भूटान पर्यटन की पूरी जानकारी – Bhutan Travel Guide In Hindi

Bhutan Tourism In Hindi, भूटान एक ऐसा देश है जो पूर्वी हिमालय के पर्वतीय क्षेत्रों में स्थित है और दक्षिण एशियाई क्षेत्र में सबसे स्वच्छ देशों में से एक है। बता दें कि भूटान “लैंड ऑफ़ द थंडर ड्रैगन” के नाम से भी जाना जाता है। भूटान एक ऐसा देश है जिसका कोई औपनिवेशिक इतिहास नहीं है और वांगचुक परिवार ने इस देश में एकता बनाए रखी है। भूटान की सीमा भारत के सिक्किम, असम, पश्चिम बंगाल और अरुणाचल प्रदेश राज्यों से लगी हुई है। बता दें कि पर्यावरण की रक्षा भूटान का एक संवैधानिक दायित्व और यहां का 60% हिस्सा आज भी जंगल है।

भूटान दुनिया के ऐसे पहले कार्बन नेगेटिव (Carbon Negative) देशों में से एक है जहां तंबाकू की बिक्री पर प्रतिबंध है। भूटान देश कई तरह के पर्यटन आकर्षण से भरा हुआ है जो प्रकृति प्रेमी लोगों के लिए स्वर्ग के समान है। बहुत से लोग इनकी प्राकृतिक सुंदरता की वजह से यहां की यात्रा करना पसंद करते है। अगर आप भी भूटान की यात्रा करने की योजना बना रहें हैं तो इस लेख को अवश्य पढ़ें, यहां हम भूटान के पर्यटन स्थलों और जाने के बारे पूरी जानकारी दे रहें हैं।

Table of Contents

भूटान यात्रा के टॉप के 10 पर्यटन और आकर्षण स्थल – Best Tourist Places In Bhutan Tourism In Hindi

भूटान कई तरह के पर्यटन आकर्षणों से भरा हुआ हैं। अगर आप भूटान देश की यात्रा करने की योजना बना रहें हैं तो नीचे हमने भूटान के पर्यटन स्थलों की पूरी लिस्ट दी हैं, जिसकी मदद से आप अपनी भूटान यात्रा की योजना बना सकते हैं।

भूटान का सबसे आकर्षण स्थल पारो पर्यटन – Bhutan Ka Sabse Aakarshan Sthal Paro Tourism In Hindi

भूटान का सबसे आकर्षण स्थल पारो पर्यटन - Bhutan Ka Sabse Aakarshan Sthal Paro Tourism In Hindi

पारो भूटान की पारो घाटी में स्थित एक छोटा शहर है, जो 155 मंदिरों और मठों का घर है। पारो भारी संख्या में दुनिया भर के पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करता है। पारो चू नदी के तट पर लगभग 2280 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है, जो 1259 वर्गमीटर क्षेत्र में फैला हुआ है। बता दें कि यह पारो भूटान का एकमात्र अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा भी है और इसे धरती पर उतरने के लिए सबसे चुनौतीपूर्ण हवाई अड्डा माना जाता है। पारो कई सारे आकर्षणों से भरा हुआ है जहां की यात्रा करने के लिए हर किसी को जरुर जाना चाहिए। भूटान के प्रतिष्ठित मठों में से एक टाइगर का घोंसला (Tiger’s Nest) या तख्तसांग है जो पारो शहर में एक चट्टान पर स्थित है। इसके अलावा पारो में ऐसी कई जगह है जो पर्यटकों द्वारा सबसे ज्यादा देखी जाती है जिनमें मठों से लेकर कई म्यूजियम के नाम शामिल हैं। पारो की घूमने लायक जगहों में रिनपुंग डज़ोंग, भूटान नेशनल म्यूज़ियम और पारो वीकेंड मार्केट के नाम शामिल हैं।

