गोवा के प्रसिद्ध मंदिर – Famous Temples of Goa in Hindi

Famous Temples of Goa in Hindi : गोवा भारत का एक खूबसूरत समुद्र तटीय राज्य है जिसके बारे में शायद ऐसा कोई भी हो जो जानता ना हों। लेकिन यदि आप सोचते है की गोवा सिर्फ अपने खुबसूरत समुद्र तटो, नाईट लाइफ, पार्टीज, और बाजारों के लिए फेमस हैं तो आप गलत है। क्योंकि गोवा इन सबके अलावा अपने प्रसिद्ध मंदिरों के लिए भी जाना जाता है जो देश विदेश से श्र्धालुयों को आकर्षित करता है। गोवा के प्रमुख मंदिर (Goa ke Prmukh Mandir in Hindi) में कई मंदिर हजारों साल पुराने है जो अपने समय के इतिहास और वास्तुशिल्प चमत्कारों को प्रदर्शित करते है। जबकि कुछ ऐसे प्रसिद्ध मंदिर है जो स्थानीय लोगो के साथ साथ विभिन्न हिस्से के लोगो के लिए आस्था का केंद्र बने हुए है जहाँ हर साल हजारों की संख्या में तीर्थयात्री आते है।

यदि आप भी अपनी फैमली या फ्रेंड्स के साथ गोवा घूमने जाने का प्लान बना रहे है और घूमने के लिए गोवा के प्रसिद्ध मंदिर (Famous Temples of Goa in Hindi) सर्च कर रहे हैं तो हमारे इस लेख को पूरा जरूर पढ़े जिसमे हम आपको गोवा के सबसे खास मंदिरों के बारे में बताने जा रहे हैं जिनके दर्शन के लिए आपको एक जरूर जाना चाहिए –

गोवा के प्रमुख मंदिर और तीर्थ स्थल – Goa ke Prmukh Mandir in Hindi

सप्तकोटेश्वर मंदिर – Saptakoteshwar Temple in Hindi

सप्तकोटेश्वर मंदिर – Saptakoteshwar Temple in Hindi
Image Credit : Shaunak Bale

सप्तकोटेश्वर मंदिर गोवा के प्रमुख मंदिर (Goa ke Prmukh Mandir in Hindi) में से एक है जो  “देवा दी देव” महादेव को समर्पित है। बता दे नार्वे, गोवा में स्थित सप्तकोटेश्वर मंदिर को कोंकण क्षेत्र के छह सबसे प्रसिद्ध मंदिर में से एक माना जाता है जहाँ हर साल हजारों की संख्या में तीर्थयात्री भोलेनाथ के दर्शन के लिए आते है। सप्तकोटेश्वर मंदिर का निर्माण बारहवीं शताब्दी के आसपास कदंब वंश के राजा ने अपनी पत्नी कमलदेवी के लिए बनवाया था जो इस भगवान की कट्टर भक्त थीं। इसके बाद से ही इस मंदिर में भगवान् शिव की पूजा की जाती आ रही है।

मंदिर अपने वास्तविक निर्माण के बाद पुनिनिर्माण से भी गुजरा है इसलिए इस मंदिर में मुगलों की स्थापत्य सुंदरता, यूरोपीय लोगों की डिजाइन भी देखी जा सकती है। गोकुलाष्टमी त्यौहार इस मंदिर में मनाया जाना वाला सबसे प्रमुख उत्सव है जिसे यहाँ बड़े ही धूमधाम के साथ मनाया जाता है जिसमे स्थानीय लोगो के साथ साथ विभिन्न हिस्सों से पर्यटक भी शामिल होते है।

मारुति मंदिर – Maruti Temple in Hindi

मारुति मंदिर – Maruti Temple in Hindi
Image Credit : Alex Prokopenko

गोवा में प्रसिद्ध मंदिर (Goa ke Prsidh Mandir in Hindi) की सूची में मारुति मंदिर के नाम भी काफी उपर है जिसकी मुख्य वजह भक्तो की भगवान् हनुमान जी के प्रति आस्था और इसके निर्माण के पीछे की दिलचस्प कहानी है जिसके बारे में जानने के लिए भक्तगण मंदिर की और खिचे आते है। कहा जाता है जब पुर्तगालियों ने ईसाई धर्म को बढ़ावा देने के लिए गोवा में सभी हिंदू मंदिरों को नष्ट कर दिया था। उसके बाद भी हनुमान जी की मूर्ति यहाँ छिपी हुई थी भक्त पुर्तगाली शासन के अंत तक गुप्त रूप से अपनी प्रार्थना करते थे। ऐसा चलने के बर्षो बाद पुर्तगाली शासन का पतन हुआ जिसके बाद यहाँ एक सुन्दर निर्माण किया गया जो देश भर से कई हजारों श्र्धालुयों को आकर्षित करता है।

