Generic selectors
Exact matches only
Search in title
Search in content
Search in posts
Search in pages

Sundarban National Park In Hindi, सुंदरवन नेशनल पार्क दुनिया के सबसे बड़े मैंग्रोव जंगल के रूप में जाना जाता हैं। सुंदरवन नेशनल पार्क भारत के पश्चिम बंगाल राज्य में स्थित है। सुंदरवन नेशनल पार्क एक टाइगर रिज़र्व और एक बायोस्फीयर रिज़र्व भी है, यहाँ आने वाले पर्यटकों के लिए ‘रॉयल बंगाल टाइगर्स’ से लेकर खूबसूरत स्वर निकालने वाली नदियों और खूबसूरत प्रकृतिक परिवेश का आनंद उठा सकते हैं।

सुंदरवन राष्ट्रीय उद्यान सुंदरवन डेल्टा का अहम भाग हैं, जोकि मैंग्रोव वन और बंगाल टाइगर्स की सबसे बड़ी आबादी के रूप में जाना जाता हैं। वर्ष 1987 में सुन्दर वन नेशनल पार्क यूनेस्को की विश्व धरोहर स्थल में शामिल किया गया था।वर्ष 1966 के बाद से ही सुंदरवन एक वन्यजीव अभयारण्य के रूप में जाना गया हैं। लगभग 400 से अधिक रॉयल बंगाल टाइगर हैं और 30000 से अधिक चित्तीदार हिरण क्षेत्र में पाए गए थे। गंगा नदी एक आकर्षित डेल्टा बनाती हैं। यदि आप भी सुंदरवन नेशनल पार्क के बारे में जानना चाहते हैं तो हमारे इस आर्टिकल को पूरा जरूर पढ़े।

1. सुंदरवन कहाँ स्थित है – Where Is The Sundarban National Park In Hindi

सुंदरवन कहाँ स्थित है

Image Credit: Tapojyoti Das

सुन्दरवन नेशनल पार्क पश्चिम बंगाल राज्य में गंगा नदी पर एक आकर्षित सुंदरवन डेल्टा पर स्थित हैं।

और पढ़े: मानस राष्ट्रीय उद्यान घूमने की जानकारी 

2. सुन्दरवन नेशनल पार्क के जानवर – Sundarban National Park Fauna In Hindi

सुन्दरवन नेशनल पार्क के जानवर

(Sundarban Forest Animals) सुंदरवन नेशनल पार्क में जानवरों की कई प्रजातियां पाई जाती हैं जिनमे से कुछ किंग क्रेब्स, बाटागुर बास्का, ओलिव रिडले और कछुए हैं। इन जंगलों में विशाल छिपकलियां, जंगली सूअर, चित्तीदार हिरण और मगरमच्छ भी देख सकते हैं। सुंदरबन एनिमल्स सबसे प्रमुख आकर्षण साइबेरियाई बतख हैं। सुंदरवन में पानी में पाए जाने वाले छोटे-छोटे जीवो को फाइटोप्लांकटन कहा जाता है जोकि अंधेरे में चमकता है। सुंदरवन को विशेष रूप से दुनिया में बाघों के लिए जाना जाता हैं। यहाँ पाए जाने वाले बाघों ने खुद को खारा पानी पीने के अनुकूल किया हैं। रीसस मकाक, फिशिंग कैट्स, चीतल, जंगली सूअर, छोटे भारतीय सिवेट, लेपर्ड बिल्लियाँ, कॉमन ओटर और ब्लैक फ़िनलेस पोरपाइज़ आदि पाए जाते हैं। डॉल्फ़िन नदी के पानी में दो प्रकार के डॉल्फ़िन गंगेटिक डॉल्फ़िन और इरावाडी डॉल्फ़िन पाए जाते हैं।

