इम्फाल पर्यटन में घूमने की सबसे अच्छी जगहें – Famous Tourist Places in Imphal in Hindi

Imphal in Hindi : मणिपुर की राजधानी इम्फाल पर्यटन के नजरिये से बेहद खास जगह है जो हर साल हजारों भारतीय और विदेशी पर्यटकों को अपनी और आकर्षित करती है। इम्फाल मणिपुर का सबसे बड़ा शहर और आकर्षक स्थान है जोकि अपनी हरी-भरी वादियों और आकर्षित प्राकृतिक वातावरण के साथ इस शहर की ख़ूबसूरती में चार चाँद लगा देता हैं। इम्फाल को मणिपुर का संग्रहालय के रूप में भी जाना जाता है जहाँ पर्यटकों को मणिपुर राज्य के बारे में जानने मिलता है।

यदि आप भी अपनी फैमली या फ्रेंड्स के साथ इम्फाल के प्रमुख पर्यटक स्थल की यात्रा को प्लान कर रहे है और इम्फाल में घूमने की जगहें के बारे में सर्च कर रहे है तो हमारे इस आर्टिकल को पूरा जरूर पढ़े जिसमे हम आपको इम्फाल की ऐसी जगहें के बारे में बताने जा रहे है जो अपने पर्यटन आकर्षणों से पर्यटकों को मंत्रमुग्ध करने में कभी पीछे नही रहती है।

Table of Contents

इम्फाल का इतिहास – History of Imphal in Hindi

इम्फाल का इतिहास – History of Imphal in Hindi

इम्फाल का इतिहास 1 शताब्दी ईस्वी पूर्व से शुरू होता है जब मणिपुर मूल रूप से बर्मा का एक हिस्सा था; राजा जय सिंह द्वारा इस क्षेत्र में आक्रमणों की एक श्रृंखला के बाद संधि पर हस्ताक्षर करने के बाद 1826 में यह भारत का हिस्सा बन गया। यह शुरू में राजा खाबा और पखंगबा नेताओं द्वारा शासित था, लेकिन निंगथोजा जनजाति द्वारा कब्जा कर लिया गया था। जनजाति राजनीतिक रूप से शक्तिशाली थी और युद्ध में उत्कृष्ट थी, इसने मणिपुर के अन्य हिस्सों में अपने प्रभुत्व का विस्तार किया। राजा खगम्बा और उनके बेटे खुंजाओबा ने प्रसिद्ध कंगला पैलेस का निर्माण किया। 1891 में, ब्रिटिश ने मणिपुर और बर्मी सेना के शाही परिवार के बीच आक्रमण और हमलों को सुलझाने के लिए हस्तक्षेप करने का फैसला किया। 1892 में, कुख्यात एंग्लो-मणिपुर युद्ध छिड़ गया क्योंकि स्थानीय लोग निरंकुश शासन को स्वीकार करने के लिए तैयार नही थे इससे कंगला पैलेस का विध्वंस भी हुआ। फिर भी, अंग्रेजों ने भारत की स्वतंत्रता तक मणिपुर में अपना शासन स्थापित किया और स्वतंत्रता प्राप्ति के बाद 1972 में मणिपुर एक राज्य बना और इम्फाल को आधिकारिक तौर पर अपनी राजधानी घोषित किया गया।

भारत का गहना – Jewel of India in Hindi

भारत का गहना - Jewel of India in Hindi

देश के पूर्वी हिस्से में स्थित इम्फाल अंतिम सबसे बड़ा शहर, और छिपा हुआ स्वर्ग है, जिसे “भारत का गहना” के रूप में भी ख्याति प्राप्त है। ब्लिश कोब्रो और नामजिंग पर्वतमाला के मध्य बिंदु में स्थित, इम्फाल आदिवासियों प्रवासीयों का घर है। रंग-बिरंगे ऑर्किड, क्षेत्र के समृद्ध वनस्पति और जीव और अनूठी संस्कृति और परंपराओं से समृद्ध यह पर्यटन के लिहाज से एक आकर्षक गंतव्य है। ऐतिहासिक रूप से प्रासंगिक शहर, इम्फाल में दुनिया का सबसे पुराना पोलो मैदान भी है।

