Generic selectors
Exact matches only
Search in title
Search in content
Search in posts
Search in pages

Himachal Pradesh Mandir In Hindi, हिमाचल प्रदेश को देव भूमि या देवताओं की भूमि कहा जाता है। हिमाचल पृथ्वी पर स्वर्ग से कम नहीं है क्योंकि यह पूरी तरह से प्राकृतिक आकर्षणों से भरा हुआ है और इसका अपना समृद्ध पौराणिक अतीत है। कई पर्यटन स्थलों का केंद्र होने के साथ ही हिमाचल प्रदेश में अनगिनत प्रसिद्ध मंदिर भी हैं जिसकी वजह से यह दुनिया के सभी कोनों से भारी संख्या में भक्तों को अपनी तरफ आकर्षित करता है। यहाँ पर कई पवित्र तीर्थ स्थल है जिनकी अपनी अलग कहानी और किस्से हैं। वैसे तो हिमाचल प्रदेश में कई मंदिर है लेकिन यहां हम आपको सबसे प्रमुख मंदिरों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिनके दर्शन करने के लिए आपको जरुर जाना चाहिए।

1. हिमाचल प्रदेश के धार्मिक स्थल बैजनाथ मंदिर – Himachal Pradesh Ke Dharmik Sthal Baijnath Temple In Hindi

हिमाचल प्रदेश के धार्मिक स्थल बैजनाथ मंदिर

बैजनाथ मंदिर हिमाचल प्रदेश में सबसे लोकप्रिय मंदिरों में से एक है, और यहां भगवान शिव को ‘हीलिंग के देवता’ के रूप में पूजा जाता है। बैजनाथ या वैद्यनाथ भगवान शिव का एक अवतार है, और इस अवतार में वे अपने भक्तों के सभी दुखों और पीड़ाओं को दूर करते हैं। यह मंदिर भगवान शिव के भक्तों के लिए बहुत महत्व रखता है और इसको बेहद पवित्र माना जाता है। माना जाता है कि इस मंदिर के जल में औषधीय गुण पाए जाते हैं जिससे कई बीमारियाँ ठीक हो जाती हैं। यह मंदिर हर साल लाखों की संख्या में पर्यटकों को अपनी तरफ आकर्षित करता है। बैजनाथ मंदिर 1204 ई में दो देशी व्यापारियों आहुका और मनुका द्वारा बनाया गया था, जो भगवान शिव के भक्त थे।

बैजनाथ मंदिर पालमपुर से केवल 16 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। यह एक ऐसा मंदिर है जहाँ पर भगवान शिव की पूजा करके मन को एक अदभुद शांति मिलती है। बता दें कि यह देश के उन कुछ मंदिरों में से एक है जहाँ भगवान शिव और राजा रावण दोनों की पूजा की जाती है। अगर आप बैजनाथ मंदिर के बारे में अन्य जानकारी चाहते हैं तो इस लेख को जरुर पढ़ें, यहाँ हम आपको मंदिर की पौराणिक कथा और मंदिर के पास घूमने की अच्छी जगहों के बारे में बता रहें हैं।

और पढ़े: बैजनाथ मंदिर दर्शन की जानकारी और पौराणिक कथा

2. हिमाचल प्रदेश का तीर्थ स्थल महादेव मंदिर – Himachal Pradesh Ke Tirth Sthal Kaleshwar Mahadev Temple In Hindi

हिमाचल प्रदेश का तीर्थ स्थल महादेव मंदिर

कालेश्वर महादेव मंदिर परागपुर गाँव से 8 किमी दूर स्थित है जो भगवान शिव को समर्पित है। इस मंदिर का मुख्य आकर्षण लिंगम है जिसे जमीनी स्तर पर स्थित है। यह मंदिर सुंदर मूर्तियों से सुशोभित और पर्यटकों को अपनी तरफ बेहद आकर्षित करता है। कलेश्वर महादेव मंदिर हिमाचल प्रदेश का एक लोकप्रिय तीर्थस्थल है। भगवान शिव इस मंदिर के मुख्य देवता हैं और मंदिर को केलसर के नाम से भी जाना जाता है।

