सिकंदर लोदी का मकबरा घूमने जाने की पूरी जानकारी – Tomb Of Sikandar Lodhi In Hindi

Sikandar Lodi Tomb In Hindi, सिकंदर लोदी का मकबरा दिल्ली में उद्यानों के हरे-भरे फूलों के बीच स्थित है, जो बड़ी संख्या में पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करता है। आपको बता दें कि सिकंदर लोदी, लोदी वंश का दूसरा शासक था, जिसे यह ऐतिहासिक स्मारक समर्पित है। सिकंदर लोदी का मकबरा, सिकंदर लोदी की कब्र है जो दक्षिण दिल्ली में खैरपुर गांव में स्थित है। यह आकर्षक मकबरा इंडो-इस्लामिक स्थापत्य शैली का एक अच्छा नमूना है जो दिल्ली में देखने और घूमने की सबसे अच्छी जगहों में से एक है। बता दें कि सिकंदर लोदी के मकबरे का निर्माण उसके पुत्र इब्राहिम लोदी ने 1517 ई में अपने पिता सिकंदर की मृत्यु के बाद करवाया था।

इस मकबरे में बने गुंबद की वास्तुकला संरचना ऐसी है जिसे देखने में ऐसा लगता है कि यह मकबरा दो मंजिला है। सिकंदर लोदी का मकबरा एक उत्थानित आयताकार बरामदे में स्थित है जो हर तरफ तीन लंबे मेहराबों के साथ बना हुआ है, जो सभी कक्ष की ओर ले जाते हैं। अगर आप सिकंदर लोदी के मकबरे के बारे में अन्य और जानना चाहते हैं तो इस लेख को अवश्य पढ़ें, यहां हम आपको इस मकबरे के बारे में पूरी जाकारी देने जा रहें हैं।

सिकंदर लोदी के मकबरे का इतिहास – Tomb Of Sikandar Lodhi History In Hindi

सिकंदर लोदी के मकबरे का इतिहास - Tomb Of Sikandar Lodhi History In Hindi
Image Credit : Eklavya Misra

सिकंदर लोदी का मकबरा एक एतिहासिक संरचना है जो इतिहास प्रेमियों के लिए स्वर्ग के समान है। आपको बता दें कि यह मकबरा दिल्ली में एक महत्वपूर्ण स्थान है, जो भारतीय शिल्प के स्पर्श के साथ मुगल वास्तुकला का एक शानदार उदाहरण है। सिकंदर लोदी, लोदी वंश का दूसरा शासक था। अपने पिता बहलोल लोदी की मृत्यु के बाद सिकंदर लोदी ने 1489-1517 ई के बीच शासन किया था। 1517 ई में सिकंदर लोदी की मृत्यु के बाद उसके पुत्र इब्राहिम लोदी ने अपने पिता की याद में इस राजसी मकबरे का निर्माण कराया। बता दें कि इस आकर्षक अष्टकोणीय मकबरे का निर्माण पूरा होने में लगभग एक वर्ष का समय लगा। यह मकबरा आंशिक रूप से मुहम्मद शाह के मकबरे से प्रेरित था, जिसमें अन्य कुछ मुग़ल स्मारकों की तरह जैसे बारा गुम्बद और शीश गुम्बद के साथ उद्यान है।

और पढ़े : दिल्ली का तीन मूर्ति भवन के बारे में जानकारी 

सिकंदर लोदी के मकबरे की वास्तुकला – Sikandar Lodi Tomb Architecture Of In Hindi

सिकंदर लोदी के मकबरे की वास्तुकला - Sikandar Lodi Tomb Architecture Of In Hindi
Image Credit : Ritik Bansal

सिकंदर लोदी मकबरा एक बहुत ही शानदार संरचना है जिसका सबसे बड़ा आकर्षण बाड़ा गुम्बद और शीश गुम्बद है। बारा गुम्बद का मतलब बड़ा गुंबद, एक प्रवेश द्वार है जो तीन गुंबद वाली मस्जिद को जोड़ता है। इस मकबरे में शीश गुम्बद कांच का गुंबद है, जिसमें चमकदार टाइल्स लगे हैं, जो शानदार चमक देते हैं। इसी वजह से इसका नाम शीश गुम्बद रखा गया है।

सिकंदर लोदी के मकबरे की यात्रा के दौरान करने के लिए – Things To Do Around Tomb Of Sikandar Lodi In Hindi