इसके अलावा यहाँ पाए जाने वाले सरीसृप में एस्टुआरिन क्रोकोडाइल (क्रोकोडिलस पोरोसस), रसेल वाइपर, किंग कोबरा, इंडियन पायथन, कॉमन क्रेट, कोबरा, रैट स्नेक, चेकर्ड केलबैक और ग्रीन व्हिप स्नेक प्रमुख हैं। पश्चिम बंगाल में सांपों की आबादी का 93 में से 57 प्रकार की प्रजाति इसी जंगल में पाई जाती हैं। सुंदरवन 210 से अधिक पक्षियों की प्रजाति का दावा करता हैं। यहाँ पाए जाने वाले पक्षियों में मुख्य रूप से शॉर्ट टॉड ईगल, सैंडपाइपर, व्हिम्ब्रेल्स, स्पूनबिल्स, ओरिएंटल हनी बज़र्ड, हेरोन्स, स्टिल्ट्स, थिक केन, ऑस्प्रे और क्रेस्टेड सर्पेंट ईगल, ग्रीन शैंक्स, करलेव, ऑस्प्रे, शिकारा, ब्राह्मणी पतंग आदि हैं। सुन्दरवन नेशनल पार्क में पानी में पाए जाने वाले भारतीय डॉग शार्क, हैमर हेडेड शार्क, बुल शार्क, ब्लैक टिप शार्क, पेल एडेड स्टिंग रेज, पेल एडेड स्टिंग रेज और ब्लैक एडेड स्टिंग रेज प्रमुख हैं।

3. सुंदरवन नेशनल पार्क की वनस्पति – Sundarban National Park Flora In Hindi

सुंदरवन नेशनल पार्क की वनस्पति

Image Credit: Sanjay Sarkar

सुंदरवन नेशनल पार्क में पाई जाने वाली वनस्पति में मैंग्रोव वनस्पतियों के साथ-साथ नम उष्णकटिबंधीय वन पाए जाते है। मैंग्रोव की कई प्रजातियाँ को यहाँ देखा जा सकता हैं। सुंदरी पेड़ (हेरिटियर फॉम्स) इसकी आबादी जंगल में बहुत अधिक हैं इसी धारणा के चलते इस जंगल का नाम सुंदरवन रखा गया हैं। इसके अलवा यहाँ पाई जाने वाली मैंग्रोव की अन्य प्रजातियां ग्यूवा (एक्सोकेरिया एग्लोचा),  कांकरा (ब्रूगुएरा जिम्नोरिज़ा), और गोरान (सेरियोप्स डिकेंड्रा),  केओरा (सोननेरिया एपेटाला), धुंडुल (ज़ाइलोकार्पस ग्रैनटम) आदि हैं। जंगल में पाम ट्री की प्रजातियां, स्पीयरग्रास और खगरा घास भी अधिक पाए जाते हैं।

और पढ़े: हिमाचल प्रदेश में साहसिक गतिविधियाँ

4. सुंदरवन नेशनल पार्क का प्रवेश शुल्क – Sundarban National Park Entry Fee In Hindi

सुंदरवन नेशनल पार्क का प्रवेश शुल्क

Image Credit: Ayush Pandey

सुंदरवन नेशनल पार्क में स्थानीय पर्यटक न्यूनतम शुल्क पर घूमने जा सकते हैं। जबकि विदेशी पर्यटकों के लिए कोलकाता वन कार्यालय द्वार एक विशेष परमिट लेना होता हैं जिसे फारेस्ट अधिकारी के सामने प्रस्तुत करना जरूरी होता हैं एंट्री के वक्त और यह परमिट 5 दिन तक मान्य रहता हैं।

5. सुंदरवन नेशनल पार्क बोट सफारी – Sunderban National Park Safari In Hindi

सुंदरवन नेशनल पार्क बोट सफारी

सुन्दरवन नेशनल पार्क की यात्रा के दौरान आप यहाँ कुछ प्रमुख सफारी का आनंद ले सकते हैं और अपनी यात्रा को सफल और रोमांचित बना सकते हैं। सुंदरवन नेशनल पार्क में नाव सफारी सरकार द्वारा संचालित की जाती हैं जोकि छोटे और बड़े रूप में उपलब्ध हैं। बोट सफारी को एक दिन या इससे भी लम्बी अवधि के लिए बुक किया जा सकता हैं। पश्चिम बंगाल सरकार द्वारा संचालित की जाने वाली क्रूज 2 नाइट क्रूज आपको सजनेखाली, सुधन्याखाली, झिंगाखाली और डोबंकी प्रहरीदुर्ग तक की यात्रा पर ले जाता हैं। अगर आप चाहे तो निजी क्रूज पर्यटन से भी यहाँ का लुत्फ़ उठा सकते हैं।

