राजगीर में घूमने लायक टॉप पर्यटन स्थल की जानकारी – Rajgir Tourism In Hindi

Rajgir In Hindi, राजगीर शहर भारत के बिहार राज्य के नालंदा जिले में स्थित हैं और अपने आसपास के प्रमुख पर्यटन स्थलों के लिए जाना जाता है। राजगीर पर्यटन स्थल बौद्ध धर्म, जैन धर्म और शांति के प्रतीक के रूप में जाना जाता हैं। शहर अपनी खूबसूरत वादियों और आकर्षण की वजह से पर्यटकों के बीच अत्यधिक लौकप्रिय हैं। राजगीर के प्रमुख आकर्षण में खूबसूरत पहाड़ी, राजगीर के घने जंगल, रहस्यमयी गुफाएं आदि शामिल हैं। राजगीर में भगवान बुद्ध और भगवान महावीर ने अपना समय बिताया था। राजगीर को प्राचीन काल में मगध की राजधानी के रूप में जाना जाता था। यदि आप राजगीर के बारे में अधिक जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो हमारे इस लेख को पूरा अवश्य पढ़े।

Table of Contents

राजगीर के प्रमुख पर्यटन स्थल – Rajgir Tourist Places In Hindi

राजगीर पर्यटन स्थल की यात्रा में आप इसके आसपास के प्रमुख पर्यटन स्थलों पर भी घूमने के लिए जा सकते हैं। राजगीर में कई प्राचीन महल, मंदिर, अखाड़े, झील और उद्यान आदि शामिल हैं, जहाँ आप घूमने के लिए जा सकते हैं।

राजगीर का प्रसिद्ध आकर्षण स्थल वेणुवन – Rajgir Ka Prasidh Aakarshan Sthal Venuvana In Hindi

राजगीर का प्रसिद्ध आकर्षण स्थल वेणुवन - Rajgir Ka Prasidh Aakarshan Sthal Venuvana In Hindi
Image Credit : Yanmethi Petrueang

राजगीर में घूमने वाली जगह वेणुवन को राजा बिम्बिसार ने बांस ग्रोव, वेलुवना बौद्ध को अपने निवास स्थान के लिए दान में दिया था। लेकिन आज वही स्थान एक आकर्षित पर्यटन स्थल के रूप रूप में जाना जाता है, जिसमे बांस, फूल और मध्य में बुद्ध की आकर्षित छवि बनी हुई हैं। वेणुवन के प्रमुख आकर्षण में एक बड़ा तालाब और खूबसूरत पार्क है।

राजगीर के दर्शनीय स्थल ग्रिधाकुटा – Rajgir Ka Darshaniya Sthal Gridhakuta In Hindi

राजगीर के दर्शनीय स्थल ग्रिधाकुटा – Rajgir Ka Darshaniya Sthal Gridhakuta In Hindi
Image Credit : Aakash kumar

राजगीर में पर्यटन के लिए प्रसिद्ध ग्रिधाकुटा एक आकर्षित चोटी हैं और गिद्ध चोटी के नाम से भी जाना जाता हैं। बता दें कि यह बौद्धों के लिए एक बहुत ही महत्वपूर्ण तीर्थ स्थल है। ग्रिधाकुटा ऐसे तीन प्रमुख स्थानों में से है जहां गौतम बुद्ध ने सबसे पहले प्रचार किया था। राजगीर शहर से बाहर एक छोटी मगर आकर्षित पहाड़ी हैं जोकि 400 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है।

और पढ़े : बिहार राज्य का इतिहास और संस्कृति की जानकारी

शांति स्तूप राजगीर की फेमस टूरिस्ट प्लेस – Shanti Stupa Rajgir Ka Famous Tourist Place In Hindiशांति स्तूप राजगीर की फेमस टूरिस्ट प्लेस – Shanti Stupa Rajgir Ka Famous Tourist Place In Hindi

राजगीर में देखने लायक जगह जापानी स्तूप को विश्व शांति स्तूप के रूप में भी जाना जाता है। जापानी स्तूप 400 मीटर की ऊँचाई पर ग्रिधाकुटा (Gridhakuta Hill) नामक पहाड़ी स्थित है और पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करता हैं। बता दें कि इस स्तम्भ का निर्माण जापानियों द्वारा करबया गया था जोकि विश्व शांति का प्रतीक हैं।