इम्फाल में घूमने की सबसे अच्छी जगहें Best places to visit in Imphal in Hindi

लोकटक झील – Loktak lake in Hindi

लोकटक झील - Loktak lake in Hindi

इंफाल से लगभग 50 किमी की दूरी पर स्थित, लोकटक झील दुनिया की एकमात्र तैरती हुई झील है, और पूर्वोत्तर भारत की सबसे बड़ी ताज़े पानी की झील है। इस झील की पहली सबसे खास बात यह है की यह भारत की सबसे बड़ी ताजे पानी की झील है जबकि दूसरी खासियत झील पर जैविक कचरे से बना एक अस्थायी द्वीप है, जो क्षेत्र में एकमात्र पर्यटक घर है। इसके अलावा झील में अन्य कई तैरते हुए द्वीप भी हैं जो इस झील के प्रमुख आकर्षण बने हुए है। आपको बता दे कुछ तैरते हुए ‘द्वीप’ समूह इतने बड़े हैं कि उन पर कई रिसॉर्ट भी बनाए गए हैं।

यदि आप इम्फाल में घूमने की जगहें सर्च कर रहे है तो आपको लोकटक झील जरूर घूमने आना चाहिए आप जब भी अपनी फैमली या फ्रेंड्स के साथ यहाँ आएंगे तो घूमने के साथ साथ बोटिंग, वर्ड वाचिंग, फिशिंग और कैम्पिंग जैसी अन्य कई एक्टिविटीज को भी एन्जॉय कर सकते है।

कंगला किला इम्फाल – Kangla Fort, Impha in Hindi

कंगला किला इम्फाल – Kangla Fort, Impha in Hindi
Image Credit : Vishwa Nath Purohit

ऐतिहासिक रूप से सबसे महत्वपूर्ण किला के रूप में जाना जाने वाला कंगला किला इम्फाल के प्रसिद्ध पर्यटक स्थल में से एक है जिसे आप अपनी इम्फाल की यात्रा में देख सकते है। यह पुरातत्व स्थल खंडहरों में होने के बाबजूद सफलता और युद्ध की कहानियों से भरा पड़ा है जो आपके उसके ऐतिहासिक काल में वापिस ले जाता है। कंगला किला निश्चित रूप से मणिपुर में घूमने के लिए एक शानदार जगह है जहाँ आप उन पुरातात्विक अवशेषों का पता लगा सकते हैं जो समृद्ध मणिपुरी अतीत की बात करते हैं।

और पढ़े : भारत के 8 सबसे रहस्यमयी और डरावने किले जिनके बारे में जानकार में रोंगटे खड़े हो जायेंगे

थारोन गुफा इम्फाल – Tharon Cave, Imphal in Hindi

थारोन गुफा इम्फाल – Tharon Cave, Imphal in Hindi
Image Credit : Amarlincon Khumukcham

इम्फाल के प्रमुख पर्यटक स्थल में शामिल थारोन गुफा साहसिक अनुभव में रुचि रखने वाले पर्यटकों के लिए परफेक्ट जगह है जहाँ आप गुफा के बाहर खींचे गए नक्शे की मदद इस गुफा में घूम सकते है। बता दे थारोन गुफा 655.6 मीटर लंबी है जिसे थैलुआन गुफा के रूप में भी जाना जाता है। यदि आप अपने फ्रेंड्स के साथ इम्फाल की ट्रिप पर जाने वाले है तो थारोन गुफा इम्फाल की एक ऐसी जगह है जिसे आपको बिलकुल मिस नही करनी चाहिए।