पारो पर्यटन में घूमने लायक जगह

  • चेले ला पास – Chele La Pass
  • भूटान का राष्ट्रीय संग्रहालय- National Museum Of Bhutan
  • टाइगर नेस्ट मोनेस्ट्री- Tiger’s Nest Monastery
  • रिनपुंग डज़ोंग- Rinpung Dzong
  • किला गोम्बा Kila Goemba
  • जंगलसरु लखांग-Jangsarbu Lhakhang

और पढ़े : मेघालय के प्रमुख पर्यटन स्थल और घूमने की जानकारी

भूटान का प्रसिद्ध पर्यटन स्थल थिम्फु – Bhutan Ka Paryatan Sthal Thimphu Tourism In Hindi

भूटान का प्रसिद्ध पर्यटन स्थल थिम्फु - Bhutan Ka Paryatan Sthal Thimphu Tourism In Hindi
Image Credit : Sumana Dam

थिम्फु को भूटान के केंद्र के रूप में जाना जाता है जो देश के मध्य-पश्चिमी भाग में स्थित है। बता दें कि थिम्फु भूटान की राजधानी भी है जिसे पुनाखा के बाद को वर्ष 1961 में राजधानी घोषित किया गया था। यह भूटान में एक ऐसी जगह है जिसे अपनी नाईटलाइफ के लिए भी जाना जाता है। तिम्फु देश की एक ऐसी जगह है जहा पर आज भी भूटानी परंपराओं पर कायम है क्योंकि इसमें बुद्ध डोरडेन्मा जैसी विभिन्न वास्तुकला संरचनाएँ हैं, जो थिम्फू में प्रवेश के दौरान देखी जा सकती है। यहां पर टेक्सटाइल म्यूजियम, लाइब्रेरी, आर्ट स्कूल और वीकेंड मार्केट यहां के प्रमुख आकर्षण है। थिम्फु, पारो इंटरनेशनल एयरपोर्ट से एक घंटे की ड्राइव पर स्थित है जो परंपरा और आधुनिकता दोनों का मिश्रण है। थिम्फु एक मात्र ऐसी राजधानी है जहां पर कोई ट्रैफ़िक लाइट नहीं है।

थिम्फु में देखने लायक जगह

  • तृशी छो डज़ोंग- Trashi Chho Dzong
  • चंगंगखा लखांग- Changangkha Lhakhang
  • टेंगो गोम्बा- Tango Goemba
  • राष्ट्रीय स्मारक चोर्टेन- National Memorial Chorten
  • मोतीथांग ताकिन प्रीसर्व – Motithang Takin Preserve
  • डेचन फोडरंग- Dechen Phodrang
  • भूटान का राष्ट्रीय पुस्तकालय
  • सिम्पली भूटान- Simply Bhutan
  • नेशनल इंस्टीट्यूट फॉर ज़ोरिग चुसुम-National Institute For Zorig Chusum

भूटान के प्रमुख दर्शनीय स्थल वांगड्यू फोडरंग पर्यटन – Bhutan Ka Pramukh Darshaniya Sthal Wangdue Phodrang Tourism In Hindi

भूटान के प्रमुख दर्शनीय स्थल वांगड्यू फोडरंग पर्यटन - Bhutan Ka Pramukh Darshaniya Sthal Wangdue Phodrang Tourism In Hindi
Image Credit : Amol Lampo

वांगड्यू फोडरंग भूटान के सबसे बड़े जिलों में से एक है जो मठों और मंदिर से लेकर वन्यजीव और देहाती गांवों से भरा हुआ है। वांगड्यू फोडरंग उत्तर में वांगचुक सेंटेनियल पार्क (Wangchuck Centennial Park) और दक्षिणपूर्वी क्षेत्र में जिग्मे दोरजी नेशनल पार्क (Jigme Dorji National Park) के साथ कई पौधों और जानवरों की प्रजातियों का घर है। यहां पर पर्यटक ऑर्किड, रोडोडेंड्रोन, ब्लू पॉपी और रेड पांडा, स्नो लेपर्ड, ब्लू शीप और ब्लैक बीयर जैसे दुर्लभ जानवरों को देख सकते हैं। वांगड्यू फोडरंग पर्यटन प्रकृति प्रेमियों के घूमने के लिए एक बहुत अच्छी जगह है। अगर आप भूटान की यात्रा करने के लिए जा रहें हैं तो आपको वांगड्यू फोडरंग के पर्यटन स्थलों की यात्रा करने के लिए अवश्य आना चाहिए।