राजगीर में घूमने लायक जगह रोपवे – Rajgir Me Ghumne Layak Jagah Ropeway In Hindi

राजगीर में घूमने लायक जगह रोपवे - Rajgir Me Ghumne Layak Jagah Ropeway In Hindi
Image Credit : Sahitya Singh

राजगीर रोपवे को भारत का सबसे पुराना रोपवे कहा जाता है। बता दें कि यह रोपवे बिहार राज्य के अस्तित्व में एकमात्र रोपवे है। रोपवे लाइन एक रोमांचकारी और साहसिक गतिविधि हैं जोकि पर्यटकों को प्राकृतिक स्थान रत्नागिरि हिल के शीर्ष पर ले जाता है। यहाँ विश्व प्रसिद्ध शांति स्तूप स्थित हैं जोकि शांति पैगोडा के नाम से जाना जाता हैं। रोपवे जमीन से लगभग 1000 फीट की ऊंचाई तक जाता हैं।

और पढ़े : नालंदा विश्वविद्यालय बिहार के इतिहास की पूरी जानकारी

राजगीर का धार्मिक स्थल मखदुम कुंड – Rajgir Ka Dharmik Sthal Makhdum Kund In Hindi

राजगीर का धार्मिक स्थल मखदुम कुंड - Rajgir Ka Dharmik Sthal Makhdum Kund In Hindi
Image Credit : Manoj K Kushwaha

राजगीर का धार्मिक स्थल मखदूम शाह कुंड पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करता हैं। बता दें कि यह स्थान एक मुस्लिम सूफी संत मखदूम शाह के लिए जाना जाता हैं। पर्यटक यहाँ भी तपोधर्म की तरह कुछ गर्म झरनों की यात्रा कर सकते हैं।

राजगीर का ऐतिहासिक स्थल बिम्बिसार की जेल – Rajgir Ka Aetihasik Sthal Bimbisar Jail In Hindi

राजगीर का ऐतिहासिक स्थल बिम्बिसार की जेल - Rajgir Ka Aetihasik Sthal Bimbisar Jail In Hindi
Image Credit : Charvik Momaya

राजगीर का ऐतिहासिक स्थल बिम्बिसार जेल पर्यटकों द्वारा घूमी जाती हैं। माना जाता है कि बिम्बिसार के पुत्र अजातशत्रु ने अपने पिता को इसी स्थान पर कैद करके रखा था। बिम्बिसार जेल जमानी स्तूप का नजारा देखा जा सकता हैं।

राजगीर में देखने लायक जगह वीरयातन संग्रहालय – Rajgir Me Dekhne Layak Jagah Veerayatan Museum In Hindi

राजगीर में देखने लायक जगह वीरयातन संग्रहालय - Rajgir Me Dekhne Layak Jagah Veerayatan Museum In Hindi
Image Credit : Vipul Prihar

राजगीर का प्रमुख आकर्षण वीरयातन संग्रहालय ऐसे पर्यटकों के लिए बेहद खास हैं जोकि 24 जैन तीर्थंकरों के बारे में जानकारी प्राप्त करने के इक्षुक हैं। क्योंकि वीरयातन संग्रहालय में जैन धर्म के 24 तीर्थकरो के इतिहास के बारे में जानकारी रखी गई हैं। वीरयातन संग्रहालय के आकर्षण में लकड़ी और धातु से निर्मित 3-डी पैनल चित्र प्रदर्शित किए गए हैं।

राजगीर पर्यटन में प्राचीन जगह साइक्लोपियन दीवार – Rajgir Paryatan Me Prachin Jagah Cyclopean Wall In Hindi

राजगीर पर्यटन में प्राचीन जगह साइक्लोपियन दीवार - Rajgir Paryatan Me Prachin Jagah Cyclopean Wall In Hindi
Image Credit : Koushik Sarkar

राजगीर में देखने के लिए साइक्लोपियन दीवार ऐतिहासिक महत्व रखती हैं। बता दें कि लगभग 2500 साल पुरानी यह दीवार 4 मीटर चौड़ी और 40 किलोमीटर लंबी हैं। साइक्लोपियन दीवार पूरे राजगीर शहर को घेरती हैं। साइक्लोपियन दीवार का निर्माण मौर्यों द्वारा शहर को चारो तरफ से मजबूत बनाने के उद्देश्य से किया गया था। वर्तमान समय में इसका अधिकांश भाग खंडहर के रूप में तब्दील हो गया हैं।

