Generic selectors
Exact matches only
Search in title
Search in content
Search in posts
Search in pages

Datia Ka Kila Or Datia Mahal Ki Jankari: दतिया महल मध्यप्रदेश की सीमा पर स्थित दतिया का लोकप्रिय पर्यटन स्थल है। अगर आप मध्यप्रदेश की यात्रा पर हैं, तो आप दतिया घूमने जरूर जाएं। दतिया किले को दतिया महल या दतिया पैलेस के नाम से भी जाना जाता है। इस ऐतिहासिक महल को विशेष रूप से राजा बीर सिंह देव द्वारा मुगल सम्राट जहांगीर के स्वागत के लिए बनाया गया था। ऐतिहासिक अभिलेख बताते हैं कि वो जहांगीर ही था, जिसने बीर सिंह देव को दतिया का शासक बनाया।

उन्होंने अपने पूरे जीवन में बीर सिंह के साथ अपनी अच्छी दोस्ती निभाई, इसलिए यह किला बीर सिंह देव और जहांगीर की दोस्ती का गवाह है। कहने को दतिया बहुत छोटी जगह है, लेकिन यहां का मशहूर ऐतिहासिक किला देशी और विदेशी पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करता है। आज के इस आर्टिकल में हम आपके लिए मध्य प्रदेश के दतिया पैलेस की कहानी और इससे जुड़े रोचक तथ्य लेकर आ रहे हैं जो एक और गौरवशाली अतीत का प्रमाण है।

दतिया फोर्ट का निर्माण किसने कराया – Who Built Datia Fort In Hindi

दतिया पैलेस का इतिहास – History Of Datia Ka Kila In Hindi

दतिया के किले की वास्तुकला – Architecture Of Datia Mahal In Hindi

दतिया महल में देखने लायक क्या है – Attractions Inside Datia Ka Kila In Hindi

दतिया किला से जुड़ी रोचक बातें – Interesting Facts About Datia Palace In Hindi

दतिया पैलेस में जाने के लिए ट्रेवल टिप्स – Travel Tips For Datia Mahal In Hindi

दतिया महल के आसपास घूमने वाली जगहें – Places To Visit Near Datia Kila In Hindi

  1. दतिया में घूमने जाये सोनागिरि शहर – Datia Me Ghumne Jaye Sonagiri Seher In Hindi
  2. दतिया के प्रसिद्ध मंदिर पीतांबरा पीठ – Datia Ke Prasidh Mandir Pitambara Peeth In Hindi
  3. दतिया के धार्मिक स्थल बालाजी सूर्य मंदिर – Datia Ke Dharmik Sthal Balaji Surya Temple In Hindi
  4. बडोनी दतिया की ऐतिहासिक जगह – Badoni Datia Ki Historical Place In Hindi
  5. दतिया पर्यटन स्थल भांडेर – Datia Paryatan Sthal Bhander In Hindi
  6. दतिया दर्शनीय स्थल रतनगढ़ माता मंदिर – Datia Darshaniya Sthal Ratangarh Mata Temple In Hindi
  7. राजगढ़ पैलेस दतिया में देखने लायक जगह – Rajgarh Palace Datia Me Dekhne Layak Jagah In Hindi
  8. दतिया के पास घूमने जाए झांसी का किला – Datia Ke Pass Ghumne Jaye Jhansi Fort In Hindi
  9. दतिया में घूमने लायक जगह रानी महल – Datia Mein Ghumne Layak Jagah Rani Palace In Hindi
  10. महालक्ष्मी मंदिर दतिया के धार्मिक स्थल – Mahalaxmi Temple Datia Ke Dharmik Sthal In Hindi
  11. दतिया पर्यटन में परीछा – Datia Tourism Me Parichha In Hindi
  12. दतिया के पास है ओरछा किला – Datia Near By Tourist Place Orcha Fort In Hindi
  13. दतिया में देखने लायक जगह लक्ष्मी नारायण मंदिर – Datia Me Dekhne Layak Jagah Laxmi Narayan Temple In Hindi
  14. दतिया में घूमने लायक जगह दिनमान हरदौल पैलेस – Datia Me Ghumne Layak Jagah Dinman Hardaul Palace In Hindi
  15. दतिया के मंदिर राम राजा मंदिर – Datia Mandir Ram Raja Temple In Hindi
  16. दतिया के प्रसिद्ध टेम्पल चतुर्भुज मंदिर – Datia Ke Famous Temple Chaturbhuj Temple In Hindi
  17. दतिया में घूमने लायक जगह जहाँगीर महल – Datia Me Ghumne Layak Jagah Jahangir Mahal In Hindi
  18. दतिया में दर्शनीय स्थल राजा महल – Datia Ke Darshaniya Sthal Raja Mahal In Hindi

