दिल्ली की मशहूर जगह राजघाट घूमने की जानकारी – Rajghat Information In Hindi

Rajghat In Hindi, राजघाट नई दिल्ली में स्थित एक स्मारक है, भारत के राष्ट्र पिता महात्मा गांधी को समर्पित है। इस स्मारक को बिरला हाउस में गांधी जी की हत्या के बाद के बनाया गया था। पहले यमुना नदी के तट पर एक प्राचीन घाट को राज घाट कहा जाता था। राज घाट मुख्य रूप से बारह फीट चौकोर मंच है जिसका निर्माण काले संगमरमर से किया गया है। यह मंच उस जगह का प्रतिनिधित्व करता है जहां महात्मा गांधी की मृत्यु के बारे उनका अंतिम संस्कार किया गया था। तभी से इस स्थान पर भारतीय और विदेशी लोग राष्ट्र पिता को सम्मान देने के लिए आते हैं। जो भी पर्यटन राज घाट की यात्रा करते हैं उन्हें यहां प्रवेश करने से पहले अपने जूते को उतारना अनिवार्य है।

महात्मा गांधी का स्मारक होने साथ ही राजघाट गांधी जी के शानदार जीवन को भी प्रस्तुत करता है। गांधीजी के दर्शन को राजघाट स्थित गांधी स्मारक संग्रहालय में चित्र, मूर्तिकला और तस्वीरों के माध्यम से पेश किया गया है। यहां पर उनके जीवन को और सर्वोदय आंदोलन को भी फिल्म के माध्यम से दिखाया जाता है। अगर आप राजघाट के बारे में और जानना चाहते हैं या यहां जाने की योजना बना रहें हैं तो यह लेख आपके बेहद काम कर है। यहां हम राज घाट के बारे में पूरी जानकारी देने जा रहें हैं।

दिल्ली के राजघाट का इतिहास – Raj Ghat History In Hindi

दिल्ली के राजघाट का इतिहास – Raj Ghat History In Hindi
Image Credit : Mithun Tahaan

राजघाट, यमुना नदी के काफी करीब स्थित है जिसे एक ऐतिहासिक घाट के रूप में जाना जाता था। यहां ‘राज घाट गेट’ नदी के राज घाटओअर खोला गया है। आज इस पूरे क्षेत्र को राज घाट के रूप में जाना जाने लगा है। इस जगह पर महात्मा गांधी की हत्या के एक दिन बाद 31 जनवरी 1948 को उनका अंतिम संस्कार किया गया था।

और पढ़े : लाल किला दिल्ली के बारे में पूरी जानकारी

राजघाट की वास्तुकला – Architecture Of Rajghat In Hindi

राजघाट में स्थित स्मारक एक काले संगमरमर की संरचना है, जो जमीन पर उठाया गया है और महात्मा गांधी “हे राम” द्वारा कहे गए अंतिम शब्दों को उद्धृत करता है। यहां स्मारक के ऊपर एक दीपक में लौ जलती रहती है। इस स्मारक का डिजाइन की परिकल्पना वनू जी भुट्टा ने कि थी और यह गांधीजी की सरल जीवन शैली का प्रतिबिंब है। इस जगह पर क्वीन एलिजाबेथ द्वितीय, आइजनहावर, हो ची मिन्ह और कई अन्य लोगों द्वारा लगाये गए पेड़ों से घिरा एक एक सुंदर पार्क है।

राष्ट्रीय गांधी संग्रहालय – National Gandhi Museum In Hindi

राष्ट्रीय गांधी संग्रहालय - National Gandhi Museum In Hindi
Image Credit : Amandeep Singh

राष्ट्रीय गांधी संग्रहालय राजघाट के परिसर में एक संग्रहालय है, जो राष्ट्रपिता को समर्पित है। 30 जनवरी 1948 को महात्मा गांधी की हत्या के बाद कलेक्टरों ने उनसे संबंधित सभी कलाकृतियों की तलाश शुरू की। इन कलाकृतियों को एकत्र करके पहले मुंबई ले जाया गया, जहाँ से उन्हें 1951 में कोटा हाउस ले जाया गया और फिर 1957 में हवेली ले जाया गया। इसके बाद 1959 में उनके स्मारक के बगल में राजघाट के बगल में राजेंद्र प्रसाद द्वारा राष्ट्रीय गांधी संग्रहालय खोला गया, जो उस समय भारत के राष्ट्रपति थे।

