Generic selectors
Exact matches only
Search in title
Search in content
Search in posts
Search in pages

Tourist places in Kausani in hindi, कौसानी भारत के उत्तराखंड राज्य में बागेश्वर जिले में स्थित एक हिल स्टेशन और एक छोटा सा गाँव है जो अपनी हरियाली, देवदार के वृक्षों के जंगल, हिमालय की आकर्षक चोटियों सहित सभी आकर्षणों को मिलाकर उत्तराखंड के प्रमुख पर्यटन स्थलों में से एक है। यह स्थान अपनी प्राकृतिक भव्यता के लिए प्रसिद्ध है और त्रिशूल, नंदादेवी और पंचचुली जैसी हिमालय चोटियों का शानदार दृश्य प्रस्तुत करता है। कौसानी पर्यटन स्थल हनीमून मनाने वालों, प्रकृति प्रेमियों और वेकेशन मेकर्स के लिए एक परफेक्ट जगह है जो यहां 350 किलोमीटर तक फैले हिमालय की बर्फ से ढंकी तस्वीर को परफेक्ट व्यू देती है। अगर आप कौसानी घूमने जाना चाहते हैं तो इस आर्टिकल को जरुर पढ़ें, इसमें हमने कौसानी घूमने की पूरी जानकारी दी है।

कौसानी का इतिहास- Kausani History In Hindi

राजसी हिमालय का विहंगम दृश्य- Panoramic View Of The Majestic Himalayas Kausani In Hindi

कौसानी में घूमने की 5 खास जगह- Places To Visit In Kausani In Hindi

  1. कौसानी में घूमने की जगह रुद्रधारी जलप्रपात और गुफाएँ- Kausani Me Ghumne Ki Jagha Rudradhari Falls And Caves In Hindi
  2. कौसानी का प्रमुख दर्शनीय स्थल बैजनाथ मंदिर – Kausani Ka Pramukh Darshniya Sthal Baijnath Temple In Hindi
  3. कौसानी की खूबसूरत जगह ग्वालदम – Kausani Ki Khubsurat Jagha Gwaldam In Hindi
  4. कौसानी में देखने की जगह सुमित्रानंदन पंत संग्रहालय- Kausani Me Dekhne Layak Jagha Sumitranandan Pant Museum In Hindi
  5. कौसानी टी एस्टेट- Kausani Tea Estate In Hindi

कौसानी जाने का सबसे अच्छा समय क्या है- What Is The Best Time To Visit Kausani In Hindi

कौसानी में रेस्तरां और स्थानीय भोजन- Kausani Restaurants And Local Food In Hindi

कौसानी कैसे पहुँचे- How To Reach Kausani In Hindi

  1. फ्लाइट से कौसानी कैसे पहुंचे- How To Reach Kausani By Flight In Hindi
  2. सड़क मार्ग से कौसानी कैसे पहुंचे- How To Reach Kausani By Road In Hindi
  3. ट्रेन से कौसानी कैसे पहुँचे- How To Reach Kausani By Train In Hindi
  4. कौसानी में स्थानीय परिवहन- Local Transport In Kausani In Hindi

कौसानी की लोकेशन का मैप – Kausani Location

कौसानी की फोटो गैलरी – Kausani Images

1. कौसानी का इतिहास- Kausani History In Hindi

पुराने समय में कौसानी को वालना के नाम से जाना जाता था। यह शहर सबसे ज्यादा उस समय प्रसिद्ध हो गया था जब 1929 में महात्मा गांधी ने अनासक्ति योग पर अपने कम को पूरा करने के लिए इस गाँव को अपना अस्थायी निवास स्थान बनाया था। इसके अलावा यह स्थान हिंदी कवि सुमित्रानंदन पंत के लिए भी जाना जाता है। इसकी प्राकृतिक सुंदरता को देखते हुए महात्मा गाँधी ने इसे “भारत का स्विट्जरलैंड” कहा था। शुरुआत में कौसानी शहर कुमाउनी और गढ़वाली समुदायों द्वारा बसाया गया था, जो अल्मोड़ा जिले का एक हिस्सा था, लेकिन जब साल 2000 में उत्तराखंड को एक अलग जिले के रूप में बनाया तो कौसानी इसका एक हिस्सा बन गया था।

2. राजसी हिमालय का विहंगम दृश्य- Panoramic View Of The Majestic Himalayas Kausani In Hindi

राजसी हिमालय का विहंगम दृश्य- Panoramic View Of The Majestic Himalayas Kausani In Hindi

कौसानी उत्तराखंड का एक खूबसूरत पहाड़ी शहर हैं जो अल्मोड़ा से 53 किमी और काठगोदाम से 65 किमी की दूरी पर स्थित हैं। कौसानी त्रिशूल और नंदा देवी की बर्फ से ढकी चोटियों के आकर्षक दृश्यों को प्रस्तुत करता है। देवदार और पाइंस की वनस्पतियों से ढकी हुई गढ़वाल हिमालय की शानदार पहाड़ियों के लुहावने दृश्य पर्यटकों को अपनी तरफ आकर्षित करते हैं।