दतिया घूमने जाने का सही समय – Best Time To Visit Datia Fort In Hindi

दतिया कैसे पहुँचे – How To Reach Datia In Hindi

  1. फ्लाइट से दतिया पहुंचे – How To Reach Datia By Flight In Hindi
  2. ट्रेन से दतिया पहुंचना – How To Reach Datia By Train In Hindi
  3. सड़क मार्ग से दतिया कैसे पहुंचें – How To Reach Datia By Road In Hindi

दतिया किले की लोकेशन का मैप – Datia Palace Location

दतिया किले की फोटो गैलरी – Datia Kila Images

1. दतिया फोर्ट का निर्माण किसने कराया – Who Built Datia Fort In Hindi

दतिया फोर्ट का निर्माण किसने कराया - Who Built Datia Fort In Hindi

दतिया का किला या महल का निर्माण 17 वीं शताब्दी में नरेश वीर सिंह जूदेव ने कराया था। उन्होंने इस महल को मुगल बादशांह जहांगीर से दोस्ती की याद में बनवाया था। बता दें कि महल अटूट दोस्ती की मिसाल है। यही वजह है कि दतिया का किला देशी और विदेशी पर्यटकों को बेहद आकर्षित करता है।

और पढ़े: ग्वालियर का किला घूमने की जानकारी और इतिहास

2. दतिया पैलेस का इतिहास – History Of Datia Ka Kila In Hindi

दतिया पैलेस का इतिहास - History Of Datia Ka Kila In Hindi

Image Credit: Abhijat Shrivastava

दतिया महल या सतखंडा महल या गोविंद मंदिर का इतिहास 17वीं शताब्दी का है। सतखंडा महल को बीर सिंह पैलेस के नाम से भी जाना जाता है। यह महल बुंदेली स्थापत्य कला का अदभुत नमूना होने के साथ ही मुगल सम्राट जहांगीर और दतिया नरेश बीर सिंह जू देव की बेजोड़ दोस्ती का मिसाल है। इतिहास के अनुसार बीर सिंह के पिता मधुकर शाह मुगल दरबार से नाता रखते थे। इलाहाबाद में बीर सिंह देव और मुगल सम्राट जहांगीर की मुलाकात हुई और उन्होंने जहांगीर को गद्दी दिलवाने के मकसद से अबुल फजल की हत्या करने की गहरी योजना बनाई। बीर सिंह ने जहांगीर के साथ आगे भी दोस्ती निभाई। जहांगीर गद्दी मिलने के बाद सुरक्षित रह सके, इसके लिए उन्होंने सतखंडा या दतिया महल या दतिया किले का निर्माण कराया। लेकिन अफसोस कि जहांगीर एक बार भी इस महल में रूकने नहीं आए और यह किला हमेशा दोनों की ताउम्र दोस्ती की निशानी बन गया।

3. दतिया के किले की वास्तुकला – Architecture Of Datia Mahal In Hindi

दतिया के किले की वास्तुकला - Architecture Of Datia Mahal In Hindi

Image Credit: Avi Mukherjee

यह सात मंजिल वाली इमारत लकड़ी या लोहे के किसी भी सहारे के बिना सदियों से मजबूती से खड़ी है और यही बात बीर सिंह पैलेस की वास्तुकला को एक अद्वितीय बनाती है। जानकर हैरत होगी कि इस इमारत को केवल पत्थरों और ईटों का इस्तेमाल कर बनाया गया है। रोचक बात यह भी है कि इस इमारत में सीमेंट का उपयोग नहीं किया गया, बल्कि दाल, गुड़ और तेल के प्राचीन मिश्रण से इस किले का निर्माण किया गया है। बता दें कि पहले के जमाने में ये सभी चीजें सीमेंट की जगह इस्तेमाल होती थीं। किले के प्रवेश द्वार पर विशाल परिसर शाही मेहमानों के स्वागत समारोह के लिए बनाया गया था। प्रवेश द्वार को जटिल चित्रों और नक्काशी से सजाया गया है। गणेश और घोड़ों के चित्रों के अलावा, चित्रित नाजुक लता और फूल (स्थानीय रूप से) मंदाना (चित्रों के रूप में जाना जाता है) भी महल के अद्भुत प्रवेश द्वार की शोभा बढ़ाते हैं। चित्रों को ज्यादातर सभी घरों में विशेष रूप से त्योहारों के दौरान देखा जा सकता है।

