Generic selectors
Exact matches only
Search in title
Search in content
Search in posts
Search in pages

Amreshwar Mahadev Temple In Hindi, अमरेश्वर महादेव मंदिर रणथंभौर नेशनल पार्क के रास्ते में ऊंची पहाड़ियों के बीच स्थित एक गुफा मंदिर है। अमरेश्वर महादेव मंदिर सवाई माधोपुर के प्रमुख आकर्षणों में से एक है। मंदिर में 12 ज्योतिरलिंग और एक 11 फीट ऊंचे शिवलिंग स्थापित है जो भक्तो और श्रद्धालुयों को आश्रीवाद लेने के लिए अपनी और आकर्षित करते है। इसके अलावा हरी-भरी पहाड़ियों के बीच में स्थापित अमरेश्वर महादेव मंदिर एक प्रसिद्ध पिकनिक स्पॉट नही बना हुआ है जहाँ लोग शहर की भीड़-भाड़ से दूर भगवान के दर्शन करने और कुछ समय प्राक्रतिक सुन्दरता के बीच व्यतीत करना पसंद करते है।

और शिवरात्रि पर्व के दौरान यहाँ एक पूजा और शिव जी के अभिषेक का आयोजन भी किया जाता जिसमे बड़ी संख्या में श्रद्धालु शामिल होते हैं।

Table of Contents

अमरेश्वर महादेव मंदिर का इतिहास – Amareshwar Mahadev Temple History In Hindi

अमरेश्वर महादेव मंदिर का इतिहास – Amareshwar Mahadev Temple History In Hindi

Image Credit : Sahiba Kaur

अमरेश्वर महादेव मंदिर लगभग 1200 साल पुराना मंदिर माना जाता है जो रणथंभौर किले से भी पहले स्थापित माना जाता है, प्रारंभिक समय में चारों ओर घने जंगल होने के कारण मंदिर मंदिर तक पहुचना अपेक्षाकृत अकल्पनीय था। लेकिन कुछ समय बाद मंदिर तक जाने के लिए रास्तो की खोज की गई थी।

सवाई माधोपुर के अमरेश्वर महादेव मंदिर खुलने और बंद होने का समय – Amreshwar Mahadev Temple Timing Of Hindi

सवाई माधोपुर के अमरेश्वर महादेव मंदिर खुलने और बंद होने का समय – Amreshwar Mahadev Temple Timing Of Hindi

Image Credit : Yogesh S

अमरेश्वर महादेव मंदिर वैसे तो 24 घंटे खुला रहता है लेकिन पहाड़ियों के बीच में स्थित  होने के कारण सुबह 9.00 बजे से शाम 5.00 तक मंदिर घूमने का सबसे अच्छा और मान्य समय होता है। और आपकी जानकारी के लिए बता दे अमरेश्वर महादेव मंदिर की पूर्ण और रोमांचक यात्रा के लिए 1-2 घंटे का समय अपनी यात्रा को अवश्य प्रदान करें।

और पढ़े : परशुराम महादेव मंदिर के दर्शन और इसके पर्यटन स्थल की जानकारी

अमरेश्वर महादेव मंदिर सवाई माधोपुर का प्रवेश शुल्क – Sawai Madhopur’s Amareshwar Mahadev Temple Entry Fees In Hindi

यदि आप सवाई माधोपुर अमरेश्वर महादेव मंदिर घूमने जाने की योजना बना रहे है तो हम आपको बता दे अमरेश्वर महादेव मंदिर पर्यटकों के घूमने के लिए बिलकुल फ्री है यहाँ आप बिना किसी शुल्क का भुगतान किये घूम सकते हैं।

अमरेश्वर महादेव मंदिर घूमने जाने का सबसे अच्छा समय – Best Time To Visit Amareshwar Mahadev Temple In Hindi

अमरेश्वर महादेव मंदिर घूमने जाने का सबसे अच्छा समय – Best Time To Visit Amareshwar Mahadev Temple In Hindi

Image Credit : Pintu Jangid

अगर आप अपने परिवार या दोस्तों के साथ अमरेश्वर महादेव मंदिर घूमने जाने की योजना बना रहे है तो हम आपको बता दे वैसे तो आप मंदिर की साल के किसी भी समय यात्रा कर सकते हैं। खासकर यहाँ आप शिवरात्रि और श्रावण महीने में आयोजित होने वाली खास पूजा और भगवान शिव जी के अभिषेक के दोरान भी अमरेश्वर महादेव मंदिर घूमने जा सकते है। लेकिन अगर आप अमरेश्वर महादेव  मंदिर के साथ- साथ सवाई माधोपुर के अन्य पर्यटक स्थल घूमने जाना चाहते है तो हम आपको बता दे रेगिस्तानी क्षेत्र होने की वजह से राजस्थान गर्मियों में बेहद गर्म होती है, इसीलिए माधोपुर घूमने के लिए सबसे अच्छा समय अक्टूबर से मार्च तक का समय होता है। सर्दियों का मौसम इस शहर की यात्रा करना एक अनुकूल समय होता है।