सिकंदर लोदी के मकबरे की यात्रा के दौरान करने के लिए - Things To Do Around Tomb Of Sikandar Lodi In Hindi
Image Credit : Siknder Hassan
  • अगर आप दिल्ली की यात्रा करने जा रहें हैं तो आपको लोधी का मकबरा देखने के लिए अवश्य जाना चाहिए। लोदी मकबरा आकर्षक मुग़ल वास्तुकला का शानदार नमूना है जो इतिहास प्रेमियों और वास्तुशिल्प प्रेमियों के लिए आदर्श जगह है।
  • जो भी लोग ऐतिहासिक कहानियों में गहरी दिलचस्पी रखते हैं वे लोग इस मकबरे को देखने के लिए आ सकते हैं। इसके अलावा, लोदी उद्यान का 90 एकड़ का क्षेत्र मुहम्मद शाह और शीश गुम्बद के मकबरे जैसे अन्य ऐतिहासिक स्मारकों को भी कवर करता है।
  • लोदी मकबरे से सिर्फ 100 मीटर की दूरी पर बारा गुंबद है। यह मकबरा लोदी उद्यान की विशाल हरियाली के बीच स्थित है, जहां पर स्थानीय लोग बड़ी संख्या में आते हैं।
  • यहां आप उद्यान में शांति भरे कुछ पल बिता सकते हैं और अगर आप सुबह के दौरान यहां आते हैं तो गार्डन में सैर का मजा ले सकते हैं।

और पढ़े : दिल्ली का पुराना किला घूमने की जानकारी

सिकंदर लोदी के मकबरा का प्रवेश शुल्क – Sikandar Lodhi Tomb Entry Fee In Hindi

अगर आप लोदी मकबरे के प्रवेश शुल्क के बारे में जानना चाहते हैं तो बता दें कि यहां प्रवेश करने के लिए भारतीयों को 25 रूपये देने होते हैं और विदेशी पर्यटकों को यहां प्रवेश के लिए 200 रूपये का भुगतान करना होता है। इसके अलावा यहां पर तस्वीरें लेंने पर कोई शुल्क नहीं लिया जाता। लेकिन अगर आप विडियो बनाना चाहते हैं तो इसके लिए आपको 25 रूपये का भुगतान करना होगा।

सिकंदर लोदी के मकबरे के खुलने और बंद होने का समय – Sikandar Lodi Tomb Timing In Hindi

सिकंदर लोदी के मकबरे के खुलने और बंद होने का समय - Sikandar Lodi Tomb Timing In Hindi
Image Credit : Himanshu Arora

सिकंदर लोदी का मकबरा सप्ताह के सभी दिनों में सुबह 5 बजे से रात 8 बजे तक खुला रहता है।

दिल्ली में सिकंदर लोदी मकबरा घूमने जाने का सबसे अच्छा समय – Best Time To Visit Sikandar Lodi Tomb In Hindi

दिल्ली में सिकंदर लोदी मकबरा घूमने जाने का सबसे अच्छा समय - Best Time To Visit Sikandar Lodi Tomb In Hindi

अगर आप सिकंदर लोदी का मकबरा या दिल्ली की यात्रा करना चाहते हैं तो बता दें कि यहां जाने का सबसे अच्छा समय अक्टूबर से मार्च का समय है। दिल्ली में गर्मियाँ बहुत तेज होती हैं और तापमान काफी ज्यादा बढ़ जाता है। इसलिए आपको गर्मी के मौसम में दिल्ली की यात्रा करने से बचना चाहिए। मॉनसून के दौरान तापमान में थोड़ी गिरावट आती है, लेकिन अगर आप दिल्ली के अन्य दर्शनीय स्थलों की यात्रा करना चाहते हैं तो बारिश वजह से आपकी योजना में बाधा आ सकती है।

और पढ़े : दिल्ली की मशहूर जगह कनॉट प्लेस घूमने की पूरी जानकारी

सिकंदर लोदी का मकबरा दिल्ली कैसे पहुँचे – How To Reach Sikandar Lodi Tomb Delhi In Hindi

सिकंदर लोदी का मकबरा दिल्ली कैसे पहुँचे - How To Reach Sikandar Lodi Tomb Delhi In Hindiजो भी पर्यटक दिल्ली की यात्रा पर है और लोदी मकबरे का दौरा करना चाहते हैं तो बता दें कि इस स्मारक का निकटतम मेट्रो स्टेशन जेएलएन स्टेडियम (JLN Stadium) है जो वायलेट लाइन पर स्थित है। इसके अलावा जोर बाग स्टेशन भी मकबरे के पास है जो ब्लू लाइन पर स्थित है। मकबरे तक पहुंचने के लिए बस रूट नंबर 794 से लोदी कॉलोनी द्वारा पहुंचा जा सकता है। अगर आप आरामदायक यात्रा करना चाहते हैं तो दिल्ली शहर में आप जहां भी हों टैक्सी या कैब किराये पर ले सकते हैं। अगर आप एक कम बजट यात्रा कर रहें हैं तो बस द्वारा यात्रा कर सकते हैं।

सिकंदर लोदी का मकबरा दिल्ली का नक्शा – Sikandar Lodi Tomb Delhi Map

सिकंदर लोदी का मकबरा की फोटो गैलरी – Sikandar Lodi Tomb Images

View this post on Instagram

f/22.0 | 1/60 | ISO160 | 18.0mm

A post shared by Saurabh Choudhary (@choudharysaurabh) on

View this post on Instagram

Sikandar Lodi's Tomb

A post shared by @ maxxsisodiya_photography on

और पढ़े :

Leave a Comment