Generic selectors
Exact matches only
Search in title
Search in content
Search in posts
Search in pages

Makka Madina In Hindi, मक्का मदीना सऊदी अरब की सरजमी पर स्थित एक दर्शनीय मुस्लिम तीर्थ स्थल हैं और मक्का मदीना की यात्रा करने वालो की संख्या लाखों में होती हैं। माना जाता हैं कि हरेक मुसलमान अपने जीवन काल में एक बार मक्का मदीना की यात्रा पर जाने की ख्वाहिश जरूर रखता हैं। मक्का मदीना की यात्रा को हज यात्रा के नाम से भी जाना जाता हैं। हज का शाब्दिक अर्थ “एक यात्रा करने का इरादा” जोकि “ईद-उल-अज़हा के त्योहार” के आसपास की यात्रा करने से सम्बंधित होती है। माना जाता हैं कि हज इस्लाम के पांच स्तंभों में से एक हैं और इसके अलावा अन्य चार शादाब या अल्लाह, सलात, जकात और सवाम हैं।

मक्का मदीना की यात्रा मुसलमानों की दुनिया में दूसरी सबसे बड़ी यात्रा हैं। मक्का मदीना यात्रा में मदीना पर्यटन सऊदी अरब के रेगिस्तान में स्थित हैं। मदीना इस्लामी शहरों में मक्का के बाद दूसरा सबसे महत्वपूर्ण स्थान हैं। यह दर्शनीय स्थान शहर की खूबसूरती, धार्मिक स्थलों, संस्कृति और परम्पराओं से अवगत कराता हैं।

1. मक्का मदीना की स्थापना की कहानी – Mecca Madina Kaise Bana In Hindi

मक्का मदीना की स्थापना की कहानी

Makka Madina Story In Hindi, मदीना दर्शनीय स्थल की कहानी एक बहुत ही रोचक कहानी हैं जिससे पता चलता हैं कि मदीना की स्थापना कैसे हुई थी। माना जाता हैं कि पैगंबर मोहम्मद ने जब मक्का शहर छोड़ दिया था। अपना शेष जीवन यापन करने के लिए मदीना चले गए थे। तब उन्होंने अपने साथी मुस्लमान भाइयों के लिए एक स्वतंत्र राज्य की स्थापना के रूप में मदीना की स्थापना की और तब यह खूबसूरत शहर अस्तित्व में आया। मदीना अपनी पुरानी संस्कृति और मेहमान नवाजी के लिए जाना जाता हैं। मदीना शहर में शॉपिंग कॉम्प्लेक्स, आकर्षित रेस्तरां, सांस्कृतिक गतिविधियों का बेजोड़ संगम और कई मरुस्थलीय गतिविधियों का नजारा मदीना की खूबसूरती को बढ़ा देता हैं।

2. मक्का मदीना में शिवलिंग कहां है हिंदी में – Makka Madina Shivling Ka Rahasya In Hindi

मक्का मदीना में शिवलिंग कहां है हिंदी में

मक्का मदीना के शिवलिंग का रहस्य जानने के लिए हर कोई आतुर रहता हैं सबके दिमाग में एक ही बात घर किये हुए हैं कि मक्का मदीना में शिवलिंग कहाँ हैं। तो आज हम आपको मक्का मदीना शिवलिंग रहस्य के बारे में बताते हैं, दरअसल कुछ समय पहले भगवान शिव के एक शिवलिंग की तस्वीर शोसल मीडिया पर वायरल हो रही थी जिसके बारे में बताया जा रहा था कि शिवलिंग मक्का मदीना की एक गुफा में स्थित हैं। लेकिन जब इसके बारे में पता किया गया तो इसके रहस्य से पर्दाफास हुआ। दरअसल शिवलिंग की यह तस्वीर राजस्थान के विराट नगर की हैं जोकि उदयपुर से लगभग 90 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि मक्का मदीना में कोई शिवलिंग नही हैं।

