राजस्थान के घुश्मेश्वर मंदिर के दर्शन की जानकारी – Ghushmeshwar Temple In Hindi

Ghushmeshwar Temple In Hindi, घुश्मेश्वर मंदिर सवाई माधोपुर से 48 किमी और रणथंभौर नेशनल पार्क से 55 किमी की दूरी पर स्थित है। भगवान शिव को समर्पित घुश्मेश्वर मंदिर भगवान घुश्मेश्वर या शिव मंदिर के नाम से जाना जाता है। घुश्मेश्वर मंदिर सवाई माधोपुर के प्रमुख धार्मिक स्थलों में से एक है जो पर्यटकों और तीर्थ यात्रियों के लिए प्रमुख तीर्थ स्थल बना हुआ है। सुरम्य देवगिरि पहाड़ियों में स्थित, घुश्मेश्वर मंदिर को भगवान शिव के 12 ज्योतिर्लिंगों में से एक माना जाता है जिसका उल्लेख शिव पुराण ‘कोटिरुद्र सहिंता’ में मिलता है। घुश्मेश्वर ज्योतिर्लिंग मंदिर हजारों साल पुराना माना जाता है। आपको बता दे शिवरात्रि और श्रावण के महीने में मंदिर में खास पूजा का आयोजन किया जाता है, जिसमे कई हजारों श्रद्धालु शामिल होते हैं। यदि आप घुश्मेश्वर मंदिर की यात्रा पर जाने वाले है तो एक बार इस आर्टिकल को पूरा जरूर पढ़े –

Table of Contents

घुश्मेश्वर मंदिर का इतिहास और पोराणिक कथाएं – Ghushmeshwar Temple History In Hindi

घुश्मेश्वर मंदिर का इतिहास और पोराणिक कथाएं
Image Credit: Mahendra Kumar Sharma

घुश्मेश्वर मंदिर भगवान शिव को समर्पित 12 ज्योतिर्लिंगों में से अंतिम निर्मित ज्योतिर्लिंग माना जाता है। इसके अलावा घुश्मेश्वर मंदिर से अन्य पौराणिक कथाएँ भी जुड़ीं हुई है जिसमे सबसे लोकप्रिय कथा भगवान शिव की महानता के बारे में बताती है, जिन्होंने अपने भक्त घुश्मा के बेटे को जीवित कर दिया, और यहां तक ​​कि उनके नाम पर, घुश्मेश्वर के रूप में देवगिरि पहाड़ियों में निवास करने का वादा किया था।

घुश्मेश्वर मंदिर सवाई माधोपुर खुलने और बंद होने का समय – Ghushmeshwar Temple Timing In Hindi

घुश्मेश्वर मंदिर श्रद्धालुयों और पर्यटकों के घूमने और भगवान शिव के दर्शन के लिए प्रतिदिन सुबह 4.00 बजे से 12.00 बजे तक और शाम 4.00 बजे से देर रात तक खुला रहता है और आपकी जानकारी के लिए बता घुश्मेश्वर मंदिर की सुखद और शांतिपूर्ण यात्रा के लिए 1-2 घंटे का समय अवश्य निकाले।

और पढ़े : परशुराम महादेव मंदिर के दर्शन और इसके पर्यटन स्थल की जानकारी

घुश्मेश्वर मंदिर का प्रवेश शुल्क – Ghushmeshwar Temple Entry Fees In Hindi

घुश्मेश्वर मंदिर में भारत के अन्य मंदिरों के तरह श्रद्धालुयों और पर्यटकों के प्रवेश के लिए कोई प्रवेश शुल्क नही लिया जाता है, यहाँ आप बिना किसी एंट्री फीस के घूम और भगवान शिव के दर्शन कर सकते है।

घुश्मेश्वर मंदिर घूमने जाने का सबसे अच्छा समय – Best Time To Visit Ghushmeshwar Temple In Hindi

Best Time To Visit Ghushmeshwar Temple In Hindi
Image Credit: Sourabh Jain

अगर आप अपने परिवार या दोस्तों के साथ घुश्मेश्वर मंदिर घूमने जाने की योजना बना रहे है तो हम आपको बता दे वैसे तो आप मंदिर की यात्रा  साल के किसी भी समय कर सकते हैं। खासकर आप शिवरात्रि और श्रावण महीने में आयोजित होने वाली खास पूजा और भगवान शिव जी के अभिषेक के दोरान भी घुश्मेश्वर मंदिर घूमने जा सकते है। लेकिन अगर आप घुश्मेश्वर मंदिर के साथ- साथ सवाई माधोपुर के अन्य पर्यटक स्थल घूमने जाना चाहते है तो हम आपको बता दे रेगिस्तानी क्षेत्र होने की वजह से राजस्थान गर्मियों में बेहद गर्म होती है, इसीलिए माधोपुर घूमने के लिए सबसे अच्छा समय अक्टूबर से मार्च तक का समय होता है। सर्दियों का मौसम इस शहर की यात्रा करना एक अनुकूल समय होता है।