शहीद मीनार, इंफाल – Shaheed Minar, Imphal in Hindi

शहीद मीनार, इंफाल - Shaheed Minar, Imphal in Hindi
Image Credit : Naveed Ahmed

11 मीटर लंबा शहीद मीनार बीर तिरकेंद्रजीत पार्क के केंद्र में स्थित है और यह उन लोगों के लिए एक स्मारक है, जिन्होंने 1891 में मीती विद्रोह में लड़ते हुए अंग्रेजों के खिलाफ अपनी जान का बलिदान दे दिया था। यदि आप इम्फाल की यात्रा पर है तो कुछ एकांत में समय बिताने और इन शहीद वीरों को श्रधांजलि देने के लिए यहाँ आ सकते है।

आईएनए मेमोरियल, इम्फाल – INA Memorial, Imphal in Hindi

आईएनए मेमोरियल, इम्फाल - INA Memorial, Imphal in Hindi
Image Credit : Satya Godara

आईएनए मेमोरियल, इम्फाल का शहीद स्मारक है जिसका निर्माण उन सैनिकों को सम्मानित करने के लिए किया गया था जिन्होंने भारत के लिए अपना बलिदान दिया था। बता दे आईएनए मेमोरियल को आईएनए वॉर म्यूजियम के नाम से भी जाना जाता है जहाँ स्वतंत्रता संग्राम में बलिदान देने वाले देश भक्तो की वस्तुयें देखी जा सकती है। इसे एक भारतीय राष्ट्रीय सेना के अनौपचारिक मुख्यालय के रूप में इस्तेमाल किया गया था।

केइबुल लामजाओ राष्ट्रीय उद्यान – Keibul Lamjao National Park in Hindi

केइबुल लामजाओ राष्ट्रीय उद्यान – Keibul Lamjao National Park in Hindi
Image Credit : Dr Kalyan Kumar Das

केइबुल लामजाओ राष्ट्रीय उद्यान इम्फाल पर्यटन में घूमने के लिए सबसे अच्छी जगहें में से एक है जिसे दुनिया के एकमात्र तैरते हुए राष्ट्रीय उद्यान के रूप में भी जाना जाता है। लोकटक झील 40 वर्ग किलोमीटर क्षेत्र में फैला हुआ है जिसे 1977 में राष्ट्रीय रिजर्व के रूप में घोषित किया गया था। यह खूबसूरत पार्क 450 से अधिक किस्मों के ऑर्किड की मेजबानी करता है जबकि इसमें जलीय वनस्पतियों की 100 से अधिक प्रजातियों सहित हिमालयी चितकबरे किंगफिशर, ब्लैक बत्तख, आदि पक्षियों की कई प्रजातियां भी पाई जाती हैं। तथ्य यह है कि यह एक तैरता हुआ द्वीप है, एक अनूठी विशेषता है जो दुनिया भर से प्रकृति के प्रति उत्साही और शोधकर्ताओं को आकर्षित करती है।

मणिपुर स्टेट म्यूजियम इम्फाल – Manipur State Museum, Imphal in Hindi

मणिपुर स्टेट म्यूजियम इम्फाल – Manipur State Museum, Imphal in Hindi
Image Credit : Nayanjyoti Hazarika

यदि आप मणिपुर और इम्फाल के इतिहास, संस्कृति, और जीवन शैली के बारे में जानने की दिलचस्पी रखते है तो आपको अपनी इंफाल की यात्रा की शुरूआत मणिपुर स्टेट म्यूजियम से करनी चाहिए। 1969 में स्थापित, यह संग्रहालय नृवंशविज्ञान, पुरातत्व, प्राकृतिक इतिहास और चित्रकारी जैसी कलाकृतियों का आदर्श संग्रह है। यहाँ प्रदर्शित ऐतिहासिक वस्तुयों से राज्य की संस्कृति और परंपरा का अनुभव किया जा सकता है। इस संग्रहालय की मुख्य विशेषताओं में से एक हियाग हिरेन नामक नाव है जो 54 फीट / 16 मीटर लंबी है। मणिपुर राज्य संग्रहालय की अन्य वस्तुएं में सोना चढ़ाया हुआ मानव मुखौटा, प्राचीन धूम्रपान पाइप, पुरातात्विक खोज और आदिवासी आभूषण यहाँ मौजूद हैं। इनके अलावा यह संग्रहालय प्रकृति संरक्षण और जैविक नमूनों के विभिन्न कार्यक्रमों को भी आयोजित करता है जिनमे स्थानीय लोगो के साथ साथ पर्यटकों की काफी भीड़ देखी जाती है।

