जाने कोटागिरी हिल स्टेशन की ट्रिप से जुड़ी पूरी जानकारी – Kotagiri Hill Station in Hindi

Kotagiri in Hindi : कोटागिरी तमिलनाडु राज्य के जिले नीलगिरी में स्थित, एक खूबसूरत हिल स्टेशन है, जहां देश के विभिन्न हिस्सों से पर्यटक आते हैं। 5882 फीट की ऊंचाई पर स्थित यह नीलगिरी का तीसरा सबसे बड़ा हिल स्टेशन है। कभी कॉफी के बागान के रूप में इस्तेमाल किया जाने वाला यह शहर आज एक चाय बागान है जो 30,000 एकड़ के विशाल क्षेत्र को कवर करता है। चाय के बागानों, हरी भरी हरियाली और पहाड़ियों के विशाल विस्तार में डूबा यह खूबसूरत हिल स्टेशन फैमली के साथ वेकेशन और फ्रेंड्स के साथ वीकेंड पर जाने के लिए भी पर्यटकों के बीच काफी पॉपुलर बना हुआ है।

कोटागिरी हिल स्टेशन उन पर्यटकों के लिए एक दम परफेक्ट जगह हैं जो एक दिन की ट्रिप पर कही घूमने जाने का प्लान बना रहे हैं। इन सबके अलावा कोटागिरी साहसिक प्रेमियों के लिए ट्रेकिंग ,कैम्पिंग क्लाइम्बिंग और लंबी पैदल यात्रा जैसे विभिन्न एडवेंचर स्पोर्ट्स एन्जॉय करने के भरपूर अवसर प्रदान भी करता है।

यदि आप कोटागिरी हिल स्टेशन घूमने जाने को प्लान कर रहे है या फिर इस खूबसूरत जगह के बारे में और अधिक इन्फोर्मेशन लेना चाहते है तो हमारे इस लेख को पूरा जरूर पढ़े –

Table of Contents

कोटागिरी का इतिहास – History of Kotagiri in Hindi

यदि हम कोटागिरी के इतिहास पर डालें तो ब्रिटिश युग से पहले कोटागिरी का कोई लिखित इतिहास नहीं है। कोटागिरी नाम ही “कोटस के पहाड़” के रूप में अनुवाद करता है जिसे कोटा’ जनजातियों द्वारा बसाया गया था। माना जाता है इस हिल स्टेशन की खोज 1819 में, मद्रास सरकार के दो सिविल सेवकों जे.सी. व्हिश और एन.डब्ल्यू ने की थी जो एक डाकू की तलाश में यहाँ आयें थे। उन्होंने यूरोप के समान जलवायु वाले इस क्षेत्र के बारे में अपने वरिष्ठों अधिकारीयों को बताया जिसके बाद यह यह क्षेत्र अधिकांश अन्य ब्रिटिश अधिकारियों के लिए ग्रीष्मकालीन रिसॉर्ट बन गया।

कोटागिरी हिल स्टेशन क्यों फेमस है ? – What Is Famous About Kotagiri Hill Station in Hindi

कोटागिरी हिल स्टेशन क्यों फेमस है ? – What Is Famous About Kotagiri Hill Station ? in Hindi
Image Credit : Robin Joseph

यदि आप अपने फ्रेंड्स या फैमली के साथ कोटागिरी हिल स्टेशन की ट्रिप को प्लान कर रहे है और जानना चाहते है की कोटागिरी हिल स्टेशन किस चीज के लिए फेमस हैं ? तो हम आपको बता दे कोटागिरी सबसे अधिक अपने सुखद मौसम और शांत वातावरण के लिए फेमस है। इनके अलावा इसके मंत्रमुग्ध कर देने वाले नजारें, चाय के बागान, धुधं भरे बादल और ठंडी ठंडी हवाएँ इसके आकर्षण में चार चाँद लगाने का कार्य करते है।

