केरल की सबसे लोकप्रिय अष्टमुडी झील घूमने की पूरी जानकारी – Complete information about visiting Ashtamudi lake In Hindi

Information about visiting Ashtamudi lake In Hindi, कोल्लम जिले में स्थित “अष्टमुडी झील” केरल की दूसरी सबसे बड़ी झील है। 16 किलोमीटर लम्बी अष्टमुडी झील कोल्लम शहर के लगभग 30% हिस्से को कवर करती है। इसका नाम, अष्टमुडी दो शब्दों ‘अष्ट’ से लिया गया है जिसका अर्थ है आठ और ‘मुड़ी’ अर्थ शाखा, जिससे इस तथ्य का पता चलता है। कि झील की आठ शाखाएँ हैं जो अरब सागर में जाकर मिलती है। अष्टमुडी झील केरल के सबसे लोकप्रिय स्थानों में से एक है, जो हरे-भरे पेड़ों और नारियल के पेड़ो से घिरा हुआ है। यह स्थान इतना सुंदर है कि देश और विदेश के विभिन्न हिस्सों से पर्यटक इस प्राकृतिक स्वर्ग की यात्रा करते हैं। साथ ही पर्यटक यहाँ गांव के जीवन, प्राकृतिक आवास और नाव की सवारी का शानदार अनुभव प्राप्त कर सकते हैं।

अपनी फैमली या दोस्तों के साथ अष्टमुडी झील केरल में घूमने के लिए सबसे आकर्षक जगहों में एक है। तो अष्टमुडी झील की यात्रा से जुड़ी पूरी जानकारी के लिए आप हमारे इस लेख को अवश्य पढ़े –

Table of Contents

अष्टमुडी झील का इतिहास – History of Ashtamudi Lake In Hindi

पूरे विश्व के इतिहास में अष्टमुंडी झील और उसके बंदरगाह का उल्लेख किया गया है। साथ ही झील को फारसी, चीनी मंदारिन और पुर्तगाल के इतिहास में भी दर्ज किया गया है, जो 1795 ईस्वी में डच और ब्रिटिश कब्जे से जुड़ा हुआ है। स्वतंत्रता के लिए भारतीय स्ट्रगल में वेलु थम्पी के रूप में भी झील का महत्व है, और क्रांतिकारी स्वतंत्रता सेनानी को यहां से अंग्रेजों के खिलाफ विद्रोह शुरू करने के लिए जाना जाता है।

अष्टमुडी झील के आकर्षण – Attractions OF Ashtamudi Lake In Hindi

अष्टमुडी झील द्वीप – Ashtamudi Lake Island In Hindi

अष्टमुडी झील द्वीप - Ashtamudi Lake Island In Hindi

झील के विशाल आकार और इसकी भौगोलिक संरचना ने कई छोटे द्वीपों का निर्माण किया है। मुनरो द्वीप, चवारा द्वीप, कुम्बाघोम द्वीप अष्टमुडी झील के तीन प्रमुख मान्यता प्राप्त द्वीप हैं।

मुनरो द्वीप – मुनरो द्वीप आठ छोटे द्वीपों का एक समूह है। जो मुख्य रूप से समृद्ध, उष्णकटिबंधीय पेड़ों और झाड़ियों से भरे हुए हैं। जहाँ अक्सर पर्यटक हाउसबोट की यात्रा के दौरान उनके चारों ओर चक्कर लगाते हैं।

चवारा द्वीप – चवारा द्वीप एक औद्योगिक द्वीप है यहाँ पाए जाने वाले समृद्ध खनिजों के कारण इस द्वीप पर कुछ कारखानों स्थित है।

कुम्बाघोम द्वीप – कुम्बाघोम एक ग्रामीण द्वीप है जहां बहुत ही देहाती अनुभव होता है। यहाँ आप इस गाँव में जा सकते हैं और मछुआरों और गाँव किसानों के जीवन का अनुभव कर सकते हैं। इसके अलावा इस द्वीप पर एक 1000 साल पुराना मंदिर और 200 साल पुराना चर्च स्थित है।