6. सुंदरवन नेशनल पार्क खुलने और बंद होने का समय – Sundarbans National Park Timings In Hindi

सुंदरवन नेशनल पार्क खुलने और बंद होने का समय

Image Credit: Dhananjoy Das

सप्ताह के सातो दिन बोट सफारी चलती है सुबह 8:30 बजे से शाम 4 बजे तक। शाम को 6:30 बजे के बाद बोट को नही चलाया जाता है।

और पढ़े: दार्जिलिंग टूरिज्म के बारे में संपूर्ण जानकारी 

7. सुंदरवन नेशनल पार्क के आसपास के प्रमुख पर्यटन और आकर्षण स्थल – Places To Visit Near Sundarban National Park In Hindi

सुंदरवन नेशनल पार्क घूमने के बाद आप इसके कुछ प्रमुख पर्यटन स्थलों पर भी घूमने जा सकते हैं। सुंदरवन के आसपास के इन टूरिस्ट प्लेसो का नजारा और खूबसूरती आपको मन्त्र-मुग्ध कर देगी। तो आइए हम आपको सुंदरवन की इन नजदीकी डेस्टिनेशन के बारे में जानकारी इस लेख में देते हैं।

7.1 नेतिधोपानी – Netidhopani Temple In Hindi

नेतिधोपानी

Image Credit: Aaditya Jyoti Saha

नेतिधोपानी सुंदरवन की यात्रा के दौरान एक लोकप्रिय पर्यटन स्थल हैं, जोकि लगभग 400 साल पुराना मंदिर हैं। नेतिधोपानी मंदिर में पूजा करने के लिए पर्यटकों की भीड़ बड़ी संख्या में सुंदरबन की यात्रा पर आती हैं।

7.2 सुधान्याखाली वाच टावर – Sajnekhali Watch Tower In Hindi

सुधान्याखाली वाच टावर

Image Credit: Aakash

सुधन्याखाली वाच टावर सुंदरवन का एक प्रमुख पर्यटन स्थल हैं और यहाँ से बाघों की घनी आबादी को पर्यटक अपनी आँखों से देख सकते हैं। इसके अलावा पर्यटक सुंदरवन के अन्य वन्यजीवों जैसे- अक्ष मृग और मगरमच्छों आदि को भी देख सकते हैं। यह टावर पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करता हैं।

7.3 कनक – Kanak In Hindi

सुंदरवन में देखने लायक स्थान कनक ओलिव रिडले कछुओं का निवास स्थान है जोकि खासतौर पर उथले पानी और समुद्र तटो पर पाए जाते हैं। प्रजन की अबधि के दौरान यह कछुए दूर से सुंदरवन क्षेत्र में आते हैं। यह स्थान यहाँ आपने वाले पर्यटकों के लिए सुखद अनुभव की अनुभूति कराता हैं।

और पढ़े: कालीघाट मंदिर की जानकारी 

7.4 हॉलिडे आइलैंड – Haliday Island Sundarban In Hindi

हॉलिडे आइलैंड

सुंदरवन नेशनल पार्क के दक्षिण में स्थित हॉलिडे आइलैंड एक मशहूर टाइगर रिजर्व हैं।  हर साल बड़ी संख्या में पर्यटकों द्वारा हॉलिडे आइलैंड का दौरा किया जाता है। हॉलिडे आइलैंड पर जाने वाले पर्यटक बार्किंग हिरण को देखने का अनुभव ले सकते है।

7.5 कटका सुंदरवन – Katka In Hindi

कटका सुंदरवन

Image Credit: Sobuj

सुंदरवन के पर्यटन में कटका सुंदरकांस में सफारी के लिए एक प्रसिद्ध स्थान है और यहाँ से बाघों की आबादी को भी देखा जा सकता हैं। इसके अलावा सुंदरवन में पक्षियों को देखने के लिए भी यह एक आदर्श स्थान हैं। कटका की यात्रा कर पर्यटक कई जंगली जानवर बाघ, हिरण, बंदर और पक्षियों को देख सकते हैं। ट्रेकिंग के शौकीन पर्यटकों के लिए भी यह एक आदर्श पॉइंट के रूप में जाना जाता हैं और यह काचीखली तक फैला हुआ हैं। इस स्थान को टाइगर पॉइंट के रूप में जाना जाता हैं।

