साइंस सिटी ऑफ कोलकाता – Information about Science City Kolkata in Hindi

Science City in Hindi : साइंस सिटी दुनिया के बेहतरीन और सबसे बड़े विज्ञान संग्रहालयों में से एक है जिसका उद्घाटन 1 जुलाई 1997 को हुआ था। नेशनल काउंसिल ऑफ साइंस म्यूजियम के तहत, साइंस सिटी को पूरे भारतीय उपमहाद्वीप का सबसे बड़ा विज्ञान केंद्र घोषित किया गया है जो पूरे देश के लिए गौरव की बात है जिससे कोलकाता ने एक नई पहचान प्राप्त की है।

यह जगह विज्ञान प्रेमियों के साथ साथ भारतीय और विदेशी पर्यटकों के लिए भी कोलकाता का एक प्रमुख आकर्षण केंद्र है जहाँ हर साल हजारों की संख्या में पर्यटक आते है। बता दे साइंस सिटी विज्ञान और मनोरंजन के साथ शिक्षा का एक आदर्श मिश्रण है जिसमे जलीय दुनिया को समर्पित एक विशेष खंड है जिसमें आप जलीय दुनिया में विभिन्न मछलियों और कीड़ों के बारे में हर मिनट विस्तार से जान सकते हैं। यह जगह निश्चित रूप से अपनी फैमली, फ्रेंड्स और बच्चो के साथ कोलकाता में घूमने सबसे अच्छी जगहें है जहाँ आप घूमने के साथ विज्ञान से जुड़ी विभिन्न महत्वपूर्ण इन्फोर्मेशन प्राप्त कर सकते है।

इस लेख में हम आपको साइंस सिटी ऑफ कोलकाता के बारे पूरी इन्फोर्मेशन हिंदी में देने वाले है इसीलिए इसे पूरा जरूर पढ़े –

Table of Contents

साइंस सिटी के प्रमुख आकर्षण – Major Attractions in the Science City in Hindi

साइंस सिटी के प्रमुख आकर्षण - Major Attractions in the Science City in Hindi
Image Credit : Shubham Soni

डायनमोशन हॉल

डायनमोशन हॉल विभिन्न प्रकार के विज्ञान विषयों पर पर प्रदर्शन करता है ताकि पर्यटकों को अंतर्निहित वैज्ञानिक सिद्धांतों आदि का आनंद लेने के लिए प्रोत्साहित किया जा सके। इसमें ऑर्गेनाइज होने वाले है कुछ सबसे प्रमुख कुछ इस प्रकार है –

भ्रम : यह स्थायी प्रदर्शनी इंटरैक्टिव प्रदर्शन के साथ भ्रम की दुनिया को दिखाती है जिसमे पता चलता है कि गति और प्लेसमेंट दृश्य धारणा में कैसे अंतर करते हैं।

दस : 43 की शक्तियां दस के क्रम में ज़ूम इन और आउट करके ब्रह्मांड की सबसे बड़ी प्रदर्शनी दिखाती हैं।

 एक्वैरियम : इस एक्वैरियम में 26 प्रकार की मीठे पानी की मछलियां होती हैं है जिसमें विभिन्न मछलियों और कीड़ों के बारे में हर मिनट विस्तार से जान सकते हैं। ।

लाइव बटरफ्लाई एन्क्लेव : बता दे इसमें लाइव तितलियों की एक कॉलोनी बनाई गई है जिसमे एक तितली के पुरे जीवन चक्र को एक फिल्म के माध्यम से दिखाया जाता है जो यहाँ आने वाले पर्यटकों को बेहद खास अनुभव प्रदान करता है।