दतिया पैलेस एक प्रकार का भूल भुलैया है। पैलेस की पहली दो मंजिलों पर अंधेरा रहता है और तीसरी मंजिल पर बालकनी है, जहां से पूरे शहर का नजारा देखा जा सकता है। सीलिंग पर मानव आकृतियां उभरी हुई हैं, जिसमें बुंदेली नर्तकियों को दिखाया गया है। यहां नर्तकियों को एक चक्र में सफेद फूल के आसपास डांस करते देखा जा सकता है। इसे राई नृत्य कहते हैं जो बुंदेलखंड क्षेत्र का लोक नृत्य है। बता दें कि इस नृत्य को वहां किसी समारोह, शादी या त्योहार के दौरान किया जाता है। अब जब आप चौथी मंजिल पर जाएंगे तो यहां का फर्श चौपाई प्राचील भारतीय खेल से मिलता-जुलता दिखाई देगा। पैलेस के पांचवी मंजिल पर सिर्फ एक कमरा है। सेंटर टॉवर की ओर जाने वाले मार्ग खुदे हुए हैं और आंतरिक दीवारों पर भित्ती चित्र बने हुए हैं जो बुंदेलखंड वास्तुकला का उत्कृष्ट उदाहरण है।

4. दतिया महल में देखने लायक क्या है – Attractions Inside Datia Ka Kila In Hindi

दतिया महल में देखने लायक क्या है - Attractions Inside Datia Ka Kila In Hindi

Image Credit: Ganpatlal Prajapati

दतिया पैलेस के अंदर गणेश मंदिर, दुर्गा मंदिर के अलावा दतिया महल परिसर के अंदर एक दरगाह भी है। सुंदर प्रवेश द्वार, विशाल आंगन, सुंदर खिड़कियां, शहर के शानदार दृश्य और दीवारों पर कई पेंटिंग दतिया पैलेस के अंदर के कुछ अविश्वसनीय आकर्षण हैं। इसलिए, दतिया महल मध्य प्रदेश के खूबसूरत किले महलों में से एक है। अफसोस की बात यह है कि यह भारत की अनएक्सप्लेस्ड जगहों में से एक है।  यही वजह है कि पर्यटक इस किले के बारे में बहुत कम जानते हैं।

और पढ़े: ग्वालियर घूमने की जानकारी और प्रमुख पर्यटन स्थल

5. दतिया किला से जुड़ी रोचक बातें – Interesting Facts About Datia Palace In Hindi

दतिया किला से जुड़ी रोचक बातें - Interesting Facts About Datia Palace In Hindi

Image Credit: Tokeer Ahmed Khan

  • दतिया पैलेस को सतखंडा पैलेस, पुराण महल (ओल्ड पैलेस) और बीर सिंह देव पैलेस जैसे अलग-अलग नामों से जाना जाता है। दतिया पैलेस ग्वालियर से लगभग 67 किमी दूर दतिया में एक पहाड़ी पर बना है।
  • दतिया महल एक 7 मंजिला वास्तुकला है जिसमें दो मंजिलें तहखाने में तैनात हैं। यह लकड़ी या लोहे के उपयोग के बिना पत्थर और ईंटों से बना है। तो, पूरी 7- मंजिला इमारत किसी भी धातु या लकड़ी के समर्थन के बिना खड़ी है।
  • दतिया महल की खास बात यह है कि इस महल पर कभी किसी का शासन नहीं रहा। यहां तक की खुद राजा बीर सिंह भी इस महल में नहीं रहते थे। ´
  • दतिया पैलेस को खासतौर पर जहांगीर की यात्रा को चिन्हित करने के लिए बनाया गया था, लेकिन अफसोस जहांगीर एक बार भी इस महल की यात्रा पर नहीं आए।
  • दतिया पैलेस में लगभग 440 कमरे और कई आंगन हैं। संरचना को पूरा करने में 9 साल लग गए।
  • बीर सिंह देव पैलेस (दतिया पैलेस) की दीवारें अविश्वसनीय चित्रों से सजी हैं। ये चित्र जैविक रंगों का उपयोग करके बनाए गए थे।
  • दतिया किला सर एडविन लुटियन का फेमस किला था। बता दें कि एडविन वो ब्रिटिश वास्तुकार हैं, जिन्होंने दिल्ली के ज्यादातर इमारतें डिजाइन की हैं।
  • दतिया महल भारत में भारत-इस्लामी वास्तुकला के महान उदाहरणों में से एक है। राजपूतानी और मुगल शैलियों का मिश्रण इसे एक शानदार रूप देता है।

