Generic selectors
Exact matches only
Search in title
Search in content
Search in posts
Search in pages

राजस्थान के माउंट आबू में स्तिथ नक्की झील हरी भरी अरावली पहाड़ियों के बीच बनी एक सुंदर और चमकदार झील है। यह लेक पहाड़, उद्यान और चट्टानों से घिरा हुआ है। मॉनसून सीजन में आप अपने प्रियजनों के साथ इस झील की मन मोहक हवाओं का आनंद लेने आ सकते हैं। यह एकमात्र भारतीय कृत्रिम झील है जो समुद्र तल से 1200 किमी की ऊंचाई पर बनाई गई है।

इस झील से कई पुरानी कहानियां जुड़ी हुई हैं। इन्ही के अनुसार, यह झील नखों या नाखूनों का उपयोग करके देवताओं द्वारा बनाई गई थी। यही कारण है कि यह नक्की झील के नाम से प्रसिद्ध है। इस झील पर नौकायन करने के लिए जरुर जाएँ, और खुशहाल यादों के साथ वापस आयें जिन्हें आप अपने पूरे जीवन भर याद रखेगें।

  1. नक्की झील कहाँ स्तिथ है – Where Is Nakki Lake Situated In Hindi
  2. नक्की झील का इतिहास – History Related To Nakki Lake In Hindi
  3. नक्की झील में नौकायन – Boating In Nakki Lake In Hindi
  4. नक्की झील नौकायन शुल्क – Boating Fee In Nakki Lake In Hindi
  5. नक्की झील देखने का समय और प्रवेश शुल्क – Entrance Fee And Timings Of Sightseeing At Nakki Lake In Hindi
  6. नक्की झील के नजदीक के आकर्षण केंद्र – Attraction Points Near Nakki Lake In Hindi
  7. नक्की झील जाने का सबसे अच्छा समय – Best Time To Visit Nakki Lake In Hindi
  8. नक्की झील माउंट आबू में घूमने के लिए टिप्स – Tips For Visiting Nakki Lake In Hindi
  9. नककी झील तक कैसे पहुंचे – How To Reach Nakki Lake In Hindi

1. नक्की झील कहाँ स्तिथ है – Where Is Nakki Lake Situated In Hindi

माउंट आबू में नक्की झील अरवली पर्वत में स्थित है, जिसे स्थानीय रूप से नक्की लेक के नाम से जाना जाता है। यह झील प्रकृति प्रेमियों के लिए एक स्वर्ग है। अद्भुत प्राकृतिक चमत्कारों से घिरी हुई, यह झील वास्तव में माउंट आबू में लगी एक मणि के सामान है। यह भारत में पहली मानव निर्मित झील है जिसमें लगभग 114 फीट या 35 मीटर की गहराई और चौड़ाई एक चौथाई मील जितनी है।

2. नक्की झील का इतिहास – History Related To Nakki Lake In Hindi

नक्की झील कई मान्यताओं से जुड़ी हुई है। यहाँ मरणोपरांत महात्मा गांधी की राख का विसर्जन 12 फरवरी 1948 को हुआ था और गांधी घाट का निर्माण किया गया था।

ऐसा कहा जाता है कि नक्की झील उन देवताओं द्वारा बनाई गई थी जिन्होंने राक्षसों से बचने के लिए इस झील को अपने नाखूनों से खोदा था। इसलिए, इसे नक्की झील कहा जाता था। इसका नाम धीरे-धीरे ‘नख की’ झील से नक्की झील पड़ गया।

एक और मान्यता के अनुसार, एक स्थानीय निवासी रसिया बलाम यहाँ के राजा की बेटी से शादी करना चाहता था लेकिन शादी के लिए एक शर्त थी, की जो व्यक्ति एक रात में झील खोदेगा, राजा उसके साथ अपनी राजकुमारी का ब्याह कर देगा। रसिया बलाम ने उस शर्त को पूरा कर किया और रात भर में नाखूनों से झील खोद दी, लेकिन राजकुमारी की माँ ने धोका दिया और रसिया बलाम ने राजकुमारी से विवाह न होने पर अपनी जान दे दी।

राजकुमारी का और रसिया बलाम का मंदिर नक्की झील के पास जैन मंदिर के पीछे स्थित है।

3. नक्की झील में नौकायन – Boating In Nakki Lake In Hindi

नक्की झील में नौकायन - Boating In Nakki Lake In Hindi

माउंट आबू की यात्रा नक्की झील के बिना अधूरी है। जैसे ही आप झील में बोटिंग करते हैं, आप झील के आस-पास की राजसी पहाड़ियों, प्रकृति और अजीब आकार की चट्टानों के मनोरम दृश्यों का आनंद ले सकते हैं। यहाँ दो प्रकार की नौकाएं उपलब्ध हैं, पेडल नौकाएं और शिकारा। नौकायन का ताजगी से भरा अनुभव तीस मिनट का होता है जिसमें आप पूरी नक्की झील का दौरा करते हैं।

