Generic selectors
Exact matches only
Search in title
Search in content
Search in posts
Search in pages

Chitrakoot Tourism In Hindi चित्रकूट धाम उत्तर विंध्य रेंज में स्थित एक छोटा सा पर्यटन शहर है। यह उत्तर प्रदेश राज्य के चित्रकूट और मध्य प्रदेश राज्य के सतना जिलों में स्थित है। चित्रकूट हिंदू पौराणिक कथाओं और महाकाव्य रामायण की वजह से बहुत अधिक महत्व रखता हैं। पौराणिक कथाओं से पता चलता हैं कि अपने निर्वासन के समय में भगवान राम, माता सीता और श्री लक्ष्मण ने 14 में से 11 वर्ष का वनवास इसी स्थान पर गुजारा था। चित्रकूट में कई धार्मिक, दर्शिनीय और घूमने वाले स्थान है। चित्रकूट की पावन भूमि अनेक दर्शनीय स्थलों से भरी हुई है। यदि आप भी इस पवित्र धाम की यात्रा करना चाहते है या इसके बारे में जानना चाहते हैं, तो हमारे इस लेख को पूरा जरूर पढ़े।

1. चित्रकूट शहर के पर्यटन और आकर्षण स्थल – Chitrakoot Ke Darshaniya Sthal In Hindi

चित्रकूट धाम विभिन्न पर्यटन स्थलों से भरा हुआ है। चित्रकूट की यात्रा करने वाले सैलानियों को इसके आसपास के प्रमुख पर्यटन स्थलों की यात्रा भी जरूर करनी चाहिए। तो आइए हम आपको चित्रकूट के प्रमुख टूरिस्ट प्लेस की सैर इस आर्टिकल के माध्यम से कराते हैं।

1.1 चित्रकूट में घूमने वाली जगह गुप्त गोदावरी – Chitrakoot Me Ghumne Wali Jagah Gupt Godavari In Hindi

चित्रकूट में घूमने वाली जगह गुप्त गोदावरी

चित्रकूट में घूमने वाला स्थान गुप्त गोदावरी राम घाट के दक्षिण में 19 किलोमीटर की दूरी पर स्थित एक आकर्षित गुफा है। माना जाता हैं कि गोदावरी गुफा के अंदर की चट्टानों से एक बारहमासी धारा निकलती हैं और गोदावरी नदी की और एक अन्य चट्टान में बहती हुई गायब हो जाती हैं। एक अन्य रहस्यमयी बात यह हैं कि एक विशाल चट्टान को छत से बाहर निकलते हुए देखा जाता है। कहते हैं कि यह विशाल दानव मयंक का अवशेष है।

और पढ़े: प्रयागराज (इलाहाबाद) घूमने के प्रमुख स्थान

1.2 चित्रकूट में घूमने लायक जगह चित्रकूट जलप्रपात और दंतेवाड़ा मां काली मंदिर – Chitrakoot Falls And Dhantewara Maa Kali Temple In Hindi

चित्रकूट में घूमने लायक जगह चित्रकूट जलप्रपात और दंतेवाड़ा मां काली मंदिर

Image Credit: Ashok Yadav

चित्रकूट में घूमने के स्थानों में चित्रकूट जलप्रपात एक प्रमुख पर्यटन स्थल है। इस खूबसूरत स्थान तक पहुंचना थोडा मुस्किल होता हैं। यहां तक जाने के लिए आपको जगदलपुर से कार बुक करनी होती है। इसके अलावा चित्रकूट के दर्शनीय स्थलों में दंतेवाड़ा मां काली मंदिर के दर्शन करना न भूले जोकि चित्रकूट से लगभग 3 घंटे की दूरी पर हैं।

1.3 चित्रकूट का दर्शनीय स्थल राम घाट – Chitrakoot Ke Darshaniya Sthan Ram Ghat In Hindi

