घांघरिया के फेमस दर्शनीय स्थल घूमने की जानकारी – Tourist Attractions In Ghangaria In Hindi

Ghangaria In Hindi, घांघरिया उत्तराखंड राज्य के चमोली जिले में पुष्पावती और हेमगंगा नदी के बीच संगम पर स्थित बहुत ही खूबसूरत घाटी है। पुष्पावती नदी को फूलों की घाटी से आने वाली और हेमगंगा नदी को लक्षमण गंगा नदी के नाम से भी जाना जाता है। हेमकुण्ड साहिब के रास्ते में स्थित घांघरिया समुद्र तल से 3000 मीटर से भी अधिक उंचाई पर स्थित है और यह स्थान सिक्खों का तीर्थ स्थल है। घांघरिया में बर्फ से ढंकी चोटियाँ पर्यटकों को बहुत आकर्षित करती है। यहाँ कुछ दूरी पर बहुत सुन्दर फूलों से सजा हुआ राष्ट्रीय उद्यान है। पर्यटक इस शानदार चोटी पर 10 किलोमीटर की ट्रैकिंग कर सकते है। घांघरिया बर्फ से पहाड़ी पूरी तरह ढंक जाने के कारण दिसंबर से अप्रैल माह के बीच बंद रहता है यह केवल मई से नबम्बर के बीच ही खुला रहता है।

घांघरिया के आकर्षक झरने आपकी यात्रा में चार चाँद लगा देते हैं। घांघरिया में पर्यटकों को देखने के लिए बहुत कुछ है यहाँ पर भगवान राम और लक्षमण के मंदिर स्थित है। गुरु गोविन्द सिंह जी से जुड़ी पौराणिक कथाएं है। हजारों भक्तों की यात्रा का यह स्थान बहुत अद्भुत है। अगर आप घांघरिया से जुड़ी समस्त जानकारी पाना चाहते है तो हमारे इस लेख को अंत तक जरूर पढ़े –

1. घांघरिया का इतिहास – Ghangaria History In Hindi

घांघरिया का इतिहास

घांघरिया के इतिहास को लेकर ज्यादा कोई प्रमाण नही आये है। आज भी बहुत लोग ऐसे है जो इस अद्भुत स्थान के बारे में नही जानते है। यह स्थान कई मंदिरों के लिए प्रसिद्ध है। घांघरिया सिक्खों का प्रमुख तीर्थ स्थल है, यहाँ सिक्खों के दसवें गुरु श्री गुरु गोविन्द सिंह ने ध्यान लगाया था तब से ही यहाँ बहुत सारे गुरूद्वारे बनाये गए है।

और पढ़े: उत्तराखंड के प्रमुख पर्यटन स्थल और घूमने की जानकारी

2. घांघरिया पर्यटन में घूमने लायक जगह – Best Places To Visit Ghangaria In Hindi

घांघरिया में बहुत सारे दर्शनीय स्थल है जोकि आपको अपने ट्रैकिंग के रास्ते में मिलेंगे। आप इन दर्शनीय और आकर्षक स्थलों की यात्रा करने के बाद बहुत ख़ुशी का अनुभव करेंगे और साथ ही घांघरिया से जुडी समस्त जानकारी प्राप्त कर सकेंगे।

2.1 घांघरिया का प्रमुख दर्शनीय स्थल हेमकुंड साहिब गुरुद्वारा – Ghangaria Ka Pramukh Darshaniya Sthal Hemkund Sahib Gurudwara In Hindi

घांघरिया का प्रमुख दर्शनीय स्थल हेमकुंड साहिब गुरुद्वारा

हेमकुंड साहिब गुरुद्वारा घांघरिया के प्रमुख दर्शनीय स्थलों में सबसे ऐतिहासिक स्थल है। इस स्थान पर सिक्खों के दसवें गुरु श्री गुरु गोविन्द सिंह जी ने बहुत वर्षों तक तप किया था। हेमकुंड साहिब नाम से ही स्पष्ट होता है कि बर्फ की झील जो इसे बहुत आकर्षक स्थान बनाती है। यह स्थान समुद्र तल से 4329 मीटर की उंचाई पर स्थित है जिसे हेमकुंड पर्वत के नाम से भी जाना जाता है।

और पढ़े: श्री हेमकुंड साहिब यात्रा की जानकारी और इसके प्रमुख पर्यटन स्थल

2.2 घांघरिया का प्रसिद्ध तीर्थ स्थल गोविंदघाट गुरुद्वारा – Ghangaria Ka Prasidh Tirth Sthal Govindghat Gurudwara In Hindi