और पढ़े : सवाई माधोपुर में घूमने लायक प्रसिद्ध जगहों की जानकारी

अमरेश्वर महादेव मंदिर के आसपास के प्रमुख पर्यटन स्थल – Tourist Places Around Amareshwar Mahadev  Temple In Hindi

अगर आप सवाई माधोपुर में अमरेश्वर महादेव मंदिर घूमने जाने का प्लान बना रहे है तो हम आपको बता दे सवाई माधोपुर में अमरेश्वर महादेव मंदिर, के अलावा भी अन्य लोकप्रिय पर्यटक स्थल है जिन्हें आप अपनी सवाई माधोपुर की यात्रा दोरान घूम सकते हैं।

अमरेश्वर महादेव मंदिर सवाई माधोपुर कैसे जाये – How To Reach Amareshwar Mahadev Temple Sawai Madhopur In Hindi

अगर आप अमरेश्वर महादेव मंदिर सवाई माधोपुर की यात्रा करना चाहते हैं तो आप यहाँ हवाई, रेल या सड़क मार्ग द्वारा यात्रा करके पहुंच सकते हैं। सवाई माधोपुर शहर सड़क या रेल द्वारा देश के अन्य राज्यों से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है।

हवाई जहाज से अमरेश्वर महादेव मंदिर सवाई माधोपुर कैसे पहुंचें – How To Reach Amareshwar Mahadev  Temple By Plane In Hindi

हवाई जहाज से अमरेश्वर महादेव मंदिर सवाई माधोपुर कैसे पहुंचें – How To Reach Amareshwar Mahadev  Temple By Plane In Hindi अगर आप फ्लाइट के माध्यम से अमरेश्वर महादेव मंदिर घूमने जाना चाहते है तो आपको बता दे हवाई जहाज से अमरेश्वर महादेव मंदिर सवाई माधोपुर करने के लिए आपको जयपुर हवाई अड्डे के लिए फ्लाइट लेनी होगी, जो सवाई माधोपुर का निकटतम हवाई अड्डा है। और जयपुर हवाई अड्डा से सवाई माधोपुर पहुंचने के लिए आप  टैक्सी ,कार या बस की मदद ले सकते है।

ट्रेन से अमरेश्वर महादेव मंदिर कैसे जाये – How To Reach Amareshwar Mahadev Temple Sawai Madhopur By Train In Hindi

ट्रेन से अमरेश्वर महादेव मंदिर कैसे जाये – How To Reach Amareshwar Mahadev Temple Sawai Madhopur By Train In Hindiअगर आप अमरेश्वर महादेव मंदिर जाने के लिए ट्रेन से यात्रा करने की योजना बना रहें हैं तो बता दें कि सवाई माधोपुर ट्रेन नेटवर्क द्वारा देश के सभी प्रमुख शहरों से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है। पर्यटक दिल्ली, कोटा और ट्रेन की मदद से इस शहर तक आसानी से पहुंच सकते हैं। जयपुर इंदौर सुपर फास्ट, दयोदय एक्सप्रेस, हजरत निजामुद्दीन इंदौर एक्सप्रेस, और जयपुर चेन्नई एक्सप्रेस सहित कई ट्रेन यहां पर रूकती हैं।

सड़क मार्ग से अमरेश्वर महादेव मंदिर कैसे पहुंचें – How To Reach Amareshwar Mahadev Temple By Road In Hindi

सड़क मार्ग से अमरेश्वर महादेव मंदिर कैसे पहुंचें – How To Reach Amareshwar Mahadev Temple By Road In Hindi

यदि आप सड़क मार्ग के द्वारा अमरेश्वर महादेव मंदिर सवाई माधोपुर जाना चाहते हैं। तो हम आपको बता दे नेशनल हाईवे (टोंक- सवाई माधोपुर) और कोटा – लालसोट मेगा हाईवे के माध्यम से शहर तक पहुंचा जा सकता है। यह दोनों हाईवे सवाई माधोपुर को भारत प्रमुख शहरों से जोड़ते हैं। पर्यटक सड़क मार्ग द्वारा स्थानीय गांवों और कस्बों की झलक देखते हुए शहर की यात्रा कर सकते हैं। इसके अलावा सवाई माधोपुर के लिए नियमित बस सेवा भी उपलब्ध है तो आप बस, टैक्सी या अपनी कार में से किसी का भी चुनाव करके अमरेश्वर महादेव मंदिर सवाई माधोपुर पहुंच सकते हैं।

और पढ़े : भीलवाड़ा के हरणी महादेव मंदिर के दर्शन और पर्यटन स्थल की जानकारी

अमरेश्वर महादेव मंदिर सवाई माधोपुर का नक्शा – Amareshwar Mahadev Temple Sawai Madhopur Map

अमरेश्वर महादेव मंदिर की फोटो गैलरी – Amareshwar Mahadev Temple Images

View this post on Instagram

#Har#har#MahaDEV

A post shared by 🔹MADAN•BHOGAMI🔹 (@m_bhogamiii0_0) on

और पढ़े :

Featured Image Credit:  Shubham Pareek

Write A Comment