वांगड्यू फोडरंग के प्रमुख पर्यटन स्थल

  • जिग्मे सिंगये वांगचुक नेशनल पार्क – Jigme Singye Wangchuck National Park
  • फोबजीखा घाटी- Phobjikha Valley
  • शा राडप का मंदिर- Temple Of Sha Radap
  • रिनचेगांग गांव- Rinchegang Village
  • अधा और रूखा विलेज – Adha And Rukha Villages
  • जकर पर्यटन- Jakar Tourism
  • वांगड्यू फोडरंग ड्ज़ोंग- Wangdue Phodrang Dzong

और पढ़े : नेपाल के दर्शनीय स्थल और घूमने की 10 खास जगह

भूटान में घूमने लायक खुबसूरत जगह जकर टूरिज्म – Bhutan Me Ghumne Layak Khubsurat Jagah Jakar Tourism In Hindiभूटान में घूमने लायक खुबसूरत जगह जकर टूरिज्म – Bhutan Me Ghumne Layak Khubsurat Jagah Jakar Tourism In Hindi

जकर चोखोर घाटी की तलहटी में बसा बुमथांग में सबसे बड़ी और सबसे खूबसूरत घाटी है। आपको बता दें कि जकर को “लिटिल स्विट्जरलैंड” के रूप में भी जाना जाता है। जकार बुमथांग जिले का प्रमुख प्रशासनिक शहर है। यह जगह मठों और Dzongs के साथ बिंदीदार वृक्ष-पर्वत श्रृंखलाओं से गिरी हुई है जिसकी वजह से यह इतिहास प्रेमियों और प्रकृति-प्रेमियों दोनों के लिए एक आदर्श स्थल है। जकर कई ऐतिहासिक और पवित्र स्थलों से भरा हुआ है। इसे भूटान में बौद्ध धर्म की उत्पत्ति का बिंदु माना जाता है। अगर आप किसी भूटान में किसी प्राकृतिक जगह की यात्रा करना चाहते हैं तो आपको जकर की यात्रा करना चाहिए। पर्यटन स्थलों की यात्रा करने के लिए यहां पर यात्री अन्य गतिविधियों जैसे ट्रेकिंग और माउंटेन बाइकिंग का भी मजा ले सकते हैं।

जकर के पर्यटन स्थल

  • जकर दज़ोंग- Jakar Dzong
  • चक्र लखंग- Chakhar Lhakhang
  • मेबर त्सो- Mebar Tso,
  • खरचू गोम्बा- Kharchu Goemba
  • द्रांगचेल गाँव- Drangchel Village)
  • तांग घाटी- Tang Valley
  • कोंचोगसम लखंग- Konchogsum Lhakhang

भूटान टूरिज्म में देखने वाली जगह फुंटशोलिंग – Bhutan Tourism Me Dekhne Wali Jagah Phuentsholing Tourism In Hindi

भूटान टूरिज्म में देखने वाली जगह फुंटशोलिंग - Bhutan Tourism Me Dekhne Wali Jagah Phuentsholing Tourism In Hindi
Image Credit : Anuj Bansal