कोटागिरी हिल स्टेशन की यात्रा किसे करना चाहिए ? – Who Should Visit Kotagiri Hill Station in Hindi

कोटागिरी की यात्रा किसे करना चाहिए ? यह भी एक ऐसा सवाल जो कोटागिरी जाने वाले लगभग सभी पर्यटकों के मन में होता है। यदि आपके मन में भी यही सवाल है तो हम आपको बताये देते है नीलगिरी पहाड़ियों की गोद में बसा कोटागिरी हिल स्टेशन तमिलनाडु में घूमने के लिए एक ऐसी जगह जिसकी यात्रा आप फैमली के साथ वेकेशन, फ्रेंड्स के साथ वीकेंड और अपने लाइफ पार्टनर हनीमून पर जाने के लिए कर सकते है। इनके अलावा यदि आप एडवेंचर एक्टिविटीज के शौक़ीन है तो इसके लिए भी कोटागिरी की यात्रा कर सकते है क्योंकि यह ट्रेकिंग, कैम्पिंग, जैसी कई एडवेंचर एक्टिविटीज की पेशकश करता है।

और पढ़े : तमिलनाडु की सबसे ऊँची चोटी “डोड्डाबेट्टा पीक” घूमने की पूरी जानकारी

कोटागिरी में घूमने की जगहें – Places to visit in Kotagiri in Hindi

एल्क फॉल्स – Elk Falls in Hindi

एल्क फॉल्स - Elk Falls in Hindi
Image Credit : Arjun Chaudhuri

कोटागिरी से लगभग 7 किमी की दूरी पर मेट्टुपालयम के मुख्य मार्ग पर उइलाथी गांव के पास स्थित एल्क फॉल्स कोटागिरी में घूमने की सबसे अच्छी जगहें (Places to visit in Kotagiri in Hindi) में से एक है। एल्क फॉल्स का नजारा इतना अद्भुद और मंत्रमुग्ध करने वाला होता है जिसे देखकर आप पहली ही नजर में इसमें खो जाने पर मजबूर हो जायेंगे। मानसून के मौसम में एल्क फॉल्स का नजारा और अधिक आकर्षक और मनमोहक होता है जब आप झरने के आसपास विभिन्न प्रकार के रंग विरंगे फूलों को देखेगें। यदि आप अपने कपल या गर्लफ्रेंड के साथ घूमने आ रहे है तो यह जगह आपको बेहद आकर्षित करेगी क्योंकि यह एक ऐसी जगह हैं जहाँ आप अपने प्रिय के साथ रोमांटिक टाइम स्पेंड कर सकते है। इनके अलावा आप यहाँ अपनी फैमली के साथ भी एकांत में क्वालिटी टाइम बिता सकते है।

लॉन्गवुड शोला – Longwood Shola in Hindi

लॉन्गवुड शोला - Longwood Shola in Hindi
Image Credit : Damian Aju

कोटागिरी के केंद्र से लगभग 3 किलोमीटर की दूरी पर स्थित लॉन्गवुड शोला सभी ट्रेकिंग उत्साही लोगों और वन्यजीव प्रेमियों के लिए कोटागिरी में घूमने के लिए सबसे अच्छी जगहों (Places to visit in Kotagiri in Hindi) में से एक है। यह आकर्षण एक वन अभ्यारण्य है जो समृद्ध वन्यजीव और पक्षियों की विभिन्न लुप्तप्राय प्रजातियों का घर है जिन्हें आप लॉन्गवुड शोला की यात्रा में देख सकेगें। यदि आप अपने फ्रेंड्स के साथ यहाँ घूमने आयें है तो लम्बी पैदल यात्रा या ट्रेकिंग के लिए भी जा सकते है और रास्ते में पड़ने वाले खूबसूरत दृश्यों और वन्यजीवों को अपने कैमरे में केप्चर कर सकते है।