6. दतिया पैलेस में जाने के लिए ट्रेवल टिप्स – Travel Tips For Datia Mahal In Hindi

दतिया पैलेस में जाने के लिए ट्रेवल टिप्स - Travel Tips For Datia Mahal In Hindi

Image Credit: Ammar Rizvi

  • किले के भीतर जाने के लिए अपने साथ एक टॉर्च ले जाने की सलाह दी जाती है, क्योंकि महल में आप रास्ते में भ्रमित हो सकते हैं।
  • महल के दक्षिणी दिशा में काम सागर झील को देखना ना भूलें।
  • झील के केंद्र में बादल महल है जो अब एक छोटे मंदिर में परिवर्तित हो गया है।
  • अगर आप वास्तव में महल को अच्छे से देखना चाहते हैं तो आपको इसे देखने के लिए तीन से चार घंटे का समय लगेगा।
  • दतिया से मात्र 15 किमी दूर सोनागिरी है, जहां बहुत सारे जैन मंदिर हैं। दतिया की यात्रा के दौरान इस जगह पर जाना ना भूलें।
  • ग्वालियर और झांसी जाने वाली ज्यादातर ट्रेनें दतिया में रूकती है, लेकिन सुपरफास्ट ट्रेनें यहां नहीं रूकती। इसलिए टिकट कराने से पहले ट्रेनों के बारे में पता जरूर कर लें।
  • झांसी से हर घंटे दतिया के लिए सीधी बस चलती हैं, जो मात्र 1.5 घंटे में दतिया पहुंचा देती हैं।
  • स्टेशन से महल तक पहुंचने के लिए ऑटो चालक अलग -अलग कीमत वसूलते हैं, लेकिन अगर आप थोड़ा मोलभाव करेंगे तो शेयरिंग में ऑटो आपको मात्र 20 रूपए में किले के बाहर तक छोड़ देंगे।
  • दतिया में ठहरने के लिए होटल तो कम लेकिन धर्मशालाएं जरूर मिलेंगी। हां, दतिया स्टेशन के पास आपको ओयो रूम्स की सुविधा मिल सकती है।

7. दतिया महल के आसपास घूमने वाली जगहें – Places To Visit Near Datia Kila In Hindi

7.1 दतिया में घूमने जाये सोनागिरि शहर – Datia Me Ghumne Jaye Sonagiri Seher In Hindi

दतिया में घूमने जाये सोनागिरि शहर – Datia Me Ghumne Jaye Sonagiri Seher In Hindi

Image Credit: Prateek Jain

सोनागिरि मध्य प्रदेश राज्य में दतिया जिले में स्थित है। यह शहर जैन धर्म का एक प्रमुख तीर्थस्थल है। सोनागिरी शहर का नाम गोल्डन हिल है। भगवान चंद्रप्रभु, जो आठवें तीर्थंकर थे, ने इस पवित्र भूमि पर निर्वाण प्राप्त किया था। सोनागिरी में सौ से ज्यादा जैन मंदिर हैं। उन सभी में सबसे प्रसिद्ध मंदिर 57 है, जहां आप चंद्रप्रभु की 11 फीट ऊंची मूर्ति देख सकते हैं।

और पढ़े: झाँसी की रानी स्टोरी और इतिहास

7.2 दतिया के प्रसिद्ध मंदिर पीतांबरा पीठ – Datia Ke Prasidh Mandir Pitambara Peeth In Hindi

दतिया के प्रसिद्ध मंदिर पीतांबरा पीठ – Datia Ke Prasidh Mandir Pitambara Peeth In Hindi