फुंटशोलिंग भूटान का दूसरा सबसे बड़ा शहर जो भारत के राज्य पश्चिम बंगाल से अपनी सीमा को साझा करता है। यह कोलकाता और सिलीगुड़ी के यात्रियों के लिए एक प्रवेश बिंदु के रूप में सेवा करता है और भूटान का एक महत्वपूर्ण आर्थिक केंद्र है। फुंटशोलिंग, भूटान के अधिकांश शहरों की तुलना में अधिक विकसित है और इसके बाद भी यह कई प्राकृतिक आकर्षणों से भरा हुआ है। अपनी फुंटशोलिंग यात्रा के दौरान पर्यटक ज़ंग्टो पेलरी लखंग, करबंदी मठ, भूटान गेट और खरबंडी गोम्बा की यात्रा कर सकते हैं। ज़ंग्टो पेलरी लखांग एक छोटा सा मंदिर है जो गुरु रिनपोचे को समर्पित है। यहां स्थित भूटान गेट भारत से प्रवेश के लिए मुख्य प्रवेश द्वार है, जो पारंपरिक भूटानी वास्तुकला का एक उत्कृष्ट उदाहरण है।

फुंटशोलिंग के पर्यटन स्थल

  • भूटान गेट- Bhutan Gate
  • ज़ंग्टो पेलरी लखांग- Zangto Pelri Lhakhang
  • अमो छु क्रोकोडाइल ब्रीडिंग सेंटर- Amo Chhu Crocodile Breeding Centre
  • करबंदी मठ- Karbandi Monasteries
  • तोर्सा नदी- Torsa River

और पढ़े : पश्चिम बंगाल के पर्यटन स्थल घूमने की जानकारी

भूटान यात्रा में घूमने की सबसे अच्छी जगह पुनाखा – Bhutan Yatra Me Ghumne Ki Sabse Achi Jagah Punakha Tourism In Hindi

भूटान यात्रा में घूमने की सबसे अच्छी जगह पुनाखा - Bhutan Yatra Me Ghumne Ki Sabse Achi Jagah Punakha Tourism In Hindi
Image Credit : Avik Roy

पुनाखा भूटान के 20 जिलों (Dzongkhags) में से एक है जो समुद्र तल से 1200 मीटर की ऊँचाई पर स्थित है और हिमालय का एक अद्भुत दृश्य प्रस्तुत करता है। पुनाखा 1955 तक भूटान की पूर्व राजधानी थी जिसे बाद में थिम्फु को बना दिया था। बता दें कि यह जगह माउंटेन बाइकिंग और ट्रेकिंग के लिए एक उत्कृष्ट स्थान है। इसके अलाव यहां भूटान का सबसे लोकप्रिय साहसिक खेल- रिवर राफ्टिंग पो छू नदी में किया जाता है। अगर आप भूटान की यात्रा करने के लिए जा रहें हैं तो आपको पुनाखा की यात्रा के लिए भी अवश्य जाना चाहिए।

पुनाखा पर्यटन में घूमने लायक जगह

  • पुनाखा दज़ोंग- Punakha Dzong
  • मो छू (नदी)- Mo Chhu(River)
  • पुनाखा सस्पेंशन ब्रिज- Punakha Suspension Bridge
  • पुनाखा गाँव- Punakha Village
  • जिग्मे दोरजी नेशनल पार्क- Jigme Dorji National Park
  • दोचूला दर्रा- Dochula Pass
  • खान्सम यूलली नामग्याल चोर्टेन- Khansum Yulley Namgyal Chorten
  • सांगचें दोरजी लुहंड्रुप नननेरी- Sangchhen Dorji Lhuendrup Nunnery

भूटान का खुबसूरत पर्यटन स्थल बुमथांग – Bhutan Ka Khubsurat Paryatan Sthal Bumthang Tourism In Hindi

भूटान का खुबसूरत पर्यटन स्थल बुमथांग - Bhutan Ka Khubsurat Paryatan Sthal Bumthang Tourism In Hindi

बुमथांग चार खूबसूरत पहाड़ी घाटियों का घर है। यहां पर कई प्राचीन मठ और मंदिर स्थित हैं। बुमथांग भूटान में यात्रा करने के लिए सबसे अच्छी जगहों में से एक है जो अपने धर्म, आध्यात्मिकता और इतिहास के लिए जाना जाता है।कुर्जी और तमशिंग लखंग यहां के प्रमुख दर्शनीय स्थल है और इसके अलावा पर्यटक पहाड़ी पर ट्रेकिंग जैसे काम भी कर सकते हैं। बुमथांग में हर साल फरवरी में भूटानी खानाबदोश समारोह का आयोजन करता है।