घांघरिया का प्रसिद्ध तीर्थ स्थल गोविंदघाट गुरुद्वारा
Image Credit: Sanjay Lalwani

गोविन्दघाट घांघरिया के निकट स्थित चमोली जिले का एक शहर है जोकि सिक्खों का प्रमुख तीर्थ स्थल है। यह स्थान अलकनंदा और लक्षमण नदी के संगम पर स्थित बहुत ही खूबसूरत हिल स्टेशन है। समुद्र तल से लगभग 6000 फीट की उंचाई पर स्थित इस आकर्षक स्थल पर पर्यटक फूलों की घाटी से ट्रैकिंग की शुरुआत कर सकते है। यह ट्रैकिंग के लिए सबसे अच्छे स्थानों में से एक है।

2.3 घांघरिया में घूमने के लिए पवित्र स्थान गौरीकुंड उत्तराखंड – Ghangaria Me Ghumne Ke Liye Pavitr Sthan Gaurikund In Hindi

घांघरिया में घूमने के लिए पवित्र स्थान गौरीकुंड उत्तराखंड

गौरीकुंड घांघरिया के पवित्र स्थानों में शामिल माता पार्वती को समर्पित मंदिर है। यह केदारनाथ से कुछ दूरी पर स्थित ऐसा मंदिर है जहाँ पार्वती जी ने शिवजी को पाने के लिए घोर तपस्या की थी। धार्मिक महत्त्व के साथ यह स्थान ट्रैकरों के लिए भी बहुत अच्छा है यहाँ 14 किलोमीटर की ट्रैकिंग करना हर किसी को बहुत पसंद आता है।

2.4 घांघरिया के धार्मिक स्थल बद्रीनाथ मंदिर – Ghangaria Ke Dharmik Sthal Badrinath Temple In Hindi

घांघरिया के धार्मिक स्थल बद्रीनाथ मंदिर

घांघरिया के आस-पास के पर्यटक स्थलों में उत्तराखंड का पर्यटन स्थल बद्रीनाथ नर और नारायण पर्वत श्रृंखलाओं के बीचो बीच नीलकंठ पर्वत शिखर पर स्थित चारों धामों में से एक तीर्थ स्थल हैं। बद्रीनाथ धाम भगवान विष्णु को समर्पित एक तीर्थस्थल है। बद्रीनाथ धाम का उल्लेख विभिन्न वेदों में भी किया गया है। उत्तराखंड का पर्यटन स्थल बद्रीनाथ हिंदू पौराणिक कथाओं में उल्लेखित होने के कारण विशेष रूप से भगवान शिव से संबंधित है।

और पढ़े: बद्रीनाथ मंदिर के दर्शन की पूरी जानकारी

2.5 घांघरिया के आकर्षण स्थल वसुधारा जलप्रपात – Ghangaria Ke Aakarshan Sthal Vasudhara Falls In Hindi

घांघरिया के आकर्षण स्थल वसुधारा जलप्रपात

घांघरिया में देखने लायक जगहों में वसुंधरा जलप्रपात बहुत ही लोकप्रिय स्थान है। यह उत्तराखंड में बद्रीनाथ से 9 किलोमीटर दूर स्थित एक बहुत ही प्राचीन झरना है। पर्यटक इस झरने के कल-कल बहते पानी के साथ फोटो निकलना बहुत पसंद करते है।

2.6 घांघरिया पर्यटन में घूमने लायक जगह भीम पुल माना – Ghangaria Paryatan Me Ghumne Layak Jagah Bheempul Mana In Hindi

घांघरिया पर्यटन में घूमने लायक जगह भीम पुल माना
Image Credit: Gaurav Sisodia

घांघरिया के पर्यटन स्थलों में भीम पुल पौराणिक कथाओं में डूबा हुआ पुल है। किंवदंती के अनुसार पांडवो के स्वर्ग जाने के मार्ग पर एक नदी को पार करना था। सभी पांडव इस नदी को पार कर गए परन्तु पांडवों की पत्नी द्रौपदी ये नदी पार नही कर पा रही थी। तब भीम ने एक पत्थर उठाकर पुल बनाया जिससे द्रौपदी ने पुल पार किया, तबसे इस पुल का नाम भीम पुल पड़ा।

2.7 घांघरिया के प्रसिद्ध मंदिर लक्ष्मण मंदिर – Ghangaria Ke Prasidh Mandir Lakshman Temple In Hindi