चित्रकूट का दर्शनीय स्थल राम घाट

चित्रकूट में दर्शन करने वाली जगह राम घाट मंदाकनी नदी के किनारे पर बना हुआ हैं। कुछ कथाओं से पता चलता हैं कि वनवास काल के समय में भगवान राम, माता सीता और लक्ष्मण ने इस जगह पर कुछ समय व्यातीत किया था। सुबह के समय भक्तगण स्तुति करने के लिए नदी में खड़े होते होते हैं।

1.4 चित्रकूट में घूमने की अच्छी जगह सती अनुसुइया आश्रम – Chitrakoot Me Ghumne Ki Achi Jagah Sati Anusuya Ashrama In Hindi

Chitrakoot Me Ghumne Ki Achi Jagah Sati Anusuya Ashrama In Hindi

Image Credit: Mukul Agarwal

चित्रकूट का पर्यटन स्थल सती अनुसुइया आश्रम शहर से लगभग 16 किलोमीटर की दूरी पर घने जंगल में स्थित हैं। पौराणिक कथाओं के अनुसार महर्षि अत्रि अपनी पत्नी अनुसूया और तीन पुत्रों के साथ इस स्थान पर निवास करते थे। भगवान राम ने देवी सीता के साथ इस स्थान का दौरा किया था और देवी अनुसुइया ने इसी स्थान पर सीता जी को सतित्त्व का महत्व बताया था। चित्रकूट आने वाले पर्यटक इस पावन स्थान का दौरा करते हैं।

1.5 चित्रकूट धाम का मशहूर दर्शनीय स्थल हनुमान धारा – Chitrakoot Dham Ke Famous Darshniya Sthal Hanuman Dhara In Hindi

चित्रकूट धाम का मशहूर दर्शनीय स्थल हनुमान धारा

Image Credit: Patel Rohit Kumar

चित्रकूट धाम के दर्शनीय स्थलों में हनुमान धारा एक प्रमुख पर्यटक स्थल हैं जोकि चित्रकूट पर्यटन स्थल से लगभग 5 किलोमीटर की दूरी पर चित्रकूट के जंगल में एक पहाड़ी पर स्थित हैं। यह स्थान हनुमान जी महाराज को समर्पित हैं और हनुमान जी के दर्शन करने के लिए सलानियों 360 सीढ़ियां चढ़के जाना होता है। चित्रकूट में भगवान राम की गाथाओं से पता चलता हैं कि लंका में आग लगाने के बाद बजरंग बलि ने इस पहाड़ी पर छलांग लगाई थी और अपनी गुस्सा को शांत करने के लिए इस धारा के ठन्डे पानी में खड़े होकर अपनी गुस्सा को शांत किया था। इसलिए चित्रकूट धाम की इस धारा को हनुमान धारा के नाम से जाना जाता है।

और पढ़े: ओंकारेश्वर पर्यटन स्थल और दर्शनीय स्थल की जानकरी

1.6 चित्रकूट धाम के धार्मिक स्थल भरत मिलाप मंदिर – Chitrakoot Dham Ke Dharmik Sthal Bharat Milap Mandir In Hindi

 चित्रकूट धाम के धार्मिक स्थल भरत मिलाप मंदिर

Image Credit: Divyendu Vishwakarma

चित्रकूट के दर्शनीय स्थलों में भरत मिलाप मंदिर परम दर्शनीय स्थान है जोकि परम कुटीर के नजदीक स्थित हैं। राम और भरत का मिलाप इस स्थान पर उस समय हुआ था जब भरत भगवान राम के वन जाने के बाद उनसे मिलने के लिए यहां आते हैं। भरत मिलाप की इस कथा के साथ ही भगवान राम के पद चिन्हों के निशान आज भी इस स्थान पर हैं।

1.7 चित्रकूट के पर्यटन स्थल कामदगिरी पर्वत – Chitrakoot Ke Paryatan Sthal Kamadgiri Parvat In Hindi

