Generic selectors
Exact matches only
Search in title
Search in content
Search in posts
Search in pages

Tourist Places In Alwar In Hindi, अलवर राजस्थान का एक प्रमुख पर्यटन शहर है जो दिल्ली से राजस्थान की यात्रा करते समय सबसे पहले आता है। अलवर दिल्ली से 150 किलोमीटर और जयपुर शहर से 150 किलोमीटर उत्तर में स्थित है। अलवर शहर भानगढ़ किले, झीलों, सरिस्का टाइगर रिजर्व और हेरिटेज हेरलिस जैसे पर्यटन स्थलों की वजह से काफी लोकप्रिय है। राज्य का एक लोकप्रिय पर्यटन स्थल होने के साथ ही यह कई बॉलीवुड फिल्मों की शूटिंग की वजह से भी काफी फेमस है। अगर आप अलवर शहर की यात्रा करने की योजना बना रहे हैं तो आप यहां बाला-क्विला, भानगढ़ किला, पांडु पोल और अन्य मंदिरों को देखने के लिए जा सकते हैं। इस लेख में हम अलवर शहर की जानकारी दे रहे हैं इसके साथ ही अलवर के प्रमुख पयर्टन स्थलों के बारे में भी बता रहे हैं।

अलवर का इतिहास – Alwar History In Hindi

अलवर का 10 प्रमुख पर्यटन स्थल – Alwar Ke 10 Pramukh Paryatan Sthal In Hindi

  1. अलवर के दर्शनीय स्थल बाला किला – Alawar Ke Darshiya Sthal Bala Quila Fort In Hindi
  2. अलवर का भानगढ़ किला – Alwar Ka Bhangarh Kila In Hindi
  3. अलवर में घूमने की जगह सिलिसर लेक पैलेस – Alwar Me Ghumne Ki Jagha Siliserh Lake Palace In Hindi
  4. अलवर के पर्यटन स्थल सरिस्का वन्यजीव अभयारण्य – Alwar Ke Paryatan Sthal Sariska Wildlife Sanctuary In Hindi
  5. अलवर में देखने की जगह सरिस्का पैलेस – Alwar Me Dekhne Ki Jagha Sariska Palace In Hindi
  6. अलवर में घूमने लायक जगह केसरोली – Alwar Me Ghumne Layak Jagha Kesroli In Hindi
  7. अलवर में देखने की जगह सिटी पैलेस – Alwar Me Dekhne Ki Wajha City Palace In Hindi
  8. अलवर के धार्मिक स्थल नीलकंठ महादेव मंदिर – Alwar Ke Dharmik Sthal Neelkanth Mahadev Temple In Hindi
  9. अलवर के धार्मिक स्थल मोती डूंगरी – Alwar Ke Dharmik Sthal Moti Dungri In Hindi
  10. अलवर के पर्यटन स्थल विजय मंदिर महल – Alwar Ke Paryatan Sthal Vijay Mandir Palace In Hindi
  11. अलवर के प्रमुख मंदिर पांडुपोल – Alwar Ke Pramukh Mandir Pandupol In Hindi
  12. मूसी महारानी की छतरी अलवर – Moosi Maharani ki Chhatri, Alwar In Hindi

अलवर में रेस्तरां और स्थानीय भोजन – Restaurants And Local Food In Alwar In Hindi

अलवर जाने का सबसे अच्छा समय – What Is The Best Time To Visit Alwar In Hindi

अलवर कैसे पहुँचे – How To Reach Alwar In Hindi

  1. फ्लाइट से अलवर कैसे पहुंचें – How To Reach Alwar By Flight In Hindi
  2. अलवर तक सड़क मार्ग से कैसे पहुंचे – How To Reach Alwar By Road In Hindi
  3. ट्रेन से अलवर तक कैसे पहुंचे – How To Reach Alwar By Train In Hindi