और पढ़े : सवाई माधोपुर में घूमने लायक प्रसिद्ध जगहों की जानकारी

घुश्मेश्वर मंदिर के आसपास के पर्यटन स्थल – Tourist Places Around Ghushmeshwar Temple In Hindi

अगर आप सवाई माधोपुर में घुश्मेश्वर मंदिर घूमने जाने का प्लान बना रहे है तो हम आपको बता दे सवाई माधोपुर में घुश्मेश्वर मंदिर, के अलावा भी अन्य लोकप्रिय पर्यटक स्थल है जिन्हें आप अपनी सवाई माधोपुर की यात्रा दोरान घूम सकते हैं।

घुश्मेश्वर मंदिर सवाई माधोपुर कैसे जाये – How To Reach Ghushmeshwar Temple Sawai Madhopur In Hindi

अगर आप घुश्मेश्वर मंदिर सवाई माधोपुर की यात्रा करना चाहते हैं तो आप यहाँ हवाई, रेल या सड़क मार्ग द्वारा यात्रा करके पहुंच सकते हैं। यह शहर सड़क या रेल द्वारा देश के अन्य राज्यों से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है।

फ्लाइट से घुश्मेश्वर मंदिर सवाई माधोपुर कैसे पहुंचें – How To Reach Ghushmeshwar Temple By Plane In Hindi

फ्लाइट से गढ़ पैलेस बूँदी कैसे पहुंचे – How To Reach Garh Palace Bundi By Flight In Hindi

अगर आप फ्लाइट के माध्यम से घुश्मेश्वर मंदिर घूमने जाना चाहते है तो आपको बता दे हवाई जहाज से घुश्मेश्वर मंदिर सवाई माधोपुर की यात्रा करने के लिए आपको जयपुर हवाई अड्डे के लिए फ्लाइट लेनी होगी, जो सवाई माधोपुर का निकटतम हवाई अड्डा है। और जयपुर हवाई अड्डा से सवाई माधोपुर पहुंचने के लिए आप  टैक्सी ,कार या बस की मदद ले सकते है।

ट्रेन से घुश्मेश्वर मंदिर कैसे जाये – How To Reach Ghushmeshwar Temple Sawai Madhopur By Train In Hindi

ट्रेन से घुश्मेश्वर मंदिर कैसे जाये – How To Reach Ghushmeshwar Temple Sawai Madhopur By Train In Hindi

अगर आप घुश्मेश्वर मंदिर जाने के लिए ट्रेन से यात्रा करने की योजना बना रहें हैं तो बता दें कि सवाई माधोपुर ट्रेन नेटवर्क द्वारा देश के सभी प्रमुख शहरों से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है। पर्यटक दिल्ली, कोटा से ट्रेन की मदद से इस शहर तक आसानी से पहुंच सकते हैं। जयपुर इंदौर सुपर फास्ट, दयोदय एक्सप्रेस, हजरत निजामुद्दीन इंदौर एक्सप्रेस, और जयपुर चेन्नई एक्सप्रेस सहित कई ट्रेन यहां पर रूकती हैं।

सड़क मार्ग से घुश्मेश्वर मंदिर सवाई माधोपुर कैसे जाये – How To Reach Ghushmeshwar Temple By Road In Hindi

सड़क मार्ग से घुश्मेश्वर मंदिर सवाई माधोपुर कैसे जाये – How To Reach Ghushmeshwar Temple By Road In Hindi

यदि आप सड़क मार्ग के द्वारा घुश्मेश्वर मंदिर सवाई माधोपुर जाना चाहते हैं। तो हम आपको बता दे नेशनल हाईवे (टोंक- सवाई माधोपुर) और कोटा – लालसोट मेगा हाईवे के माध्यम से शहर तक पहुंचा जा सकता है। यह दोनों हाईवे सवाई माधोपुर को भारत प्रमुख शहरों से जोड़ते हैं। पर्यटक सड़क मार्ग द्वारा स्थानीय गांवों और कस्बों की झलक देखते हुए शहर की यात्रा कर सकते हैं। इसके अलावा सवाई माधोपुर के लिए नियमित बस सेवा भी उपलब्ध है तो आप बस, टैक्सी या अपनी कार में से किसी का भी चुनाव करके घुश्मेश्वर मंदिर सवाई माधोपुर पहुंच सकते हैं।

और पढ़े : भीलवाड़ा के हरणी महादेव मंदिर के दर्शन और पर्यटन स्थल की जानकारी

इस लेख में आपने घुश्मेश्वर मंदिर की यात्रा से जुड़ी पूरी जानकारी को जाना है आपको हमारा यह लेख केसा लगा हमे कमेंट्स में बताना ना भूलें।

इसी तरह की अन्य जानकारी हिन्दी में पढ़ने के लिए हमारे एंड्रॉएड ऐप को डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक करें। और आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

घुश्मेश्वर मंदिर सवाई माधोपुर का नक्शा – Ghushmeshwar Temple Sawai Madhopur Map

घुश्मेश्वर मंदिर की फोटो गैलरी – Ghushmeshwar Temple Images

और पढ़े :

Leave a Comment