चित्रकूट के पर्यटन स्थल कामदगिरी पर्वत

Image Credit: Ram

चित्रकूट के पवित्र और रमणीय स्थानों में शामिल यहां का कामदगिरि पर्वत्त यहां आने वाले टूरिस्टों को अति-प्रिय लगता हैं। प्राचीन कथाओं के अनुसार इस खूबसूरत सृष्टी की रचना करते समय परम पिता ब्रह्मा जी ने चित्रकूट के इस पावन स्थान पर 108 अग्नि कुंडों के साथ हवन किया था। अपने निर्वासन काल के दौरान भगवान राम ने भी इस स्थान पर कुछ समय व्यतीत किया था। धनुषाकार इस पर्वत पर एक विशाल झील है जो सैलानियों को आकर्षित करती हैं।

1.8 चित्रकूट के आकर्षण स्थल जानकी कुण्ड – Chitrakoot Ke Aakarshan Sthal Janki Kund In Hindi

चित्रकूट के आकर्षण स्थल जानकी कुण्ड

चित्रकूट में घूमने वाली जगहों में शामिल जानकी कुंड मंदाकनी नदी का एक सुंदर किनारा हैं। इस किनारे पर सीढियां बनी हुई हैं और यहां पर मिलने वाले पैरों के चिन्हों को माता जानकी के पैरो के निशान माने जाते हैं। भगवान राम के वनवास के दौरान यह स्थान माता जानकी का सबसे पसंदीदा स्थान था। जानकी कुंड के पास ही राम जानकी मंदिर बना हुआ हैं और यहां हनुमानी जी की विशाल मूर्ती के दर्शन भी किए जा सकते हैं।

और पढ़े: वृंदावन धाम के बारे में पूरी जानकारी 

1.9 चित्रकूट में घूमने की मशहूर जगह स्फटिक शिला – Chitrakoot Me Ghumne Ki Famous Jagah Sphatik Shila In Hindi

चित्रकूट में घूमने की मशहूर जगह स्फटिक शिला

Image Credit: Prashant Banerjee

चित्रकूट का दर्शनीय स्थल स्फटिक शिला चित्रकूट में जानकी कुंड से कुछ किलोमीटर की दूरी पर मंदाकनी नदी के तट पर स्थित है। चित्रकूर के घने जंगल में स्थित इस स्थान पर एक शिला पर भगवान राम के पैरो के निशान पर्यटकों को देखने के लिए मिल जाते हैं। माना जाता हैं कि भगवान राम अपनी पत्नी सीता का यहां श्रृंगार किया था। यह वही स्थान हैं जहां जयंत नाम के एक कौवा ने सीता जी को काट लिया था जोकि एक राक्षस था।

1.10 चित्रकूट में देखने वाली जगह परम कुटी – Chitrakoot Mein Dekhne Layak Jagah Param Kutir In Hindi

चित्रकूट में देखने वाली जगह परम कुटी

Image Credit: Santosh Singh

चित्रकूट में घूमने वाली जगहों में परम कुटी एक पवित्र स्थान हैं, जोकि निर्वासन काल के दौरान श्री लक्ष्मण ने भगवान राम और सीता जी के लिए एक झोपडी के रूप में बनाई थी। जंगल से बांस और अन्य जंगली वस्तु एकत्रित करके इस परम कुटी को बनाया गया था।

1.11 चित्रकूट के धार्मिक स्थल भरत कूप – Chitrakoot Dham Ke Dharmik Sthal Bharat Koop In Hindi

चित्रकूट के धार्मिक स्थल भरत कूप

Image Credit: Santosh Singh

चित्रकूट धाम में देखने के लिए भरत कोप एक पावन स्थान हैं। चित्रकूट के पश्चिम में लगभग 50 किलोमीटर की दूरी पर भरतपुर गांव के पास एक विशाल कुआ हैं। माना जाता है कि जब भरत भगवान श्री राम को वन से वापिस लाने में असमर्थ हो जाते है, तो वह अत्रि महर्षि की आज्ञानुसार सभी पावन स्थानों से जल लाकर इस कुएं में डालते हैं।