और पढ़े: बुर्ज खलीफा घूमने की जानकारी और पर्यटन स्थल 

3. मक्का मदीना मंदिर में शिवलिंग का रहस्य – Makka Madina Me Shivling Ki Story In Hindi

 मक्का मदीना मंदिर में शिवलिंग का रहस्य

मक्का मदीना मुसलमानों के लिए किसी जन्नत से कम नही हैं लेकिन मक्का मदीना से हिन्दू धर्म का सम्बन्ध भी बताया जाता हैं। कहते हैं कि मक्का मदीना मंदिर बनने से पहले हिन्दू धर्म से सम्बंधित भगवान महादेव का मक्केश्वर महादेव मंदिर था। यहाँ भगवान शिव का एक विशाल शिवलिंग खंडित अवस्था में स्थित हैं। मक्का मदीना मंदिर पर एक पुरस्तक “वैदिक विश्व राष्ट्र का इतिहास” लिखी गई जिसमे बताया गया हैं कि काबा के समय मुस्लिम लोग जिस पत्थर को चूमते हैं वह कोई ओर नही बल्कि भगवान शिव का शिवलिंग ही हैं।

4. मक्का से मदीना की दूरी – Makka To Madina Distance In Hindi

मक्का से मदीना की दूरी

मक्का मदीना सुनने में ऐसा लगता हैं जैसे यह एक ही स्थान है, लेकिन वास्तविकता इससे बिलकुल अलग हैं। क्योंकि मक्का और मदीना सऊदी अरब में स्थित दो अलग-अलग धार्मिक स्थान है। जिनके बीच की दूरी लगभग 453 किलोमीटर हैं।

5. मक्का मदीना की हज यात्रा के नियम – Haj Yatra Ke Rules In Hindi

मक्का मदीना की हज यात्रा के नियम

मक्का मदीना या हज यात्रा के नियम वर्तमान पैटर्न पैगंबर मोहम्मद द्वारा स्थापित किए गए नियमों पर आधारित है। लेकिन हज यात्रा का इतिहास पैगंबर इब्राहिम उर्फ अब्राहम के काल से माना जाता हैं। इस पावन यात्रा के दौरान हज की रस्म अदायगी करने में बहुत सारे कदम उठाए जाते है या नियमों का पालन किया जाता हैं। इन सभी नियमों के साथ इतिहास का कोई न कोई पहलु जुड़ा हुआ होता हैं।

6. उमराह और तवाफ़ में अंतर – Difference Between Umrah And Tawaf In Hindi

उमराह और तवाफ़ में अंतर

मक्का मदीना की यात्रा के दौरान आपको उमराह और तवाफ हज के बारे में पता चलेगा दरअसल यह हज के दो पैर हैं। हज यात्रा के दौरान तवाफ़ एक महत्वपूर्ण अनुष्ठान के रूप में जाना जाता हैं जोकि अकेले नहीं किया जा सकता है। लेकिन उमरा को हज से अलग किया जा सकता है। उमरा को “कम तीर्थ यात्रा” के नाम से भी जाना जाता हैं। तवाफ में सात बार घड़ी की दिशा में परिक्रमा की जाती है। इसके बाद सफा और मारवाह के पहाड़ों के बीच सात बार आगे-पीछे चलने की परम्परा भी हैं।

7. मक्का मदीना में शैतान को पत्थर क्यों मारे जाते हैं – Makka Madinah Me Shaitan Ko Pathar Kyu Marte Hain In Hindi

मक्का मदीना पर्यटन स्थल पर रमीजमरात(Ramy Al-Jamarat) में शैतान को पत्थर मारने की रस्म के साथ ही हज यात्रा पूरी मानी जाती हैं।

8. मक्का मदीना के लिए हज यात्रा का कार्यक्रम – Itinerary Of Hajj Pilgrimage To Makka Madina In Hindi