घांघरिया के प्रसिद्ध मंदिर लक्ष्मण मंदिर

लक्ष्मण मंदिर घांघरिया के प्रमुख आकर्षक स्थानों में से एक है। यह मंदिर हेमकुंड झील के किनारे पर स्थित लक्षमण जी को समर्पित मंदिर है। इस मंदिर को उत्तराखंड में लोकपाल मंदिर के नाम से भी जाना जाता है। ऐसा कहा जाता है कि रामायण में जब रावण के पुत्र मेघनाद ने लक्ष्मण जी को शक्ति लगा दी थी तोलक्ष्मण जी ने इसी स्थान पर अपनी शक्ति बापस पाने के लिए ध्यान लगाया था।

2.8 घांघरिया टूरिज्म में देखने लायक जगह फूलों की घाटी – Ghangaria Tourism Me Dekhne Layak Jagah Valley Of Flowers In Hindi

घांघरिया टूरिज्म में देखने लायक जगह फूलों की घाटी

घांघरिया क्षेत्र में उत्तराखंड में हिमालय की गोद में बसी फूलों की घाटी या वैली ऑफ फ्लॉवर्स नेशनल पार्क एक भारतीय राष्ट्रीय उद्यान है। इस सुन्दर घाटी में अल्पाइन फूल इसकी प्रसिद्धि का मुख्य कारण है। यहाँ पर कई दुर्लभ प्रजातियों के जानवर भी पाए जाते है। हर साल बहुत पर्यटक इस शानदार जगह को देखने आते है।

और पढ़े: क्या सच में फूलों की घाटी की यात्रा करनी चाहिए

2.9 घांघरिया में घूमने के लिए ऐतिहासिक जगह नरसिंह मंदिर – Ghangaria Me Ghumne Ke Liye Aetihasik Jagah Narsingh Temple In Hindi

घांघरिया में घूमने के लिए ऐतिहासिक जगह नरसिंह मंदिर

नरसिंह मंदिर घांघरिया के प्रमुख तीर्थ स्थलों में शामिल है जोकि जोशीमठ में स्थित है। भगवान विष्णु को समर्पित यह मंदिर लगभग 1200 साल पुराना है। इस आकर्षक मंदिर में भगवान विष्णु के चौथे अवतार नरसिंह जी को पूजा जाता है, जिन्होंने हिरण्यकश्यप को मारने के लिए आधे शेर और आधे व्यक्ति का रूप धारण किया था।

2.10 घांघरिया के पर्यटन स्थल बेदिनी बुग्याल – Ghangaria Ke Paryatan Sthal Bednibugyal In Hindi

घांघरिया के पर्यटन स्थल बेदिनी बुग्याल

बेदिनी बुग्याल घांघरिया से कुछ दूर स्थित चमोली जिले में हिमालय के अल्पाइन घास का मैदान है। यह समुद्र तल से लगभग 3354 मीटर की उंचाई पर स्थित बहुत ही आकर्षक मैदान है। बेदिनी बुग्याल वान गाँव के पास रूपकुंड के रास्ते में होने के कारण पर्यटकों को यहाँ रुकने के लिए मजबूर कर ही देता है।

2.11 घांघरिया में घूमने के लिए खूबसूरत जगह पुष्पावती नदी – Ghangaria Me Ghumne Ke Liye Khubsurat Jagah Pushpawati River In Hindi

घांघरिया में घूमने के लिए खुबसूरत जगह पुष्पावती नदी

घांघरिया पुष्पावती नदी और लक्ष्मण गंगा नदी के संगम स्थल पर बसा हुआ हिल स्टेशन है। पर्यटन की दृष्टि से यह स्थान बहुत ही रोचक है। पुष्पवती नदी हेमकुंड गंगा के साथ मिलती है। पुष्पवती नदी का जल स्वच्छ और साफ़ है जोकि चांदी के समान चमकता हुआ दिखाई देता है। एक बहुत ही प्राचीन पठार जिसका नाम कुण्डलिनिसन पठार है इसी नदी के किनारे पर स्थित है।

और पढ़े: बिनसर हिल स्टेशन के प्रमुख पर्यटन स्थल घूमने की जानकारी

3. घांघरिया का प्रसिद्ध भोजन – Ghangaria Famous Food In Hindi

 घांघरिया का प्रसिद्ध भोजन

आप घांघरिया के लोकप्रिय व्यंजनों में गढ़वाली और कुमाउनी पकवानों को पाएंगे जिनमे मुख्य रूप से आलू के गुटके, गहत, चैनसू और कापा मुख्य भोजन में शामिल है। इसके अलावा आपको उत्तराखंड में बहुत सारे प्रसिद्ध व्यंजन का स्वाद चखने का मौका मिलेगा।