Image Credit: Aalok Dixit

श्री पीतांबरा पीठ दतिया शहर में स्थित हिंदू मंदिरों (एक आश्रम सहित) का एक परिसर है। यह कई पौराणिक कथाओं के साथ-साथ वास्तविक जीवन के लोगों की ‘तपस्थली’ (ध्यान का स्थान) के रूप में भी जाना जाता है। पीताम्बरा पीठ बगलामुखी के सबसे प्रसिद्ध मंदिरों में से एक है जो 1920 के दशक में श्री स्वामी जी द्वारा स्थापित किया गया था। उन्होंने आश्रम के भीतर देवी धूमावती के मंदिर की भी स्थापना की। धूमावती और बगलामुखी दस महाविद्याओं में से दो हैं। उन लोगों के अलावा, आश्रम के बड़े क्षेत्र में परशुराम, हनुमान, काल भैरव और अन्य देवी-देवताओं के मंदिर फैले हुए हैं।

7.3 दतिया के धार्मिक स्थल बालाजी सूर्य मंदिर – Datia Ke Dharmik Sthal Balaji Surya Temple In Hindi

दतिया के धार्मिक स्थल बालाजी सूर्य मंदिर – Datia Ke Dharmik Sthal Balaji Surya Temple In Hindi

Image Credit: Bipin Shakya

अगर आप दतिया किला घूमने आएं तो बालाजी सूर्य मंदिर जरूर जाएं। यह बालाजी मंदिर बहुत प्राचीन है। इतिहास के अनुससार यह मंदिर प्रागैतिहासिक काल का है। एक मशहूर तीर्थस्थल होने के कारण लोग दूर-दूर से यहां दर्शन करने आते हैं। मंदिर के पास पवित्र जल सरोवर है। कहा जाता है कि जो भी इस जल में स्नान करेगा, उसके दुख-दर्द मिट जाएंगे। बालाजी सूर्य मंदिर को बालाजी धाम के नाम से भी जाना जाता है।

7.4 बडोनी दतिया की ऐतिहासिक जगह – Badoni Datia Ki Historical Place In Hindi

दतिया में ज्यादातर आपको ऐतिहासिक जगह ही देखने को मिलेंगी, जिसमें से एक है बडोनी। दतिया से मात्र 10 किमी की दूरी पर बडोनी एक बहुत छोटी सी जगह है, जहां जैन धर्म के गुप्तकालीन मंदिरों के दर्शन आप कर सकते हैं।

7.5 दतिया पर्यटन स्थल भांडेर – Datia Paryatan Sthal Bhander In Hindi

दतिया पर्यटन स्थल भांडेर – Datia Paryatan Sthal Bhander In Hindi

Image Credit: Himanshu Mishra

भांडेर में आप प्राचीन किले और मंदिर देखने को मिलेंगे। यह जगह दतिया से 30 किमी की दूरी पर स्थित है, जहां आप सोन तलैया, लक्ष्मण किले और ऐतिहासिक किले की यात्रा कर सकते हैं। यह जगह महाभारत काल से अस्तित्व में है, जिसे उस समय भंडकपुर कहा जाता था।

7.6 दतिया दर्शनीय स्थल रतनगढ़ माता मंदिर – Datia Darshaniya Sthal Ratangarh Mata Temple In Hindi

दतिया दर्शनीय स्थल रतनगढ़ माता मंदिर – Datia Darshaniya Sthal Ratangarh Mata Temple In Hindi

Image Credit: Rawat Pura

रतनगढ़ माता मंदिर दतिया में एक हिंदू मंदिर है, जो शक्ति को समर्पित है। ऐसा माना जाता है कि मराठा राजा छत्रपति शिवाजी महाराज के गुरु समर्थ रामदास ने 1666 में आगरा किले से शिवाजी महाराज के बचाव की योजना बनाने के लिए यहां डेरा डाला था।

7.7 राजगढ़ पैलेस दतिया में देखने लायक जगह – Rajgarh Palace Datia Me Dekhne Layak Jagah In Hindi

राजगढ़ पैलेस दतिया में देखने लायक जगह - Rajgarh Palace Datia Me Dekhne Layak Jagah In Hindi

