Generic selectors
Exact matches only
Search in title
Search in content
Search in posts
Search in pages

Pench National Park In Hindi पेंच राष्ट्रीय उद्यान भारत का एक बहुत खास राष्ट्रीय उद्यान है जो मध्यप्रदेश राज्य के सिवनी और छिन्दवाड़ा जिलों में फैला हुआ है। आपको बता दें कि पेंच नेशनल पार्क का नाम बदलकर अब इंदिरा प्रियदर्शनी राष्ट्रीय उद्यान रख दिया गया है। चट्टानी इलाकों में सागवान के वन और कई प्रकार के वन्यजीवों के बीच बहने वाली राजसी पेंच नदी के साथ पेंच नेशनल पार्क प्रसिद्ध नावेल ‘द जंगल बुक’  के लिए एक प्रेरणा के रूप में काम करता है। आपको बता दें कि इस पार्क में मोगली लैंड बनाया गया है। पेंच नेशनल पार्क कई तरह के वनस्पतियों और जीवों का घर है, जिसकी वजह से इसका नाम भारत के प्रमुख राष्ट्रीय उद्यानों में आता है। जंगली जानवरों के हिसाब से समृद्ध जंगल और शांत वातावरण इस राष्ट्रीय उद्यान को एक अच्छा पर्यटक स्थल बनता है। अगर आप पेंच राष्ट्रीय उद्यान घूमने की योजना बना रहे हैं तो इस आर्टिकल को जरुर पढ़ें।

पेंच नेशनल पार्क का इतिहास – Pench National Park History In Hindi

पेंच राष्ट्रीय उद्यान के विविध वनस्पतियाँ और जीव- Diverse Flora And Fauna Of Pench National Park In Hindi

पेंच नेशनल पार्क में वन्यजीव- Pench National Park Wildlife In Hindi

पेंच राष्ट्रीय उद्यान सफारी- Pench National Park Safari In Hindi

पेंच नेशनल पार्क एंट्री फीस- Pench National Park Entry Fees in Hindi

पेंच नेशनल पार्क खुलने का समय- Pench National Park Opening Time in Hindi

पेंच नेशनल पार्क की यात्रा करने का सबसे अच्छा समय- Best Time To Visit Pench National Park in Hindi

पेंच नेशनल पार्क में रुकने की जगह- Pench National Park Accommodation in Hindi

पेंच नेशनल पार्क तक कैसे पहुंचे- How To Reach Pench National Park in Hindi

  1. हवाई जहाज से पेंच नेशनल पार्क तक कैसे पहुंचे- How To Reach Pench National Park By Airplane in Hindi
  2. रेल द्वारा से पेंच राष्ट्रीय उद्यान तक कैसे पहुंचे- How To Reach Pench National Park By Train in Hindi
  3. सड़क मार्ग द्वारा पेंच नेशनल पार्क तक कैसे पहुंचे- How To Reach Pench National Park By Road in Hindi

पेंच नेशनल पार्क की लोकेशन का मैप – Pench National Park Location

पेंच नेशनल पार्क की फोटो गैलरी – Pench National Park Images

1. पेंच नेशनल पार्क का इतिहास – Pench National Park History In Hindi

पेंच नेशनल पार्क का इतिहास - Pench National Park History In Hindi

पेंच नेशनल पार्क सिवनी और छिन्दवाड़ा जिले में 292.83 वर्ग किलोमीटर क्षेत्र में फैला हुआ है। इस पार्क का नाम पेंच इन दोनों जिलों को दो बांटने वाली पेंच नदी के नाम पर हुआ है जो उत्तर दिशा से दक्षिण की तरफ बहती है। बता दें कि इस जगह को मूल रूप से 1977 में एक अभयारण्य घोषित किया गया था फिर 1983 में इसके एक राष्ट्रीय उद्यान बना दिया गया। सर्वश्रेष्ठ टाइगर रिजर्व होने का गौरव प्राप्त करने वाले पेंच नेशनल पार्क को साल 1993 में टाइगर रिजर्व बना दिया गया था। साल 2002 में इस पार्क का नाम बदलकर पेंच से इंदिरा प्रियदर्शिनी राष्ट्रीय उद्यान रख दिया गया। इस पार्क  प्राकृतिक समृद्धि का उल्लेख मुगल काल के समय के सम्राट अकबर के शासन काल में 16 वीं सदी के दस्तावेज ऐन-ए-अकबरी में भी किया गया है। इस पार्क को मोगली लैंड के रूप में भी जाना जाता है।