4. नक्की झील नौकायन शुल्क – Boating Fee In Nakki Lake In Hindi

  • नक्की झील में 30 मिनिट की सवारी के लिए चार्ज प्रति व्यक्ति 50 से 100 रुपये के बीच है।
  • इसके अलावा शिकारे की सवारी के लिए प्रति व्यक्ति 100 रूपए है जो की 30 मिनट की सवारी के लिए है।

5. नक्की झील देखने का समय और प्रवेश शुल्क – Entrance Fee And Timings Of Sightseeing At Nakki Lake In Hindi

नककी झील में कोई प्रवेश शुल्क नहीं है। झील सुबह 9:30 बजे से शाम 6:00 बजे तक पर्यटकों के लिए खुली होती है।

6. नक्की झील के नजदीक के आकर्षण केंद्र – Attraction Points Near Nakki Lake In Hindi

रसिया बालम और कुंवारी कन्या (राजा की बेटी) का मंदिर दिलवाड़ा जैन मंदिर के पीछे स्थित है। नक्की झील के चारों ओर एक बहुत ही शांत और रोमांटिक वातावरण है। माउंट आबू में श्री रघुनाथजी मंदिर, टॉड रॉक और महाराजा जयपुर पैलेस झील के बहुत करीब हैं। इसके अलावा बैंडिट्स लव, सनसेट पॉइंट इसके पास स्थित है। झील के साथ गांधी घाट भी बनाया गया है।

नक्की झील से लगी एक पहाड़ी पर प्रसिद्ध टॉड रॉक है। यह मेंडक के आकर की पहाड़ी है जिसे देखकर ऐसा लगता है जैसे कोई मेंडक झील में कूदने वाला हो। अंत में, यात्रा झील में एक शांतिपूर्ण नाव की सवारी के बिना अधूरी है। यह प्रकृति का आनंद लेने के लिए एक परफेक्ट जगह है, नक्की झील आना आपके यादगार लम्हों में शामिल हो जायेगा।

7. नक्की झील माउंट आबू जाने का सबसे अच्छा समय – Best Time To Visit Nakki Lake In Hindi

नक्की झील की सैर करने के लिए आप पूरे साल कभी भी जा सकते है। हालांकि, यंहा जाने का सबसे अच्छा समय मानसून और सर्दियों के दौरान होता है। मानसून में तापमान 30 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहता है, और यह सर्दियों में 12 डिग्री सेल्सियस से नीचे नहीं गिरता है। मानसून में अद्भुद हरियाली के कारण झील की सुंदरता देखते ही बनती है। माउंट आबू में ग्रीष्म ऋतु अपेक्षाकृत गर्म है क्योंकि पारा 39 डिग्री तक पहुँच जाता है। इसलिए आपको नक्की झील माउंट आबू राजस्थान में मार्च-जून के बीच आने से बचना चाहिये। आपको जुलाई से जनवरी तक नक्की झील आने की प्लानिंग करनी चाहिए। और जब दिन के सबसे अच्छे समय की बात की जाए, तो झील में सुबह जाना बेहतर है। क्योंकि शाम में पर्यटकों की बहुत भीड़ होती है।

8. नक्की झील माउंट आबू में घूमने के लिए टिप्स – Tips For Visiting Nakki Lake In Hindi

  • नक्की लेक में आप फोटोग्राफी कर सकते हैं।
  • नक्की लेक में जाने से पहले आरामदायक कपड़े पहने।
  • टिकिट्स पर्यटकों को नक्की लेक के पास ही मिल जाते हैं।
  • आप गर्मियों में भी माउन्ट आबू जा सकते हैं क्योंकि यहाँ मौसम काफी अच्छा होता है।

9. नक्की झील माउंट आबू तक कैसे पहुंचे – How To Reach Nakki Lake In Hindi

नक्की झील माउंट आबू के मुख्य बाजार के पास गणेश रोड पर स्थित है। यहाँ आसानी से टैक्सी के माध्यम से पहुंचा जा सकता है। आप एक ऑटोरिक्शा भी किराए पर ले सकते हैं। नक्की झील का पूरा पता है – नक्की झील, माउंट आबू, राजस्थान, 307501, भारत।

Read More: केदारनाथ का इतिहास, जाने से पहले जरूर जान लें ये बातें – Kedarnath Yatra, History Of Kedarnath In Hindi

Write A Comment