पंजिम में अल्टिन्हो हिल पर स्थित मारुति मंदिर के बगल में एक ताज़ा धारा भी बहती है, जो इसे एक ताज़ा आभा प्रदान करती है। जबकि मंदिर रात में दूर से देखने पर आश्चर्यजनक रूप से जगमगाता दिखाई देता है।

महालक्ष्मी मंदिर – Mahalakshmi Temple in Hindi

महालक्ष्मी मंदिर – Mahalakshmi Temple in Hindi
Image Credit : Kiron Pande

बंदोडे या बांदीवड़े का गांव में स्थित महालक्ष्मी मंदिर उत्तरी गोवा के सबसे महत्वपूर्ण और सबसे अधिक देखे जाने वाले हिंदू मंदिरों में से एक है। इस भव्य मंदिर के गर्भगृह में लगभग 18 पवित्र चित्र हैं जो पवित्र भागवत के संप्रदायों को दर्शाते हैं। गोवा का महालक्ष्मी मंदिर साल भर तीर्थयात्रियों को आकर्षित करता है जहाँ महालक्ष्मी को धन और शांति की देवी के रूप में पूजा जाता है।

और पढ़े : भारत के प्रमुख सेक्स मंदिर, जिनसे आप अनुमान लगा सकते है, की हमारे पूर्वज सेक्स को लेकर कितने सहज थे

दामोदर मंदिर – Damodar Temple in Hindi

दामोदर मंदिर – Damodar Temple in Hindi
Image Credit : Guru Aigal

दक्षिणी गोवा के ज़ांबौलिम गांव में कुशावती नदी के तट पर स्थित, श्री दामोदर मंदिर भगवान दामोदर के रूप में भगवान शिव को समर्पित गोवा का प्रसिद्ध मंदिर है। दामोदर मंदिर में भगवान शिव जी के दर्शन करने के साथ साथ बहुत से श्रद्धालु कुशावती नदी में स्नान करने के लिए भी आते है जिसने अनुसार माना जाता है की कुशावती नदी अपनी उपचार शक्ति से शरीर की बीमारियों को ठीक कर सकती है। गोवा का प्रसिद्ध हिंदू त्योहार शिग्मो इस खूबसूरत जगह पर मनाया जाने वाला मुख्य त्योहार है। मंदिर के रीति-रिवाजों के अनुसार, हर साल एक पालकी बनाई जाती है जिसमे दामोदर को विराजमान करके भजन गाते हुए आसपास घुमाया जाता है। इस दौरान भक्तो की काफी भीड़ इस जुलुस में शामिल होती है।

श्री शांतादुर्गा मंदिर – Shantadurga Temple in Hindi

श्री शांतादुर्गा मंदिर - Shantadurga Temple in Hindi

साउथ गोवा में कावलेम में स्थित शांतादुर्गा मंदिर गोवा के प्रमुख आस्था केन्द्रों में से एक है जो शांतादुर्गा देवी को समर्पित है। स्थानीय श्रद्धालुयों के साथ साथ देश के बिभिन्न कोनो से बड़ी मात्रा में श्रद्धालु और पर्यटक देवी का आश्रीबाद लेने के मंदिर का दौरा करते है इससे मंदिर की लोकप्रियता का अनुमान लगाया जा सकता है। आपकी जानकारी के लिए बता दे शांतादुर्गा मंदिर को गोवा के सबसे अमीर मंदिरों में से एक के रूप में जाना जाता है जिसे 1713 से 1738 के दौरान बनाया गया था। मान्यता है कि देवी शांतिदुर्गा माता पार्वती का रूप है, जिन्होंने भगवान शिव और भगवान विष्णु के बीच मध्यस्थता की थी जब भयंकर युद्ध हुआ था।