अलवर की लोकेशन का मैप – Alwar Location

अलवर की फोटो गैलरी – Alwar Images

1. अलवर का इतिहास – Alwar History In Hindi

अलवर का इतिहास- Alwar History In Hindi

1106 में विक्रमी संवत आमेर का राजा ने अपने नाम के तहत अलपुर शहर की स्थापना की, जो बाद में अलवर बन गया। इस शहर पर कई राजपूत राजाओं ने शासन किया है जिनमें खानजादा राजपूत, निकुंभ राजपूत, बडगुजर राजपूत और अंत में नरुका राजपूत के नाम शामिल है। राजपूत राजा ने प्रताप सिंह ने एक समझौते पर भरतपुर के जाट राजा से अलवर किले पर कब्जा कर दिया था और उन्होंने आधुनिक अलवर की नींव रखी जो उपनिवेशवाद के दौरान एक रियासत बन गया। 18 मार्च 1948 में राज्य का तीन 3 पड़ोसी रियासतों- भरतपुर, धौलपुर और करौली में मिल गया था। 15 मई 1948 को में अलवर को पड़ोसी रियासतों और अजमेर के क्षेत्र में आधुनिक राजस्थान बनाने के लिए जोड़ा गया। इसके बाद इसको राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र भी बनाया गया, जिसके बाद इसका तेजी से विकास हुआ।

2. अलवर का 10 प्रमुख पर्यटन स्थल – Alwar Ke 10 Pramukh Paryatan Sthal In Hindi

अलवर राजस्थान का एक प्रमुख शहर है और इसके साथ साथ यह अपनी खास पर्यटन स्थलों की वजह से यहां आने वाले पर्यटकों के आकर्षण का केंद्र भी है। अगर आप अलवर शहर की यात्रा करने जा रहे हैं तो हम आपको यहां अलवर के 10 प्रमुख पर्यटन स्थलों के बारे में बता रहे हैं जहां आपको जरुर जाना चाहिए।

और पढ़े: राजस्थान के 10 प्रमुख पर्यटन स्थल

2.1 अलवर के दर्शनीय स्थल बाला किला – Alawar Ke Darshiya Sthal Bala Quila Fort In Hindi

अलवर के दर्शनीय स्थल बाला किला- Alawar Ke Darshiya Sthal Bala Quila Fort In Hindi

Image Credit: Sunil Kataria

बाला किला या अलवर किला अलवर शहर के ऊपर अरावली रेंज में स्थित है। यह किला अलवर शहर के प्रमुख पर्यटन शहरों में से एक है जिसका निर्माण 15 वीं शताब्दी में हसन खान मेवाती द्वारा किया गया था। बाला किला अलवर शहर में 300 मीटर ऊंची चट्टान के ऊपर स्थित है जो शहर को एक राजसी दृश्य प्रदान करता है। अगर आप बाला किला घूमने के लिए जाते हैं तो यहां का हर हिस्सा अपने इतिहास को बताता है।

2.2 अलवर का भानगढ़ किला – Alwar Ka Bhangarh Kila In Hindi

अलवर का भानगढ़ किला- Alwar Ka Bhangarh Kila In Hindi

भानगढ़ का किला अलवर जिले की अरावली पर्वतमाला में सरिस्का अभ्यारण्य पर स्थित है। यह किला ढलान वाले इलाके में पहाड़ियों के तल पर बसा हुआ है जो देखने में बेहद भयानक लगता है। भानगढ़ किला अलवर शहर का एक बेहद प्रसिद्ध पर्यटन स्थल है जो अपनी भुतिया किस्सों की वजह से सबसे ज्यादा चर्चा में बना रहता है। भानगढ़ किला यहां होने वाली घटनायों की वजह से इतना ज्यादा फेमस है कि कोई भी इस किले के अंदर अकेला जाने से डरता है। भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण या एएसआई ने इस किले में रात के समय पर्यटकों और स्थानीय लोगों के प्रवेश पर भी रोक लगा रखी है।

और पढ़े: भानगढ़ किले का रहस्य और खास बाते

2.3 अलवर में घूमने की जगह सिलिसर लेक पैलेस – Alwar Me Ghumne Ki Jagha Siliserh Lake Palace In Hindi

अलवर में घूमने की जगह सिलिसर लेक पैलेस- Alwar Me Ghumne Ki Jagha Siliserh Lake Palace In Hindi

सिलिसर लेक अलवर शहर का एक अद्भुत पर्यटक आकर्षण है जो कई मज़ेदार गतिविधियों और स्थानों से भरा हुआ है। सिलिसर लेक 7 वर्ग किलोमीटर के एक बड़े क्षेत्र में फैली हुई है जो यहां आने वाले पर्यटकों और यात्रियों को तरोताजा कर देती हैं। यह झील क्षेत्र एक प्रसिद्ध पिकनिक स्पॉट है जो पर्यटकों द्वारा बेहद पसंद किया जाता है।

और पढ़े: जोधपुर के दर्शनीय स्थल

2.4 अलवर के पर्यटन स्थल सरिस्का वन्यजीव अभयारण्य – Alwar Ke Paryatan Sthal Sariska Wildlife Sanctuary In Hindi