चीनी मत्स्य पालन जाल और बैकवाटर – Chinese Fishing Nets and Backwaters In Hindi

चीनी मत्स्य पालन जाल और बैकवाटर - Chinese Fishing Nets and Backwaters In Hindi

अष्टमुडी झील में मछलीयां पकड़ने के लिए चीनी जाल का उपयोग किया गया है, जो अष्टमुडी झील को और अधिक आकर्षक बनाता है और झील को एक अलग रूप प्रदान करता है। झील के किनारे, हरियाली और झाड़ियों से लदे हुए हैं, जो आंखों के लिए एक सुंदर दृश्य बनाता है। अपने परिवार और दोस्तों के साथ शहर से बाहर निकलने के लिए यह सही जगह है। झील के बैकवाटर्स पर किसी का भी आना-जाना हो सकता है, बस आप एक नाव किराए पर ले कर झील की सुंदर यात्रा कर सकते हैं।

और पढ़े : केरल के मशहूर हिल स्टेशन मुन्नार के पर्यटन स्थल

अष्टमुडी झील की वन्यजीव प्रजातियाँ – Fauna AT Ashtamudi Lake In Hindi

अष्टमुडी झील की वन्यजीव प्रजातियाँ – Fauna AT Ashtamudi Lake In Hindi

केरल की दूसरी सबसे बड़ी अष्टमुडी झील पक्षियों की 57 प्रजातियों का आश्रय स्थल मानी जाती है जिनमे 6 प्रवासी प्रजातियाँ हैं। एक जीवमंडल के रूप में,अष्टमुडी झील 45 कीड़ों की प्रजातियों का समर्थन करती है, जिनमें से 26 तितलियों की प्रजातियाँ शामिल हैं। जबकि टर्न, प्लोवर, कॉर्मोरेंट और बगुले इस क्षेत्र के सबसे लोकप्रिय पक्षी हैं। जिन्हें आप अपनी अष्टमुडी झील की यात्रा के दौरान देख सकते हैं।

केरल के पारंपरिक हाउसबोट – The Traditional Houseboats of Kerala In Hindi

केरल के पारंपरिक हाउसबोट - The Traditional Houseboats of Kerala In Hindi

अष्टमुडी झील की यात्रा में हाउसबोट यहाँ के सबसे प्रमुख आकर्षणों में से एक है, माना जाता है की हाउसबोट की बिना अष्टमुडी झील की यात्रा अधूरी रहती है। इसीलिए कई फार्म व्यक्ति के बजट और आवश्यकता के आधार पर विभिन्न हाउसबोट प्रदान करते हैं। यदि आप हाउसबोट किराए पर नहीं लेना चाहते हैं, तो आप थोड़े समय के लिए झील के पार नाव की सवारी कर सकते हैं। ये बहुत ही उचित हैं, और आप सरकारी मोटरबोट के साथ-साथ निजीकृत मोटर बोट की सुविधाओं को पा सकते हैं।

झील की यात्रा का पूरी तरह से आनंद लेने के लिए, आपको कम से कम एक रात के लिए हाउसबोट किराए पर लेनी चाहिए। जहाँ नाव में एक कप्तान के साथ एक शेफ होता है, जो आपकी पसंद के अनुसार भोजन बनाता है। जो आपकी यात्रा के लिए एक यादगार अनुभव हो सकता है।

अष्टमुडी झील के आसपास घूमने लायक पर्यटक स्थल – Tourist Places To Visit Around Ashtamudi Lake In Hindi

यदि आप अपने परिवार या दोस्तों के साथ केरल की लोकप्रिय अष्टमुडी झील घूमने जाने का प्लान बना रहे है, तो हम आपको बता दे कोल्लम में अष्टमुडी झील के अलावा भी अन्य आकर्षक पर्यटक स्थल मौजूद है जिन्हें आप अपनी अष्टमुडी झील की यात्रा के दौरान घूमने जा सकते हैं-