7.6 कपिलमुनि मंदिर – Kapil Muni Temple In Hindi

कपिलमुनि मंदिर

सुंदरवन का दर्शनीय स्थल कपिलमुनि मंदिर यहाँ का एक प्रमुख पर्यटन स्थल हैं। कपिलमुनि मंदिर सुबह 6 बजे से शाम के 8 बजे तक खुला रहता हैं। पर्यटक दूर-दूर से इस मंदिर के दर्शन के लिए आते हैं।

और पढ़े: गंगासागर तीर्थ यात्रा की जानकारी 

7.7 सजनेखली पक्षी अभयारण्य – Sajnekhali Bird Sanctuary In Hindi

सजनेखली पक्षी अभयारण्य

सजनेखली पक्षी अभयारण्य पीचक्ली और गोमती नदियों के बीच स्थित एकमात्र ऐसा स्थान है जहाँ पर्यटक सैर पर जा सकते हैं। सजनेखली बर्ड सेंचुरी सुंदरबन में टाइगर रिजर्व से सटे एग्रेस, बगुलों और पक्षियों की कई अन्य प्रजातियों का निवास स्थान है। टूरिस्ट यहां मैंग्रोव इंटरप्रिटेशन सेंटर भी जा सकते हैं। यह स्थान अपने यहाँ शानदार पक्षी अभ्यारण के लिए जाना जाता हैं।

7.8 भारत सेवाश्रम संघ मंदिर – Bharat Sevashram Sangha Temple In Hindi

सुंदरवन का दर्शनीय स्थल भारत सेवाश्रम संघ मंदिर पर्यटकों को बहुत अधिक आकर्षित करता हैं। यह मंदिर सुबह 6 बजे से शाम के 8 बजे तक पर्यटकों के लिए खुला रहता हैं। भारत सेवाश्रम संघ मंदिर में किसी प्रकार का कोई प्रवेश शुल्क नही लगता हैं।

7.9 हिरण पॉइंट – Hiran Point In Hindi

हिरण पॉइंट

Image Credit: Mohammad Shahriar Saif

हिरणपॉइंट सुंदरवन और खुलना जिले के दक्षिणी भाग में स्थित है एक आकर्षित टूरिस्ट प्लेस हैं।यह स्थान तीनों ओर से जल निकायों से घिरा हुआ हैं और खुलना रेंज के उत्तर में स्थित है। हिरन पॉइंट के पश्चिम में ओरपन गचिया नदी और पूर्व में पोरूर नदी बहती हैं। पर्यटकों  को यहाँ जानवरो की झलक देखने को मिल जाती हैं।

7.10 क्रोकोडाइल सेंचुरी – Crocodile Sanctuary In Sundarban In Hindi

क्रोकोडाइल सेंचुरी

सप्तमुखी नदी से प्रवाहित भागबतपुर मगरमच्छ परियोजना नामखाना से कुछ ही घंटों की दूरी पर स्थित सुंदरवन का पर्यटन स्थल है। यह दुनिया के सबसे बड़े एस्टुरीन मगरमच्छों की हैचरी के रूप में जाना जाता है।

और पढ़े: भारत के प्रमुख राष्ट्रीय उद्यान की जानकरी 

7.11 लोथियन द्वीप पक्षी अभयारण्य – Lothian Island Bird Sanctuary In Hindi

लोथियन द्वीप पक्षी अभयारण्य दक्षिण 24 परगना जिले में स्थित पश्चिम बंगाल के आकर्षित वन्यजीव अभ्यारण में से एक है। लोथियन द्वीप पक्षी अभयारण्य में कई प्रजाति के पक्षी पाए जाते हैं, जिनमे से कुछ प्रमुख – ब्लैक-कैप्ड किंगफिशर, क्लब, टर्न, व्हाइट-बेल्ट सी-ईगल और व्हिम्ब्रेल आदि शामिल हैं।