बुमथांग के पर्यटन स्थल

  • खुरजे लखंग मंदिर- Khurje Lhakhang Temple
  • जाकार द्ज़ोंग- Jakar Dzong
  • जंबे लखांग- Jambey Lhakhang
  • तमसिंग लाखखंग- Tamshing Lhakhang
  • जलती हुई झील- Burning Lake)
  • उरा घाटी- Ura Valley
  • ओजेन चोलिंग पैलेस संग्रहालय- Ogyen Choling Palace Museum
  • कोंचोगसम लखंग- Konchogsum Lhakhang

भूटान का मशहूर दर्शनीय स्थल फोबजीखा घाटी (गंगटी) – Phobjikha Valley (Gangtey)Famous Tourist Place In Bhutan In Hindi

भूटान का मशहूर दर्शनीय स्थल फोबजीखा घाटी (गंगटी) - Phobjikha Valley (Gangtey)Famous Tourist Place In Bhutan In Hindi

वांगड्यू फोडरंग में काले पहाड़ों की पश्चिमी ढलानों में एक कटोरे के आकार की घाटी है जो हरे-भरे खेतों के मनमोहक दृश्य प्रस्तुत करती है। आपको बता दें कि यह घाटी लुप्तप्राय काली गर्दन वाली क्रेन (Black-Necked Crane) का घर है जो सर्दियों के दौरान इस क्षेत्र में आती है। फोबजिखा घाटी जिसे गंगटी भी कहा और यह देश की कुछ ग्लेशियल घाटियों में से एक है। जिग्मे सिंग्ये वांगचुक नेशनल पार्क की सीमा से लगी यह घाटी समुद्र तल से 3000 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है, जिसकी वजह से यह काफी ठंडी है। फोबजीखा घाटी भूटान की एक बहुत ही खूबसूरत जगह है जहां पर पर्यटक ट्रैकिंग का मजा भी ले सकते हैं। सीधे शब्दों में कहें तो फोबजीखा घाटी, बर्ड वॉचर्स और ट्रेकर्स के लिए एक स्वर्ग है, यहां पर आप शानदार तस्वीरें भी क्लिक कर सकते हो। यह घाटी कई तरह से संस्कृतिक स्थलों से भरपूर है जिनकी यात्रा आपको अवश्य करना चाहिए।

फोबजिखा घाटी के पर्यटन स्थल

  • गंगते गोम्बा- Gangtey Goemba
  • न्येलुंग डेचनिंग मंदिर- Nyelung Dechenling Temple
  • खेवंग लखंग- Khewang Lhakhang
  • गंगटी नेचर ट्रेल्स- Gangtey Nature Trails
  • कुजंग छोलिंग शेड्रा- Kuezang Chholing Shedra

और पढ़े : चेरापूंजी के पर्यटन स्थलों की जानकारी

भूटान में घूमने लायक जगह हा वैली टूरिज्म – Bhutan Tourism Me Ghumne Layak Jagah Haa Valley Tourism In Hindi

भूटान में घूमने लायक जगह हा वैली टूरिज्म - Bhutan Tourism Me Ghumne Layak Jagah Haa Valley Tourism In Hindi

हा वैली को भूटान का सबसे छोटा दज़ोंगखंग (जिला) के रूप में जाना जाता है। यह भूटान के दक्षिण-पश्चिम में स्थित सबसे खूबसूरत स्थानों में से एक है जो प्रकृति प्रेमी और ट्रेकर्स के लिए बेहद एक अच्छी जगह है। इसके अलावा यह दुनिया की एक मात्र ऐसी जगह है जहां पर क्रीम रंग का ब्लू पॉपी (मेकोनोप्सिस सुपरबा) देखा जा सकता है। यह जगह काफी कम आबादी वाला क्षेत्र है और खानाबदोश चरवाहों का घर है। हा वैली पारो से 30kms की दूरी पर स्थित है जहां चेले ला दर्रे के माध्यम से पहुँचा जा सकता है।इस क्षेत्र के आसपास भूटान के सबसे अच्छे ट्रेकिंग ट्रेल्स और माउंटेन बाइकिंग ट्रेल्स का आयोजन भी किया जाता है। अगर आप हा वैली की यात्रा करने का विचार बना रहें हैं तो यहां जाने का सबसे अच्छा समय अक्टूबर से नवंबर तक है।