महा शिवरात्रि त्यौहार के अलावा श्रावण (हिंदू माह) के महीने में इस स्थान बड़ी संख्या में भक्त भोलेनाथ के दर्शन के लिए आते हैं। कालेश्वर महादेव मंदिर व्यास नदी के तट स्थित है और एक आदर्श ध्यान स्थल के रूप में भी लोकप्रिय है।

और पढ़े: कालेश्वर महादेव मंदिर के दर्शन की जानकारी और पर्यटन स्थल

3. हिमाचल प्रदेश का प्रसिद्ध हिडिम्बा देवी मंदिर – Himachal Pradesh Ka Prasidh Hidimba Devi Temple In Hindi

हिमाचल प्रदेश का प्रसिद्ध हिडिम्बा देवी मंदिर

हिडिम्बा देवी मंदिर उत्तर भारत में हिमाचल प्रदेश राज्य के मनाली में स्थित है। यह एक प्राचीन गुफा मंदिर है, जो भारतीय महाकाव्य महाभारत के भीम की पत्नी हिडिम्बी देवी को समर्पित है। यह मनाली में सबसे लोकप्रिय मंदिरों में से एक है। इसे ढुंगरी मंदिर (Dhungiri Temple) के नाम से भी जाना जाता है। मनाली घूमने आने वाले सैलानी इस मंदिर को देखने जरूर आते हैं। यह मंदिर एक चार मंजिला संरचना है जो जंगल के बीच में स्थित है। स्थानीय लोगों ने मंदिर का नाम आसपास के वन क्षेत्र के नाम पर रखा है।

हिल स्टेशन में स्थित होने के कारण बर्फबारी के दौरान इस मंदिर को देखने के लिए भारी संख्या में सैलानी यहां जुटते हैं। आपको यह जानकर हैरानी होगी कि इस मंदिर में देवी की कोई मूर्ति स्थापित नहीं है बल्कि हिडिम्बा देवी मंदिर में हिडिम्बा देवी के पदचिह्नों की पूजा की जाती है।

और पढ़े: हिडिम्बा देवी मंदिर का इतिहास, कहानी और रोचक तथ्य

4. हिमाचल प्रदेश का प्रसिद्ध टेम्पल श्री नैना देवी जी मंदिर – Himachal Pradesh Ke Famous Temple Sri Naina Devi Ji Temple In Hindi

हिमाचल प्रदेश का प्रसिद्ध टेम्पल श्री नैना देवी जी मंदिर

श्री नैना देवी जी का मंदिर हिमाचल प्रदेश राज्य के बिलासपुर जिले में एक पहाड़ी पर स्थित है। आपको बता दें कि यह मंदिर समुद्र तल से 1219 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है जिसका निर्माण राजा बीर चंद ने 8 वीं शताब्दी के दौरान करवाया था। यह मंदिर निर्माण के बाद कई लोककथाओं के लिए जाना जाता है और आज पर्यटकों और तीर्थयात्रियों द्वारा बहुत पवित्र माना जाता है। इस मंदिर में नियमित रूप में पर्यटकों की भीड़ बनी रहती है। नैना देवी मंदिर के आसपास कई रहस्यमय लोक कथाएँ हैं, जो पर्यटकों को यात्रा करने के लिए आकर्षित करती हैं।

श्री नैना देवी एक त्रिकोणीय पहाड़ी पर बना हुआ है और इसको माता सती के 52 शक्ति पीठों में से एक माना जाता है। हिंदू पौराणिक कथाओं के सभी प्रमुख त्योहारों को मंदिर में बड़े जोश के साथ मनाया जाता है, जिससे यह मंदिर साल भर के उत्सवों से भरा हुआ होता है।