अलवर के पर्यटन स्थल सरिस्का वन्यजीव अभयारण्य- Alwar Ke Paryatan Sthal Sariska Wildlife Sanctuary In Hindi

Image Credit: Piyush Rathi

सरिस्का वन्यजीव अभयारण्य अलवर शहर का एक प्रमुख पर्यटन स्थल है जो लगभग 800 वर्ग किलोमीटर के क्षेत्र में फैला हुआ है। यह अभयारण्य घास के मैदान, शुष्क पर्णपाती वन, चट्टानों को कवर करता है जिसको अब सरिस्का टाइगर रिजर्व के रूप में जाना जाता है। यह बाघों (रणथंभौर से) को सफलतापूर्वक स्थानांतरित करने वाला पहला बाघ अभयारण्य है और यहां तांबे जैसे खनिज संसाधनों की प्रचुर मात्रा पाई जाती है। सरिस्का इतिहास प्रेमियों के साथ-साथ प्रकृति प्रेमियों, वन्यजीव उत्साही लोगों के लिए अलवर शहर में घूमने की सबसे अच्छी जगहों में से एक है।

2.5 अलवर में देखने की जगह सरिस्का पैलेस – Alwar Me Dekhne Ki Jagha Sariska Palace In Hindi

अलवर में देखने की जगह सरिस्का पैलेस- Alwar Me Dekhne Ki Jagha Sariska Palace In Hindi

Image Credit: Gaurav Sikdar

सरिस्का पैलेस का निर्माण अलवर के महामहिम महाराजा सवाई जय सिंह द्वारा 1892 ने करवाया था। भव्य सरिस्का पैलेस अलवर शहर में देखने की सबसे अच्छी जगह है। इस खूबसूरत महल का हर कौना बेहद आकर्षित है। यह भव्य महल 20 एकड़ के हरे भरे परिदृश्य में फैला है जो पर्यटकों को अपनी भव्यता में डूबने पर मजबूर कर देता है। सरिस्का पैलेस की सुंदरता का सबसे मुख्य कारण है कि यह सरिस राष्ट्रीय उद्यान के किनारे पर स्थित है। महाराजा सवाई जय सिंह इस खूबसूरत महल को अपने मेहमानों और खुद के लिए शिकार लॉज के रूप में बनाया था। बता दें कि सरिस्का पैलेस अब 5 स्टार होटल के रूप में पर्यटकों के लिए खुला है और राजस्थान के सबसे लोकप्रिय धरोहर होटलों में से एक है।

2.6 अलवर में घूमने लायक जगह केसरोली – Alwar Me Ghumne Layak Jagha Kesroli In Hindi

अलवर में घूमने लायक जगह केसरोली- Alwar Me Ghumne Layak Jagha Kesroli In Hindi

केसरोली अलवर के दुर्लभ होटलों में से एक है जो 14 वीं शताब्दी से अस्तित्व में है। हिल फोर्ट-केसरोली उन लोगों के लिए बहुत अच्छी जगह है जो अपने शहर से दूर हफ्ते भर की छुट्टी मानाने के लिए किसी जगह की तलाश में हैं। नीमराना का हिल फोर्ट-केस्रोली एक शानदार प्राचीन विरासत महल है जो किसी को भी इतिहास में वापस ले जाता है। इस होटल में एक बड़ा स्विमिंग पूल और एक सुंदर बगीचे के साथ कई शानदार सुविधाएं भी हैं। इस होटल के कमरों को पूरी तरह से राजस्थानी शैली में सजाया गया है जो पर्यटकों को रॉयल्टी का अहसास कराते हैं। अगर आप अलवर शहर की यात्रा करने के लिए आ रहे हैं तो इस केसरोली को देखने जरुर जाएँ।

और पढ़े: माउंट आबू घूमने की पूरी जानकारी और 11 खास जगह

2.7 अलवर में देखने की जगह सिटी पैलेस – Alwar Me Dekhne Ki Wajha City Palace In Hindi

अलवर में देखने की जगह सिटी पैलेस- Alwar Me Dekhne Ki Wajha City Palace In Hindi

सिटी पैलेस अलवर में देखने की सबसे अच्छी जगहों में से एक है जिसको विनय विलास महल के रूप में भी जाना जाता है। यह महल मुगल और राजस्थानी डिजाइन के सुंदर मिश्रण के साथ वास्तुकला का एक चमत्कार है जो आपको शाही जीवन शैली की झलक देता है। सिटी पैलेस की दीवार, छत पर भित्ति चित्र और मिरर वर्क इस महल को बेहद आकर्षित बनाते हैं।