गांधी संग्रहालय में एक पुस्तकालय है जहां पर कई अध्ययन सामग्री रखी गई है। बता दें कि पुस्तकालय को दो वर्गों में विभाजित है जिसमें से एक पूरी तरह से महात्मा गांधी पर केंद्रित है और दूसरे में अन्य कई विषयों से संबधित पुस्तक रखी हुई हैं। आपको जानकारी हैरानी होगी कि वर्तमान में इस संग्रहालय के पुस्तकालय में 35,000 से अधिक पुस्तकें रखी हुई हैं। पुस्तकालय में गांधी के जीवन को दर्शाने वाली 2,000 पत्रिकाओं का संग्रह भी देखा जा सकता है।

इन सभी के अलावा संग्रहालय की एक गैलरी में उनकी व्यक्तिगत कलाकृतियाँ पेंटिंग्स, छड़ी, शॉल, धोती और जिस गोली से उनकी हत्या की गई थी वह गोली भी प्रदर्शित की गई है।

और पढ़े : दिल्ली हाट बाजार की पूरी जानकारी

राजघाट दिल्ली के आसपास में घूमने लायक जगह – Places To Visit Near Rajghat Delhi In Hindi

अगर आप दिल्ली में राज घाट की यात्रा करने के लिए जा रहें हैं तो यहां आप आसपास के अन्य आकर्षणों जैसे खुनी दरवाजा, विजय घाट, वीर भूमि, शक्तिस्थल का दौरा भी कर सकते हैं।

राजघाट की यात्रा के लिए टिप्स – Tips For Visiting Rajghat In Hindi

राजघाट की यात्रा के लिए टिप्स - Tips For Visiting Rajghat In Hindi

  • अगर आप राजघाट की यात्रा करने जा रहे हैं तो वहां अनावश्यक शोर न मचाएं।
  • पार्क के आसपास या राजघाट के आसपास कचरा कूड़ा न रखें।
  • प्रवेश करने से पहले अपने जूते अवश्य निकाल लें।
  • अगर आप सर्दी के मौसम में यात्रा कर रहें हैं तो अपने साथ गर्म कपड़े ले जाना न भूलें।

राज घाट के खुलने और बंद होने का समय – Raj Ghat Timing In Hindi

राज घाट के खुलने और बंद होने का समय - Raj Ghat Timing In Hindi
Image Credit : Dravid Sonowal

राज घाट पर्यटकों के लिए सुबह 6:30 से शाम 6:00 बजे तक खुला रहता है। आपको बता दें कि यह सप्ताह के सभी दिनों में खुला रहता है। हर सप्ताह के प्रत्येक शुक्रवार को शाम 5:30 बजे राज घाट पर एक विशेष प्रार्थना सभा आयोजित की जाती है। अगर आप इस सभा प्रार्थना का हिस्सा बनना चाहते हैं तो शाम के समय दौरा कर सकते हैं।

और पढ़े : दिल्ली के लोटस टेंपल घूमने की जानकरी

राजघाट दिल्ली कैसे पहुँचे – How To Reach Rajghat Delhi In Hindi

राजघाट दिल्ली कैसे पहुँचे - How To Reach Rajghat Delhi In Hindi

अगर आप दिल्ली के राज घाट का दौरा करने के लिए जा रहें हैं तो बता दें कि यहां पहुंचने के लिए बहुत सारे विकल्प हैं। राज घाट का निकटतम मेट्रो स्टेशन नई दिल्ली रेलवे स्टेशन है। नई दिल्ली मेट्रो स्टेशन से चांदनी चौक के बीच की दूरी लगभग 3 किलोमीटर है। आप नई दिल्ली से आप राज घाट तक पहुँचने के लिए ऑटो या ई-रिक्शा भी किराए पर ले सकते हैं। इसके अलावा अगर आप बस से यात्रा करना चाहते हैं तो बता दें कि बस नंबर बस नं 331 और 753 आपको राजघाट पहुंचा देंगी।

राजघाट दिल्ली का नक्शा – Rajghat Delhi Map

राजघाट की फोटो गैलरी – Rajghat Images

View this post on Instagram

Hate the sin, love the sinner – Mahatma gandhi 😌

A post shared by cLick.ShoOt.LoVe🤗 (@click.shoot.love6) on

और पढ़े :

Leave a Comment