अर्थ एक्सप्लोरेशन हॉल

अर्थ एक्सप्लोरेशन हॉल या पृथ्वी अन्वेषण हॉल साइंस सिटी के प्रमुख आकर्षण में से एक है जिसका उद्घाटन 6 दिसंबर, 2008 को भारत के तत्कालीन केंद्रीय संस्कृति मंत्री अंबिका सोनी द्वारा किया गया था। यह स्थायी प्रदर्शनी दो मंजिला अर्ध-वृत्ताकार इमारत में स्थित है, जो इसका विवरण प्रदर्शित करती है। भूतल पर दक्षिणी गोलार्ध और पहली मंजिल पर उत्तरी गोलार्ध है। विशाल पृथ्वी ग्लोब को हॉल के केंद्र से 12 खंडों में बाटा हुआ है। साथ ही, भूगोल, भूमि, लोग, वनस्पतियों, जीवों और पृथ्वी के चेहरे पर अन्य प्राकृतिक घटनाओं सहित हर अनुभाग की सभी आवश्यक विशेषताओं को आधुनिक दिन प्रौद्योगिकियों, मल्टीमीडिया, वीडियो दीवारों, मनोरम वीडियो, कंप्यूटर की मदद से प्रदर्शित किया गया है।

स्पेस ओडिसी

स्पेस ओडिसी एक प्रकार का अंतरिक्ष थियेटर है जिसमें हेलिओस स्टार बॉल प्लेनेटेरियम होता है जिसे 150 विशेष प्रभाव प्रोजेक्टर और 23 मीटर व्यास वाले गुंबद में बैठने की व्यवस्था के साथ एक बड़े प्रारूप वाले फिल्म प्रोजेक्शन सिस्टम के माध्यम से दिखाया जाता है। यहाँ दिखाई जाने वाले एक फिल्म ‘एडवेंचर्स इन वाइल्ड कैलिफोर्निया’ है यह एक 40 मिनट की फिल्म है जिसे जून 2013 से यहाँ प्रदर्शित किया जा रहा है।

स्टीरियो बैक प्रोजेक्शन सिस्टम पर आधारित एक शो जो भी यहाँ आयोजित होता है जिसमे पर्यटक 3 डी दृष्टि थियेटर में पोलेराइड चश्मा द्वारा 3 डी प्रभाव का अनुभव कर सकते हैं। साथ ही 30-सीटर मोशन सिमुलेटर हाइड्रोलिक गति नियंत्रण नियंत्रण मशीन द्वारा एक आकस्मिक दुनिया में अंतरिक्ष उड़ान या यात्रा का आभासी अनुभव भी यहाँ महसूस किया जा सकता है।

मैरीटाइम सेंटर

यह सेंटर भारत के समुद्री इतिहास, इसकी कलाकृतियों, डियोरामों और इंटरएक्टिव शिपिंग के साथ-साथ नेविगेशन सिस्टम को प्रदर्शित करता है। साथ इसमें एक प्रश्नोत्तरी कॉर्नर भी मौजूद है जहाँ आप अपने सवालों के जबाब प्राप्त कर सकते है।

साइंस पार्क

साइंस पार्क एक ऐसी जगह है जहाँ आप प्राकृतिक परिवेश में पौधों, जानवरों और अन्य वस्तुओं के बारे में जान सकते हैं। यहां दिखाए गए प्रदर्शनों के बारे में एक और दिलचस्प तथ्य यह है कि उन्हें इस तरह से इंजीनियर किया गया है कि वे किसी भी मौसम को सहन कर सकते हैं। साइंस पार्क को NCSM के सभी केंद्रों का एक महत्वपूर्ण हिस्सा माना जाता है जिसमे मोनोरेल चक्र, तितली नर्स, संगीतमय फव्वारा, गुरुत्वाकर्षण कोस्टर, रोड ट्रेन, केबल कार और एक हरियाली से घिरा लाइव भूलभुलैया सहित कई प्रदर्शन शामिल हैं।

एक्सप्लोरेशन हॉल

एक्सप्लोरेशन हॉल या विज्ञान अन्वेषण हॉल 5400 वर्ग मीटर के क्षेत्र को कवर करने वाली एक संरचना है जिसे 2016 में खोला गया है यह अन्वेषण हॉल चार खंडो में विभाजित है जिसमे

  • उभरती प्रौद्योगिकियों की एक गैलरी
  • एक अंधेरी सवारी- जीवन का विकास
  • 360 डिग्री प्रक्षेपण- मानव विकास पर पैनोरमा
  • भारत की विज्ञान और प्रौद्योगिकी विरासत को दर्शाने वाली गैलरी शामिल है।