मक्का मदीना की यात्रा पर जाने वाले सभी यात्री इसके कार्यक्रम के बारे में जानना चाहते हैं। तो हम आपको बता दें कि हज यात्रा या मक्का मदीना यात्रा की तारीखें और समय हिजरी कैलेंडर यानी इस्लामिक कैलेंडर के अनुसार तय की जाती हैं जोकि चन्द्र वर्ष पर आधारित होती हैं। हज यात्रा 8वें दिन से 12वें दिन तक और कुछ मामलो में 13वें दिन तक भी होती हैं।

और पढ़े: दुबई घूमने की जानकारी और प्रमुख पर्यटन स्थल 

9. मक्का मदीना के अंदर धार्मिक महत्व से जुड़े हुए स्थल – Important Religious Places To Visit Inside Makka Madina In Hindi

9.1 काबतुल्ला – Kabatullah In Hindi

काबतुल्ला

कबतुल्ला को काबा शरीफ और क़िबला भी कहा जाता है। यह स्थान अल-मस्जिद अल-हरम के केंद्र में स्थित एक खूबसूरत क्यूबिकल इमारत है जोकि इस्लाम से संबंधित सबसे पवित्र स्थान माना जाता हैं। बेअत अल्लाह के नाम से भी यह प्रसिद्ध हैं जिसका अर्थ है ‘अल्लाह का निवास’ होता है।

9.2 अल-हरम – Al-Haram In Hindi

अल-हरम

मक्का की सबसे प्रसिद्ध और महान मस्जिद में अल-हरम हैं जोकि दुनिया की सबसे बड़ी मस्जिद के रूप में प्रसिद्ध हैं। अल-हरम मस्जिद में हज की यात्रा के दौरान लाखो की संख्या में श्रद्धालु आते है। यह मस्जिद अपने दरबार में आने वाले श्रधालुओं के लिए हर समय खुली रहती हैं।

9.3 हजार अल असवद – Hajar Al Aswad In Hindi

हजार अल असवद

हजार अल असवद मक्का मदीना यात्रा में खास जगह है जिसे काला पत्थर के नाम से भी जाना जाता हैं। हजार अल असवद के बारे में कहाँ जाता हैं कि काबा के निर्माण के समय स्वर्गदूत गेब्रियल द्वारा इसे पृथ्वी पर लाया गया था।

9.4 मक्का-ए-इब्राहिम – Maqam-E-Ibrahim In Hindi

 मक्का-ए-इब्राहिम

मक्का-ए-इब्राहिम दर्शनीय स्थल काबा से थोड़ी दूरी पर स्थित एक छोटा सा खंड है जोकि मक्का मदीना यात्रा के दौरान आकर्षण का केंद्र होता हैं। पैगंबर इब्राहिम द्वारा काबा के निर्माण की नीव रखते समय कांच का खूबसूरत पत्थर रखा था। इस पत्थर में आज भी उनके पैरो के निशान देखे जा सकते हैं। माना जाता है कि इस स्थान पर की गई प्राथना या दुआ कबूल की जाती हैं।

9.5 हिज्र-ए-इस्माइल – Hijr-E-Ismail In Hindi

हिज्र-ए-इस्माइल

हिज्र-ए-इस्माइल मक्का मदीना की यात्रा में एक दर्शनीय स्थल हैं जोकि हतीम के रूप में भी प्रसिद्ध हैं। यह एक सफ़ेद रंग की अर्धवृत्ताकार संगमरमर की दीवार हैं। इस स्थान के पास ही पैगंबर इब्राहिम ने अपनी पत्नी और पुत्र के लिए निवास स्थान का निर्माण किया था।

