वर्ण मंदिर कई कारणों से प्रसिद्ध है और यहाँ होने वाला लंगर(भंडारा) उन कई कारणों में से एक है । मंदिर के लोग रोज 100,000 लोगो के खाने की जरुरत को पूरा करने और  पूरी तरह से समुदाय और समाज की मदद करने की एक मजबूत इच्छा है।

मंदिर में हर दिन 2 लाख रोटियां और 1.5 टन दाल (दालचीनी सूप) परोसी जाती है। इसके अलावा, 7,000 किलोग्राम गेहूं का आटा, 1,200 किलोग्राम चावल, 1,300 किलोग्राम मसूर, और 500 किलो घी हर दिन उपयोग किया जाता है। कोई भी यहां आ सकता है और किसी भी दिन पूरा दिन का भोजन प्राप्त कर सकता है।

और पढ़े: स्वर्ण मंदिर अमृतसर का इतिहास और अन्य जानकारी

3. श्री साई संस्थान प्रसादलय, शिरडी में फ्री में भोजन का आनंद ले

श्री साई संस्थान प्रसादलय, शिरडी में फ्री में भोजन का आनंद ले

7.5 एकड़ भूमि पर फैला, साईं बाबा मंदिर ट्रस्ट एशिया के सबसे बड़े प्रसादलय में से एक है। यहाँ लगभग 5,500 लोगो के बैठने की क्षमता वाला एक डाइनिंग हॉल है, जिससे रोजाना 100,000 से अधिक भक्तों को भोजन खिलाना जा सकता है।

श्री साईं बाबा संस्थान ट्रस्ट औसतन 190 मिलियन रूपए शिर्डी जाने वाले तीर्थयात्रियों को भोजन उपलब्ध कराने पर खर्च करता है।

और पढ़े: शिरडी पर्यटन और 10 सबसे खास दर्शनीय स्थल

4. मुफ्त में स्वादिष्ट खाना खाए धर्मथला मंजुनाथ मंदिर, कर्नाटक

मुफ्त में स्वादिष्ट खाना खाए धर्मथला मंजुनाथ मंदिर, कर्नाटक

Image Credit: Darshan Gader

उडुपी शहर में स्थित धर्मथला मंजुनाथ मंदिर भगवान शिव को समर्पित है। यहाँ मंदिर सबसे बड़ी तादात में दक्षिण भारत आने वाले श्रद्धालुओं के खाने की व्यवस्था करता है और पिछले 21 पीढ़ियों से पूरी तरह से एक ही परिवार द्वारा चलाया जा रहा है ।

मंदिर की अन्नदानम रसोई में न्यूनतम 70 क्विंटल चावल और 15 क्विंटल सब्जियां तैयार होती हैं और रोजाना 2000 नारियल का भी उपयोग करती हैं। इसका विशाल हॉल, एक समय में भोजन के लिए करीब 2500 लोगों को स्थान प्रदान करता है।

5. फ्री में भरपेट स्वादिष्ट खाना खाए जगन्नाथ मंदिर, ओडिशा

फ्री में भरपेट स्वादिष्ट खाना खाए जगन्नाथ मंदिर, ओडिशा

इस मंदिर का रसोईघर बहुत बड़ा है यहाँ रोजाना लगभग 25,000 लोगों को खाना खिलाने का काम किया जाता है । मंदिर ने 50,000 भक्तों के बीच ‘महाप्रसाद’ बाटने के अपने लक्ष्य को भी बनाए रखा है , जिसे 600-700 कुक द्वारा तैयार किया जाता है।

भोजन मिटटी के बर्तनो में तैयार किया जाता है। स्थानीय मिथकों के अनुसार, देवी लक्ष्मी स्वयं  मंदिर की रसोई में खाना पकाती हैं और अन्य सभी उसके सहायक होते हैं। भक्तों के लिए मंदिर बहुत ही धार्मिक महत्व का है और यहां पर कई लोग भोजन करना पसंद करते हैं।

“देश के मंदिरो में चलने वाली ये मेगा किचन खुशी के साथ-साथ खाना बनाने की शैली के लिए भी जाने जाते है । ये मेगा किचन अपने मेहमानों (भक्तो )को बिना किसी कीमत पर अद्भुत भोजन प्रदान कराते है। ये मेगा रसोइ पाक कला से इतने बड़े स्तर पर  खाना  बनाने के लिए विश्व प्रसिद्ध है। “

 तो इन छुट्टियों में अपनी ट्रेवल लिस्ट में इन पांच जगहों को भी जोड़ ले।

और पढ़े:

Write A Comment