और पढ़े: श्री नैना देवी जी मंदिर के दर्शन की जानकारी और पर्यटन स्थल 

5. हिमाचल प्रदेश के प्रमुख मंदिर जाखू मंदिर – Himachal Pradesh Ke Pramukh Mandir Jakhoo Temple In Hindi

हिमाचल प्रदेश के प्रमुख मंदिर जाखू मंदिर

जाखू मंदिर हिमाचल प्रदेश राज्य में शिमला में स्थित एक प्रमुख मंदिर है जो जाखू पहाड़ी पर स्थित शिवालिक पहाड़ी श्रृंखलाओं की हरी-भरी पृष्ठभूमि के बीच शिमला का सबसे ऊँचा स्थल है। जाखू मंदिर एक प्राचीन स्थान है जिसका उल्लेख कई पौराणिक कथाओं में किया गया है और यह पर्यटकों को एक रहस्यमयी दृश्य प्रदान करता है। जाखू मंदिर हिंदू भगवान हनुमान जी को समर्पित है। यह स्थल शिमला में सबसे ज्यादा देखे जाने वाले मंदिरों में से एक है जो हिंदू तीर्थयात्रियों और भक्तों के साथ हर उम्र और धर्मों के पर्यटकों को अपनी तरफ आकर्षित करता है।

और पढ़े: जाखू मंदिर का इतिहास और आस-पास घूमने की जगह

6. हिमाचल प्रदेश का प्राचीन मंदिर वशिष्ठ मंदिर – Himachal Pradesh Ka Prachin Mandir Vashisht Temple Manali In Hindi

हिमाचल प्रदेश का प्राचीन मंदिर वशिष्ठ मंदिर

वशिष्ठ मंदिर मनाली का एक प्रमुख मंदिर है जो शहर से लगभग 3 किमी दूर स्थित है, आपको बता दें कि यह मंदिर वशिष्ठ नाम के गांव में स्थित है जो अपने शानदार गर्म पानी के झरनों और वशिष्ठ मंदिर के लिए प्रसिद्ध है। मंदिर के पास स्थित गर्म पानी के झरनों को बेहद पवित्र माना जाता है और इसमें किसी भी बीमारी को ठीक करने की शक्ति है। वशिष्ठ मंदिर ऋषि वशिष्ठ को समर्पित है, जो भगवान राम के कुल गुरु थे। यह मंदिर मनाली में सबसे प्रसिद्ध स्थानों में से एक है। माना जाता है कि वशिष्ठ मंदिर 4000 साल से अधिक पुराना है। मंदिर के अंदर धोती पहने ऋषि की एक काले पत्थर की मूर्ति स्थित है।

वशिष्ठ मंदिर को लकड़ी पर उत्कृष्ट और सुंदर नक्काशी से सजाया गया है इसके अलावा मंदिर का इंटीरियर एंटीक पेंटिंग के साथ अलंकृत हैं। यहां पर वशिष्ठ मंदिर के अलावा एक और मंदिर स्थित है जिसको राम मंदिर के रूप में जाना जाता है। इस मंदिर के अंदर राम, सीता और लक्ष्मण की मूर्तियां स्थापित हैं। यहां पर दशहरा सात दिनों तक मनाया जाता है।

7. हिमाचल प्रदेश के तीर्थ स्थल शिवशक्ति देवी मंदिर – Himachal Pradesh Ke Tirth Sthal Shivshakti Devi Temple In Hindi

हिमाचल प्रदेश के तीर्थ स्थल शिवशक्ति देवी मंदिर

शिवशक्ति देवी मंदिर हिमाचल प्रदेश राज्य में चंबा क्षेत्र के भरमौर में स्थित है जो एक प्रसिद्ध मंदिर है। इस मंदिर को पहाड़ियों के तीर्थों के अच्छे नमूनों में से एक माना जाता है। इस मंदिर के दर्शन करने के लिए भक्त दूर-दूर से आते हैं। शिवशक्ति देवी मंदिर समुद्र तल से 6,000 फीट की ऊंचाई पर स्थित है। भरमौर के प्रसिद्ध मंदिरों में से एक होने की वजह से यह स्थान एक महत्वपूर्ण तीर्थस्थल है।