9.6 मीज़ब-ए-रहमाह – Meezab-E-Rahmah In Hindi

मक्का मदीना यात्रा के दौरान देखने वाली एक दिलचस्प जगहें में शामिल मीज़ब-ए-रहमाह हैं जोकि पानी का नाला है और काबा की छत से बारिश के पानी को समेट कर हतीम इलाके में ले जाता हैं। जिसे दया के पानी के रूप में जाना जाता हैं। इसे एक रहस्यमयी सोना मढ़वाया टोंटी के माध्यम से प्रवाहित होते हुए पानी के रूप में जाना जाता हैं। इसके अलावा भक्तो की प्राथना को पूरा करने वाले जादुई पानी के रूप में भी जाना जाता हैं।

और पढ़े: रावन के देश श्रीलंका में घूमने के 15 प्रमुख पर्यटन स्थल की जानकारी

10. मक्का मदीना के आसपास में घूमने लायक पर्यटन और आकर्षण स्थल – Tourist Attractions Near Makka Madina In Hindi

मक्का मदीना जिसके नाम से ही स्पस्ट होता हैं कि यह एक नही बल्कि दो धार्मिक स्थल हैं जिनकी यात्रा लाखों मुसलमानों द्वारा की जाती हैं। तो आइए हम आपको मक्का मदीना के कुछ आकर्षित पर्यटन स्थलों के बारे में बताते हैं जहां आप घूमने जा सकते हैं।

10.1 जन्नतुल मुअल्ला – Jannatul Mualla In Hindi

जन्नतुल मुअल्ला

मक्का मदीना की यात्रा के दौरान आप यहाँ के प्रमुख अकर्ष्ण में शामिल जन्नतुल मुअल्ला भी घूम सकते हैं जोकि अल-हज़ुन के नाम से भी प्रसिद्ध हैं। यह एक पवित्र और प्रसिद्ध कब्रिस्तान है। इस स्थान पर मुहम्मद रिश्तेदार दफन किया गया था। मुस्लिम पर्यटक इस स्थान का दौरा करना पसंद करते हैं।

10.2 मस्जिद अल-नबावी – Masjid Al-Nabawi In Hindi

 मस्जिद अल-नबावी

मक्का मदीना का एक ओर खूबसूरत स्थान मस्जिद अल-नबावी इस्लाम का दूसरा सबसे पवित्र स्थल माना जाता है। मदीना पर्यटन स्थल में स्थित मस्जिद अल-नबावी मुहम्मद का निवास स्थान था। कहते हैं जब वह अपने प्रवास के बाद मदीना में ठहरे थे।

10.3 मस्जिद ए आयशा – Masjid-E-Aisha In Hindi

मस्जिद ए आयशा

मक्का पर्यटन स्थल में दूसरी सबसे बड़ी मस्जिद ए आयशा है। यह मस्जिद मुजदलिफा मार्ग पर स्थित है और यही से तीर्थयात्री इहराम राज्य में जाते हैं।

10.4 जबल-ए-नूर – Jabal-E-Noor In Hindi

जबल-ए-नूर

मक्का मदीना यात्रा में मक्का से कुछ ही दूरी पर एक पहाड़ी के ऊपर हीरा की गुफा है। माना जाता हैं कि इस स्थान पर पैगंबर मोहम्मद कभी-कभी प्रार्थना और ध्यान करने के लिए इस स्थान पर जाते थे। कहते हैं कि यह वही गुफा जहाँ पर उन्होंने अपना पहला रहस्योद्घाटन प्राप्त किया था।

और पढ़े: एफिल टॉवर घूमने और इसके आसपास के पर्यटन स्थल की जानकारी 

10.5 जबाल-ए-सूर – Jabal-E-Soor In Hindi

जबाल-ए-सूर

जबाल-ए-सूर पर्वत पर स्थित एक ऐसी गुफा हैं जहां पैगंबर मोहम्मद ने तीन दिनों तक समय व्यतीत किया। यह गुफा थाउर में से स्थित है। मक्का मदीना की यात्रा पर आने वाले पर्यटक इस  स्थान पर भी घूमने के लिए जाते हैं।

