गार्डन ऑफ फाइव सेंसेज दिल्ली की पूरी जानकारी – Garden Of Five Senses In Hindi

Garden Of Five Senses In Hindi, गार्डन ऑफ फाइव सेंसेज दिल्ली शहर में सईद-उल-अजायब में स्थित है जो आकर्षण से हर किसी को आनंदित करता है। बता दें कि यह पार्क दिल्ली पर्यटन का प्रमुख हिस्सा है जो 20 एकड़ भूमि में फैला हुआ है। इस गार्डन का नाम गार्डन ऑफ फाइव सेंसेज इसलिए रखा गया है क्योंकि यह किसी की भी पांचो इन्द्रियों को सुखदायक अनुभव देता है। इस गार्डन का का उद्घाटन 2003 में किया गया था और इसके बाद यह दिल्ली का लोकप्रिय पर्यटन स्थल बन गया। यह पार्क कई तरह के प्राकृतिक नजारों से भरा हुआ है बता दें कि इस पार्क में 200 से भी आकर्षक एवं सुगंधित पौधों के बीच 25 से ज्यादा मृत्तिका एवं शैल शिल्प निर्मित हैं।

रूप, रंग, गंध, ध्वनि एवं स्वाद की तृप्ति के लिए बनाया यह पार्क एक बहुत ही शांत जगह है जो कपल्स के बीच काफी लोकप्रिय है। अगर आप गार्डन ऑफ फाइव सेंसेज के बारे में और जानना चाहते हैं तो इस लेख को अवश्य पढ़ें यहां हम आपको गार्डन ऑफ फाइव जाने के बारे में जानकारी दे रहें हैं।

Table of Contents

दिल्ली के गार्डन ऑफ फाइव सेंसेज की एंट्री फीस – Garden Of Five Senses Delhi Entry Fee In Hindi

  • वयस्कों के लिए एंट्री फीस- 30 रूपये प्रति व्यक्ति
  • बच्चों के लिए एंट्री फीस- 500 रूपये प्रति व्यक्ति (12 वर्ष की आयु तक)
  • वरिष्ठ नागरिकों के लिए एंट्री फीस- प्रति व्यक्ति 10 रूपये
  • विकलांगों के लिए मुफ्त प्रवेश

गार्डन ऑफ फाइव सेंसेज के खुलने और बंद होने का समय – Garden Of Five Senses Delhi Timings In Hindi

गार्डन ऑफ फाइव सेंसेज के खुलने और बंद होने का समय - Garden Of Five Senses Delhi Timings In Hindi
Image Credit : Priya Thapar
  • अक्टूबर से मार्च- सुबह 9:00 बजे से शाम 6:00 बजे तक
  • अप्रैल से सितंबर- सुबह 9:00 – शाम 7:00 बजे तक

और पढ़े :  दिल्ली की मशहूर जगह कनॉट प्लेस घूमने की पूरी जानकारी

गार्डन ऑफ फाइव सेंसेज दिल्ली फोटोग्राफी चार्ज- Garden Of Five Senses Delhi Photography Charges In Hindi

  • फीचर फिल्म की शूटिंग के लिए चार्ज- 105,888 रूपये
  • फीचर फिल्म की शूटिंग के लिए आधा दिन का चार्ज- 52,944 रूपये
  • टीवी धारावाहिक / व्यावसायिक शूट के लिए चार्ज- 26,472 रूपये (8 घंटे)
  • ज़ूम लेंस के साथ कैमरे के लिए चार्ज- 56 रूपये आधा दिन (4 घंटे)

गार्डन ऑफ फाइव सेंसेज की वास्तुकला – Architecture Of Garden Of Five Senses In Hindi

गार्डन ऑफ फाइव सेंसेज की वास्तुकला - Architecture Of Garden Of Five Senses In Hindi
Image Credit : Dennis Rayts