7.12 पियाली नदी – Piyali River In Hindi

पियाली नदी

पियाली सुंदरवन का प्रवेश द्वार हैं जोकि कोलकाता से 72 किलोमीटर की दूरी पर स्थित हैं। धान के खेतों से बहती हुई यह खूबसूरत नदी मतला नदी से मिलती है। पियाली डेल्टा रोमांटिक छुट्टियों मानाने वालो के लिए एक आदर्श स्थान के रूप में जाना जाता हैं।

7.13 डब्लर चार द्वीप – Dublar Char Island In Hindi

डब्लर चार द्वीप

सुंदरवन का प्रसिद्ध पर्यटन स्थल डब्लर चार द्वीप खुलना जिले के दक्षिणी भाग में स्थित है जोकि बंगाल की खाड़ी से सीमांत भाग भी बनाता है। डब्लर चार द्वीप के पूर्वी भाग में बहने वाली नदी पास्सुर नदी हैं और पश्चिमी किनारे पर शिभा नदी बहती हैं। मछली पकड़ने के लिए यह एक आदर्श स्थान हैं। सुंदरवन की यात्रा के दौरान पर्यटक इस स्थान का दौरा भी करते हैं।

7.14 टिन कोना द्वीप – Tin Kona Island Sundarban In Hindi

टिन कोना द्वीप

टिन कोना आइसलैंड सुंदरवन में वन्यजीवों के लिए एक आकर्षित और लौकप्रिय स्थान है। जिसका शाब्दिक अर्थ तीन कोने वाले द्वीप से लिया गया है। टिन कोना द्वीप बाघ और हिरणों के लिए भी प्रसिद्ध है।

और पढ़े: रणथंभौर नेशनल पार्क घूमने की जानकारी 

8. सुंदरवन नेशनल पार्क घूमने जाने का सबसे अच्छा समय – Best Time To Visit Sundarban National Park In Hindi

सुंदरवन नेशनल पार्क घूमने जाने का सबसे अच्छा समय

सुंदरवन नेशनल पार्क की यात्रा पर जाने के लिए सबसे अच्छा समय दिसंबर और फरवरी महीने के बीच का माना जाता है क्योंकि यह मौसम सबसे सुखद है। हालांकि यह नेशनल पार्क पूरे वर्ष भर खुला रहता है लेकिन बाढ़ और बढ़ते हुए शिकारी गतिविधियों की वजह से मानसून के दौरान ज्यादातर बचा जाता है।

9. सुंदरवन रास्ट्रीय उद्यान में खाने के लिए स्थानीय भोजन – Local Food Sundarban National Park In Hindi

सुंदरवन रास्ट्रीय उद्यान में खाने के लिए स्थानीय भोजन

सुंदरवन नेशनल पार्क में भोजन के सीमित विकल्प ही मौजूद हैं। लेकिन इन सीमित विकल्प में ही आपको खाने अद्वितीय आनंद प्राप्त हो जायेगा। इसलिए आप जब भी सुंदरवन की यात्रा करे तो यहाँ का भोजन जरूर चखे।

10. सुंदरवन नेशनल पार्क के आसपास कहां रुके – Where To Stay In Sundarban National Park In Hindi

सुंदरवन नेशनल पार्क के आसपास कहां रुके

सुंदरवन नेशनल पार्क के आसपास आपको रुकने के लिए कुछ स्थनीय होटल मिल जायेंगे जोकि लो-बजट से लेकर हाई-बजट तक उपलब्ध है। यहा से सबसे नजदीकी सिटी कोलकाता हैं जहां आप रुक सकते हैं।

  • रॉयल सुंदरबन वाइल्ड रिजॉर्ट
  • सुंदरवन टाइगर कैंप
  • सोलिटरी नूक
  • स्वाभिमी गेस्ट हाउस
  • प्रकृति विलेज रिज़ॉर्ट सुंदरवन

और पढ़े: विक्टोरिया मेमोरियल कोलकाता की जानकारी 

11. सुंदरवन नेशनल पार्क कैसे जाये – How To Reach Sundarban In Hindi

सुंदरवन नेशनल पार्क जाने के लिए आप फ्लाइट, ट्रेन और बस में से किसी का भी चुनाव कर सकते हैं।