  • अमृतापुरी
  • महात्मा गाँधी बीच एंड पार्क
  • जटायु नेचर पार्क
  • पुनालुर
  • पालरुवी वॉटरफॉल
  • करुन्गाप्पली
  • माय्यानंद
  • पठानापुरम,
  • आलमक्वादु
  • पुलिचिरा चर्च
  • महा विष्णु मंदिर
  • थिरुमुल्लावरम बीच
  • रामेश्वरा मंदिर
  • सस्तमकोटला झील
  • कोट्टुकल गुफा मंदिर
  • शेंदूरुनी वन्यजीव अभयारण्य
  • कोल्लम बीच

अष्टमुडी झील घूमने जाने का सबसे अच्छा समय – Best time To Visit Ashtamudi Lake In Hindi

अष्टमुडी झील घूमने जाने का सबसे अच्छा समय – Best time To Visit Ashtamudi Lake In Hindi

केरल की लोकप्रिय झीलों में से एक अष्टमुडी झील बर्ष के किसी भी समय घूमने जाने के लिए एक सुखद स्थल है। यहाँ आप बर्ष के किसी भी समय अपने परिवार या दोस्तों के साथ घूमने के लिए जा सकते हैं। लेकिन यदि हम दिन के समय की बात करें तो, सूर्यास्त का समय अष्टमुडी झील की यात्रा पर जाने का सबसे अच्छा समय है। इस समय जगह पूरी तरह से एक अलग नज़र आती है जो वास्तव में अनुभव करने लायक है।

और पढ़े : कुद्रेमुख हिल स्टेशन की जानकारी और दर्शनीय स्थल

अष्टमुडी झील की यात्रा में कहाँ रुके – Where did you Stop In The Journey To Ashtamudi lake In Hindi

अष्टमुडी झील की यात्रा में कहाँ रुके – Where did you Stop In The Journey To Ashtamudi lake In Hindi

यदि आप अपनी फैमली या दोस्तों के साथ अष्टमुडी झील कोल्लम घूमने जाने का प्लान बना रहे है। और कोल्लम में किसी होटल की तलाश में हैं, तो हम आपको बता दें केरल की मशहूर अष्टमुडी झील के आसपास कोल्लम में आपको लो बजट से लेकर हाई बजट तक सभी प्रकार के होटल मिल जायेगे, जिनकी आप अपनी सुविधानुसार चुनाव कर सकते हैं।

  • आशिर्वाद होमस्टे, अष्टमुडी झील, कोल्लम (Ashirvad Homestay, Ashtamudi Lake, Kollam)
  • श्री जनार्दन रेसीडेंसी (Sree Janardhana Residency)
  • मुनरो कोकोनट होमस्टे (Munroe Coconut Homestay)
  • अयुरमिथ्रा ईको वेलनेस (Ayurmithra Eco wellness)
  • अष्टमुडी विला (Ashtamudi Villas)

अष्टमुडी झील केसे पहुंचे – How To Reach Ashtamudi Lake In Hindi

अगर आप अपने परिवार या दोस्तों के साथ कोल्लम की लोकप्रिय अष्टमुडी झील घूमने जाने का प्लान बना रहे है, और सोच रहे है की हम अष्टमुडी झील केसे पहुचें ? तो हम आपको आपकी जानकारी के लिए बता दे आप हवाई मार्ग, रेल मार्ग या सड़क मार्ग में से किसी का भी अपनी सुविधानुसार चुनाव करके अपने गंतव्य तक पहुंच सकते हैं।

फ्लाइट से अष्टमुडी झील केसे पहुंचे – How To Reach Ashtamudi Lake By Flight In Hindi

फ्लाइट से अष्टमुडी झील केसे पहुंचे - How To Reach Ashtamudi Lake By Flight In Hindi

यदि आप फ्लाइट से यात्रा करके अष्टमुडी झील घूमने जाने का प्लान बना रहे है, तो हम आपकी जानकारी के लिए बता दे कोल्लम के लिए कोई सीधी फ्लाइट उपलब्ध नही है। अष्टमुडी झील कोल्लम का सबसे निकटतम हवाई अड्डा तिरुवनंतपुरम हवाई अड्डा है, जो अष्टमुडी झील से लगभग 80 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। तिरुवनंतपुरम हवाई अड्डा से दिल्ली और भारत के अन्य प्रमुख शहरों के लिए कई उड़ानें संचालित की जाती हैं। और फ्लाइट से तिरुवनंतपुरम हवाई अड्डा पहुचने के बाद आप टेक्सी या बस से यात्रा करके अष्टमुडी झील पहुंच सकते हैं।