जब आप गार्डन ऑफ फाइव सेंसेज में प्रवेश करते हैं तो बगीचों में स्टेनलेस स्टील में उकेरी गई पक्षियों की दो विशाल मूर्तियां आपका स्वागत करती हैं। सामने एक विशाल चट्टानी रैंप है, जो कि स्लेटी रंग के पत्थर के हाथियों की परेड के बीच एक स्पाइरल वाक पर लेकर जाता है। इस उद्यान को कई भागों में विभाजित किया गया है। स्पाइरल सीढ़ी के दाईं ओर खस बाग है। यह इस पार्क का एक छोटा सा भाग है जो चार बाग शैली से प्रेरित है। इसमें चार हरे-भरे लॉन हैं, जिसमें पानी की टंकियाँ और झरने हैं। पार्क के किनारे को छोटा करने के लिए छोटे झाड़ियों और फूलों से सजाया गया है। यह पार्क अपने आकर्षक आकर्षक दृश्यों, फूलों के सुगंध, बेहतरीन कलाकृतियों, विभिन्न पौधों, घंटियों की आवाज और व्यंजनों ले स्वाद के लिए जाना जाता है।

पार्क के बीच में तालाब में बना एक फव्वारा-वूक्ष भी बेहद आकर्षक है इसके अलावा पार्क में फूड्-स्टाल एवं एक रेस्तरां जैसी सुविधाएँ भी उपलब्ध है और यहां एक थियेटर भी बना है जहाँ नृत्य-गायन जैसे कार्यक्रम आयोजित किये जाते हैं। प्राकृतिक आकर्षणों से भरा यह पार्क वनस्पति प्रेमियों के लिए स्वर्ग के सामान है और यहां पर प्रेमी जोड़े भी बड़ी संख्या में आते हैं।

पार्क में पर्यटक विभिन्न तरह के विदेशी फूलों को देख सकते हैं जो अपनी सुंदरता और खुशबु से बेहद आकर्षित करते हैं। पार्क का विशाल क्षेत्र दूर-दूर से कई विदेशी फूलों के पौधों की दुर्लभ और लुप्तप्राय प्रजाति (लगभग 200 विदेशी पौधों) से सजा हुआ है, जो पर्यटकों के आकर्षण का प्रमुख केंद्र है।

और पढ़े : दिल्ली का पुराना किला घूमने की जानकारी

गार्डन ऑफ फाइव सेंसस में नेचर वॉक – Nature Walk At Garden Of Five Senses In Hindi

इस गार्डन का प्रबंधन निर्देशित पर्यटन नेचर वॉक का आयोजन करता है। यह वाक में पेड़ों के परिचय और विवरण के साथ शुरू होती है। इसके बाद यह आकर्षक मुगल डिजाइनों, विशेष रूप से सीमा की दीवारों और गुंबद के आकार के कार्यालय की ओर बढती है। यह वॉक इस पार्क की आकर्षक सुंदरता को निहारने और वहां उगने वाले असंख्य फूलों की प्रजातियों के बारे में जानने के साथ खत्म होती है।

गार्डन ऑफ फाइव सेंसस के अन्दर घुमने के लिए आकर्षण – Famous Attractions Inside Garden Of Five Senses In Hindi

गार्डन ऑफ फाइव सेंस में मैक्सिकन मेयना लबाना आर्क की प्रतिकृति का निर्माण किया गया है। सरकार ने नई दिल्ली के गार्डन ऑफ फाइव सेशन्स में, मैक्सिको में लबना की प्रतिकृति को बनाया है। गार्डन के फाइव सेंस के स्थानीय लबना आर्क का उद्घाटन नई दिल्ली की तत्कालीन महापौर शीला दीक्षित और मैक्सिकन राजदूत जैमे नुआलर्ट द्वारा किया गया था। इस आर्क को इंडियन नेशनल ट्रस्ट फॉर आर्ट एंड कल्चरल हेरिटेज द्वारा बनाया गया है जिसके लिए पत्थर राजस्थान से लाये गए थे। यह आर्क कई सांस्कृतिक गतिविधियों का केंद्र भी है।

गार्डन ऑफ फाइव सेंसस यात्रा के लिए टिप्स – Tips For Visiting Garden Of Five Senses In Hindi