10.6 मस्जिद अल जिन्न – Masjid Al Jinn In Hindi

मक्का मदीना में स्थित मस्जिद अल जिन्न मस्जिद एक खूबसूरत दर्शनीय स्थल है। माना जाता है कि जिन्न के एक समूह ने इस स्थान पर पैगंबर मोहम्मद से कुरान का पाठ सुना था। लेकिन उन्होंने बाद में इसे सुनना बंद करके इस्लाम धर्म को अपना लिया।

10.7 जबल अल-रहमा – Jabal Al-Rahmah In Hindi

जबल अल-रहमा

मक्का मदीना में स्थित जबल अल-रहमा एक दार्शनिक स्थल हैं जोकि अराफात में स्थित माउंट ऑफ मर्सी के नाम से भी प्रसिद्ध हैं। इस पर्वत के ऊपर पैगंबर मोहम्मद ने अपने अनुयाईयों को विदाई उपदेश का पाठ सुनाया था जोकि हज यात्रा के लिए उनके साथ थे। पैगम्बर आदम को आदम को कई पाप करने के बाद भी इस स्थान पर क्षमा कर दिया गया था।

10.8 रियाद उल-जनाब – Riad Ul-Jannah In Hindi

रियाद उल-जनाब

मक्का मदीना यात्रा में मस्जिद अल-नबावी एक शानदार स्थान जहाँ पर्यटक जाते हैं। माना जाता हैं कि इस स्थान पर की गई प्रथनाओ का जवाव दिया जाता हैं। पैगंबर मोहम्मद के दफन कक्षों के बीच स्थित यह खोबसूरत स्वर्ग के सामान बगीचा है।

और पढ़े: न्यूयॉर्क शहर के सबसे आकर्षित स्थल स्टेचू ऑफ़ लिबर्टी के बारे में पूरी जानकारी

11. भारतीयों के लिए सऊदी अरब जाने के लिए वीजा नियम – Saudi Arabia VISA Policy For Indians In Hindi

मक्का मदीना जाने वाले पर्यटकों को बता दें कि सऊदी अरब के लिए पर्यटकों उनके आगमन की तारीख से 6 महीने के लिए वीजा मान्य होता हैं। हालाकि कुवैत, ओमान, कतर, बहरीन और यूएई से आने वाले पर्यटकों को वीजा की जरूरत नही होती है।

12. भारत से मक्का मदीना कैसे जाए – How To Reach Makkah Madina From India In Hindi

भारत से मक्का मदीना कैसे जाए

भारत से मक्का मदीना जाने के लिए आप भारत के दिल्ली, मुंबई, और बैंगलोर जैसे शहरों से फ्लाइट ले सकते हैं। मक्का मदीना की यात्रा के लिए सऊदी अरब ने दो हवाई अड्डों को समर्पित किया है, जेद्दा में किंग अब्दुलअजीज अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा और तीर्थयात्रियों के खानपान के लिए मदीना में प्रिंस मोहम्मद बिन अब्दुलअजीज हवाई अड्डा। जेद्दा से आप बस, टैक्सी या स्थानीय साधनों के माध्यम से आप मक्का मदीना दर्शनीय स्थल पर पहुँच जाएंगे। भारत के प्रमुख शहरों से रियाद, जेद्दा, दम्मम, मदीना, आभा, अलहसा, अल-बहा, अरार के बीच नियमित उड़ानें भरी जाती हैं।

और पढ़े: क्यों न इस बार की गर्मियों की छुटी में सिडनी के पर्यटन स्थल घूमने जाया जाये?

13. मक्का मदीना का नक्शा – Makkah Madina Map

14. मक्का मदीना की फोटो गैलरी – Makka Madina Images

View this post on Instagram

?????

A post shared by Jabir Jabi (@jabir2520) on

और पढ़े:

Write A Comment