1.12 चित्रकूट के पर्यटन स्थल लक्ष्मण चौकी – Chitrakoot Ke Paryatan Sthal Lakshman Chowki In Hindi

चित्रकूट में घूमने वाली जगहों में लक्ष्मण चौकी राम शिया चट्टान से लगभग 100 मीटर की दूरी पर स्थित है, टूरिस्ट आसानी से इस स्थान पर घूमने पहुंच जाते हैं। भगवान राम और माता सीता की रक्षा के लिए श्री लक्ष्मण इस चट्टान पर बैठकर पहरेदारी करते थे। चट्टान पर लक्ष्मण के पैरो के निसान देखे जा सकते हैं।

और पढ़े: उज्जैन के आध्यात्मिक शहर की यात्रा 

1.13 चित्रकूट के आकर्षण स्थल राम सिया गांव – Chitrakoot Ke Aakarshan Sthal Ram Siya Village In Hindi

चित्रकूट के आकर्षण स्थल राम सिया गांव

Image Credit: Tushar Dhanawade

चित्रकूट में देखने लायक स्थान में शामिल राम सिया गांव चित्रकूट टूरिस्ट प्लेस का एक अहम हिस्सा हैं। चित्रकूट टूरिस्ट प्लेस राम सिया गांव पिल्ली-कोठी आश्रम से 3 किलोमीटर की दूरी पर पश्चिम में बिहारा के पास स्थित हैं। इस स्थान के बारे में कहाँ जाता हैं कि वनवास के दौरान भगवान राम और सीता जी एक विशाल शिला पर विश्राम करते थे। यहां पर धनुष और विस्तर के निशान होने की बात कही जाती हैं।

1.14 चित्रकूट में घूमने वाली जगह वाल्मीकि आश्रम – Chitrakoot Me Ghumne Wali Jagah Valmiki Ashram In Hindi

चित्रकूट में घूमने वाली जगह वाल्मीकि आश्रम

चित्रकूट में घूमने वाली जगहों में वाल्मीकि आश्रम एक प्रमुख स्थान है जोकि इलाहाबाद रोड पर जिला मुख्यालय से 18 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। यह पवित्र आश्रम वाल्मीकि नदी के तट पर एक उंची पहाड़ी पर स्थित है। भगवान राम की कथाओं से यह पता चलता हैं, कि 14 वर्षो का वनवास भोगने के बाद भगवान राम ने जब माता सीता का त्याग कर दिया था। तब वह इसी स्थान पर रुकी थी और लव-कुश नामक दो बालको को जन्म दिया था।

1.15 चित्रकूट में देखने लायक जगह मयूरध्वज आश्रम – Chitrakoot Me Dekhne Layak Jagah Mayurdhwaj Ashrama In Hindi

चित्रकूट में घूमने वाली जगहों में मयूरध्वज आश्रम चित्रकूट से लगभग 10 किलोमीटर की दूरी पर दक्षिण-पश्चिम में पथरा पाल देव के पास स्थित है। चित्रकूट का यह रमणीय आश्रम खूबसूरत पहाड़ियों और आकर्षित झरनों से घिरा हुआ हैं।

1.16 चित्रकूट में घूमने की जगह सुतीक्ष्ण आश्रम – Chitrakoot Mein Ghumne Ki Jagah Sutikshan Ashram In Hindi

चित्रकूट का टूरिस्ट प्लेस सुतीक्ष्ण आश्रम यहां के प्रमुख सरभंग आश्रम से 4 किलोमीटर की दूरी पर उत्तर में स्थित बुंदेलखंड का एक बहुत सुन्दर स्थान हैं। महर्षि सुतीक्ष्ण के दर्शन की इक्षा मन में लिए भगवान राम इस स्थान पर आए थे। इस स्थान पर पहाड़ों से नीचे कुंड की ओर जाने वाली एक धारा प्रवाहित होती हैं, जिसे धाकुंडी के नाम से जाना जाता हैं।

1.17  चित्रकूट के आकर्षण स्थल प्रमोद वन – Chitrakoot Ke Aakarshan Sthal Pramod Van In Hindi