2. पेंच राष्ट्रीय उद्यान के विविध वनस्पतियाँ और जीव- Diverse Flora And Fauna Of Pench National Park In Hindi

पेंच राष्ट्रीय उद्यान मध्यप्रदेश राज्य का एक प्रमुख नेशनल पार्क है जो विभिन्न वनस्पतियों और जीवों से समृद्ध है। इस पार्क मध्य प्रदेश के छिंदवाड़ा और सिवनी जिलों के घने जंगल शामिल है। पार्क प्राकृतिक रूप से धन्य परिवेश औ हरियाली से भरा हुआ है। पेंच नदी से घिरा हुआ यह नेशनल पार्क महान औषधीय महत्व के पौधों के लिए बहुत प्रसिद्ध है। इस पार्क में औषधीय महत्व के दुर्लभ पौधों की 1300 से अधिक प्रजातियां पाई जाती हैं।

3. पेंच नेशनल पार्क में वन्यजीव- Pench National Park Wildlife In Hindi

पेंच नेशनल पार्क में वन्यजीव- Pench National Park Wildlife In Hindi

आपको बता दें कि पेंच नेशनल पार्क में वनस्पतियों और जीवों की समृद्ध विविधता है। इस पार्क में कई नस्ल के जानवर निवास करते है जिनमें रॉयल बंगाल टाइगर, तेंदुए, सुस्त भालू और चिंकारा कई तरह के जानवरों के नाम शामिल है। इसके साथ ही पेंच नेशनल पार्क पेंच प्रवासी आबादी और स्वदेशी दोनों के लिए ही फेमस है जिनमें भारतीय पिट्टा, मालाबार पाइड हॉर्नबिल, ग्रे-हेडेड फिश ईगल और भालू-हेडेड गीज, ब्राह्मणी डक आदि के अलावा उल्लू की प्रजनन प्रजातियां भी हैं। पेंच नेशनल पार्क वनस्पतियों में भी बहुत धनी है जिनमें सागौन, बांस, सफेद कुल्लू और महुआ के पेड़ों के नाम शामिल है।

और पढ़े: दुधवा नेशनल पार्क घूमने की पूरी जानकारी

4. पेंच राष्ट्रीय उद्यान सफारी- Pench National Park Safari In Hindi

पेंच नेशनल पार्क सफारी- Pench National Park Safari In Hindi

अगर आप पेंच नेशनल पार्क की सैर करने जाना चाहते हैं तो बता दें कि यह पार्क प्रत्येक वर्ष 1 अक्टूबर से 30 जून तक पर्यटकों के लिए खुला रहता है। पार्क बरसात के मौसम के समय बंद रहता है। इस पार्क में जाने का सबसे अच्छा समय नवंबर से फरवरी के महीनों का होता है। परिसर में हल्के वाहनों और 15 सीटर बसों की अनुमति है। पार्क में दिन और रात दोनों के समय आप एक खुली जीप की मदद से सफारी का मजा ले सकते हैं। पेंच नेशनल पार्क में क्षेत्रों का पता लगाने के लिए 17 किमी की दूरी पर बोट सफारी की सुविधा भी उपलब्ध है। इस बोट सफारी की मदद से आप वन्यजीव को देखने के अलावा कई शानदार अनुभवों का आनंद भी ले सकते हैं और एक आदिवासी जीवन, प्रसिद्ध स्थानीय बांधों और मंदिरों को देखने जैसे काम भी कर सकते हैं।

5. पेंच नेशनल पार्क एंट्री फीस- Pench National Park Entry Fees in Hindi

भारतीयों के लिए- 15 रूपये
विदेशियों के लिए 150 रूपये

6. पेंच नेशनल पार्क खुलने का समय- Pench National Park Opening Time in Hindi

सुबह 6 से 11 बजे तक
दोपहर 3 बजे से शाम 6 बजे तक

7. पेंच राष्ट्रीय उद्यान की यात्रा करने का सबसे अच्छा समय- Best Time To Visit Pench National Park in Hindi

पेंच नेशनल पार्क की यात्रा करने का सबसे अच्छा समय- Best Time To Visit Pench National Park in Hindi