Image Credit: Pulkit Sudan

दतिया में राजगढ़ पैलेस भी प्रमुख पर्यटन स्थल है। राजगढ़ पैलेस का निर्माण रियासतकाल 1660 से 1680 में हुआ था। इतिहास के अनुसार राजगढ़ महल का निर्माण नरेश शुभकरण, इंद्रजीत व शत्रुजीत सिंह के शासनकाल में हुआ था। 350 साल पुराना ये महल अपनी सुंदरता और भव्यता के कारण पूरे भारत में पर्यटकों को काफी लुभाता है। हालांकि महल का देखरेख ठीक से नहीं हो सका, इसलिए यह जर्जर हालत में है।

7.8 दतिया के पास घूमने जाए झांसी का किला – Datia Ke Pass Ghumne Jaye Jhansi Fort In Hindi

दतिया के पास घूमने जाए झांसी का किला – Datia Ke Pass Ghumne Jaye Jhansi Fort In Hindi

दतिया की यात्रा के दौरान आप दतिया से 30 किमी दूर झांसी का किला भी देख सकते हैं। किले का निर्माण 1613 में राजा बीर सिंह देव द्वारा किया गया था। हालांकि एक समय में अंग्रेजों ने इसे क्षतिग्रस्त कर दिया था, लेकिन आज भी यह किला पर्यटकों के बीच मशहूर पर्यटन स्थल के रूप में मशहूर है।

और पढ़े: झाँसी का किला घूमने की जानकारी

7.9 दतिया में घूमने लायक जगह रानी महल – Datia Mein Ghumne Layak Jagah Rani Palace In Hindi

बीर सिंह पैलेस के अलावा आप यहां से कुल 30 किमी की दूरी पर रानी महल की यात्रा भी कर सकते हैं। रानी महल में पहली और दूसरी मंजिल पर म्यूजियम और पैलेस है। यह महलनुमा इमारत ललित वास्तुकला, मूर्तिकला और अद्भुत पेंटिंग के कारण जानी जाती है। संग्रहालय में मूर्तियों और चित्रों का व्यापक संग्रह है। इसे रघुनाथ द्वितीय नयालकर ने बनवाया था। यहां कुछ कलाकृतियां हैं जो 9वीं और 12वीं शताब्दी की हैं।

7.10 महालक्ष्मी मंदिर दतिया के धार्मिक स्थल – Mahalaxmi Temple Datia Ke Dharmik Sthal In Hindi

महालक्ष्मी मंदिर दतिया के धार्मिक स्थल - Mahalaxmi Temple Datia Ke Dharmik Sthal In Hindi

Image Credit: Vivek Saxena

दतिया पैलेस से 30.5 किमी की दूरी पर स्थित महालक्ष्मी मंदिर एक मशहूर धार्मिक स्थल  है। लक्ष्मी ताल में स्थित यह मंदिर, धन की देवी महालक्ष्मी को समर्पित है। मंदिर एक पत्थर की मीनारों और जटिल नक्काशी की एक श्रृंखला है जो एक शास्त्रीय भारतीय शैली में बनाई गई है। झाँसी के सबसे लोकप्रिय मंदिरों में से एक के बारे में कहा गया है कि जो इस मंदिर की यात्रा करेगा, वह धनवान बन जाएगा। मंदिर विशेष रूप से लक्ष्मी पूजा और दीवाली त्योहारों में लोकप्रिय है।

7.11 दतिया पर्यटन में परीछा – Datia Tourism Me Parichha In Hindi

दतिया पर्यटन में परीछा – Datia Tourism Me Parichha In Hindi

Image Credit: Ankit Kumar

यह बाँध बेतवा नदी पर मुख्य शहर झाँसी से लगभग 25 किमी दूर स्थित है। गर्मी के दिनों में यह डैम पर्यटकों के लिए पसंदीदा टूरिस्ट स्पॉट है। इस डैम का पानी बहुत साफ है, कई पर्यटकों को यहां के साफ पानी में डुबकी लगाते देखा जाता है।

7.12 दतिया के पास है ओरछा किला – Datia Near By Tourist Place Orcha Fort In Hindi

दतिया के पास है ओरछा किला – Datia Near By Tourist Place Orcha Fort In Hindi

दतिया किले से 46.9 किमी दूर ओरछा किला एक अन्य दर्शनीय स्थल है। किले में राजमंदिर और जहांगीर महल आकर्षण के केंद्र हैं। किले की दीवारों पर पुराने समय के चित्रों के सारथ किले की सुरूचिपूर्ण वास्तुकला आपका मन मोह लेगी। इस किले में जाकर आप उस  समय के लोगों की जीवनशैली की कल्पना कर सकते हैं।