2.8 अलवर के धार्मिक स्थल नीलकंठ महादेव मंदिर – Alwar Ke Dharmik Sthal Neelkanth Mahadev Temple In Hindi

नीलकंठ मंदिर टाइगर रिजर्व में लगभग 30 किमी दूर कुछ मंदिरों का एक समूह है जो अब लगभग एक खंडहर बन चुका है लेकिन आज भी यहां के स्थानीय लोग यहां रिज़र्व में स्थित कई मंदिरों में विश्वास रखते हैं। नीलकंठ मंदिर अपने धामिक महत्त्व, उत्कृष्ट पत्थर की नक्काशी और यहां के हरे-भरे जंगलों के लिए अलवर का एक प्रमुख स्थल है।

2.9 अलवर के धार्मिक स्थल मोती डूंगरी – Alwar Ke Dharmik Sthal Moti Dungri In Hindi

अलवर के धार्मिक स्थल मोती डूंगरी- Alwar Ke Dharmik Sthal Moti Dungri In Hindi

Image Credit: Sandeep Yadav

मोती डूंगरी अपने सूने महल, गणेश और लक्ष्मी नारायण मंदिरों के लिए बेहद प्रसिद्ध है और अलवर आने वाले पर्यटकों का एक पसंदिता स्थान है। यहां पर पहाड़ी की तलहटी में स्थित गणेश मंदिर न केवल भक्तों बल्कि दर्शनार्थियों को भी अपनी तरफ आकर्षित करता है। बिरला मंदिर यहां का एक और बड़ा आकर्षण है जो पर्यटकों को अपनी सुंदरता से रोमांचित कर देता है।

और पढ़े: जल महल पानी पर तैरता राजस्थान का आकर्षण 

2.10 अलवर के पर्यटन स्थल विजय मंदिर महल – Alwar Ke Paryatan Sthal Vijay Mandir Palace In Hindi

अलवर के पर्यटन स्थल विजय मंदिर महल- Alwar Ke Paryatan Sthal Vijay Mandir Palace In Hindi

विजय मंदिर महल अलवर शहर के केंद्र से 10 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है और अलवर के सबसे खास पर्यटन स्थलों में से एक है। बताया आता है कि विजय मंदिर पैलेस को जुनूनी राजा जय सिंह ने अपनी जुनून के परिणामस्वरूप बनाया था। जय सिंह वास्तुकला के संरक्षक थे, और उन्हें खूबसूरत महल बनाने का जूनून था। विजय मंदिर महल झील के पास शानदार उद्यानों के बीच में स्थित है और इसमहल में 105 कमरे हैं जो अच्छी तरह से सजे हुए हैं। महल के एक प्रमुख आकर्षण सीता राम मंदिर में रामनवमी के दौरान भक्तों की भारी भीड़ उमड़ पड़ती है।

2.11 अलवर के प्रमुख मंदिर पांडुपोल – Alwar Ke Pramukh Mandir Pandupol In Hindi

अलवर के प्रमुख मंदिर पांडुपोल- Alwar Ke Pramukh Mandir Pandupol In Hindi

Image Credit: Brijendra Bhardwaj

पांडुपोल एक हनुमान मंदिर है, अलवर के प्रमुख मंदिरों में से एक है। यह मंदिर सरिस्का के जंगलों के अंदर स्थित है। एक पौराणिक कथा के अनुसार इस मंदिर में पांडवों ने अपना गुप्त समय बिताया था। अन्य मंदिरों से बिलकुल अलग यहां पर हनुमान की मूर्ति एक वैराग्य की स्थिति में है।

2.12 मूसी महारानी की छतरी अलवर – Moosi Maharani ki Chhatri, Alwar In Hindi

मूसी महारानी की छतरी अलवर - Moosi Maharani ki Chhatri, Alwar In Hindi

राजस्थान के राजपूत वास्तुकला में गर्व और सम्मान का चित्रण करने के लिए आमतौर पर छत्रियों का उपयोग किया जाता है।
महाराजा बख्तावर सिंह और उनकी रानी मूसी (Queen Rani Moosi) की शाही समाधि (cenotaph), को इस स्मारक के मुख्य महल की इमारत के बाहर रखा गया है। यह अलवर के शासकों का एक सुंदर लाल बलुआ पत्थर और सफेद संगमरमर का स्मारक है।