चित्रकूट के आकर्षण स्थल प्रमोद वन

Image Credit: Shubhi

चित्रकूट में घूमने वाली जगह प्रमोद वन राम घाट से केवल 2 किलोमीटर की दूरी पर दक्षिण में सतना रोड पर स्थित है। एक सुंदर बगीचे के रूप में जाना जाने वाला यह स्थान मंदाकनी नदी के किनारे पर स्थित हैं। प्रमोद वन का निर्माण रीवा के महाराज विश्वनाथ प्रताप सिंह जूदेव ने करबाया था। प्रमोद वन के पास स्थित “दास हनुमान” चित्रकूट का एक अन्य टूरिस्ट स्थान हैं।

और पढ़े: बनारस के घाटों के बारे में जानकारी 

1.18 चित्रकूट का पर्यटन स्थल विराध कुंड – Chitrakoot Ke Paryatan Sthal Viradh Kund In Hindi

चित्रकूट में देखने वाले स्थानों में विराध कुंड अमरावती आश्रम रोड पर बंबीहा और टिकरिया गांव में स्थित एक विशाल कुंड हैं। शबरी फॉल से इसकी दूरी लगभग 6 किलोमीटर हैं। माना जाता हैं कि इस जलाशय का पानी पाताललोक तक पहुंचता है। पौराणिक कथाओं से पता चलता हैं, कि इस स्थान पर एक विरध नाम का राक्षस रहता था। जिसे बाद में भगवान राम ने मारा था। यह राक्षस इस कुंड के जरिए पाताललोक भाग जाया करता था।

1.19 चित्रकूट में मस्ती करने के लिए शबरी फाल्स – Chitrakoot Mein Ghumne Ki Jagah Shabari Fall In Hindi

चित्रकूट में मस्ती करने के लिए शबरी फाल्स

चित्रकूट में घूमने वाली जगहों में शबरी फाल्स मारकुंडी गांव से लगभग 8 किलोमीटर की दूरी पर जमुनीहाई गांव के पास मंदाकनी नदी के उद्गम स्थान पर एक खूबसूरत झरना हैं।

1.20 चित्रकूट में देखने लायक जगह शरभंग आश्रम – Chitrakoot Me Dekhne Layak Jagah Sarbhang Muni Ashram In Hindi

चित्रकूट के दर्शनीय स्थानों में शरभंग मुनि का आश्रम यहां के प्रसिद्ध सती अनुसूया आश्रम से लगभग 20 किलोमीटर की दूरी पर दक्षिण-पूर्व में स्थित है। इस स्थान पर भगवान शिव का मंदिर और गंगा कुंड हैं। आश्रम के पास ही यहां आने वाले टूरिस्ट पहाड़ी के तल पर 108 यज्ञ वेदिकोंओं को देख सकते है। ऋषि सरभंग ने भगवान राम के दर्शन भी इसी स्थान पर किए थे।

1.21 चित्रकूट का दर्शनीय स्थल गणेश वाग – Chitrakoot Ke Darshniya Sthal Ganesh Bagh In Hindi

चित्रकूट का दर्शनीय स्थल गणेश वाग

Image Credit: Ashutosh Tripathi

चित्रकूट के दर्शनीय स्थलों में शामिल गणेश वाग इलाहाबाद-चित्रकूट मार्ग पर चित्रकूट से लगभग 11 किलोमीटर की दूरी पर स्थित हैं। इस वाग का निर्माण पेशवा राजा विनायक राव द्वारा किया गया था।

और पढ़े: बांके बिहारी मंदिर का रहस्य और पौराणिक कथा

2. चित्रकूट घूमने जाने का सबसे अच्छा समय – Best Time To Visit Chitrakoot In Hindi