और पढ़े : भारत के 101 रोचक तथ्य जिनके बारे में आपको पता होना चाहिए 

साइंस सिटी की अन्य फैसिलिटीज – Other facilities of Science City in Hindi

उपर बताये गये इन आकर्षणों के अलावा साइंस सिटी में अन्य कई फैसिलिटीज भी अवेलेवल है जो कई कार्यक्रमों, बैठको, और सेमिनारों के रूप में कार्य करते है –

ग्रैंड थिएटर

ग्रैंड थिएटर पूर्वी भारत का सबसे बड़ा सभागार है जिसमे एक समय में 100 कलाकारों के लिए मंच के साथ 2232 लोगो को बैठना की क्षमता है।

मिनी ऑडिटोरियम

मिनी ऑडिटोरियम छोटे सम्मेलनों और कार्यक्रमों के स्थल के रूप में कार्य करता है, जिसमे लगभग 390 लोगो की सिटिंग है।

संगोष्ठी भवन

इस भवन में ग्यारह हॉल, है जिसमे –

  • 100 व्यक्तियों की बैठने की क्षमता वाले चार हॉल,
  • 40 व्यक्तियों के बैठने की क्षमता वाले दो हॉल
  • 30 व्यक्तियों के बैठने की क्षमता वाले दो हॉल
  • 15 व्यक्तियों की बैठने की क्षमता वाले दो हॉल
  • 12 व्यक्तियों के बैठने के लिए एक हॉल है हॉल

इनमे सम्मेलन, सेमिनार, बैठक और कार्यशालाओं के आयोजन किये जाते है।

साइंस सिटी कोलकाता की टाइमिंग – Science City Kolkata Timing in Hindi

साइंस सिटी कोलकाता की टाइमिंग – Science City Kolkata Timing in Hindi
Image Credit : Manash Pratim

सुबह 9.00 बजे से रात 9.00 बजे तक

साइंस सिटी कोलकाता की एंट्री फीस – Science City Kolkata Ticket Price in Hindi

यदि आप साइंस सिटी कोलकाता की ट्रिप पर जाने वाले है और साइंस सिटी कोलकाता की एंट्री फीस के बारे में सर्च कर रहे है तो हम आपको बता दे साइंस सिटी की एंटी फीस 50 रूपये प्रति व्यक्ति है लेकिन यदि आप अन्दर होने वाले किसी शो या अन्य एक्टिविटीज में पार्टी स्पेट करने वाले है तो उसके लिए आपको अलग से टिकट लेनी होगी जो कुछ इस प्रकार है –

  • एंट्री फीस : 50 रूपये प्रति व्यक्ति
  • 3 डी थिएटर : 30 रूपये प्रति व्यक्ति
  • रोड ट्रेन : 20 रूपये प्रति व्यक्ति
  • केबल कार : 40 रूपये प्रति व्यक्ति
  • मोनो साइकिल : 10 रूपये प्रति व्यक्ति
  • गुरुत्वाकर्षण कोस्टर : 30 रूपये प्रति व्यक्ति व्यक्ति
  • ‘डार्क राइड’ और ‘ह्यूमन इवोल्यूशन’ : 80.00 रूपये प्रति व्यक्ति

साइंस सिटी कोलकाता के आसपास घूमने की जगहें – Places to visit around Science City Kolkata in Hindi