और पढ़े : बोधगया दर्शनीय स्थल का इतिहास और यात्रा

राजगीर टूरिज्म में घूमने की अच्छी जगह सोन भंडार – Rajgir Tourism Me Ghumne Ki Achi Jagah Sonbhandar In Hindi

राजगीर टूरिज्म में घूमने की अच्छी जगह सोन भंडार - Rajgir Tourism Me Ghumne Ki Achi Jagah Sonbhandar In Hindi
Image Credit : Kanchan Kishore

राजगीर का मशहूर स्थल सोन भंडार एक ऐतिहासिक स्थान है। माना जाता हैं कि राजा बिम्बिसार का खजाना यही रखा जाता था। यह राजगीर कि पहाड़ी के दक्षिणी ढलानों पर स्थित हैं एक आकर्षित गुफा हैं। बता दें कि जैन धर्म से संबंधित पहले चार तीर्थंकरों और भगवान बुद्ध की प्रतिमा यहाँ देखी जा सकती हैं जोकि काले पत्थर से निर्मित हैं।

राजगीर का आकर्षक स्थान सप्तपर्णी गुफा – Rajgir Ka Aakarshan Sthan Saptaparni Cave In Hindiराजगीर का आकर्षक स्थान सप्तपर्णी गुफा - Rajgir Ka Aakarshan Sthan Saptaparni Cave In Hindi

राजगीर की आकर्षित सप्तपर्णी गुफाएं वैभव पहाड़ी पर स्थित हैं। इस गुफा ने पहली बौद्ध परिषद (First Buddhist Council) की मेजबानी थीं।  इस परिषद में लगभग 500 भिक्षुओं ने हिस्सा लिया था। बता दें कि इस परिषद् का नेतृत्व महाकश्यप ने किया था।

राजगीर में घूमने के लिए धार्मिक स्थल पावापुरी नालंदा – Rajgir Me Ghumne Ke Liye Dharmik Sthal Pawapuri Nalanda In Hindi

राजगीर में घूमने के लिए धार्मिक स्थल पावापुरी नालंदा - Rajgir Me Ghumne Ke Liye Dharmik Sthal Pawapuri Nalanda In Hindi
Image Credit : Emulum Qurkool

राजगीर का प्रसिद्ध स्थान पावापुरी जैन धर्म के अनुयाइयों के लिए एक पवित्र स्थान माना जाता हैं। पावापुरी बिहार राज्य के नालंदा जिले का प्रमुख आकर्षण भी हैं। पावापुरी को अपापुरी नाम के नाम से भी जाना जाता हैं। एक समय पावपुरी को मॉल महाजनपद की जुड़वां राजधानी के रूप में भी पहचान मिली थी। बता दें कि भगवान महावीर को 500 ईसा पूर्व में इसकी स्थान पर दफनाया गया था। पर्यटक दूर दूर से पावापुरी की यात्रा पर आते हैं। पावापुरी में कुछ पारंपरिक त्योहारों को बहुत ही धूम धाम से मनाया जाता हैं जिनमे सबसे खास राजगीर नृत्य महोत्सव और छठ पूजा आदि हैं।

और पढ़े : बिहार के औरंगाबाद के आकर्षण स्थलों की जानकारी

राजगीर में देखने वाली जगह मनियार मठ – Rajgir Me Dekhne Wali Jagah Maniyar Math In Hindi

राजगीर में देखने वाली जगह मनियार मठ - Rajgir Me Dekhne Wali Jagah Maniyar Math In Hindi
Image Credit : Ankur Saraf

राजगीर में देखने वाला स्थान मनियार मठ एक समय के दौरान सांपों की पूजा करने वाले पंथ का मठ हुआ करता था। इस स्थान के आंकड़ो से सांपो की संख्या का अंदाजा लगाया जा सकता हैं। मठ की संरचना एक स्तूप के आकार में है जोकि एक छोटे मंदिर के नाम पर हैं।