और पढ़े : भारत के 15 प्रमुख संग्रहालय

सिंगदा बांध इम्फाल – Singda Dam, Imphal in Hindi

सिंगदा बांध इम्फाल – Singda Dam, Imphal in Hindi
Image Credit : All Rounder

सिंगदा बांध इम्फाल से लगभग 16 किमी दूर पर स्थित दुनिया में सबसे ऊंचा मिट्टी का बांध है। सिंगदा बांध इम्फाल का प्रसिद्ध पर्यटक और पिकनिक स्पॉट है जहां का शांत वातावरण और इसके सुन्दर परिदृश्य पूरा एक दिन बिताने के लिए पर्यटकों को मजबूर कर देते है। यदि आप अपनी फैमली, फ्रेंड्स या अपने प्रेमी के साथ किसी शांत जगह की तलाश में हैं तो आप यहाँ घूमने आ सकते है। यहाँ आप पूरा एक दिन बिता सकते है जिसमे पिकिनिक एन्जॉय कर सकते है, रंग बिरंगे पक्षीयों को देख सकते है और शाम को सनसेट के अद्भुद नजारों को फील कर सकते है।

लंगथबल, इंफाल – Langthabal, Imphal in Hindi

लंगथबल, इंफाल के प्रमुख पर्यटक आकर्षणों में से एक जो अपने शानदार मंदिरों और ऐतिहासिक स्मारकों के लिए प्रसिद्ध है। लेकिन आप जब भी यहाँ आयेंगे शानदार स्थापत्य सुन्दरता के बीच कटहल और देवदार के वृक्षा रोपण को भी देख सकते है।

मणिपुर जूलॉजिकल गार्डन, इंफाल – Manipur Zoological Gardens, Imphal in Hindi

मणिपुर जूलॉजिकल गार्डन, इंफाल – Manipur Zoological Gardens, Imphal in Hindi
Image Credit : Thengboi Kuki

मणिपुर जूलॉजिकल गार्डन, इंफाल में घूमने के लिए एक और ऐसी जगह है जिसे घूमें  बिना इम्फाल के प्रसिद्ध पर्यटक स्थल की यात्रा पूरी नही हो सकती। 1976 में स्थापित मणिपुर जूलॉजिकल गार्डन रसीली हरियाली और शांत वातावरण के साथ पहाड़ियों से घिरा हुआ है जो कई दुर्लभ प्रजातियों के संरक्षण के रूप में भी कार्य करता है। आप जब भी मणिपुर जूलॉजिकल गार्डन आयेंगे तो 400 सुंदर जानवरों की प्रजातियाँ देख सकते हैं जिनमे कुछ सबसे लोकप्रिय प्रजातियाँ लोग स्लो लोरिस, पायथन, हिमालयन बियर, हूलॉक गिब्बन, तेंदुआ बिल्ली और फ्लाइंग स्क्विरल हैं।

आप यहाँ एल्डर के हिरन को भी देख सकते हैं, जिसे पहले मणिपुर में पाए जाने वाले थमिन और लुप्तप्राय प्रजातियों के रूप में जाना जाता है। साथ ही नोंगिन नामक दुर्लभ पक्षीय प्रजाति को भी देख सकते है। वास्तव में यह जगह प्रकृति और वन्यजीव प्रेमियों के लिए स्वर्ग के समान है।

श्री गोविंदजी मंदिर, इंफाल – Shri Govindjee Temple, Imphal in Hindi

श्री गोविंदजी मंदिर, इंफाल - Shri Govindjee Temple, Imphal in Hindi
Image Credit : Mainak Pal

