भारत के ऐसे आकर्षक स्थल जहाँ पर्यटक बिना परमिट के घूमने नही जा सकते है – Attractive Places In India Where You Cannot Go Without A Permit In Hindi

5/5 - (1 vote)

Attractive Places In India Where You Cannot Go Without A Permit In Hindi, जैसा की हम जानते है की हमे विदेश यात्रा के लिए बीजा प्राप्त करना होता है। लेकिन क्या आप जानते है,की हमें अपने ही देश के कुछ स्थानों पर जाने के लिए एक बिशेष इनर लाइन परमिट की आवश्यकता होती है? इनर लाइन परमिट (ILP) की आवश्यकता आमतौर पर भारत की अंतर्राष्ट्रीय सीमा के पास संवेदनशील स्थानों की यात्रा करने के लिए होती है। यह इन क्षेत्रों में लोगों की आवाजाही को नियमित करने, आदिवासी संस्कृतियों की रक्षा करने, किसी भी अनचाही घटना की संभावना को कम करने और सामान्य रूप से सुरक्षा उद्देश्यों में मदद करता है।

तो आइये आज हम यहाँ अपने लेख में भारत की कुछ ऐसी ही आकर्षक जगहों के बारे में बात करते हैं जहाँ पर्यटक बिना इनर लाइन परमिट के घूमने नही जा सकते हैं-

Table of Contents

अरुणाचल प्रदेश – Arunachal Pradesh In Hindi

अरुणाचल प्रदेश - Arunachal Pradesh In Hindi

भारत का सुंदर राज्य अरुणाचल प्रदेश सुरम्य पहाड़ों, दर्रे, शांत झीलें और प्रसिद्ध मठों से भरा हुआ है। और इसे “भारत के ऑर्किड राज्य” या “बोटनिस्ट्स का स्वर्ग” के रूप में जाना जाता है। अरुणाचल प्रदेश पश्चिम में भूटान, पूर्व में म्यांमार और उत्तर में चीन के साथ अपनी सीमाएँ साझा करता है। इसीलिए पर्यटकों को यहाँ के खूबसूरत स्थानों पर जाने के लिए इनर लाइन परमिट की आवश्यकता होती है। जहाँ आप बिना इनर लाइन परमिट के इनकी सीमायों में प्रवेश नही कर सकते हैं। परमिट अरुणाचल प्रदेश सरकारी कार्यालय से प्राप्त किया जा सकता है। इसके अलावा आप ऑनलाइन फॉर्म भरकर भी परमिट प्राप्त कर सकते है।

अरुणाचल प्रदेश में घूमने के लिए इनर लाइन परमिट की फीस – Inner Line Permit Fee For Arunachal Pradesh In Hindi

  • 100 रूपये प्रति व्यक्ति जो अधिकतम 30 दिनों तक मान्य होगा

इनर लाइन परमिट के लिए लगने वाले आवशयक दस्तावेज़ – Documents Required For Inner Line Permit In Hindi

  • पैन कार्ड ,ड्राइविंग लाइसेंस, पासपोर्ट या वोटर आईडी इनमे में से कोई एक और पासपोर्ट साइज की फोटो।

और पढ़े : अरुणाचल प्रदेश के प्रमुख पर्यटन स्थल घूमने की जानकारी

मिजोरम – Mizoram In Hindi

मिजोरम - Mizoram In Hindi

भारत के पूर्व–उत्तर में स्थित मिजोरम भारत एक खूबसूरत राज्य है। मिजोरम भारत का सबसे छोटा राज्य है जिसका नाम अपने मूल जनजाति “मिजो” के नाम पर पड़ा हैं। मिजोरम नाम का मतलब ही “पहाड़ों की भूमि” होता है। और यह पहाड़ों की भूमि होने के कारण  बहुत ही आकर्षक राज्य है। और यह राज्य बांग्लादेश और म्यांमार के साथ अंतर्राष्ट्रीय सीमा साझा करता है। इसीलिए पर्यटकों को मिजोरम घूमने जाने के लिए इनर लाइन परमिट की आवश्यकता होती है। और पर्यटक इनर लाइन परमिट कोलकाता, सिलचर, शिलांग, गुवाहाटी और नई दिल्ली से मिजोरम सरकार के संपर्क अधिकारी से प्राप्त कर सकते है। जबकि हवाई मार्ग से राज्य में प्रवेश करने वाले पर्यटक लेंगपुई हवाई अड्डे, आइज़ॉल पहुंचने पर सुरक्षा अधिकारी से पास प्राप्त कर सकते हैं।

