Generic selectors
Exact matches only
Search in title
Search in content
Search in posts
Search in pages
Tag

hill station in india in hindi

Browsing

Places To Visit In Munnar In Hindi, मुन्नार दक्षिण भारत के केरल राज्य में स्थित है और मुन्नार की यात्रा पर्यटकों के आकर्षण का केंद्र हैं। मुन्नार में दक्षिण भारत के सबसे बड़े चाय के बागान है इन्ही चाय के बागानों के कारण मुन्नार सबसे प्रसिद्ध हिल स्टेशन बन गया है। यह छोटा सा हिल स्टेशन अन्य कई लुप्त प्रजातियों के जीवो का निवास स्थान भी हैं। मुन्नार की यात्रा अपने आप में एक अलग ही अनुभव लेकर आती है, छोटा हिल स्टेशन होने के वावजूद भी यहां आने वाले सैलानियों का जमघट वर्ष भर लगा रहता हैं।

Mahabaleshwar In Hindi महाबलेश्वर महाराष्ट्र का बेहद खूबसूरत हिल स्टेशन है। हमेशा से यह पहाड़ी शहर अपने दिलकश नजारों के कारण पर्यटकों की पहली पसंद रहा है। यहां आने वाले पर्यटक पहाड़ घाटी और कल-कल करते झरनों के बीच शांति और सुकून का अनुभव करते हैं। महाबलेश्वर एक हिल स्टेशन है, जो महाराष्ट्र के सतारा जिले में पश्चिमी घाट में स्थित है। महाबलेश्वर इसकी मनोरम सुंदरता, नदियों, शानदार झरनों, राजसी चोटियों और खूबसूरत स्ट्रॉबेरी फार्म के लिए जाना जाता है। इस शहर में प्राचीन मंदिर, बोर्डिंग स्कूल, हरे-भरे घने जंगल, झरने, पहाड़ियां, घाटियां शामिल हैं।

महाबलेश्वर को मैल्कम पेठ के नाम से जाना जाता था और आज देश के सबसे अधिक देखे जाने वाले हिल स्टेशनों में से एक में विकसित होने से पहले यह ब्रिटिश ऑथिरिटी की सेफ कस्टडी में था। महाबलेश्वर का अर्थ है गॉड ऑफ ग्रेट पॉवर यानि ईश्वर की महान शक्ति। यहां बच्चों और बड़ों के लिए  घूमने के लिए बहुत कुछ है। झीलों से लेकर किले, मंदिर और कुछ ऐसे मुख्य पॉइंट्स हैं, जहां हर पर्यटक को जरूर जाना चाहिए। तो चलिए आज हम आपको ले चलते हैं महाबलेश्वर की खूबसूरत यात्रा पर। यहां हम आपको महाबलेश्वर के दर्शनीय स्थलों की जानकारी देंगे, जो महाबलेश्वर की यात्रा के दौरान आपको बड़ी काम आएगी। तो चलिए सैर करते हैं हिल स्टेशन महाबलेश्वर की।

Lansdowne In Hindi, उत्तराखंड राज्य में गढ़वाल पहाड़ियों के बीच स्थित लैंसडाउन एक ऐसा पर्यटन स्थल है जिसको शायद बहुत ज्यादा लोग नहीं जानते। समुद्र तल से 5670 फीट की ऊंचाई पर स्थित लैंसडाउन एक अछूता, प्राचीन शहर है जो शहर की भीड़- भाड़ से बिलकुल दूर है। लैंसडाउन को भारतीय सेना की गढ़वाल राइफल रेजिमेंट के लिए घर के रूप में भी जाना-जाता है। लैंसडाउन की सबसे हैरान कर देने वाली बात यह है कि यहां की स्थानीय आबादी 20,000 के आसपास है। अगर आप इस आकर्षक शहर की यात्रा करने जायेंगे तो यहां की लगभग सभी इमारतें औपनिवेशिक काल की याद दिलाएंगी। इस पर्यटन स्थल का नाम लैंसडाउन भारत के वायसराय लॉर्ड लैन्सडाउन के नाम पर रखा गया है जो अपने चारों ओर से बर्फ से ढके पहाड़ों और हरे-भरे जंगलों से घिरा हुआ। लैंसडाउन माहौल बेहद प्राचीन है जो पूरे साल यहां आने पर्यटकों को अपने आकर्षण से लुभाता है।