  • विक्टोरिया मेमोरियल
  • जोरासांको ठाकुर बाड़ी
  • मदर हाउस
  • बिरला मंदिर
  • कलकत्ता जैन मंदिर
  • कालीघाट मंदिर
  • इस्कॉन मंदिर
  • साइंस सिटी
  • सेंट जॉन चर्च
  • भारतीय संग्रहालय 
  • सेंट पॉल कैथेड्रल
  • बेलूर मठ
  • नखोदा मस्जिद
  • पार्क स्ट्रीट
  • हावड़ा ब्रिज
  • बिड़ला तारामंडल
  • जलदापारा वन्यजीव अभयारण्य
  • मार्बल पैलेस
  • बिरला मंदिर 
  • बॉटनिकल गार्डन
  • ईडन गार्डन
  • साइंस सिटी
  • ताजपुर
  • बिड़ला औद्योगिक और प्रौद्योगिकी संग्रहालय
  • रबींद्र सरोवर
  • शोभबाजार राजबाड़ी
  • इकोटूरिज्म पार्क
  • अलीपुर चिड़ियाघर
  • कमरपुकुर, कोलकाता
  • निक्को पार्क
  • प्रिंसेप घाट
  • एक्वाटिका
  • स्टेट आर्कियोलॉजिकल गैलरी

साइंस सिटी घूमने जाने का बेस्ट टाइम – Best time to visit the Science City in Hindi

साइंस सिटी घूमने जाने का बेस्ट टाइम – Best time to visit the Science City in Hindi
Image Credit : Dipankar Naiya

वैसे तो आप साइंस सिटी कोलकाता की यात्रा साल के किसी भी समय कर सकते है लेकिन यदि आप साइंस सिटी के साथ साथ कोलकाता के अन्य पर्यटक स्थल भी घूमना चाहते है इसके लिए अक्टूबर से फरवरी के बीच की शरद ऋतु और सर्दियों के महीने कोलकाता की यात्रा के लिए सबसे महीने होते है। मार्च से शुरू होने वाली ग्रीष्मकाल के दौरान कोलकाता की यात्रा से बचें क्योंकि इस समय कोलकाता का तापमान 45 डिग्री सेल्सियस तक पहुँच जाता है।

और पढ़े : कोलकाता के टॉप 10 पर्यटन स्थल

कोलकाता की यात्रा में कहा रुके – Where To Stay In Kolkata Tourism in Hindi

कोलकाता की यात्रा में कहा रुके – Where To Stay In Kolkata Tourism in Hindi

यदि आप साइंस सिटी और कोलकाता के अन्य पर्यटक स्थल घूमने जाने का प्लान बना रहे है और अपनी यात्रा में रुकने के लिए होटल्स सर्च कर रहे हैं तो हम आपको बता दें की कोलकाता में आपको लो-बजट से लेकर हाई-बजट तक होटल मिल जायेंगे जिन्हें आप अपनी चॉइस के अनुसार सिलेक्ट कर सकते हैं।

कोलकाता में खाने के लिए प्रसिद्ध भोजन – Local Food Of Kolkata In Hindi

कोलकाता में खाने के लिए प्रसिद्ध भोजन – Local Food Of Kolkata In Hindi

कोलकाता शहर स्थानीय बंगाली व्यंजनों के लिए सबसे अधिक जाना जाता है, जो कि यहाँ आने वाले सभी पर्यटकों के बीच लोकप्रिय बने हुए है। अधिकांश बंगाली व्यंजन भोजन चावल और मछली के चारों ओर घूमते हैं। और यहाँ बंगाली व्यंजनों के अलावा, शहर के विभिन्न रेस्टोरेंट में बढ़िया अंग्रेजी भोजन, कॉन्टिनेंटल, उत्तर भारतीय व्यंजन, दक्षिण भारतीय व्यंजन, मैक्सिकन और इतालवी भोजन का आनंद ले सकते हैं। आपको तिब्बती भोजन का एक उदाहरण भी मिलेगा, जिसमें मोमोस और थुप्पा काफी लोकप्रिय और व्यापक हैं। इसके अलावा कोलकाता शहर बंगाली मिठाइयाँ रसगुल्ला, चमचम, रसमलाई, शोंडेश, क्रीम चुप और अन्य बंगाली मिठाइयाँ के पेशकश भी करता है।

और पढ़े : राजस्थान का प्रसिद्ध खाना जिनके बारे में जानकार ही आ जायेगा आपके मुह में पानी