 रंगास्वामी पीक – Rangasamy Hill in Hindi

रंगास्वामी पीक – Rangasamy Hill in Hindi

रंगास्वामी पीक शहर की भीड़ भाड़ और शौर शराबे से दूर घूमने के लिए कोटागिरी के प्रसिद्ध पर्यटक स्थल में से एक है। हमारा दावा है कोटागिरी हिल स्टेशन की यात्रा में आप जब रंगास्वामी पीक आयेंगें तो हरे भरे पहाड़, चह चहाते हुए पक्षियों की आवाज और शांति प्रिय वातावरण आपको सब कुछ भूलने पर मजबूर कर देगा। कोटागिरी से 20 किमी की दूरी पर समुद्र तल से 1785 मीटर की ऊंचाई पर स्थित, यह राजसी शिखर एक धार्मिक स्थान भी है जो इरुलास जनजाति के लिए एक पवित्र स्थान के रूप में कार्य करता है। चोटी के उपर रंगासामी को समर्पित एक पवित्र मंदिर भी है जहाँ स्थानीय लोग पूजा के लिए आते है।

रंगास्वामी स्तंभ चोटी का एक और प्रमुख आकर्षण है जो 400 फिट की ऊंचाई पर स्थित है। रंगास्वामी पीक की यात्रा के दौरान आप कारागोदुमट्टम, किल कोटागिरी, कदशोलाई और शोलुरमट्टम जैसे अन्य कई पर्यटक आकर्षणों को भी देख सकेगें।

कोडनाड व्यू पॉइंट – Kodanad View Point in Hindi

कोडनाड व्यू पॉइंट – Kodanad View Point in Hindi
Image Credit : Rishnakn Moorthy

कोडनाड कोटागिरी के प्रसिद्ध पर्यटक स्थल में शामिल एक सुन्दर गाँव है जो थेंगुमराहाडा गांव, दक्कन पठार, भवानीसागर जलाशय और आसपास की सुन्दर पहाड़ियों के मनोरम दृश्यों को प्रस्तुत करता है जिस वजह से इसे कोडनाड व्यू प्वाइंट के नाम से जाना जाता है। कोडनाड ट्रेकिंग जैसी एडवेंचर एक्टिविटीज के लिए भी काफी फेमस है जिसमें आप कोटागिरी से कोडनाड तक ट्रेक करके जा सकते है।

कोडनाड में कई कॉटेज और होमस्टे फैसिलिटीज भी जहाँ आप कुछ समय या एक दिन रुककर कोडनाड की प्राकृतिक सोंद्र्यता को अनुभव कर सकते है। कोडनाड कोटागिरी के फेमस पिकनिक स्पॉट के रूप में भी कार्य करता है जहाँ आसपास के लोग अपनी फैमली और बच्चो के साथ यहाँ पिकनिक मनाने के लिए आते है। इनके अलावा यह खुबसूरत जगह कपल्स के लिए भी बेहद रोमांटिक जगह है जहाँ कपल्स अपने पार्टनर या प्रेमी के साथ खूबसुरत दृश्यों को देखते हुए इन हसीन वादियों में रोमांटिक टाइम स्पेंड कर सकते है।

कैथरीन फॉल्स – Katherine falls in Hindi

कैथरीन फॉल्स - Katherine falls in Hindi
Image Credit : Vijay Raja

निलगिरी पहाड़ियों की हरी भरी हरियाली के बीच स्थित कैथरीन फॉल्स कोटागिरी में घूमने के लिए सबसे आकर्षक जगहें में से एक है। नीलगिरी पहाड़ियों का दूसरा सबसे ऊंचा फॉल होने के कारण, कैथरीन फॉल्स हर साल बहुत सारे प्रकृति प्रेमियों को आकर्षित करता है। यह एक डबल-कैस्केड जलप्रपात है जो लगभग 250 फिट ऊंचाई से गिरता है। इस झरने को स्थानीय रूप से गेद्देहाड़ा हल्ला के रूप में भी जाना जाता है। कैथरीन फॉल्स वास्तव में अपनी फैमली या फ्रेंड्स के साथ प्रकृति की गोद में समय बिताने के लिए आदर्श जगह है जो आपको अपने सुरम्य वातावरण और खूबसूरत नजारों से कभी निराश नही करेगी।

