Generic selectors
Exact matches only
Search in title
Search in content
Search in posts
Search in pages
Tag

hindustan ke dharmik sthal

Browsing

Bharat Ke Dharmik Sthal In Hindi, भारत देश में धर्म, कर्म और क्षमा को प्राथमिकता दी जाती हैं। भारत एक ऐसा देश हैं जहां कई जाति और धर्म को मानने वाले लोग बहुत ही प्रेम से रहते हैं और भाईचारे का परिचय देते हैं। भारत को “विश्वास की भूमि” भी कहा जा सकता है। भारत के धार्मिक स्थलों में कई मंदिर, मस्जिद, चर्च और गुरुद्वारा के अलावा भी तीर्थ स्थल हैं। भारत के निवासी अपने-अपने धर्म के अनुसार इन पवित्र स्थानों पर जाते हैं और अपने ईस्ट देव, अल्लाह और गॉड से आशीर्वाद प्राप्त करते हैं। आज हम आपको अपने आर्टिकल के माध्यम से भारत के खास तीर्थ स्थलों और मंदिरों के बारे में जानकारी देने जा रहे हैं। यदि आप इण्डिया के इन पवित्र स्थलों के बारे में जानना चाहते है तो इस लेख को पूरा जरूर पढ़े।

Tourist Places In Ujjain In Hindi, भारत के सबसे पुराने शहरों में से एक उज्जैन, मध्य प्रदेश में स्थित है। भारत के सबसे पवित्र शहरों में से एक माना जाने वाला उज्जैन, मालवा क्षेत्र में शिप्रा नदी के पूर्वी तट पर स्थित एक प्राचीन शहर है। यह पहले उज्जयिनी के रूप में जाना जाता था और शिप्रा के तट पर स्थित है। यह अवंती साम्राज्य की राजधानी थी और इसका नाम महाभारत में मिलता है। कुंभ मेले का त्योहार यहां हर 12 साल में आयोजित किया जाता है और इसमें प्रसिद्ध महाकालेश्वर ज्योतिर्लिंग भी है जो भगवान शिव के बारह ज्योतिर्लिंगों में से एक है। उज्जैन प्राचीन भारत के सबसे शानदार शहरों में से एक है क्योंकि इसे विभिन्न भारतीय विद्वानों के शैक्षिक केंद्र के रूप में माना जाता है। धर्म, वास्तुकला, और शैक्षिक मूल्य के मामले में उज्जैन की अपार संपत्ति यह भारतीय यात्रियों के लिए ही नहीं बल्कि विदेशी लोगों के बीच भी एक आकर्षण है।

Shaktipeeth In Hindi, हिंदू धर्म में स्त्री की दिव्यता, शक्ति ब्रम्हांड में सबसे ज्यादा रचनात्मक शक्ति मानी जाती है। दुनियाभर में हिंदू कई त्योहारों जैसे दुर्गा पूजा, काली पूजा, नवरात्रि से देवी की शक्ति का जश्र मनाते हैं। देवी की शक्ति के कारण ही शक्तिपीठ अस्तित्व में आए। भारतीय आध्यात्मिक इतिहास में शक्तिपीठों का बहुत महत्व है। हिंदू धर्म के पुराणों के अनुसार माता सती के अंग या आभूषण जहां-जहां गिरे वहां-वहां शक्तिपीठ स्थापित हो गए। ये शक्तिपीठ भारत के पूरे उपमहाद्वीपों में फैले हुए हैं। वैसे तो देवी भागवत में 108 और देवी गीता में 72 शक्तिपीठों का वर्णन है, लेकिन देवी पुराण में मात्र 51 शक्तिपीठों के बारे में बताया गया है। तो इस आर्टिकल में हम आपको भारत के उपमहाद्वीपों में 51 सबसे प्रसिद्ध शक्तिपीठों की जानकारी देंगे। तो चलिए आज यात्रा करते हैं भारत के मुख्य शक्तिपीठों की, लेकिन इससे पहले जानेंगे शक्तिपीठ की कहानी।