राजगीर का फेमस पर्यटन स्थान कुंडलपुर – Rajgir Ka Famous Paryatan Sthan Kundalpur In Hindi

राजगीर का फेमस पर्यटन स्थान कुंडलपुर - Rajgir Ka Famous Paryatan Sthan Kundalpur In Hindi
Image Credit : Prashant Kumar

राजगीर पर्यटन स्थल की यात्रा में कुंडलपुर एक आकर्षित पर्यटन स्थल हैं जोकि 24 वें जैन तीर्थंकर भगवान महावीर जन्म स्थान के रूप में जाना जाता हैं। बता दें कि गौतम स्वामी जी का जन्म स्थान भी कुंडलपुर है। भगवान महावीर की साढ़े चार फीट ऊँची एक आकर्षित प्रतिमा यहाँ का प्रमुख आकर्षण हैं। परिसर के अन्दर एक त्रिकाल चौबेसी जिनमंदिर है, जिसमे जैन तीर्थंकरों की 72 मूर्तियाँ स्थापित हैं।

और पढ़े : बांके बिहारी मंदिर का रहस्य और पौराणिक कथा

राजगीर का प्रसिद्ध मंदिर तपोधर्मा (लक्ष्मी नारायण) मंदिर – Rajgir Ka Prasidh Mandir Tapodharma (Lakshmi Narayan Mandir) In Hindi

राजगीर का तीर्थ स्थलों में शामिल तपोधर्मा या लक्ष्मी नारायण मंदिर एक पवित्र स्थान हैं जोकि पर्यटकों की आस्था का प्रमुख केंद्र हैं। पहले यहाँ एक प्राचीन बौद्ध मठ तपोभूमि में मौजूद था, लेकिन बाद में इस स्थान पर लक्ष्मी नारायण मंदिर का निर्माण किया गया। राजगीर का यह एक स्थान हैं जहां गर्म झरने पाए जाते हैं और गर्म पानी के इन झरनों में उपचारात्मक गुण भी मौजूद हैं।

राजगीर में घूमने की अच्छी जगह ह्वेन त्सांग मेमोरियल हॉल – Rajgir Me Ghumne Ki Achi Jagah Hiuen Tsang Memorial Hall In Hindi

राजगीर में घूमने की अच्छी जगह ह्वेन त्सांग मेमोरियल हॉल - Rajgir Me Ghumne Ki Achi Jagah Hiuen Tsang Memorial Hall In Hindi
Image Credit : Pallav Gautam

राजगीर का आकर्षित ह्वेन त्सांग मेमोरियल हॉल पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करता हैं। इस स्थान को चीनी विद्वान की स्मृति में निर्मित किया गया था।

राजगीर टूरिज्म में देखने लायक जगह चेरियट ट्रैक्स – Rajgir Tourism Me Dekhne Layak Jagah Chariot Tracks In Hindi

राजगीर में देखने वाला स्थान चेरियट ट्रैक्स के बारे में मान्यता हैं कि यह भगवान् श्री कृष्ण के रथ के पहियों से काटे गए समान्तर शैल शिलालेख हैं। भगवान कृष्ण में आस्था रखने वाले यात्री इस स्थान पर घूमने के लिए अवश्य आते हैं।

राजगीर में परिवार के साथ घूमने की जगह हॉट स्प्रिंग्स – Hot Springs Best Place To Visit In Rajgir In Hindi

राजगीर पर्यटन में घूमने वाली जगह राजगीर हॉट स्प्रिंग्स पर्यटकों को बेहद रास आती हैं। बता दें कि राजगीर शहर सात गर्म झरनों (सप्तर्षि) के लिए जाना जाता हैं। जोकि ब्रह्मकुंड नामक गर्म पानी के एक बड़े कुंड में एकत्रित होते हैं। हिन्दू, बौद्ध और जैन धर्म के अनुयाई इस स्थान पर स्नान करना पवित्र मानते हैं। मान्यता हैं कि इन झरनों के पानी में औषधीय गुण विधमान हैं।

और पढ़े : साँची स्तूप घूमने की जानकारी और इसके पर्यटन स्थल

राजगीर में देखने के लिए ऐतिहासिक स्थान सारिपुत्र का स्तूप – Rajgir Mein Dekhne Ke Liye Aetihasik Sthan Sariputra Stupa In Hindiराजगीर में देखने के लिए ऐतिहासिक स्थान सारिपुत्र का स्तूप – Rajgir Mein Dekhne Ke Liye Aetihasik Sthan Sariputra Stupa In Hindi