11.1 सुंदरवन नेशनल पार्क फ्लाइट से कैसे पहुंचे – How To Reach Sundarban By Flight In Hindi

सुंदरवन नेशनल पार्क फ्लाइट से कैसे पहुंचे

सुन्दरवन नेशनल पार्क की यात्रा के लिए यदि आपने हवाई मार्ग का चुनाव किया हैं तो हम आपको बात दें की इसके सबसे निकटतम हवाई अड्डा कोलकाता का एयरपोर्ट हैं जोकि 90 किलोमीटर की दूरी पर स्थित हैं। यहां से आप बस या टैक्सी से अपनी यात्रा पूरी कर सकते हैं।

11.2 ट्रेन से सुंदरवन नेशनल पार्क कैसे पहुँचे – How To Reach Sundarban By Train In Hindi

ट्रेन से सुंदरवन नेशनल पार्क कैसे पहुँचे

सुन्दर वन जाने के लिए कोई सीधी ट्रेन उपलब्ध नही हैं। लेकिन सुंदरवन के सबसे निकटतम गोधाखाली शहर का कैनिंग रेलवे स्टेशन हैं, जोकि सुंदरवन नेशनल पार्क से 30 किलोमीटर की दूरी पर स्थित हैं। रेलवे स्टेशन से आप यहा चलने वाले स्थानीय साधनों की मदद से सुंदरवन नेशनल पार्क पहुँच जायेंगे।

11.3  सुंदरवन नेशनल पार्क कैसे पहुँचे बस से – How To Reach Sundarban By Road In Hindi

सुंदरवन नेशनल पार्क कैसे पहुँचे बस से

सुंदरवन नेशनल पार्क जाने के लिए यदि आपने सड़क मार्ग का चुनाव किया हैं तो हम आपको बता दें कि यह उद्यान पश्चिम बंगाल के पड़ोसी शहरों से सड़क मार्ग के माध्यम से बहुत अच्छी तरह से जुड़ा हुआ हैं। आप सोनाखली, गोदखली, नामखाना, कैनिंग, रायडीह या नजत से बस का चुनाव कर सकते हैं।

और पढ़े: पश्चिम बंगाल के पर्यटन स्थल की जानकारी

12. सुंदरवन नेशनल पार्क का नक्शा – Sundarban National Park Map

13. सुंदरवन नेशनल पार्क की फोटो गैलरी – Sundarban National Park Images

View this post on Instagram

Right in the lap of nature, there is a village called the "Eco Village" in Satjela island of Sundarbans, where you will experience the simple life of rural Bengal, lots of clean air, delicious food, friendly people and the fragrance of mother earth.?? Not having a Television is an added bonus for travelers who want to travel back in time from the regular hustle bustle of city life.? The cottage I stayed in was nicely built with a comfortable wooden bed and mosquito net. The bathroom was clean, it had a shower as well as a bucket for taking a bath. There was pond just outside our cottage with Swans in them. As you wake up in the morning you will see women washing clothes, people taking a bath…really takes you back in time. The Bengali food served during lunch and dinner prepared by the local women of Sundarbans is absolutely delicious, just like home food. Evening entertainment program had the local musicians playing folk songs in the common sit-out area. I danced to the tune of folk music. I just fell in love with this place and its people. ❤❤ Early morning I was in the boat to the forest with a local guide to see the Royal Bengal Tiger in the wild. We spotted many animals like Chital ( spotted deer ) – the main prey of the tiger, the Fiddler Crabs – the most colorful residents of Sundarbans, the Monitor Lizard – one the largest species of lizards which can grow up to 10 feet in length and many species of birds like the Great Egret, but no tiger. Only a very few lucky ones get a chance to see the majestic Royal Bengal Tiger and we were not the lucky ones today. However, the overall experience is worth taking the trip. The owners and staff of eco-village are very welcoming and friendly, I believe this probably the best place to stay in Sundarbans for relaxing and unwinding yourself. So guys come and experience the wild in eco-village.??❤

A post shared by ?Your Travel Insane Buddy ? (@yourinsanebuddy) on

और पढ़े:

Write A Comment