मिजोरम इनर लाइन परमिट की फीस – Mizoram Inner Line Permit Fees In Hindi

  • अस्थायी परमिट के लिए : 120 रूपये प्रति व्यक्ति
  • स्थायी परमिट के लिए : 220 रूपये प्रति व्यक्ति

मिजोरम इनर लाइन परमिट के लिए आवश्यक दस्तावेज़ – Documents Required For Mizoram Inner Line Permit In Hindi

  • चार पासपोर्ट साइज की फोटो
  • एक आईडी प्रूफ (पैन कार्ड ,ड्राइविंग लाइसेंस, पासपोर्ट या वोटर आईडी इनमे में से कोई भी )

और पढ़े : मिजोरम पर्यटन स्थल घूमने की जानकारी 

नागालेंड – Nagaland In Hindi

नागालेंड – Nagaland In Hindi

भारतीय जमीन पर सबसे अधिक पसंद किये जाने वाले हिल स्टेशनो में से एक नागालैंड भारत का खुबसूरत राज्य है। और नागालैंड को इसके उपनाम “लैंड ऑफ फेस्टिवल” के नाम से भी जाना जाता हैं। यह मंत्रमुग्ध करने वाली जगह लगभग 16 जनजातियों का घर है, और उनमें से प्रत्येक अपने विशिष्ट रीति-रिवाजों, भाषा और पहनावे के साथ विशिष्ट है। नागालैंड पूर्व में म्यांमार के साथ अंतर्राष्ट्रीय सीमा साझा करता है। इसीलिए अगर आप भारत के इस खुबसूरत राज्य नागालेंड घूमने जाने का प्लान बना रहे है। तो यह जानना आपके लिए अति आवश्यक है की नागालैंड घूमने जाने के लिए घरेलू यात्रियों को इनर लाइन परमिट की आवश्यकता होती है। इनर लाइन परमिट दीमापुर, कोहिमा, मोकोकचुंग, नई दिल्ली, कोलकाता और शिलांग के डिप्टी कमिश्नर से प्राप्त किया जा सकता है। इसके साथ आप परमिट ऑनलाइन भी प्राप्त कर सकते हैं।

नागालेंड इनर लाइन परमिट की फीस – Nagaland Inner Line Permit Fee In Hindi

  • पर्यटकों के लिए : 100 रूपये प्रति व्यक्ति
  • अन्य व्यक्तियों के लिए : 150 रूपये प्रति व्यक्ति

नागालेंड इनर लाइन परमिट के लिए लगने वाले आवश्यक दस्तावेज़ – Documents required for Nagaland Inner Line Permit In Hindi

  • चार पासपोर्ट साइज की फोटो
  • पैन कार्ड ,ड्राइविंग लाइसेंस, पासपोर्ट या वोटर आईडी इनमे में से कोई भी एक

और पढ़े : नागालैंड और इसके प्रमुख पर्यटन स्थल घूमने की जानकारी

लक्षद्वीप – Lakshadweep In Hindi

लक्षद्वीप – Lakshadweep In Hindi

लक्षद्वीप पर्यटन स्थल भारत का एक खूबसूरत केंद्र शासित प्रदेश हैं, जोकि भारत की मुख्य भूमि (भारत के पश्चिमी तट) से लगभग 300 किलोमीटर की दूरी पर अरब सागर में स्थित हैं। लक्षद्वीप भारत का सबसे छोटा केंद्र शासित प्रदेश होने के साथ साथ एक आकर्षित पर्यटन स्थल हैं जोकि देशी और विदेशी पर्यटकों को अपने यहाँ आने के लिए आमंत्रित करता हैं। लक्षद्वीप का शाब्दिक अर्थ “लाख द्वीप” हैं। अगर आप भारत के इस स्थान पर घूमने जाना चाहते है तो हम आपको बता दे यहाँ आने वाले पर्यटकों को प्रवेश के लिए परमिट की आवश्यकता होती है।