भूटान यात्रा में घूमने की सबसे खुबसूरत जगह त्राशीगांग पर्यटन – Bhutan Yatra Me Ghumne Ki Sabse Khubsurat Jagah Trashigang Tourism In Hindi

भूटान यात्रा में घूमने की सबसे खुबसूरत जगह त्राशीगांग पर्यटन - Bhutan Yatra Me Ghumne Ki Sabse Khubsurat Jagah Trashigang Tourism In Hindi
Image Credit : Shuvo Shoyaib

त्राशीगांग भूटान का एक प्रसिद्ध पर्यटन स्थल है जिसे ईस्ट का गहना भी कहा जाता है। आपको बता दें कि त्राशीगांग भूटान का एक खूबसूरत हिल स्टेशन है, जो 600 मीटर से लेकर 4000 मीटर की ऊँचाई तक फैला हुआ है। त्राशीगांग यह भूटान का सबसे बड़ा जिला है जो बेहद खूबसूरत और शांत है। यह भूटान में व्यापार के लिए भी एक प्रसिद्ध शहर है, जो असम और तिब्बत के बीच व्यापार मार्ग पर एक महत्वपूर्ण व्यापार केंद्र है।

त्राशीगांग में ऐसे कई पर्यटन स्थल है जहां पर आप अपनी यात्रा के दौरान जा सकते हैं। त्राशिगांग दजोंग एक किला है जो यहां के सबसे प्रसिद्ध पर्यटन स्थलों में एक है। इसके साथ ही जिले का अपना घरेलू हवाई अड्डा योनफुला हवाई अड्डा भी है। भूटान की सबसे बड़ी नदी डांगमे छू भी यहां से होकर बहती है जो कई आकर्षक दृश्य प्रप्तुत करती है। अगर आप भूटान के पर्यटन स्थलों की यात्रा करने की योजना बना रहें हैं तो त्राशीगांग और इसके लोकप्रिय स्थलों की यात्रा भी कर सकते हैं।

त्राशीगांग के पर्यटन स्थल

  • त्राशीगांग द्ज़ोंग Trashigang Dzong
  • सकतेंग वन्यजीव अभयारण्य Sakteng Wildlife Sanctuary
  • डंगमे छु- Dangme Chhu
  • भूटान रात का जीवन – Bhutan Nightlife In Hindi

भूटान जाने का सही समय – Best Time To Visit Bhutan Tourism In Hindi

भूटान जाने का सही समय - Best Time To Visit Bhutan Tourism In Hindi

अगर आप भूटान की यात्रा के सबसे अच्छे समय के बारे में जानना चाहते हैं तो बता दें कि यहां आने का सबसे अच्छा समय मार्च से मई (वसंत) और सितंबर से नवंबर (शरद ऋतु) के दौरान होता है। भूटान के स्थानों की उंचाई के कारण यहां की जलवायु में भी अंतर है। यहां पर मार्च-मई में वसंत का मौसम होता है जिस दौरान यहां के फुल खिल उठते हैं और हर तरफ खूबसूरत दृश्य देख जा सकते हैं।

यहां शरद ऋतु सितंबर – नवंबर से होती है, जिसमें मौसम काफी ठंडा होता है। ग्रीष्मकाल जून से अगस्त तक होता है जहाँ तापमान 24-25 डिग्री सेल्सियस पहुंच जाता है। जुलाई के बाद से दक्षिण-पश्चिम मानसून की चपेट में आ जाता है लेकिन अगर आप इस मौसम में किसी दर्शनीय स्थल की यात्रा करने जा रहें हैं तो रेनकोट लेकर जाना होगा।