राजगीर का प्रसिद्ध सारिपुत्र स्तूप पर्यटकों के बीच लौकप्रिय हैं। सारिपुत्र गौतम बुद्ध के दो प्रिय शिष्यों में से एक थे और उनकी अस्थियों को यहाँ रखा गया था। सारिपुत्र ने भगवान बुद्ध के पद चिन्हों पर चलकर मोक्ष का मार्ग चुना। सारिपुत्र स्तूप की संरचना एक पिरामिड की तरह हैं और स्तंभों से घिरा हुआ है। सारिपुत्र के स्तूप की सात परतें इसकी विशालता को बयाँ करती हैं।

राजगीर का आकर्षित स्थल घोड़ा कटोरा झील – Rajgir Ka Aakarshit Sthal Ghora Katora Lake In Hindi

राजगीर का आकर्षित स्थल घोड़ा कटोरा झील - Rajgir Ka Aakarshit Sthal Ghora Katora Lake In Hindi
Image Credit : Sanjeev Nayan

घोड़ा कटोरा झील राजगीर के सबसे आकर्षित स्थानों में से एक है और अपने नाम के अनुसार घोड़े की भाती दिखाई देती हैं। घोड़ा कटोरा लेक पिकनिक जैसी गतिविधियों के लिए पर्यटकों के बीच बहुत लौकप्रिय हैं। घोडा कटोरा झील राजगीर में सबसे साफ सुतरे पानी के लिए जानी जाती हैं।

और पढ़े : राजस्थान की 10 सबसे प्रसिद्ध झीलें

राजगीर का दर्शनीय स्थल अजातशत्रु किला – Rajgir Ka Darshaniya Sthal Ajatshatru Fort In Hindi

अजातशत्रु किला राजगीर का एक ऐतिहासिक फोर्ट हैं जोकि 6 वीं शताब्दी में निर्मित किया गया था। किले के इतिहास से पता चलता हैं कि अपने पिता से राज सिंहासन की गद्दी हड़पने के बाद अजात शत्रु ने अपने पिता बिंबिसार को इस किले में कैद करके रखा था। राजगीर की यात्रा पर आने वाले पर्यटक इस किले में घूमने के लिए भी आते हैं।

राजगीर का पर्यटन स्थल जीविका मैंगो गार्डन – Rajgir Ka Paryatan Sthal Jivaka Mango Garden In Hindi

जीविका मैंगो गार्डन राजगीर घूमने वाली प्रमुख जगहों में से एक हैं और पर्यटकों के लिए लुभाना दृश्य प्रस्तुत करता हैं जोकि जीविकामावन गार्डन के अन्दर स्थित हैं। बता दें कि जीवक बिम्बिसार, अजातशत्रु और मगध शासकों के शाही वेद (चिकित्सक) थे और उन्ही के नाम पर इस गार्डन का नाम रखा गया हैं।

राजगीर टूरिज्म में खुबसूरत जगह पांडु पोखर – Rajgir Tourism Me Khubsurat Pandu Pokhar In Hindi

राजगीर टूरिज्म में खुबसूरत जगह पांडु पोखर - Rajgir Tourism Me Khubsurat Pandu Pokhar In Hindi
Image Credit : Prem Preetam

पांडु पोखर एक खूबसूरत और प्राकृतिक पार्क हैं जोकि पर्यटकों के मनोरंजन को ध्यान में रखते हुए निर्मित किया गया हैं। पांडु पोखरा पार्क राजगीर में राजहरा पहाड़ियों की तलहटी में स्थित हैं और लगभग 22 एकड़ के क्षेत्र में फैला हुआ है। पांडु पोखर उद्यान के प्रमुख आकर्षण में नौका विहार, शांत झील, जगमगाती रोशनी, राजा पांडु की कांस्य की आकर्षित प्रतिमा, बच्चो के मनोरंजन के लिए कई आकर्षित गतिविधियाँ आदि शामिल हैं।

राजगीर शहर में घूमने के लिए प्राचीन जगह जरासंध का अखाड़ा – Rajgir City Me Ghumne Ke Liye Prachin Jagah Jarasandha Ka Akhara In Hindi