गार्डन ऑफ फाइव सेंसस यात्रा के लिए टिप्स - Tips For Visiting Garden Of Five Senses In Hindi
Image Credit : Samarendra Pratap
  • अगर आप पार्क की यात्रा करने के लिए जा रहें हैं तो टिकट काउंटर के लिए अपना आईडी प्रूफ ले जाएं।
  • पार्क के अंदर कूड़ा- कचरा करने से बचें।
  • यह पार्क एक प्लास्टिक मुक्त क्षेत्र है, इसलिए कचरा फेकने के लिए डस्टबिन का उपयोग करें।
  • इस पार्क में कैमरा ले जाने की अनुमति है। इसलिए यहां पर कुछ अच्छी फोटो क्लिक करने के लिए एक अच्छा कैमरा मोबाइल फोन ले जाना न भूलें।
  • यात्रा के दौरान हलके और आरामदायक कपड़े पहनें।
  • गार्डन का दौरा करते समय ज्यादा हिल वाले जूते न पहले क्योंकि उन्हें पहनकर आप घंटों तक नहीं चल सकते।

गार्डन ऑफ फाइव सेंसस घूमने जाने का सबसे अच्छा समय – Best Time To Visit Garden Of Five Senses In Hindi

गार्डन ऑफ फाइव सेंसस घूमने जाने का सबसे अच्छा समय - Best Time To Visit Garden Of Five Senses In Hindi
Image Credit : FIiroj Ansari

गार्डन ऑफ फाइव सेंसस का दौरा करने का सबसे अच्छा समय फरवरी के तीसरे सप्ताह के दौरान कुछ समय का होता है। यह जगह लुभावनी फूलों के त्योहार का आयोजन करती है। यह महीने वसंत का मौसम है, इस समय आप यहां कई तरह के जंगली और विदेशी नस्लों के पौधों और फूलों को देख सकते हैं, जो आपको शानदार अनुभव देंगे। इसके साथ ही फरवरी के महीने में दिल्ली का मौसम भी अच्छा रहता है।

और पढ़े : दिल्ली से 300 किलोमीटर के दायरे में घूमने लायक 15 ऐसे खूबसूरत हिल स्टेशन जहा पर आपको जरुर जाना चाहिए

गार्डन ऑफ फाइव सेंसस दिल्ली कैसे पहुंचें – How To Reach Garden Of Five Senses Delhi In Hindi

गार्डन ऑफ फाइव सेंसस दिल्ली कैसे पहुंचें - How To Reach Garden Of Five Senses Delhi In Hindiअगर आप गार्डन ऑफ फाइव सेंसस की यात्रा करने जा रहें हैं तो बता दें कि यहां आप दिल्ली में संचालित मेट्रो और राज्य द्वारा संचालित बसों के माध्यम से आसानी से पहुंच सकते हैं। गार्डन ऑफ फाइव सेंस के लिए निकटतम मेट्रो स्टेशन साकेत मेट्रो है, जो पीली लाइन पर स्थित है। यह गार्डन इस मेट्रो से लगभग 2.5 किलोमीटर दूर है। मेट्रो स्टेशन पहुंचने के बाद आप या तो बैटरी से चलने वाले रिक्शा को किराये पर ले सकते हैं या फिर पैदल यात्रा कर सकते हैं। अगर आप एक आरामदायक यात्रा करना चाहते हैं तो टैक्सी भी बुक कर सकते हैं।

गार्डन ऑफ फाइव सेंसस दिल्ली का नक्शा – Garden Of Five Senses Delhi Map

गार्डन ऑफ फाइव सेंसस दिल्ली की फोटो गैलरी – Garden of Five Senses Delhi Images

View this post on Instagram

Sensei… osu 🍃🙏🏼

A post shared by Japon Hamza (@japonhamzaa) on

View this post on Instagram

Green Delhi, Clean Delhi 🌱

A post shared by Ananda Brinkmann (@nandhi.brinks) on

और पढ़े :

Leave a Comment