और पढ़े: शिवशक्ति देवी मंदिर के दर्शन की जानकारी और पर्यटन स्थल 

8. हिमाचल प्रदेश के प्रसिद्ध टेम्पल भीमा काली मंदिर – Himachal Pradesh Ke Prasidh Mandir Bhima Kali Temple In Hindi

हिमाचल प्रदेश के प्रसिद्ध टेम्पल भीमा काली मंदिर

भीमा काली मंदिर देवी भीमा काली को समर्पित मंडी शहर के प्रसिद्ध मंदिरों में से एक है। ब्यास नदी के तट पर स्थित, यह मंदिर एक संग्रहालय में विभिन्न देवी-देवताओं की मूर्तियों को भी प्रदर्शित करता है। बता दें कि यह वही स्थल है जहाँ पर भगवान् कृष्ण ने बाणासुर नाम के राक्षस से युद्ध किया था।

9. हिमाचल प्रदेश के प्रमुख मंदिर सुई माता मंदिर – Himachal Pradesh Ke Pramukh Mandir Sui Mata Temple In Hindi

हिमाचल प्रदेश के प्रमुख मंदिर सुई माता मंदिर

सुई माता मंदिर चंबा के साहो जिले में स्थित एक प्रमुख मंदिर है, जिसको राजा वर्मन ने अपनी पत्नी रानी सुई की याद में बनवाया था जिसने अपने लोगों के लिए अपना जीवन बलिदान कर दिया था। शाह दरबार पहाड़ी के ऊपर स्थित इस मंदिर से नीचे की छोटी बस्तियों का शानदार दृश्य नजर आता है। सुई माता मंदिर परिसर को तीन भागों में विभाजित किया गया है जिसमें मुख्य मंदिर, एक चैनल और रानी सुई माता को समर्पित एक स्मारक भी शामिल है, जिसको उनके बलिदान के प्रतीक के रूप में माना जाता है। यात्री सुई माता मंदिर तक नीचे से एक मार्ग के साथ पक्की सीढ़ियों की मदद से पहुँच सकते हैं।

और पढ़े: सुई माता मंदिर की जानकारी और प्रमुख पर्यटन स्थल 

10. हिमाचल प्रदेश का धार्मिक स्थल चामुंडा देवी मंदिर- Himachal Pradesh Ke Dharmik Sthal Chamunda Devi Temple In Hindi

हिमाचल प्रदेश का धार्मिक स्थल चामुंडा देवी मंदिर

चामुंडा देवी मंदिर हिमाचल प्रदेश राज्य के चंबा जिले में स्थित एक प्रचीन मंदिर और एक प्रमुख आकर्षक स्थल है। चामुंडा देवी मंदिर का निर्माण वर्ष 1762 में उमेद सिंह ने करवाया था। पाटीदार और लाहला के जंगल स्थित यह मंदिर पूरी तरह से लकड़ी से बना हुआ है। बानेर नदी के तट पर स्थित यह मंदिर देवी काली को समर्पित है, जिन्हें युद्ध की देवी के रूप में जाना जाता है। पहले इस जगह पर सिर्फ पत्थर के रास्ते कटे हुए थे, लेकिन अब इस मंदिर के दर्शन करने के लिए आपको 400 सीढ़ियों को चढ़कर जाना होगा। एक अन्य विकल्प के तौर पर आप चंबा से 3 किलोमीटर लंबी कंक्रीट सड़क के माध्यम से आसानी से पहुंचा जा सकता है।

और पढ़े: चामुंडा देवी मंदिर का इतिहास और कहानी 

1 Comment

Write A Comment