और पढ़े: मध्य प्रदेश के प्रमुख पर्यटन और दर्शनीय स्थल की जानकारी 

7.13 दतिया में देखने लायक जगह लक्ष्मी नारायण मंदिर – Datia Me Dekhne Layak Jagah Laxmi Narayan Temple In Hindi

दतिया में देखने लायक जगह लक्ष्मी नारायण मंदिर – Datia Me Dekhne Layak Jagah Laxmi Narayan Temple In Hindi

Image Credit: Rakesh Bais

लक्ष्मीनारायण मंदिर ओरछा में मुख्य तीन मंदिरों में से एक है और धन की हिंदू देवी लक्ष्मी को समर्पित है। इस मंदिर का निर्माण वीर सिंह देव ने 1622 में और 1793 में इसका निर्माण पृथ्वी सिंह ने करवाया था। मंदिर की वास्तुकला में एक किले और एक मंदिर दोनों को दर्शाया गया है। इस मंदिर की दीवार पर बुंदेला स्कूल की सबसे उत्कृष्ट पेंटिंग देखने लायक है। पेंटिंग में ऋषि वाल्मीकि, राम चरित्र मानस और भारत की स्वतंत्रता के लिए 1857 में लड़ी गई पहली घटनाओं को दर्शाया गया है। अब मंदिर के अंदर देवी की कोई मूर्ति नहीं है।

7.14 दतिया में घूमने लायक जगह दिनमान हरदौल पैलेस – Datia Me Ghumne Layak Jagah Dinman Hardaul Palace In Hindi

दतिया पैलेस से 47 किमी दूर हरदौल पैलेस देखने लायक जगह है। हरदौल बीर सिंह देव का एक युवा पुत्र था। इस युवा राजकुमार ने अपनी पत्नी के साथ कथित संबंध को लेकर अपने भाई को निर्दोष ठहराने के लिए आत्महत्या कर ली। उनकी मृत्यु के बाद हरदौल को शहीद की उपाधि दी गई थी और उन्हें आज भी भगवान के रूप में पूजा जाता है।

7.15 दतिया के मंदिर राम राजा मंदिर – Datia Mandir Ram Raja Temple In Hindi

दतिया के मंदिर राम राजा मंदिर – Datia Mandir Ram Raja Temple In Hindi

Image Credit: Harsh Garg

राम राजा मंदिर बहुत ही शुभ मंदिर है जहाँ ओरछा में भगवान राम की पूजा की जाती है। किंवदंती है कि यह रानी के महल में हुआ करता था। जब भगवान राम की मूर्तियों को चतुर्भुज मंदिर में रखने के लिए ले जाया जा रहा था, मूर्तियों ने जाने से मना कर दिया। इसलिए मूर्तियों के चारों ओर एक मंदिर बनाया गया था। मंदिर में सबसे आकर्षक है सीता, हनुमान और उनके भाई द्वारा घिरे राम की मूर्ति। भगवान राम के जन्म का उत्सव मनाने के लिए आसपास के लाखों लोग इस मंदिर में आते हैं। विवा पंचमी नवंबर के महीने में मंदिर में मनाया जाने वाला त्योहार है। यह एक ऐसा त्योहार है जहां सीता और भगवान राम का विवाह हुआ था।

और पढ़े: पचमढ़ी हिल स्टेशन की यात्रा और अन्य जानकारी

7.16 दतिया के प्रसिद्ध टेम्पल चतुर्भुज मंदिर – Datia Ke Famous Temple Chaturbhuj Temple In Hindi

दतिया के प्रसिद्ध टेम्पल चतुर्भुज मंदिर – Datia Ke Famous Temple Chaturbhuj Temple In Hindi

Image Credit: Prashant Banerjee

चतुर्भुज मंदिर ओरछा में सबसे प्रभावशाली और सबसे बड़ा मंदिर है। चतुर्भुज मंदिर भगवान विष्णु को समर्पित है । ‘चतुर्भुज’ का तात्पर्य भगवान विष्णु से है जिनकी चार भुजाएँ हैं। यह एक विशाल पत्थर के पोडियम पर बनाया गया है, जहाँ से आगे जाने के लिए सीढ़ियाँ हैं। चतुर्भुज मंदिर एक विशाल संरचना है और पर्यटकों के लिए खूबसूरत दर्शनीय स्थल भी।