और पढ़े: बीकानेर घूमने की जानकारी और टॉप 20 दर्शनीय स्थल

3. अलवर में रेस्तरां और स्थानीय भोजन – Restaurants And Local Food In Alwar In Hindi

अलवर में रेस्तरां और स्थानीय भोजन-Restaurants And Local Food In Alwar In Hindi

अलवर शहर अलवर का मावा (दूध का केक) और कलाकंद का घर है। यह मिठाइयाँ शहर की परिभाषा है जिनका स्वाद लिए बिना आपकी यात्रा पूरी नहीं होगी। अलवर आपको लोकप्रिय राजस्थानी व्यंजन और नाश्ते की एक विस्तृत श्रृंखला प्रदान करता है। यहां शहर के रेस्टोरेंट के मेनू में पुरी, दाल बाटी चोइर्मा, रबड़ी, लस्सी, गट्टे की सब्जी जैसे व्यंजन शामिल होते हैं।

4. अलवर जाने का सबसे अच्छा समय – What Is The Best Time To Visit Alwar In Hindi

अलवर जाने का सबसे अच्छा समय- What Is The Best Time To Visit Alwar In Hindi

अगर आप अलवर शहर के पर्यटन स्थलों की यात्रा करने की योजना बना रहे हैं तो आपको बता दें कि यहां की यात्रा के लिए अक्टूबर से मार्च का समय साल के अन्य महीनों की अपेक्षा काफी सुखद होते हैं। गर्मियों के मौसम में अलवर का तापमान 50 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच जाता है, इसलिए गर्मियों के मौसम में इस शहर की यात्रा करने से बचें। रक्षाबंधन के मौके पर यहां पतंगबाजी प्रतियोगिता आयोजित की जाती है।

5. अलवर कैसे पहुँचे – How To Reach Alwar In Hindi

अलवर शहर का निकटतम हवाई अड्डा दिल्ली हवाई अड्डा (163 किमी) है, इस हवाई अड्डे से आप अलवर के लिए कैब ले सकते हैं। अलवर बस सेवा के माध्यम राज्य के प्रमुख शहरों से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है। इस शहर में ट्रेन की कनेक्टिविटी भी काफी अच्छी है। अलवर के लिए ट्रेन से जाना एक अच्छा विकल्प है क्योंकि ट्रेन यात्रा के दौरान कई शानदार दृश्य देखने को मिलते हैं।

और पढ़े:उदयपुर के प्रमुख पर्यटन स्थल

5.1 फ्लाइट से अलवर कैसे पहुंचें –  How To Reach Alwar By Flight In Hindi

फ्लाइट से अलवर कैसे पहुंचें- How To Reach Alwar By Flight In Hindi

अलवर के लिए कोई सीधी फ्लाइट कनेक्टिविटी नहीं है। अलवर का निकटतम हवाई अड्डा जयपुर में है जो 165 किमी दूर स्थित है। हवाई अड्डे से अलवर पहुंचने के लिए आप टैक्सी किराए पर ले सकते हैं या फिर इस रूट पर नियमित चलने वाली बसों की मदद भी ले सकते हैं।

5.2 अलवर तक सड़क मार्ग से कैसे पहुंचे – How To Reach Alwar By Road In Hindi

अलवर तक सड़क मार्ग से कैसे पहुंचे-How To Reach Alwar By Road In Hindi

राज्य के विभिन्न शहरों से अलवर के लिए नियमित बस सेवाएं उपलब्ध हैं। चाहे दिन हो या रात इस रूट पर नियमित बड़े उपलब्ध रहती हैं। जयपुर, जोधपुर आदि स्थानों से आप अलवर के लिए शेयर टैक्सी या कैब किराए पर भी ले सकते हैं।

5.3 ट्रेन से अलवर तक कैसे पहुंचे – How To Reach Alwar By Train In Hindi

ट्रेन से अलवर तक कैसे पहुंचे- How To Reach Alwar By Train In Hindi

अलवर जंक्शन, अलवर शहर का प्रमुख रेलवे स्टेशन है जहां के लिए भारत और राज्य के कई प्रमुख शहरों से नियमित ट्रेन संचालित हैं।

और पढ़े: पिंक सिटी जयपुर में घूमने की 10 खास जगह

6. अलवर की लोकेशन का मैप – Alwar Location

7. अलवर की फोटो गैलरी – Alwar Images

View this post on Instagram

#place #visit #photography #nokia #noedit #moodtoclick

A post shared by Manish Kumar (@789manishpatel) on

और पढ़े:

Write A Comment