3. कौसानी में घूमने की 5 खास जगह- Places To Visit In Kausani In Hindi

कौसानी उत्तराखंड का एक प्रमुख पर्यटन स्थल है जो हिमालय के आकर्षक दृश्यों को प्रस्तुत करता है। वैसे तो कौसानी अपने आप में एक बहुत खास पर्यटन स्थल है लेकिन अगर आप कौसानी घूमने आ रहे हैं तो इसके पास की इन 5 जगहों पर भी घूम सकते हैं।

3.1 कौसानी में घूमने की जगह रुद्रधारी जलप्रपात और गुफाएँ- Kausani Me Ghumne Ki Jagha Rudradhari Falls And Caves In Hindi

कौसानी में घूमने की जगह रुद्रधारी जलप्रपात और गुफाएँ- Kausani Me Ghumne Ki Jagha Rudradhari Falls And Caves In Hindi

रुद्रधारी फाल्स कौसानी से सिर्फ 12 किलोमीटर दूर एक खास पर्यटन स्थल है जो धान के खेतों और देवदार के जंगलों से घिरा हुआ है। आदि कैलाश क्षेत्र में ट्रैकिंग कर आप इस जगह के प्राचीन गुफाओं के रहस्यों के बारे में जान सकते हैं। रुद्रधारी फाल्स के बारे में बताया जाता है कि इस जगह का भगवान शिव और विष्णु से संबंध है, यहां झरने के निकट भगवान शिव को समर्पित सोमेश्वर का मंदिर स्थित है।

3.2 कौसानी का प्रमुख दर्शनीय स्थल बैजनाथ मंदिर – Kausani Ka Pramukh Darshniya Sthal Baijnath Temple In Hindi

कौसानी का प्रमुख दर्शनीय स्थल बैजनाथ मंदिर – Kausani Ka Pramukh Darshniya Sthal Baijnath Temple In Hindi

बैजनाथ शहर कौसानी से करीब 20 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है जो कौसानी के प्रमुख दर्शनीय स्थलों में से एक हैं। यह ऐतिहासिक शहर कई प्राचीन मंदिरों और धार्मिक स्थलों से सजा हुआ है। यह शहर कभी कत्युरी राजवंश की राजधानी के रूप में कार्य करता था। बैजनाथ मंदिर का निर्माण 12 वीं शताब्दी के दौरान किया गया था और पौराणिक कथा के अनुसार भगवान शिव और पार्वती का विवाह यहां गूर नदी और गोमती नदी के संगम पर हुआ था।

और पढ़े: नैनीताल में घूमने की जगह और पर्यटन स्थल की जानकारी

3.3 कौसानी की खूबसूरत जगह ग्वालदम – Kausani Ki Khubsurat Jagha Gwaldam In Hindi

कौसानी की खूबसूरत जगह ग्वालदम – Kausani Ki Khubsurat Jagha Gwaldam In Hindi

ग्वालदम, गढ़वाल और कुमाऊं के बीच बसा एक सुंदर विचित्र गाँव है। जो कई जंगलों और छोटी झीलों से भरा हुआ है। 1700 मीटर की ऊंचाई पर देवदार के जंगलों और सेब के बागों के बीच स्थित यह गाँव नंदादेवी, त्रिशूल और नंदादेवी जैसी चोटियों के कुछ विस्तृत और मनोहारी नजारों को दिखाता है।

3.4 कौसानी में देखने की जगह सुमित्रानंदन पंत संग्रहालय- Kausani Me Dekhne Layak Jagha Sumitranandan Pant Museum In Hindi

सुमित्रानंदन पंत संग्रहालय एक कलात्मक एक जगह है, जो अपने आप में एक अलग ही दुनिया है। कौसानी में जन्में सिद्ध हिंदी कवि को समर्पित यह संग्राहलय उनके रचनात्मक कार्यों की एक विस्तृत श्रृंखला प्रस्तुत करता है। यहां पर अंग्रेजी और हिंदी में उनकी पुस्तकों का एक बड़ा संग्रह कांच की अलमारियों रखा गया है। हर साल उनकी सुमित्रानंदन पंत जयंती के मौके पर संग्रहालय में एक काव्य चर्चा का आयोजन किया जाता है।

3.5 कौसानी टी एस्टेट- Kausani Tea Estate In Hindi

कौसानी टी एस्टेट- Kausani Tea Estate In Hindi

कौसानी टी एस्टेट एक ऐसी जगह है जो प्रकृति और चाय प्रेमियों के लिए एक स्वर्ग के सामान है। आप इस जगह पर आकर प्राकृतिक के बेहद करीब होने का एहसास करेंगे। मुख्य शहर से 5 किमी दूर स्थित कौसानी टी एस्टेट 208 हेक्टेयर के क्षेत्र में फैली हुई है। यहां पर आप अलग स्वाद वाली चाय का स्वाद ले सकते है और उसे खरीद सकते हैं। नवंबर से मार्च कौसानी टी एस्टेट बंद रहता है।