चित्रकूट घूमने जाने का सबसे अच्छा समय

चित्रकूट भारत के मध्य प्रदेश राज्य का एक लोकप्रिय तीर्थ स्थल है। इस स्थान पर रामनवमी और दीवाली जैसे त्योहारों को बहुत ही धूम-धाम से मनाया जाता हैं। चित्रकूट घूमने का सबसे अच्छा समय जुलाई से मार्च महीने का माना जाता हैं।

3. चित्रकूट में खाने के लिए प्रसिद्ध स्थानीय भोजन – Famous Food Of Chitrakoot In Hindi

चित्रकूट में खाने के लिए प्रसिद्ध स्थानीय भोजन

चित्रकूट धाम अपने यहां आने वाले पर्यटकों के लिए शानदार भोजन की पेशकश करता हैं। चित्रकूट एक धार्मिक स्थल हैं इसलिए यहां शुद्ध शाकाहारी भोजन ही अधिक देखने और चखने के लिए मिलेगा। आप जब चित्रकूट धाम की यात्रा करे तो यहां का लोकल फूड जरूर चखे।

4. चित्रकूट में कहाँ रुके – Where To Stay In Chitrakoot In Hindi

चित्रकूट में कहाँ रुके

चित्रकूट के प्रमुख दर्शनीय स्थलों की यात्रा करने के बाद यदि आप चित्रकूट में रुकने के स्थान की तलाश कर रहे हैं, तो हम आपको बता दें कि चित्रकूट में कई लो-बजट से लेकर हाई-बजट के होटल आपको मिल जायंगे। तो आप अपनी सुविधानुसार होटल ले सकते है।

  • श्री जी भवन
  • रिवर फ्रंट रिजॉर्ट
  • होटल रुद्र
  • सुरेंद्र पैलेस
  • आनंद धाम गेस्ट हाउस

और पढ़े: काशी विश्वनाथ मंदिर के बारे में संपूर्ण जानकारी 

5. चित्रकूट धाम कैसे जाये – How To Reach Chitrakoot In Hindi

चित्रकूट की यात्रा पर जाने वाले पर्यटक फ्लाइट, ट्रेन और बस में से किसी का भी चुनाव कर सकते है।

5.1 चित्रकूट फ्लाइट से कैसे पहुंचे – How To Reach Chitrakoot By Flight In Hindi

चित्रकूट फ्लाइट से कैसे पहुंचे

चित्रकूट की यात्रा पर जाने के लिए यदि आपने हवाई मार्ग का चुनाव किया हैं, तो हम आपको बता दे की चित्रकूट के सबसे निकटतम इलाहाबाद हवाई अड्डा है। जोकि चित्रकूट से 135 किलोमीटर की दूरी पर है।

5.2 ट्रेन से चित्रकूट कैसे पहुंचे – How To Reach Chitrakoot By Train In Hindi

ट्रेन से चित्रकूट कैसे पहुंचे

चित्रकूट से 8 किलोमीटर की दूरी पर कर्वी रेल्वे स्टेशन है जोकि चित्रकूट का सबसे निकटतम रेल्वे स्टेशन हैं। कर्वी रेल्वे स्टेशन झांसी-मानिकपुर रेल्वे लाइन पर स्थित है और भारत के सभी प्रमुख शहरो से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है।

5.3 चित्रकूट कैसे पहुंचे बस से – How To Reach Chitrakoot By Bus In Hindi

चित्रकूट कैसे पहुंचे बस से

चित्रकूट जाने के लिए यदि आपने सडक मार्ग का चुनाव किया हैं तो हम आपको बता दें कि राज्य के स्वामित्व वाली बसें इलाहाबाद, बांदा, कानपुर, सतना और झांसी से चित्रकूट तक पहुंचने के लिए उपलब्ध हैं।

और पढ़े: वाराणसी के 10 प्रमुख मंदिर

6. चित्रकूट का नक्शा – Chitrakoot Map

7. चित्रकूट की फोटो गैलरी – Chitrakoot Images

View this post on Instagram

Late Post for chitrakoot 2k19🤗🤗

A post shared by Indra Kumar Vaishy (@indrakumarvaishy) on

और पढ़े:

Write A Comment