Generic selectors
Exact matches only
Search in title
Search in content
Search in posts
Search in pages

Sunehri Kothi Tonk In Hindi, सुनहरी कोठी राजस्थान के प्रमुख पर्यटन स्थलों में से एक है जो टोंक से लगभग 30 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। सुनहरी कोठी दिखने में इतनी अदभुद है कि यह दूर-दूर से पर्यटकों को अपनी तरफ आकर्षित करती है। टोंक में स्थित सुनहरी कोठी राजस्थान भारत की खूबसूरत हवेलियों में से एक है, जिसे टोंक की गोल्डन मेंशन भी कहा जाता है। अगर आप टोंक की यात्रा करने जा रहें हैं तो आपको इस भव्य स्मारक को देखने के लिए जरुर जाना चाहिए। आपको बता दें कि बाहर से यह संरचना आम हवेलियों की तरह है लेकिन इसे अंदर बहुत ही भव्यता के साथ सजाया गया है। सुनहरी कोठी की दीवारें कांच के वर्क, फूलों की पेंटिंग्स और शानदार कलाकृतियों से सजी हुई है। इसके साथ ही दीवारों पर सोने की पोलिश भी की गई है। अगर आप सुनहरी कोठी के बारे में अन्य जानकारी तो इस लेख को जरुर पढ़ें यहां हम आपको सुनहरी कोठी के इतिहास और यहां जाने के बारे में पूरी जानकारी देने जा रहें हैं।

1. सुनहरी कोठी का इतिहास – Sunehri Kothi Tonk History In Hindi

सुनहरी कोठी का इतिहास

Image Credit: Michèle Béguin

सुनहरी कोठी राजस्थान के सबसे खूबसूरत पर्यटन स्थलों में से एक है। इस कोठी का निर्माण टोंक के नवाब अमीर खां ने 1824 में शुरू करवाया था। इस खूबसूरत को देखने दूर-दूर से पर्यटक आते हैं। टोंक पर पहले पठानों का शासन था, जिसकी वजह से सुंदर कोठी एक सुंदर और आकर्षक वास्तुकला का प्रदर्शन करती है।

2. सुनहरी कोठी टोंक का निर्माण किसने करवाया – Sunehri Kothi Ka Nirman In Hindi

टोंक जिले की सुनहरी कोठी का निर्माण टोंक के नवाब अमीर खां ने 1824 में शुरू करवाया था।

और पढ़े: हवा महल की जानकारी और इतिहास

3. सुनहरी कोठी टोंक के आसपास में घूमने लायक पर्यटन और आकर्षण स्थल – Sunehri Kothi Tonk Near By Darshaniya Sthal In Hindi

अगर आप राजस्थान के टोंक शहर या सुनहरी कोठी की यात्रा करने जा रहें हैं तो हम आपको यहां आपको टोंक के कुछ पर्यटन स्थलों के बारे में बताने जा रहें हैं जहां आपको अपनी टोंक यात्रा के दौरान जरुर जाना चाहिए।

3.1 हाथी भाटा – Hathi Bhata In Hindi

हाथी भाटा

हाथी भाटा राजस्थान में टोंक- सवाई माधोपुर हाईवे से 30 किलोमीटर की दूरी पर स्थित राजस्थान के कुछ खूबसूरत स्मारकों में से एक है। यह एक ही पत्थर से निर्मित एक हाथी है, जो यहां आने वाले पर्यटकों को बेहद आकर्षित करता है। हाथी भाटा पर्यटन स्थल की सबसे खास बात यह है कि ये राजस्थान के अन्य पर्यटन स्थलों की तरह लोगों को अन्य हिस्सों पर ऑनलाइन जानकारी प्रदान करता है। अगर आप टोंक की यात्रा करने जा रहे हैं तो आपको एक बार हाथी भाटा की यात्रा जरुर करना चाहिए।

3.2 दिग्गी कल्याण जी मंदिर – Diggi Kalyan Ji Temple In Hindi

दिग्गी कल्याण जी मंदिर

Image Credit: Deepak Soni

दिग्गी कल्याण जी मंदिर टोंक का एक पुराना मंदिर है जो अपनी प्राचीनता के लिए जाना जाता है। इस मंदिर का शिखर बेहद आकर्षक है जो पर्यटकों को अपनी तरफ आकर्षित करता है। मंदिर के शिखर को 16 खंबे सपोर्ट देते हैं जो बेहद दिखने में बेहद अदभुद हैं। यह मंदिर संगमरमर की सुरुचिपूर्ण वास्तुकला का एक अच्छा उदाहरण है। जब आप इस मंदिर के दर्शन करने जायेगे तो इसके पास स्थित लक्ष्मी नारायण मंदिर के दर्शन करने के लिए भी जा सकते हैं।

3.3 जामा मस्जिद – Jama Masjid In Hindi

जामा मस्जिद

Image Credit: Syed Abdul Ahad

टोंक जिले में स्थित जामा मस्जिद राजस्थान के सबसे प्रसिद्ध और शानदार मस्जिदों में से एक है। आपको बता दें यह मस्जिद अंदर से जटिल पैटर्न के साथ और बाहर से शानदार नाजुक पैटर्न से सजी हुई है। इस मस्जिद में आज भी कुछ प्राचीन लैंप हैं।

3.4 अरबी और फारसी अनुसंधान संस्थान – The Arabic And Persian Research Institute In Hindi