जॉन सुलिवन मेमोरियल – John Sullivan Memorial in Hindi

जॉन सुलिवन मेमोरियल - John Sullivan Memorial in Hindi
Image Credit : Joseph Daniel Wilson

जॉन सुलिवन मेमोरियल कोटागिरी में घूमने के लिए एक और प्रसिद्ध पर्यटक स्थल है। जॉन सुलिवन 1788 में जन्मे एक ब्रिटिश अधिकारी थे जिन्होंने नीलगिरी पहाड़ियों और चाय के बागानों के विकास में महत्वपूर्ण योगदान दिया था। इसी वजह से 1855 ई. में जॉन सुलिवन की मृत्यु के बाद उनकी प्रेममयी स्मृति में जॉन सुलिवन मेमोरियल की स्थापना की गई। यह स्थान नीलगिरी संग्रहालय के साथ-साथ नीलगिरी दस्तावेज़ीकरण केंद्र (एनडीसी) के रूप में भी कार्य करता है।

इस मेमोरियल की यात्रा में आप ऊटी और नीलगिरी पहाड़ियों को विकसित करने में उनके द्वारा किए गए सभी कार्यो और जनजातियों की संस्कृति में अंग्रेजों की भूमिका को दर्शाने वाले दस्तावेजों को देख सकेगें।

और पढ़े : कुन्नूर के 15 टॉप के पर्यटन स्थल

एक्टिविटीज इन कोटागिरी हिल स्टेशन – Activities in Kotagiri Hill Station in Hindi

एक्टिविटीज इन कोटागिरी हिल स्टेशन - Activities in Kotagiri Hill Station in Hindi

कोटागिरी हिल स्टेशन एक ऐसी जगह हैं जहाँ करने के लिए कई ऐसी एक्टिविटीज है जिन्हें एन्जॉय करते हुए आपका पूरा दिन ऐसे निकल जायेंगा की आपको पता ही नही चलेगा। जब भी आप अपने फ्रेंड्स के साथ यहाँ आयेंगे तो ट्रेकिंग, कैम्पिंग, वर्ड वाचिंग, फोटोग्राफी जैसी कई एक्टिविटीज को एन्जॉय कर सकते है। तमिलनाडु के फेमस हिल स्टेशन में एक होने के नाते यह ट्रेकिंग के लिए कई खूबसूरत ट्रेकिंग ट्रेल्स, कैम्पिंग के लिए कई सुरम्य जगह और फोटोग्राफी के लिए कई मंत्रमुग्ध नजारों की पेशकश करता है।

बेस्ट टाइम टू विजिट कोटागिरी – Best time to visit Kotagiri in Hindi

बेस्ट टाइम टू विजिट कोटागिरी - Best time to visit Kotagiri in Hindi

5882 फीट की ऊंचाई पर स्थित होने के कारण कोटागिरी हिल स्टेशन (Kotagiri Hill Station in Hindi) का मौसम साल भर सुखद और आरामदायक होता है इसीलिए पर्यटक साल भर यहाँ घूमने आते है। लेकिन दिसंबर से मार्च के बीच के समय ऐसा समय होता है जो कोटागिरी घूमने के लिए सबसे अच्छा माना जाता है। इस दौरान कोटागिरी का तापमान 9 डिग्री सेल्सियस से 19 डिग्री सेल्सियस के बीच रहता है।

कोटागिरी में रुकने के लिए होटल्स – Hotels in Kotagiri in Hindi

कोटागिरी में रुकने के लिए होटल्स – Hotels in Kotagiri in Hindi

यदि आप अपनी फैमली फ्रेंड्स या अपने कपल के साथ कोटागिरी के बेस्ट टूरिस्ट प्लेसेस की ट्रिप को प्लान कर रहे हैं और अपनी ट्रिप में रुकने के लिए होटल्स के बारे में जानना चाहते हैं तो हम आपको बता दे कोटागिरी के आसपास और कोटागिरी में सभी बजट की होटल्स, लोंज और होमस्टे फैसिलिटी अवेलेबल है जिनको आप ट्रिप में रुकने के लिए पिक कर सकते है।