राजगीर शहर में घूमने के लिए प्राचीन जगह जरासंध का अखाड़ा - Rajgir City Me Ghumne Ke Liye Prachin Jagah Jarasandha Ka Akhara In Hindi
Image Credit : Sonu Kumar

राजगीर का ऐतिहासिक स्थान जरासंध का अखाड़ा वैभव पहाड़ी (Vaibhava Hill) के निकट स्थित हैं। बता दें कि यह पहले एक कुश्ती का अखाड़ा हुआ करता था। इसी स्थान पर सेनाओ मार्शल आर्ट के लिए प्रशिक्षित किया जाता था। इस स्थान की कहानी महाभारत काल से जुडी हैं। मगध का सबसे शक्तिशाली सम्राट जरासंध और पांडु पुत्र भीम के बीच मल युद्ध इसी स्थान पर हुआ था जिसमे भीम ने जरासंध का बध कर दिया था और उनके कारागार में कैद सहह्स्त्रो राजाओं को मुक्त किया था। वर्तमान में यह अखाडा निर्जन वनस्पतियों के साथ एक सुनसान खंडहर के रूप में बदल गया हैं।

और पढ़े : पटना साहिब गुरुद्वारा बिहार घूमने की जानकारी

राजगीर यात्रा पर देखने लायक जगह शंखलिपि शिलालेख – Rajgir Yatra Par Dekhne Layak Jagah Shankhalipi Inscriptions In Hindi

राजगीर में देखने वाली जगहों में शामिल शंखलिपि शिलालेख बिंबिसार जेल से लगभग 2 किलोमीटर की दूरी पर स्थित हैं। शंखलिपि शिलालेख चट्टानी इलाके में है और नक्काषित दिखाई देती है। बता दें कि शिलालेख के पास दो समानांतर पहियों के निशान मौजूद हैं। जिनके बारे में मान्यता हैं कि यह भगवान श्रीकृष्ण के रथ के पहियों निशान हैं।

राजगीर का फेमस टूरिस्ट प्लेस यस्थीवाना – Rajgir Ka Famous Tourist Place Yesthivana In Hindi

यस्थीवाना एक प्राकृतिक पार्क हैं और राजगीर के प्रमुख आकर्षण में शामिल हैं। प्राचीन समय के दौरान यह बाग़ हुआ करता था। यस्थीवाना क्षेत्र तपोवन के निकट स्थित है और यह भगवान गौतम बुद्ध और मगध नरेश की भेंट के लिए जाना जाता हैं। बता दें कि इस मुलाकात के बाद मगध के राजा बिम्बसार गौतम बुद्ध के भक्त हो गए थे। यहाँ भगवान गौतम बुद्ध की एक 6 फिट ऊँची आकर्षित प्रतिमा स्थापित है।

राजगीर घूमने जाने के लिए सबसे अच्छा समय – Best Time To Visit Rajgir In Hindiराजगीर घूमने जाने के लिए सबसे अच्छा समय - Best Time To Visit Rajgir In Hindi

राजगीर की यात्रा पर जाने के लिए सबसे अच्छा समय अक्टूबर से मार्च माह का माना जाता हैं। बता दें कि राजगीर का मौसम सर्दियों दौरान पर्यटन के अनुकूल रहता है जिसमे आप राजगीर और इसके प्रमुख पर्यटन स्थलों का दौरा कर सकते हैं और अपनी यात्रा का लुत्फ़ उठा सकते हैं। राजगीर महोत्सव का आयोजन अक्टूबर महीने के दौरान किया जाता हैं। राजगीर घूमने के लिए 1-2 दिन का समय पर्याप्त होता हैं।

और पढ़े : बिहार के प्रमुख पर्यटन एवं आकर्षण स्थल घूमने की जानकारी

राजगीर की यात्रा में कहां रुके – Where To Stay In Rajgir In Hindiराजगीर की यात्रा में कहां रुके – Where To Stay In Rajgir In Hindi

राजगीर और इसके प्रमुख पर्यटन स्थलों की यात्रा करने के बाद यदि आप यहाँ किसी अच्छे निवास स्थान की तलाश कर रहे हैं। तो हम आपको बता दें कि राजगीर में आपको लो-बजट से लेकर हाई-बजट तक होटल मिल जाएंगे। आप अपनी सुविधा और बजट के अनुसार होटल का चुनाव कर सकते हैं।