गोवा के अन्य प्रसिद्ध मंदिरों के विपरीत यह मंदिर पिरामिड शिकारा, रोमन धनुषाकार की खिड़कियां और एक फ्लैट गुंबद के रूप निर्मित है जिसे बलुस्ट्रैड्स द्वारा चारों तरफ से घेर लिया गया है। यहाँ मनाया जाने वाला स्वर्ण पालकी उत्सव सबसे प्रमुख और लोकप्रिय त्यौहार है जिसदौरान की जानी वाली यात्रा में देवताओं को सुनहरी पालकी में बिठाया जाता हैं।

तांबडी सुरला महादेव मंदिर – Tambdi Surla Temple In Hindi

तांबडी सुरला महादेव मंदिर – Tambdi Surla Temple In Hindi

गोवा राज्य की राजधानी पणजी से लगभग 65 किलोमीटर की दूरी पर स्थित तांबडी सुरला मंदिर भगवान भोले नाथ का एक प्रसिद्ध मंदिर हैं। यह मंदिर अपनी अनूठी शैली के लिए प्रसिद्ध हैं जो गोवा में घूमने के लिए प्रमुख तीर्थ स्थलों में से एक माना जाता है। 12वीं शताब्दी के दौरान निर्मित किया गया यह मंदिर कदंब यादव वंश की वास्तुकला शैली का एकमात्र स्मारक है। इस मंदिर के निर्माण काल के समय इस स्थान पर कदंब वश का शासन था। यदि आप इस मंदिर की वास्तुकला पर गौर करेंगे तो पाएंगे की इस मंदिर का निर्माण करने वाले कारीगिरों ने कितना दर्द सहा होगा। तांबडी सुरला मंदिर पर भगवान भोले नाथ के दर्शन करने के लिए भक्तो की लम्बी कतार लगी रहती हैं, विशेष कर शिवरात्रि का त्यौहार यहां बहुत ही धूमधाम से मनाया जाता हैं।

महलासा मंदिर – Mahalasa Temple in Hindi

महलासा मंदिर – Mahalasa Temple in Hindi
Image Credit : Sushant Buwaji

महलासा मंदिर या महलासा नारायणी मंदिर गोवा में मरडोल, पोंडा में स्थित एक प्रसिद्ध मंदिर है जिसकी गिनती गोवा के प्रमुख तीर्थ स्थल में की जाती है। बता दे यह मंदिर भगवान विष्णु के महिला अवतार मोहिनी को समर्पित है। मंदिर में एक दानव के उपर खड़ी महलासा देवी की मूर्ति विराजमान है जिनके चार हाथ है जिसमे वह एक त्रिशूल, एक तलवार, एक कटा हुआ सिर और एक पानी पीने का कटोरा धारण किये हुई है। महलासा मंदिर के परिसर में शांतादुर्गा और लक्ष्मी नारायण के छोटे मंदिर भी हैं, जिनकी प्रतिदिन महालसा के साथ पूजा की जाती है। इसीलिए यदि आप अपनी यात्रा के लिए गोवा के प्रमुख मंदिर (Goa ke Prmukh Mandir in Hindi) और तीर्थ स्थल को सर्च कर रहे हैं तो आपको महलासा मंदिर के दर्शन के लिए जरूर आना चाहिए जहाँ आप देवी महलासा के साथ साथ लक्ष्मी नारायण और शांतादुर्गा देवी के दर्शन का सौभाग्य प्राप्त भी कर सकते है।

और पढ़े : भारत के प्रसिद्ध 15 गणेश मंदिर 

मंगेशी मंदिर – Mangeshi Temple in Hindi

मंगेशी मंदिर - Mangeshi Temple in Hindi
Image Credit : Rajat Chodhary

गोवा प्रमुख रूप से हिंदू मंदिरों से भरा है जिनमे से मंगेशी मंदिर एक और महत्वपूर्ण मंदिर है। आधुनिक समय की कला और पारंपरिक हिंदू पैटर्न का एक आदर्श मिश्रण, मंगेशी मंदिर अपने दीप स्तम्भ के लिए जाना जाता है जो शाम को सैकड़ों दीयों के साथ जलाया जाता है। यह मंदिर गोवा में सबसे बड़े और सबसे अधिक बार देखे जाने वाले मंदिरों में से एक है जहाँ हर साल हजारों की संख्या में श्रद्धालु दर्शन के लिए आते है। बता दे इस मंदिर की एक और खास बात यह है की यहाँ आने वाले पर्यटक और श्रद्धालुयों के लिए एक ड्रेस कोड है।