4. घांघरिया में कहाँ रुके – Where To Stay In Ghangaria In Hindi

घांघरिया में कहाँ रुके

घांघरिया और इसके आसपास के दर्शनीय स्थलों के दर्शन करने के बाद किसी आवास स्थान की तलाश में है। तो हम आपको बता दे कि घांघरिया में आपको लो-बजट से लेकर हाई-बजट तक होटल मिल जाएँगी। आप अपनी सुविधा के अनुसार होटल का चुनाव कर सकते है।

  • इश्वरी नारायणी होटल (Ishwarinarayni Hotel)
  • होटल त्रिशूल जोशीमठ (Hotel Trishuljoshimath)
  • ड्रीम माउंटेन रिसोर्ट जोशीमठ (Dream Mountain Resort Joshimath)
  • हिमालयन इको लॉज (Himalayan Eco Lodge)
  • न्यू सिद्धार्थ लॉज (New Siddharth Lodge)

5. घांघरिया घूमने जाने का सबसे अच्छा समय – Best Time To Visit Ghangaria In Hindi

घांघरिया घूमने जाने का सबसे अच्छा समय

घांघरिया घूमने जाने का सबसे अच्छा समय मई माह से सितम्बर माह के बीच का होता है। घांघरिया में बर्फ बहुत ज्यादा गिरती है इसी बजह से यहाँ के पहाड़ बर्फ से ढँक जाते है। घांघरिया को दिसंबर से अप्रैल माह के बीच बंद कर दिया जाता है। आप घांघरिया की मनोरम पहाड़ियों में शाम के समय डूबते सूरज के दर्शन करना ना भूले।

और पढ़े: गुप्तकाशी के मंदिर के दर्शन और अन्य धार्मिक स्थलों की जानकारी

6. घांघरिया उत्तराखंड कैसे पहुंचे – How To Reach Ghangaria Uttarakhand In Hindi

घांघरिया घूमने जाने के लिए आप हवाई मार्ग, रेलवे मार्ग और सड़क मार्ग में से किसी का भी चुनाव करके आसानी से घांघरिया पहुँच सकते है।

6.1 फ्लाइट से घांघरिया कैसे पहुंचे – How To Reach Ghangaria By Flight In Hindi

फ्लाइट से घांघरिया कैसे पहुंचे

घांघरिया की यात्रा के लिए यदि आपने हवाई मार्ग का चुनाव किया हैं तो हम आपको बता दे कि घांघरिया का सबसे निकटतम हवाई अड्डा देहरादून का जॉली ग्रांट हवाई अड्डा है। इस हवाई अड्डे से आपको कोई स्थानीय साधन किराये पर लेकर घांघरिया पहुंचना होगा।

6.2 ट्रेन से घांघरिया कैसे जाये – How To Reach Ghangaria By Train In Hindi

ट्रेन से घांघरिया कैसे जाये

घांघरिया की यात्रा के लिए यदि आपने रेलवे मार्ग का चुनाव किया हैं तो हम आपको बता दे कि घांघरिया का सबसे निकटतम रेलवे स्टेशन ऋषिकेश है। ऋषिकेश भारत के विभिन्न शहरों से रेल नेटवर्क द्वारा अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है। आप ऋषिकेश से कोई बस या टैक्सी किराये पर लेकर आसानी से घांघरिया आसानी से पहुँच सकते है।

6.3 सड़क मार्ग से घांघरिया कैसे पहुंचे – How To Reach Ghangaria By Road In Hindi

सड़क मार्ग से घांघरिया कैसे पहुंचे

घांघरिया जाने के लिए आपने सड़क मार्ग का चुनाव किया है तो हम आपको बता दे की घांघरिया अपने आसपास के शहरो और पर्यटन स्थलों से सड़क मार्ग के माध्यम से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ हैं। आप बस, टैक्सी या अपने निजी साधन के माध्यम से आसानी से घांघरिया पहुँच जाएंगे।

और पढ़े: हरसिल घाटी के टॉप पर्यटन स्थल की जानकारी

इस लेख में आपने घांघरिया की यात्रा से जुड़ी जानकारी को जाना है आपको हमारा यह लेख केसा लगा हमे कमेंट्स में जरूर बतायें।

इसी तरह की अन्य जानकारी हिन्दी में पढ़ने के लिए हमारे एंड्रॉएड ऐप को डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक करें। और आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

7. घांघरिया उत्तराखंड का नक्शा – Ghangaria Uttarakhand Map

8. घांघरिया की फोटो गैलरी – Ghangaria Images

View this post on Instagram

3 Shades ? #unsystematicpictures

A post shared by ⠀⠀ ⠀ ⠀ Unsystematic Pictures ? (@unsystematic_pictures) on

और पढ़े:

Leave a Comment