4. कौसानी जाने का सबसे अच्छा समय क्या है- What Is The Best Time To Visit Kausani In Hindi

अगर आप कौसानी हिल स्टेशन जाने के अच्छे समय के बारे में जानना चाहते हैं तो बता दें कि यहां जाने का सबसे अच्छा समय अप्रैल- जून और अक्टूबर – फरवरी महीनों के बीच का होता है। कौसानी अपनी भौगोलिक स्थिति और घनी वनस्पति के कारण अप्रैल से जून के अंत तक कई पर्यटकों को अपनी तरफ आकर्षित करता है। इस समय इस हिल स्टेशन की जलबायु बहुत सुखद होती है, जिससे की आप इस पर्यटक स्थल को अच्छी तरह से एक्स्प्लोर कर सकते हैं। अक्टूबर से फरवरी तक यहां सर्दियों का मौसम होता है जो कौसान की यात्रा के लिए एक अच्छा समय है।

और पढ़े: देवप्रयाग की यात्रा के बारे में पूरी जानकारी

5. कौसानी में रेस्तरां और स्थानीय भोजन- Kausani Restaurants And Local Food In Hindi

कौसानी उत्तराखंड में स्थित एक छोटा सा हिल स्टेशन है, जहाँ के होटल और उसके रेस्तरां में भारतीय, चीनी और कुछ खास व्यंजनों सहित कई व्यंजनों में भोजन परोसते हैं। हालांकि यहां के प्रमुख रेस्तरां होटलों के बाहर कम ही देखने को मिलते हैं। इसके अलावा आप स्वादिष्ट भोजन परोसने वाले कुछ ढाबों और सड़क के किनारे मिलने वाले स्ट्रीट फूड का स्वाद भी चख सकते हैं।

6. कौसानी कैसे पहुँचे- How To Reach Kausani In Hindi

कौसानी कैसे पहुँचे- How To Reach Kausani In Hindi

अगर आप कौसानी की यात्रा के लिए जा रहे हैं तो आपको बता दें कि कौसानी का अपना कोई हवाई अड्डा या रेलवे स्टेशन नहीं है। कौसानी पहुंचने का सबसे अच्छा तरीका एक टैक्सी किराए पर लेना है या फिर नई दिल्ली से चलने वाली नियमित बसों में सफर करना।

6.1 फ्लाइट से कौसानी कैसे पहुंचे- How To Reach Kausani By Flight In Hindi

कौसानी का निकटतम हवाई अड्डा पंतनगर हवाई अड्डा है जो कौसानी से 162 किलोमीटर दूर है। इस हवाई अड्डे पर पहुंचने के बाद आप बाहर से टैक्सी किराए पर लेकर आसानी से अपनी मंजिल तक पहुँच सकते हैं। कौसानी के निकटतम प्रमुख हवाई अड्डे देहरादून और नई दिल्ली में हैं

6.2 सड़क मार्ग से कौसानी कैसे पहुंचे- How To Reach Kausani By Road In Hindi

कौसानी के लिए उत्तराखंड के पडोसी राज्यों से नियमित बसें चलती हैं अगर आप दिल्ली से यात्रा कर रहे हैं तो आप वहां से चलने वाली नियमित बसों की मदद ले सकते हैं। दिल्ली से कौसानी के लिए दो मार्ग 433 किलोमीटर और 405 किलोमीटर के हैं दोनों से आप अपनी सुविधा अनुसार सफर कर सकते हैं।

6.3 ट्रेन से कौसानी कैसे पहुँचे- How To Reach Kausani By Train In Hindi

कौसानी का प्रमुख रेलवे स्टेशन 132 किलोमीटर की दूरी पर काठगोदाम रेलवे स्टेशन है। यह स्टेशन भारत के प्रमुख शहरों जैसे दिल्ली, लखनऊ और कोलकाता आदि से अच्छी तरह जुड़ा हुआ है। इस जगह के लिए आपको लगातर ट्रेन मिल जायेंगी। ट्रेन के माध्यम से काठगोदाम पहुंचने के बाद आप बस या टैक्सी से कौसानी पहुंच सकते हैं।

6.4 कौसानी में स्थानीय परिवहन- Local Transport In Kausani In Hindi

कौसानी शहर के अंदर टैक्सी किराए पर लेकर इसके आसपास के खास पर्यटन स्थलों को आसानी से घूम सकते हो।

और पढ़े: रानीखेत के 5 प्रमुख दर्शनीय स्थल

7. कौसानी की लोकेशन का मैप – Kausani Location

8. कौसानी की फोटो गैलरी – Kausani Images

और पढ़े:

Write A Comment