अरबी और फारसी अनुसंधान संस्थान

Image Credit: Dhruv Bhargava

अरबी और फारसी अनुसंधान संस्थान टोंक शहर में दो पहाड़ियों के बीच स्थित है। आपको बता दें कि इस संग्राहलय में अरबी में पुस्तकों और पांडुलिपियों के कुछ सबसे पुराने का संग्रह देखा जा सकता है। यहां रखी हुई कुछ प्राचीन पुस्तकें सोने, पन्ना, मोती और माणिक्य से सुभोभित है। अगर आप टोंक की यात्रा करने जा रहें हैं तो आपको इस संस्थान की यात्रा अवश्य करनी चाहिए।

3.5 बीसलदेव मंदिर – Bisaldeo Temple In Hindi

बीसलदेव मंदिर

Image Credit: Giriraj Singh

बीसलदेव मंदिर राजस्थान के प्रमुख मंदिरों में से एक है जो टोंक जिले से लगभग 60-80 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। आपको बता दें कि यह मंदिर गोकर्णेश्वर के मंदिर के नाम से भी जाना जाता है। इस मंदिर के आंतरिक भाग में एक शिवलिंग स्थित है। मंदिर में एक गोलार्द्ध का गुंबद है जो आठ ऊंचे खंभों पर टिका हुआ है और इन ऊंचे खंभों पर फूलों की सुंदर नक्काशी बनी हुई है, जो हर किसी को अपनी तरफ आकर्षित करती है। अगर आप टोंक की यात्रा करने जा रहें हैं तो आपको एक बार बीसलदेव मंदिर के दर्शन करने के लिए जरुर जाना चाहिए।

और पढ़े: चोखी ढाणी जयपुर घूमने की पूरी जानकारी

4. सुनहरी कोठी घूमने जाने का सबसे अच्छा समय – Best Time To Visit Sunehri Kothi Tonk In Hindi

सुनहरी कोठी घूमने जाने का सबसे अच्छा समय

Image Credit: Michèle Béguin

अगर आप टोंक की यात्रा करने की योजना बना रहें हैं तो बता दें कि अक्टूबर से मार्च तक सर्दियाँ होती हैं और टोंक शहर में छुट्टियों का आनंद लेने का सबसे अच्छा समय होता है। ग्रीष्मकाल अप्रैल से जून तक होता है और बहुत गर्म और शुष्क होता है। इसलिए आपको इस दौरान टोंक की यात्रा नहीं करना चाहिए। यहां पर मानसून का मौसम जुलाई से सितंबर तक होता है लेकिन टोंक में मध्यम से कम वर्षा होती है।

और पढ़े: जयपुर में शॉपिंग के लिए प्रसिद्ध बाजारों की जानकारी 

5. सुनहरी कोठी टोंक कैसे जाये – How To Reach Sunehri Kothi Tonk In Hindi

सुनहरी कोठी टोंक से करीब 30 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। अगर आप टोंक शहर की यात्रा करने की योजना बना रहें हैं तो बता दें कि यह जयपुर शहर से टोंक 96 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है जहां की यात्रा आप सड़क, हवाई, और रेल आदि परिवहनों के माध्यम से कर सकते हैं।

5.1 हवाई मार्ग से सुनहरी कोठी टोंक कैसे पहुंचें – How To Reach Sunehri Kothi Tonk By Plane In Hindi

हवाई मार्ग से सुनहरी कोठी टोंक कैसे पहुंचें

अगर आप हवाई मार्ग द्वारा टोंक की यात्रा करने जा रहें हैं तो बता दें कि जयपुर सांगानेर हवाई अड्डा निकटतम हवाई अड्डा है और देश के सभी प्रमुख शहरों से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है। इस हवाई अड्डे से आप टोंक शहर तक पहुंचने के लिए कैब या बस से यात्रा कर सकते हैं।

5.2 सुनहरी कोठी टोंक रेल मार्ग से कैसे पहुंचें – How To Reach Sunehri Kothi Tonk In By Train Hindi

सुनहरी कोठी टोंक रेल मार्ग से कैसे पहुंचें

जो भी पर्यटक रेल मार्ग द्वारा टोंक की यात्रा करना चाहते हैं उनको हम जानकारी देना चाहते हैं कि टोंक का निकटतम मुख्य रेलवे स्टेशन बनस्थली-नयाई है, जो टोंक से लगभग 35 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। यात्री इस रेलवे स्टेशन से भंवर टोंक के लिए ट्रेन पकड़ सकते हैं।

5.3 सुनहरी कोठी कैसे पहुंचें सड़क मार्ग से – How To Reach Sunehri Kothi Tonk By Road In Hindi

सुनहरी कोठी कैसे पहुंचें सड़क मार्ग से

जो भी लोग अपनी निजी कार या फिर बस और टैक्सी की मदद से टोंक शहर के लिए यात्रा करने की योजना बना रहें हैं उनके लिए बता दें कि टोंक राज्य के प्रमुख शहरों से अच्छी सड़कों के माध्यम से जुड़ा हुआ है। राजस्थान पर्यटन यात्रियों को कई नियमित बस सेवा प्रदान करता है जो प्रमुख पर्यटन शहरों से चलती हैं।

और पढ़े: पिंक सिटी जयपुर में घूमने की 10 खास जगह

6. सुनहरी कोठी टोंक का नक्शा – Sunehri Kothi Tonk Map

7. सुनहरी कोठी की फोटो गैलरी – Sunehri Kothi Images

और पढ़े:

Featured Image Credit: tourism.rajasthan.gov.in

Write A Comment