अगर आप पेंच नेशनल पार्क की यात्रा करना चाहते हैं और यह जानना चाहते हैं कि यहां जाने का अच्छा समय कौनसा है तो बता दें कि इस पार्क के वन्यजीवों को देखने के लिए सबसे अच्छा समय फरवरी से जून तक के महीनों का है।  ग्रीष्मकाल में यहां जानवरों को देखने की संभावना काफी बढ़ जाती है, क्योंकि वे इस मौसम में कई बार पानी पीने के लिए बाहर निकलते हैं। मौसम के हिसाब से पेंच नेशनल पार्क की यात्रा करने का अच्छा समय अक्टूबर से लेकर फरवरी का है। इस दौरान मौसम बहुत सुहावन होता है।

8. पेंच नेशनल पार्क में रुकने की जगह- Pench National Park Accommodation in Hindi

पेंच नेशनल पार्क में रुकने की जगह देख रहे हैं तो आपको बता दें कि यहां आपको रिसॉर्ट्स और लॉज की सुविधा उपलब्ध है।  लॉज और रिसॉर्ट्स टुरिया गेट के करीब स्थित हैं जो यहां का एक खास द्वार है और लगभग सभी पर्यटक इस प्रवेश द्वार के माध्यम से सफारी करते हैं। यहां कुछ लोकप्रिय रिसॉर्ट्स और सफारी में पेंच जंगल कैंप, बागवन, महुआ वैन, तुली टाइगर कॉरिडोर पेंच, जंगल होम के नाम शामिल है।

और पढ़े: जिम कॉर्बेट नेशनल पार्क की जानकारी

9. पेंच नेशनल पार्क तक कैसे पहुंचे- How To Reach Pench National Park in Hindi

पेंच नेशनल पार्क तक कैसे पहुंचे- How To Reach Pench National Park in Hindi

पेंच नेशनल पार्क और टाइगर रिजर्व भारत में सबसे आसानी से पहुंचे जाने वाले वन्यजीव पार्कों में से एक है। मध्य प्रदेश की दक्षिणी सीमाओं और महाराष्ट्र की सीमाओं में स्थित इस वन्यजीव पार्क की सैर करने के लिए हर साल भारी संख्या में पर्यटक आते हैं।

9.1 हवाई जहाज से पेंच नेशनल पार्क तक कैसे पहुंचे- How To Reach Pench National Park By Airplane in Hindi

अगर आप पेंच राष्ट्रीय उद्यान के लिए हवाई यात्रा करना चाहते हैं तो बता दें कि इस पार्क का निकटतम हवाई अड्डा नागपुर में सोनेगांव हवाई अड्डा है जो उद्यान से 93 किलोमीटर दूर है। इस हवाई अड्डे से देश के सभी प्रमुख शहरों को जोड़ने वाली नियमित उड़ानें हैं।

9.2 रेल द्वारा से पेंच राष्ट्रीय उद्यान तक कैसे पहुंचे- How To Reach Pench National Park By Train in Hindi

ट्रेन से यात्रा करने वालों के लिए बता दें कि पेंच नेशनल पार्क का निकटतम स्टेशन सिवनी रेलवे स्टेशन है जो पेंच से लगभग 30 किलोमीटर दूर है। यह रेलवे स्टेशन रेल मार्ग द्वारा मुंबई और देश के अन्य स्थानों से जुड़ा हुआ है।

9.3 सड़क मार्ग द्वारा पेंच नेशनल पार्क तक कैसे पहुंचे- How To Reach Pench National Park By Road in Hindi

सिवनी बस स्टैंड से आप बसों और जीपों को पेंच नेशनल पार्क तक ला सकते हैं। सिवनी जिला मध्यप्रदेश और महाराष्ट्र में रोडवेज के एक अच्छे नेटवर्क के साथ सभी प्रमुख शहरों से जुड़ा हुआ है। नागपुर-जबलपुर राजमार्ग पर पेंच स्थानीय परिवहन विकल्प के रूप में टैक्सियां भी उपलब्ध है। अगर आप नागपुर से बस लेने की योजना बना रहे हैं तो आपको सुतारा या खवासा उतरना होगा।

और पढ़े: मानस राष्ट्रीय उद्यान घूमने की जानकारी 

10. पेंच नेशनल पार्क की लोकेशन का मैप – Pench National Park Location

11. पेंच नेशनल पार्क की फोटो गैलरी – Pench National Park Images

और पढ़े:

Write A Comment