और पढ़े : भारत के 20 ऐसे आकर्षक स्थल जहां आपको 30 साल के होने से पहले घूम आना चाहिए

भारत से भूटान कैसे पहुंचें – How To Go Bhutan From India In Hindi

जयगांव भारत-भूटान सीमा पर स्थित एक भारतीय शहर है, जो भूटान के फुंटशोलिंग (Phuentsholing) से लगा हुआ है। भूटान में प्रवेश करने के लिए परमिट प्राप्त करने की सभी प्रक्रिया यहाँ आव्रजन कार्यालय में की जाती हैं।

भूटान पहुंचने का सस्ता विकल्प – How To Reach Bhutan In Cheap In Hindi

अगर आप भूटान के लिए एक सस्ती और आरामदायक यात्रा करना चाहते हैं तो बता दें कि आप भारत के किसी भी शहर से बागडोगरा (Bagdogra) के लिए फ्लाइट ले सकते हैं। यहां उतरने के बाद आप जयगांव के लिए टैक्सी किराए पर ले सकते हैं जिसके लिए आपको लगभग 2500 रूपये किराया देना होगा। बागडोगरा से जयगांव पहुंचने में लगभग चार से पांच घंटे लगते हैं। इसके बाद आप जलगाँव से फुंटशोलिंग के लिए यात्रा कर सकते हैं।

अपनी खुद की कार / मोटरबाइक से भूटान कैसे पहुचें – How To Travel To Bhutan By Motorcycle In Hindi

अपनी खुद की कार / मोटरबाइक से भूटान कैसे पहुचें – How To Travel To Bhutan By Motorcycle In Hindi

अगर आप भूटान की यात्रा अपनी खुद की कार या बाइक से करना चाहते हैं तो आप 100-200 रूपये के शुल्क का भुगतान करके फुंटशोलिंग (Phuentsholing) में क्षेत्रीय परिवहन कार्यालय (Regional Transport Office) से अपने वाहन के लिए परमिट प्राप्त कर सकते हैं।

हवाई मार्ग से भूटान कैसे पहुंचें – How To Reach Bhutan By Airplane In Hindi

हवाई मार्ग से भूटान कैसे पहुंचें - How To Reach Bhutan By Airplane In Hindi

पारो अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा भूटान का एकमात्र हवाई अड्डा है। यह देश के दक्षिण-पश्चिम में स्थित है बैंकॉक, दिल्ली, कोलकाता, बोधगया, बागडोगरा, गुवाहाटी, काठमांडू और ढाका से जुड़ा हुआ है।

ड्रक एयर भूटान का आधिकारिक विमानवाहक पोत है और यह एकमात्र एयरलाइन भी है जो भूटान (पारो) से दिल्ली, बागडोगरा, कोलकाता, बैंकॉक, गया, ढाका और काठमांडू के लिए नियमित उड़ानें संचालित करता है। भारत से भूटान की यात्रा करने के इच्छुक लोगों को यह बता दें कि बागडोगरा (Bagdogra) भारत में पारो का निकटतम हवाई अड्डा है और यह भारत के पश्चिम बंगाल राज्य में स्थित है।

सड़क मार्ग से भूटान कैसे जाये – How To Reach Bhutan By Road In Hindi

सड़क मार्ग से भूटान कैसे जाये - How To Reach Bhutan By Road In Hindi

भारतीय पर्यटक भूटान तक बस द्वारा भी पहुंच सकते हैं। भारत से भूटान के लिए कोलकाता> सिलीगुड़ी> हासीमारा से जयगांव-फुंटशोलिंग तक बसें उपलब्ध हैं। टिकट की कीमतें लगभग 300 से 700 के बीटीएन (BTN) होती हैं।

और पढ़े : भारत के 7 एडवेंचर स्पोर्ट्स जो आपको उत्साह से भर देंगे

भूटान का नक्शा – Bhutan Map

भूटान की फोटो गैलरी – Bhutan Images

और पढ़े :

Leave a Comment