कोटागिरी केसे पहुचें – How To Reach Kotagiri in Hindi

कोटागिरी हिल स्टेशन की यात्रा के लिए पर्यटक फ्लाइट, ट्रेन और सड़क मार्ग में से किसी से भी यात्रा कर सकते है। चलिये आइये तो जानते है की हम फ्लाइट, ट्रेन और सड़क मार्ग से कोटागिरी केसे जा सकते है।

 फ्लाइट से कोटागिरी केसे पहुचें – How To Reach Kotagiri By Flight in Hindi

फ्लाइट से कोटागिरी केसे पहुचें – How To Reach Kotagiri By Flight in Hindi

जो भी पर्यटक फ्लाइट से ट्रेवल करके कोटागिरी घूमने जाने को प्लान कर रहें हम उन्हें बता दे कोटागिरी हिल स्टेशन के लिए कोई सीधी फ्लाइट कनेक्टविटी नही है। कोयंबटूर एयरपोर्ट कोटागिरी का सबसे निकटतम हवाई अड्डा है जो हिल स्टेशन से लगभग 70 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। एक बार जब आप फ्लाइट से ट्रेवल करके कोयंबटूर एयरपोर्ट पहुचं जायेगें तो एयरपोर्ट के बाहर से एक टेक्सी, केब या बस से यात्रा करके कोटागिरी जा सकते है जिसके लिए आपको लगभग 1 घंटा का समय लगेगा।

ट्रेन से कोटागिरी केसे पहुचें – How To Reach Kotagiri By Train in Hindi

ट्रेन से कोटागिरी केसे पहुचें – How To Reach Kotagiri By Train in Hindi

कोटागिरी के लिए फ्लाइट की तरह कोई सीधी फ्लाइट कनेक्टविटी भी नही है। कोटागिरी का निकटतम रेलवे स्टेशन कुन्नूर है, जो पहाड़ी शहर से लगभग 21 किमी दूर है। रेलवे स्टेशन पर उतरने के बाद आप स्टेशन से टैक्सी किराए पर ले सकते हैं या यहाँ चलने वाले नियमित बस के माध्यम से कोटागिरी हिल स्टेशन पहुच सकते हैं।

सड़क मार्ग से कोटागिरी केसे जायें – How To Reach Kotagiri By Road in Hindi

सड़क मार्ग से कोटागिरी केसे जायें - How To Reach Kotagiri By Road in Hindi

कोटागिरी एक लोकप्रिय हिल स्टेशन है जो सड़कों के एक सुव्यवस्थित नेटवर्क के माध्यम से कई प्रमुख पड़ोसी शहरों से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है। त्रिची, कोयंबटूर, इरोड, मेट्टुपालयम और तिरुपुर से कोटागिरी तक नियमित बस सेवाएं चलती हैं जिनसे कोई भी यात्रा करके कोटागिरी आ सकते है। बस के अलावा आप अपनी पर्सनल कार या टेक्सी बुक करके भी यहाँ आ सकते है।

और पढ़े : तमिलनाडु के पर्यटन स्थल की जानकारी

इस आर्टिकल में आपने कोटागिरी हिल स्टेशन (Kotagiri Hill Station in Hindi) घूमने की पूरी जानकारी को जाना है आपको यह आर्टिकल केसा लगा हमे कमेंट्स में बताना ना भूलें।

इसी तरह की अन्य जानकारी हिन्दी में पढ़ने के लिए हमारे एंड्रॉएड ऐप को डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक करें। और आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

कोटागिरी का मेप – Map of Kotagiri

और पढ़े :

Leave a Comment