  • होटल पंचवटी (Hotel Panchwati)
  • इंडो होके होटल (Indo Hokke Hotel)
  • होटल नालंदा रीजेंसी (Hotel Nalanda Regency)
  • होटल आनंद लोक (Hotel Anand Lok)
  • होटल विजय (Hotel Vijay)

राजगीर का स्थानीय भोजन – Famous Food Of Rajgir In Hindiराजगीर का स्थानीय भोजन - Famous Food Of Rajgir In Hindi

राजगीर अपने खूबसूरत पर्यटन स्थल के साथ साथ अपने लजीज भोजन के लिए भी प्रसिद्ध है। राजगीर के स्वादिष्ट भोजन आपको उंगलिया चाटने पर मजबूर कर देगा। राजगीर में आपको रेस्तरां और ढाबों पर स्वादिष्ट भोजन मिल जाएगा। राजगीर में आपको उत्तर भारतीय व्यंजन, जापानी, थाई, कोरियाई, बिहारी और चीनी व्यंजन हैं। लिट्टी चोखा, नैवेद्यम, चंद्रकला, पेड़ाकिया, चना घुगनी, खाजा, मटन कबाब और रेशमी कबाब, केसर पेड़ा, लौंग-लतिका, दाल पेठा, खजुरिया आदि हैं।

राजगीर कैसे जाए – How To Reach Rajgir In Hindi

राजगीर पर्यटन स्थल की यात्रा के लिए आप फ्लाइट, ट्रेन और बस में से किसी का भी चुनाव कर सकते हैं।

फ्लाइट से राजगीर कैसे जाए – How To Reach Rajgir By Flight In Hindiफ्लाइट से राजगीर कैसे जाए - How To Reach Rajgir By Flight In Hindi

राजगीर पर्यटन स्थल की यात्रा के लिए यदि आपने हवाई मार्ग का चुनाव किया हैं। तो हम आपको बता दें कि राजगीर का अपना कोई हवाई अड्डा नहीं है। लेकिन सबसे निकटतम जय प्रकाश नारायण एयरपोर्ट (Jay Prakash Narayan Airport) पटना में है, जोकि राजगीर से लगभग 100 किलोमीटर की दूरी पर स्थित हैं। हवाई अड्डे से आप बस, टैक्सी आदि के माध्यम से राजगीर आसानी से पहुँच जायेंगे।

ट्रेन से राजगीर कैसे जाए – How To Reach Rajgir By Train In Hindiट्रेन से राजगीर कैसे जाए - How To Reach Rajgir By Train In Hindi

राजगीर की यात्रा के लिए यदि आपने रेल मार्ग का चुनाव किया हैं। तो हम आपको बता दें कि राजगीर का अपना रेलवे स्टेशन है, जोकि अपने आसपास के शहरो से रेलवे लाइन के माध्यम से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ हैं। राजगीर जाने के लिए रेलवे मार्ग सबसे अच्छा विकल्प हो सकता हैं। बता दें कि पटना, कोलकाता और दिल्ली जैसे प्रमुख शहरो से दैनिक रेलगाड़ियों उपलब्ध हैं।

बस से राजगीर कैसे जाए – How To Reach Rajgir By Bus In Hindiबस से राजगीर कैसे जाए - How To Reach Rajgir By Bus In Hindi

राजगीर जाने के लिए अगर आपने बस का चुनाव किया हैं। तो हम आपको बता दें कि राजगीर सड़क मार्ग के माध्यम से अपने आसपास के सभी शहरो से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ हैं और यात्रा के लिए बसे नियमित रूप से चलती हैं। बोध गया और राजगीर के बीच आपको एयर कंडीसनर बसे मिल जाएगी।

और पढ़े : पटना के प्रमुख पर्यटन स्थल और घूमने की जानकारी

राजगीर बिहार का नक्शा – Rajgir Map

राजगीर की फोटो गैलरी – Rajgir Images

View this post on Instagram

Beautiful place…

A post shared by Patna_Beauty (@patna_beauty_) on

और पढ़े :

Leave a Comment