श्री गोविंदजी मंदिर, इंफाल के प्रसिद्ध मंदिर में से एक है जो इंफाल के शाही महल के पास स्थित है। यह मंदिर यह श्री गोविंदजी के साथ-साथ कई अन्य हिंदू देवी-देवताओं और कृष्ण, बलराम, जगन्नाथ, सुभद्रा आदि को समर्पित है जिनके दर्शन आप इस मंदिर की यात्रा में कर सकते है। नगाड़ा शैली में निर्मित इस मंदिर की वास्तुकला भी काफी आकर्षक है जो इसके अन्य आकर्षण के रूप में कार्य करती है।

खोंगजोम, इंफाल – Khongjom, Imphal in Hindi

खोंगजोम, इंफाल - Khongjom, Imphal in Hindi
Image Credit : Parosh VFX

यह ऐतिहासिक रूप से महत्वपूर्ण स्थान उस स्थल को चिह्नित करता है जहां मेजर जनरल पाओना अपने सैनिकों के साथ ब्रिटिश आक्रमण के खिलाफ लड़े थे, मणिपुर में संपूर्ण ब्रिटिश नियंत्रण समाप्त हो गया था। ओपन एयर गैलरी में, 78 फीट लंबी नाव भी देखी जा सकती है जिसे हियांग हिरेन कहा जाता है। यहां समय समय पर विज्ञान मेले और प्रदर्शनियां भी लगाई जाती हैं जिनमे राज्य के विभिन्न हिस्सों से पर्यटक शामिल होते है।

थ्री मदर्स आर्ट गैलरी, इंफाल – Three Mothers Art Gallery, Imphal in Hindi

थ्री मदर्स आर्ट गैलरी, इंफाल - Three Mothers Art Gallery, Imphal in Hindi
Image Credit : Shivani Balasubramanian

इम्फाल के पूर्व में थंगापट मेपल पैलेस कंपाउंड के परिसर में स्थित, थ्री मदर्स आर्ट गैलरी एक ऐसा संग्रहालय है जो ड्रिफ्टवुड स्कल्पचर आर्ट के माध्यम से राज्य की समृद्ध संस्कृति, परंपरा, इतिहास और विरासत को प्रदर्शित करता है। 1978 में स्थापित, आर्ट गैलरी का नाम “थ्री मदर्स आर्ट गैलरी” इसलिए रखा गया है क्योंकि यह तीन माताओं – मातृभूमि, मातृभाषा और स्वयं की माँ को दर्शाती है। संग्रहालय में सबसे उल्लेखनीय वस्तुओं में जानवरों की आकृतियाँ, प्रसिद्ध हस्तियों की नक्काशी और अन्य पौराणिक मूर्तियाँ शामिल हैं। इसके अलावा, लकड़ी पर नक्काशीदार युद्ध के दृश्य, स्वदेशी वन्यजीव, आधे मनुष्यों और आधे जानवरों के शरीर वाले पौराणिक जीव भी यहाँ देखे जा सकते है।

और पढ़े : भारत के प्रमुख ऐतिहासिक मंदिर

एबुधो थांगजिंग मंदिर, इंफाल – Ebudhou Thangjing Temple in Hindi

इम्फाल के स्थित एबुधो थांगजिंग मंदिर एक प्रसिद्ध मंदिर है। बता दे यह मंदिर एक तीर्थ स्थल होने के साथ साथ उस स्थान के रूप में भी जाना जाता है जहां से सुभाषचंद्र बोस ने स्वतंत्रता संग्राम की शुरुआत की थी और 14 अप्रैल 1944 को झंडा फहराया था। मई के दौरान यहाँ एक मोइरांग लई हाराओबा त्योहार मनाया जाता है जिसमे इबुधो थंगजिंग’ का आशीर्वाद लेने के लिए हजारों की संख्या में लोग आते है।