नागेश मंदिर – Nagesh Temple in Hindi

नागेश मंदिर - Nagesh Temple in Hindi
Image Credit : Aryan Naik

1413 ई. में स्थापित, गोवा का प्रसिद्ध श्री नागेश मंदिर गोवा के पोंडा जिले में हरे-भरे वातावरण में स्थित है जो अपनी मजबूत और स्थिर पृष्ठभूमि के लिए प्रसिद्ध है। साथ में स्थित पूल क्रिस्टल नीले पानी में छवियों का एक सराहनीय प्रतिबिंब चित्रित करता है जो श्रद्धालुओं के साथ साथ पर्यटकों को भी काफी आकर्षित करता है। बता दे गोवा में यह एकमात्र ऐसा मंदिर है जिसका पुनर्निर्माण नहीं किया गया है, केवल पुनर्निर्मित किया गया है। यही खास वजह है की यहाँ पर्यटकों और श्रद्धालुओं के साथ साथ इतिहास प्रेमियों की भी काफी भीड़ देखी जा सकती है।

ब्रह्मा मंदिर – Brahma Temple in Hindi

ब्रह्मा मंदिर – Brahma Temple in Hindi
Image Credit : Dr Avinash Kande

जगत पिता ब्रह्मा जी को समर्पित ब्रह्मा मंदिर पुष्कर में स्थित ब्रह्मा मंदिर के बाद भारत का दूसरा सबसे महत्वपूर्ण ब्रह्मा मंदिर है। इस मंदिर में स्थापित भगवान ब्रह्मा जी को त्रिमूर्ति रूप में दिखाया गया है जो ब्रह्मा – विष्णु – महेश की त्रिमूर्ति है। गोवा के प्रसिद्ध मंदिर (Famous Temples of Goa in Hindi) में से एक ब्रह्मा मंदिर भक्तों की मनोकामना पूर्ति के लिए जाना है भक्तो का अटूट विस्वास और श्रद्धा है की जो भी व्यक्ति भगवान ब्रह्मा के दर्शन के लिए आते है उनकी सभी मनोकामनायें पूरी होती है। इसीलिए यदि आप गोवा की यात्रा पर हैं तो ब्रह्मा मंदिर के दर्शन के लिए जरूर आयें।

कामाक्षी मंदिर – Shri Kamakshi Temple in Hindi

कामाक्षी मंदिर – Shri Kamakshi Temple in Hindi
Image Credit : Anish Tanavade

गोवा के सबसे अधिक घूमें जाने वाले मंदिर में शुमार श्री कामाक्षी का मंदिर गोवा के शिरोडा गांव में सुरम्य पहाड़ियों के बीच स्थित है जो इसकी सुंदरता और आकर्षण को बढ़ाता है। 16 वीं शताब्दी के अंत में स्थापित इस मंदिर को गोवा के प्राचीन मंदिर में से एक रूप में भी जाना जाता है। श्री कामाक्षी का मंदिर पूर्व की ओर है जिसमे एक बड़ा सभा मंडप या पारंपरिक खुला प्रवेश द्वार है जिसे श्रद्धालु प्रवेश करते है। मंदिर के सामने, एक लंबा दीपस्तंभ या दीपक टॉवर देख सकते हैं। परिसर में मंदिर के सामने एक पवित्र पानी की टंकी भी है। इनके अलावा मंदिर परिसर में अन्य कई देवतायों की मूर्तियाँ भी स्थापित है जिनके दर्शन का सौभाग्य आप कामाक्षी मंदिर की यात्रा में प्राप्त कर सकते है।

और पढ़े : समुद्र तटो के अलावा गोवा के प्रसिद्ध पर्यटक स्थल

लक्ष्मी नरसिम्हा मंदिर – Shri Laxmi Narasimha temple in Hindi

लक्ष्मी नरसिम्हा मंदिर – Shri Laxmi Narasimha temple in Hindi
Image Credit : Shailesh Kamath