साइंस सिटी कोलकाता कैसे पहुंचे – How To Reach Science City Kolkata in Hindi

अगर आप अपने परिवार या दोस्तों के साथ कोलकाता में साइंस सिटी घूमने जाने का प्लान बना रहे है और जानना चाहते है की हम साइंस सिटी कोलकाता केसे पहुंचे ? तो हम आपको बता दे आप सड़क, रेल और हवाई मार्ग में से किसी का भी चुनाव करके साइंस सिटी कोलकाता पहुंच सकते है।

यदि आप कोलकाता जाने के लिए अन्य परिवहन के साधनों के बारे में जानना चाहते है तो आप हमारे द्वारा नीचे दी गई जानकरी को अवश्य पढ़े।

फ्लाइट से साइंस सिटी कोलकाता कैसे पहुंचे – How To Reach Science City Kolkata By Flight in Hindi

फ्लाइट से साइंस सिटी कोलकाता कैसे पहुंचे – How To Reach Science City Kolkata By Flight in Hindi

यदि आप फ्लाइट से साइंस सिटी कोलकाता जाने का प्लान बना रहे है तो हम आपको बता दे कोलकाता का अपना घरलू हवाई अड्डा, नेताजी सुभाष चंद्र बोस अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा है जो साइंस सिटी से लगभग 17 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। फ्लाइट से ट्रेवल करके कोलकाता एयरपोर्ट पहुचने के बाद आप यहाँ से मेट्रो, ऑटो, टेक्सी या केब बुक करके साइंस सिटी पहुंच सकते हैं।

सड़क मार्ग से साइंस सिटी कोलकाता कैसे जाये – How To Reach Science City Kolkata By Road in Hindi

सड़क मार्ग से साइंस सिटी कोलकाता कैसे जाये – How To Reach Science City Kolkata By Road in Hindi

अगर आपने साइंस सिटी कोलकाता जाने के लिए सड़क मार्ग का चुनाव किया है तो हम आपको बता दे कोलकाता पश्चिम बंगाल के साथ-साथ भारत के सभी प्रमुख शहरों से सड़क मार्ग से अच्छी तरह जुड़ा हुआ है। भारत के लगभग किसी भी हिस्से से कोलकाता के लिए नियमित बस सेवाएं भी उपलब्ध हैं। दिल्ली से, NH 19 के माध्यम से, कोलकाता पहुँचने में लगभग एक दिन लगता है। आसपास के शहरों जैसे खड़गपुर, हल्दिया आदि से भी बसें उपलब्ध हैं। तो आप अपनी सुविधानुसार बस, टैक्सी या अपनी निजी कार से यात्रा करके आसानी से साइंस सिटी कोलकाता पहुंच सकते हैं।

ट्रेन से साइंस सिटी कोलकाता कैसे जाए – How To Reach Science City Kolkata By Train in Hindi

ट्रेन से साइंस सिटी कोलकाता कैसे जाए – How To Reach Science City Kolkata By Train in Hindi

यदि आप ट्रेन से यात्रा करके साइंस सिटी कोलकाता जाना चाहते है तो हम आपको वता दे कोलकाता में हावड़ा और सियालद दो मुख्य रेलवे स्टेशन हैं जो भारत के सभी बड़े स्टेशनों से जुड़ा हुआ है और उत्तर-पूर्वी भारत का प्रवेश द्वार है। तो आप भारत के प्रमुख शहरों से ट्रेन से यात्रा करके हावड़ा और सियालद रेलवे स्टेशन जा सकते है। और रेलवे स्टेशन से ऑटो,टेक्सी केब या अन्य स्थानीय वाहनों की मदद से अपने निश्चित स्थान तक पहुंच सकते हैं।

और पढ़े: पश्चिम बंगाल के पर्यटन स्थल की जानकारी

इस आर्टिकल में आपने साइंस सिटी के बारे में जाना है आपको यह आर्टिकल केसा लगा हमे कमेन्टस में जरूर बतायें।

इसी तरह की अन्य जानकारी हिन्दी में पढ़ने के लिए हमारे एंड्रॉएड ऐप को डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक करें। और आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

साइंस सिटी कोलकाता का मेप – Map of Science City Kolkata in Hindi

और पढ़े :

Leave a Comment