ट्रेन से अष्टमुडी झील केसे पहुंचे – How To Reach Ashtamudi Lake By Train In Hindi

ट्रेन से अष्टमुडी झील केसे पहुंचे – How To Reach Ashtamudi Lake By Train In Hindi

यदि आपने अष्टमुडी झील की यात्रा के लिए रेल मार्ग का चुनाव किया है, तो हम आपको बता दे अष्टमुडी झील का सबसे निकटतम रेलवे स्टेशन कोल्लम रेलवे स्टेशन है। जो अष्टमुडी झील से लगभग 15 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। कोल्लम रेलवे स्टेशन भारतीय रेलवे के दक्षिणी डिवीजन में पड़ता है। जो   भारत के अधिकांश प्रमुख शहरों को रेल मार्ग से जोड़ता है। कोल्लम रेलवे स्टेशन पहुचने के बाद अष्टमुडी झील जाने के लिए आप बस या टैक्सी सेवा ले सकते हैं।

सड़क मार्ग से अष्टमुडी झील कैसे पहुंचे – How To Reach Ashtamudi Lake By Road In Hindi

सड़क मार्ग से अष्टमुडी झील कैसे पहुंचे - How To Reach Ashtamudi Lake By Road In Hindi

यदि आप बस या सड़क मार्ग से यात्रा करके अष्टमुडी झील घूमने जाने का प्लान बना रहे है। तो हम आपको बता दे अष्टमुडी झील जाने के लिए कई निजी और राज्य सरकार द्वारा संचालित बस सेवाएं उपलब्ध हैं, जो अष्टमुडी झील को केरल के बिभिन्न शहरों से जोडती है। राष्ट्रीय राजमार्ग 66 कोल्लम शहर से गुजरता है जो इसे शेष राज्य से जोड़ता है। और इसके अलावा आप टैक्सी या अपनी निजी कार से भी यात्रा करके अपने गंतव्य तक पहुंच सकते हैं।

जलमार्ग द्वारा अष्टमुडी झील कोल्लम कैसे पहुंचे – How to reach Ashtamudi Lake Kollam by Waterways In Hindi

जलमार्ग द्वारा अष्टमुडी झील कोल्लम कैसे पहुंचे - How to reach Ashtamudi Lake Kollam by Waterways In Hindi

जलमार्ग द्वारा अष्टमुडी झील घूमने जाना भी आपके लिए एक अच्छा विकल्प है। तिरुवनंतपुरम और कोल्लम सरकारी और निजी व्यक्तियों द्वारा संचालित दैनिक घाटों से जुड़े हुए हैं। कोल्लम सरकार द्वारा संचालित एलेप्पी, मुनरो द्वीप, गुहानंदपुरम, दलवपुरम और अलाप्पुझा घाटों से जुड़ा हुआ है। इसके साथ ही कोल्लम से नावें लक्षद्वीप में मिनिकॉय द्वीप भी जाती हैं।

कोल्लम में स्थानीय परिवहन – Local Transport In Kollam In Hindi

कोल्लम में स्थानीय परिवहन - Local Transport In Kollam In Hindi

बसों और ऑटो रिक्शा से लेकर टैक्सियों और निजी वाहनों तक कोल्लम अपने पर्यटकों के लिए परिवहन के सभी तरीके प्रदान करता है। जहां बसें आवागमन के लिए सबसे सस्ता साधन हैं, टैक्सी शहर में और उसके आसपास जाने का सबसे सुविधाजनक तरीका है। सेल्फ ड्राइव के लिए निजी वाहन किराए पर लेने का विकल्प भी है जो पर्यटकों की सुविधा के अनुसार है।

और पढ़े : केरल में घूमने की जगहों की जानकारी 

 अष्टमुडी झील का नक्शा –  Ashtamudi Lake Map In Hindi

और पढ़े :

Leave a Comment