श्री लक्ष्मी नरसिम्हा मंदिर वेलिंगा में स्थित है जो पोंडा में मर्दोल से लगभग 3 किमी दक्षिण-पश्चिम में है। भगवान विष्णु और उनकी पत्नी, देवी लक्ष्मी को समर्पित लक्ष्मी नरसिम्हा मंदिर को 18 वीं शताब्दी में बनाया गया था। लक्ष्मी नरसिम्हा मंदिर में मंदिर की ओर जाने वाले श्री लक्ष्मी नरसिम्हा मंदिर के हॉल में विष्णु के विभिन्न अवतारों के चित्र भी चित्रित किये गया है जिन्हें पर्यटक मंदिर के यात्रा में देख सकते है। साथ पास में एक संगीतकार की गैलरी भी देखी जा सकती है। मंदिर परिसर में एक ताजे पानी का झरना भी है जो मंदिर की टंकी को भरता है। लक्ष्मी नरसिम्हा मंदिर में मनाए जाने वाले मुख्य त्यौहार मंगुरीश जात्रा, श्री रामनवमी और नवरात्रि है जिनमे राज्य के विभिन्न हिस्सों से पर्यटक और तीर्थयात्री आते है।

रामनाथ मंदिर – Shri Ramnath Temple in Hindi

रामनाथ मंदिर - Shri Ramnath Temple in Hindi
Image Credit : Deepak Kumar

रामनाथिम, पोंडा, गोवा मे स्थित रामनाथ मंदिर को ऐतिहासिक रूप से भगवान शिव के उन रूपों में से एक माना जाता है, जिन्हें भगवान राम ने श्रीलंका में प्रवेश करने के लिए जल पार करने से पहले प्रार्थना की और श्रद्धांजलि अर्पित की थी। इसलिए, श्री रामनाथ मंदिर का हिंदू संस्कृति में बहुत बड़ा महत्व है और यह गोवा के प्रसिद्ध हिंदू मंदिर में से एक है। आप जब भी रामनाथ मंदिर के दर्शन के लिए आयेंगें तो भगवान रामनाथ के अलावा दीपस्तंभ और अन्य देवताओं की मूर्तियों के दर्शन भी कर सकेगें।

श्री भगवती मंदिर – Shri Bhagwati Temple in Hindi

श्री भगवती मंदिर - Shri Bhagwati Temple in Hindi
Image Credit : Yogesh Salgaonkar

श्री भगवती मंदिर गोवा के सबसे प्रसिद्ध और देखें जाने वाले मंदिर में से एक है जो भगवान शिव की पत्नी देवी पार्वती का अवतार मानी जाती हैं। आपको बता दे यह मंदिर 500 साल से भी अधिक पुराना है जिस वजह से इसे गोवा के प्राचीन मंदिर के रूप में भी गिना जाता है। बता दे मंदिर में देवी भगवती अष्टभुजा के रूप में विराजमान है। भगवती मंदिर के प्रवेश द्वार पर, पर्यटकों और श्रद्धालुओं का स्वागत हाथियों की दो आदमकद मूर्तियों द्वारा किया जाता है, जो काले पत्थर से बनी हुई हैं। जैसे ही आप मंदिर में प्रवेश करेगें तो श्री भगवती मंदिर के अलावा चार अन्य देवताओं को समर्पित मंदिर भी देखने को मिलेगें।

इस मंदिर में मनाया जाने वाला मुख्य त्योहार दशहरा है। यह त्यौहार यहाँ के मुख्य आकर्षणों में से एक है जिसे अश्विन शुद्ध प्रतिपदा से पूर्णिमा तक हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है। उस समय मंदिर में पच्चीस हजार से भी अधिक भक्त इकट्ठा होते हैं।

और पढ़े : भारत के 30 सबसे प्रसिद्ध शिव मंदिर की जानकारी

इस लेख में आपने गोवा के सबसे प्रसिद्ध हिन्दू मंदिर के बारे में पढ़ा है आपको हमारा यह लेख केसा लगा हमे कमेंट्स में जरूर बतायें।

इसी तरह की अन्य जानकारी हिन्दी में पढ़ने के लिए हमारे एंड्रॉएड ऐप को डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक करें। और आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

और पढ़े :

Leave a Comment