कोरस रेपर्टरी थियेटर इम्फाल – Chorus Repertory Theatre Imphal in Hindi

यदि आप अपनी इम्फाल के प्रमुख पर्यटक स्थल की यात्रा में किसी ऐसी जगह घूमने जाना चाहते है जहाँ आप कुछ अलग प्रदर्शन को एन्जॉय सके तो आप कोरस रेपर्टरी थियेटर की यात्रा कर सकते हैं, जो एक प्रसिद्ध भारतीय नाटककार और एक थिएटर निर्देशक, रतन थियम द्वारा प्रेरित है। इस स्थान को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर विशेष रूप से अपने विशेष शो के लिए जाना जाता है, जिसका नाम चक्रव्यूह है, जिसे वर्ष 1984 में प्रदर्शित किया गया था। आज यह मणिपुर की पारंपरिक और समकालीन कला और जीवन शैली को प्रदर्शित करता है। कोरस रिपर्टरी थिएटर निश्चित रूप से अपने उल्लेखनीय प्रदर्शन और कला के माध्यम से आपको काफी प्रभावित करेगा।

फुबाला, इंफाल – Phubala, Imphal in Hindi

लोकतक झील की पश्चिमी सीमाओं के पास स्थित, फुबाला इम्फाल की एक ऐसी जगह है जहाँ आप नौका विहार करते हुए झील के मनोरम दृश्यों का आनदं ले सकते है और अपने परिवार या फिर अपने कपल के साथ एकांत में क्वालिटी टाइम स्पेंड कर सकते है।

 इम्फाल घूमने जाने का सबसे अच्छा समय – Best time to visit Imphal in Hindi

 इम्फाल घूमने जाने का सबसे अच्छा समय – Best time to visit Imphal in Hindi

यदि आप आप इम्फाल घूमने जाने के लिए सबसे अच्छा समय क्या है ? इस बारे में जानना चाहते है तो हम आपको बता दे सितंबर से अप्रैल इम्फाल की यात्रा के लिए सबसे अच्छा समय है, हालांकि इस स्थान पर पूरे साल सुखद मौसम रहता है इसीलिए इसकी यात्रा साल के किसी भी समय की जा सकती है। लेकिन मानसून के मौसम में इम्फाल के प्रसिद्ध पर्यटक स्थल की यात्रा पर जाने से बचना चाहिए क्योंकि भारी बारिश के कारण आप इंफाल का सर्वश्रेष्ठ अनुभव नहीं कर सकते हैं।

और पढ़े : भारत के 15 खूबसुरत शहर

इम्फाल का प्रसिद्ध स्थानीय खाना – Food of Imphal in Hindi

इम्फाल का प्रसिद्ध स्थानीय खाना – Food of Imphal in Hindi

इम्फाल अपनी प्राकृतिक सुन्दरता और पर्यटक स्थलों के साथ साथ अपने खाने के लिए भी फेमस है जी यहाँ आने वाले पर्यटकों को उँगलियाँ चाटने पर मजबूर कर देता है। इंफाल के रेस्तरां समृद्ध और स्थानीय व्यंजनों के साथ-साथ यहां के भोजन पर तिब्बती प्रभाव को बढ़ाते हैं। इसीलिए आपको यहाँ सूखी मछली, कोबॉक, गुड़ और चावल के साथ तैयार स्ट्यू के साथ लोकप्रिय मोमोज चखने को मिल सकते है। इनके अलावा इम्फाल में भारतीय, चीनी, मैक्सिकन, फ्रेंच, थाई, इतालवी सहित खाने अन्य कई विकल्प भी मिलेगे।

और पढ़े : भारत के राज्यों के प्रसिद्ध खाने की लिस्ट 

इम्फाल में रुकने के लिए होटल्स – Hotels in Imphal in Hindi

इम्फाल  में रुकने के लिए होटल्स - Hotels in Imphal in Hindi

इम्फाल मणिपुर का प्रमुख पर्यटक स्थल और शहर है, इस वजह से इम्फाल में रुकने के लिए सभी बजट की होटल्स अवेलेवल है जिनको आप अपनी चॉइस के अनुसार सिलेक्ट कर सकते है।