 प्रवेश के लिए परमिट की फीस – Permit Fees For Entry Into Lakshadweep In Hindi

  • बता दे 5 महीने की वैधता वाला परमिट ऑनलाइन निःशुल्क प्राप्त किया जा सकता है।

और पढ़े : लक्षद्वीप के १० प्रसिद्ध पर्यटन स्थल की जानकारी

लद्दाख – Ladakh In Hindi

लद्दाख - Ladakh In Hindi

लेह लद्दाख भारत के सबसे खूबसूरत केंद्र शासित प्रदेश है। भारत के सबसे खूबसूरत पर्यटन में से एक लद्दाख अब काराकोरम रेंज में सियाचिन ग्लेशियर से लेकर दक्षिण में मुख्य महान हिमालय तक का क्षेत्र घेरता है। लद्दाख जम्मू और कश्मीर का काफी संवेदनशील क्षेत्र है क्योंकि यह पाकिस्तान और चीन दोनों के साथ सीमा साझा करता है। जहाँ आप को लद्दाख के कुछ मशहुर पर्यटक स्थल जैसे दाह, हनु विलेज, पैंगॉन्ग त्सो झील, त्सो मोरीरी झील, न्योमा, लोमा बेंड, खारदुंग ला पास, नुब्रा वैली, टर्टुक, तयाक्शी, डिगर ला, तंग्यार में जाने के लिए एक आंतरिक लाइन परमिट की आवश्यकता होती है।

इनर लाइन परमिट लेह शहर के मेन बाजार के पोलो मैदान के पास डीसी कार्यालय से सुबह 9 बजे से शाम 7 बजे के बीच प्राप्त किए जा सकते हैं, हालांकि, आवेदन फॉर्म दोपहर 3 बजे से पहले जमा किए जाने की आवश्यकता है। आप ऑनलाइन परमिट भी प्राप्त कर सकते हैं लेकिन इस पर अभी भी आपको सरकारी मुहर लगबानी होगी।

लद्दाख इनर लाइन परमिट के लिए फीस – Fees For Ladakh Inner Line Permit In Hindi

  • 30 रूपये प्रति व्यक्ति जो 1 दिन के लिए मान्य होता है।

लद्दाख इनर लाइन परमिट के लिए आवश्यक दस्तावेज़ – Documents For Ladakh Inner Line Permit In Hindi

  • राष्टिय्कृत प्रमाणित आई डी पूर्फ़ और फोटो

और पढ़े : लेह लद्दाख में घूमने लायक टॉप 15 पर्यटन स्थल की जानकारी

सिक्किम – Sikkim In Hindi

सिक्किम - Sikkim In Hindi

भारत का  बहुत ही खूबसूरत और एक छोटा राज्य सिक्किम अपने पौधों, जानवरों, नदियों, पहाड़ों, झीलों और झरनों के लिए जाना-जाता है। सिक्किम भारत का एक प्रमुख पर्यटन स्थल है जहाँ की चोटियाँ, पवित्र झीलें, प्राचीन मठ, आर्किड नर्सरी और आश्चर्यजनक ट्रेकिंग मार्ग सिक्किम को छुट्टी बनाने के लिए परफेक्ट प्लेस बनाते हैं। चूकीं सिक्किम उत्तर में चीन, इसके पूर्व में भूटान और इसके पश्चिम में नेपाल के साथ अंतर्राष्ट्रीय सीमा साझा करता है। इसीलिए सिक्किम में कुछ स्थानों पर प्रवेश प्रतिबंध हैं। पर्यटकों को त्सोमगो झील, नथुल्ला, दोज़ोंग्री और गोइचला ट्रेक, युमथांग, युमसंगडोंग, थांगू / चोपता घाटी, गुरुडोंगमार झील जैसे संरक्षित क्षेत्रों का दौरा करने के लिए एक आंतरिक लाइन परमिट की आवश्यकता होती है। नाथुला और गुरुडोंगमार झील के लिए परमिट पर्यटन और नागरिक उड्डयन विभाग द्वारा जारी किए जाते हैं और साथ ही बागडोगरा हवाई अड्डे और रंगपो चेक पोस्ट पर प्राप्त किए जा सकते हैं।

सिक्किम इनर लाइन परमिट के लिए फीस – Fee For Sikkim Inner Line Permit In Hindi

  • सिक्कम के पर्यटक स्थलों में घूमने के लिए नि: शुल्क इनर लाइन परमिट प्राप्त किये किया जा सकता है।

 इनर लाइन परमिट के लिए आवश्यक दस्तावेज़ – Documents Required For Sikkim Inner Line Permit In Hindi

  • फोटो आईडी प्रूफ जैसे पासपोर्ट, वोटर आईडी कार्ड या ड्राइविंग लाइसेंस में से कोई एक

और पढ़े :

Leave a Comment