7.17 दतिया में घूमने लायक जगह जहाँगीर महल – Datia Me Ghumne Layak Jagah Jahangir Mahal In Hindi

जहांगीर महल दतिया महल से करीब 50 किमी की दूरी पर स्थित ओरछा में है। राजा बीर सिंह देव को 17 वीं शताब्दी में निर्मित जहांगीर महल मिला और इसका नाम राजा जहाँगीर के नाम पर रखा गया। इस तीन मंजिला महल में इंडो-मुगल वास्तुकला की समृद्धि को दर्शाया गया है। महल के हैंगिंग बालकनी, मेहराब, गुंबद और छत देखने लायक हैं।

7.18 दतिया में दर्शनीय स्थल राजा महल – Datia Ke Darshaniya Sthal Raja Mahal In Hindi

दतिया में दर्शनीय स्थल राजा महल – Datia Ke Darshaniya Sthal Raja Mahal In Hindi

Image Credit: Luigi Dalli Cani

राजा महल ओरछा के पूर्व राजाओं का शाही निवास हुआ करता था। महल के बाहरी हिस्से सादे हैं जबकि महल के अंदर की दीवारों को चित्रों से सजाया गया है। भारतीय परंपरा के अनुसार, राजा महल में दो आयताकार आंगन हैं। पैलेस में एक दीवान-ए-ख़ास भी है, जो अपने सुंदर कला कार्यों के लिए बहुत प्रसिद्ध है। 17 वीं सदी का स्मारक, निश्चित रूप से यात्रा के लिए बहुत अच्छा पर्यटन स्थल है।

8. दतिया घूमने जाने का सही समय – Best Time To Visit Datia Fort In Hindi

दतिया घूमने जाने का सही समय - Best Time To Visit Datia Fort In Hindi

Image Credit: Vickey Nimbal

दतिया जाने के लिए सर्दियों का या फिर मानसून का समय बहुत अच्छा रहता है। गर्मियों के दिनों में यहां की यात्रा करना आपके लिए दुखदायी हो सकता है। क्योंकि यहां गर्मी बहुत पड़ती है।

और पढ़े: प्रयागराज (इलाहाबाद) घूमने के प्रमुख स्थान

9. दतिया कैसे पहुँचे – How To Reach Datia In Hindi

9.1 फ्लाइट से दतिया पहुंचे – How To Reach Datia By Flight In Hindi

फ्लाइट से दतिया पहुंचे - How To Reach Datia By Flight In Hindi

नियमित उड़ानों के माध्यम से दतिया देश के अन्य प्रमुख शहरों से अच्छी तरह से जुड़ा नहीं है। निकटतम हवाई अड्डा ग्वालियर में दतिया से 71 किलोमीटर की दूरी पर है।

9.2 ट्रेन से दतिया पहुंचना – How To Reach Datia By Train In Hindi

ट्रेन से दतिया पहुंचना - How To Reach Datia By Train In Hindi

देश के अन्य प्रमुख शहरों से दतिया के लिए कोई नियमित ट्रेन नहीं है। निकटतम रेलवे स्टेशन ग्वालियर में है जो 65Kms की दूरी पर स्थित है।

9.3 सड़क मार्ग से दतिया कैसे पहुंचें – How To Reach Datia By Road In Hindi

सड़क मार्ग से दतिया कैसे पहुंचें – How To Reach Datia By Road In Hindi

दतिया उत्तरप्रदेश और मध्यप्रदेश के बॉर्डर से जुड़ा हुआ है, इसलिए दोनों राज्यों के कई शहरों से यहां के लिए बसों की सुविधा है। आगरा, झांसी, मथुरा, डबरा, ग्वालियर, ओरछा के लिए राज्य परिवहन निगम की बसें नियमित रूप से चलती हैं।

और पढ़े: लखनऊ के दर्शनीय स्थल और घूमने की 20 जगह

10. दतिया किले की लोकेशन का मैप – Datia Palace Location

11. दतिया किले की फोटो गैलरी – Datia Kila Images

और पढ़े:

Write A Comment