  • क्लासिक ग्रांडे (Classic Grande)
  • (द कास्टल होटल (The Castle Hotel)
  • (हाओबाम हाउस (Haobam House)
  • होटल दानी कॉन्टिनेंटल (Hotel Daani Continental)
  • हिल व्यू होमस्टे (Hill view – Homestay)

 इम्फाल केसे पहुंचें – How to Reach Imphal in Hindi

इम्फाल की यात्रा पर जाने वाले पर्यटकों को बता दे आप फ्लाइट, ट्रेन या सड़क मार्ग में से किसी से भी ट्रेवल करके इम्फाल जा सकते है।

तो आइये हम नीचे डिटेल से जानते है की हम फ्लाइट, ट्रेन या सड़क मार्ग से इम्फाल  केसे जायें।

फ्लाइट से इम्फाल केसे जायें – How to Reach Imphal by Flight in Hindi

फ्लाइट से इम्फाल केसे जायें – How to Reach Imphal by Flight in Hindi

यदि आपने इम्फाल घूमने जाने के लिए फ्लाइट का सिलेक्शन किया है, तो जान लें इम्फाल में खुद का घरेलू हवाई अड्डा मौजूद है। जबकि इम्फाल का निकटतम इंटरनेशनल एयरपोर्ट गुवाहाटी में है, जो इम्फाल से लगभग 464 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। इसीलिए बेहतर होगा आप इम्फाल एयरपोर्ट के लिए ही उड़ान भरे जैस ही आप एयरपोर्ट पर उतरते है तो आप स्थानीय वाहनों की मदद से आसानी से अपने गंतव्य तक पहुच सकते है।

इम्फाल ट्रेन से केसे जायें – How to Reach Imphal by Train in Hindi

इम्फाल ट्रेन से केसे जायें – How to Reach Imphal by Train in Hindi

ट्रेन से ट्रेवल करके इम्फाल की यात्रा पर जाने वाले पर्यटकों को बता दे मणिपुर की राजधानी होने के बाबजूद भी इम्फाल के लिए कोई सीधी रेल कनेक्टविटी नही है। इम्फाल का सबसे नजदीकी रेलवे स्टेशन दीमापुर रेलवे स्टेशन है जो इम्फाल से लगभग 210 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है।

सड़क मार्ग से इम्फाल केसे पहुचें – How to Reach Imphal by Raod in Hindi

सड़क मार्ग से इम्फाल केसे पहुचें – How to Reach Imphal by Raod in Hindi

इम्फाल अपने आसपास के शहरों से सड़क मार्ग द्वारा बहुत अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है, और इम्फाल के प्रमुख शहरों से इम्फाल के लिए नियमित बसे भी संचालित की जाती है। इसीलिए सड़क मार्ग से इम्फाल की यात्रा करना सबसे अच्छा और सुविधाजनक तरीका है जो पर्यटकों को काफी पसंद भी आता है। बस के अलावा आसपास के शहरों से आप अपनी कार या टेक्सी किराये पर लेकर भी आसानी से इम्फाल  जा सकते है।

और पढ़े : मणिपुर घूमने में लायक प्रसिद्ध पर्यटन स्थल की जानकारी

इस आर्टिकल में आपने इम्फाल के आकर्षक स्थल और इम्फाल की ट्रिप से रिलेटेड इन्फोर्मेशन को डिटेल जाना है, आपको हमारा ये आर्टिकल केसा लगा हमे कमेंट्स में जरूर बतायें।

इसी तरह की अन्य जानकारी हिन्दी में पढ़ने के लिए हमारे एंड्रॉएड ऐप को डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक करें। और आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

इम्फाल का मेप – Map of  Imphal in Hindi

और पढ़े :

Leave a Comment