मांडू का प्रसिद्ध जहाज महल घूमने की जानकारी – Jahaz Mahal Mandu Information In Hindi

Jahaz Mahal In Hindi, जहाज महल मांडू, मध्यप्रदेश के धार जिले में मांडव क्षेत्र में स्थित एक ऐतिहासिक किला हैं। जहाज महल मंडाव का एक बहुत ही प्रसिद्ध पर्यटन स्थल है इसलिए इसे मंडाव का किला और मांडू महल के नाम से भी जाना जाता है। मांडू महल बाज बहादुर और रानी रूपमती के अमर प्रेम का प्रतीक है। मांडू का किला एक जहाज के आकार का हैं जोकि प्राचीन समय में मानव द्वारा बनाए गए दो तालाबो के बीच में निर्मित किया गया है। जहाज महल को “हिडोला महल” की पहचान इसकी टेडी दीवारों के कारण मिली हैं। इस किले पर शासन करने वाले पहले इस्लामिक सुल्तान होशंगशाह गौरी थे जिन्होंने 1406-1435 के दौरान यहाँ शासन किया था। मांडू के किले की आकर्षित संरचना और ऐतिहासिक महत्व पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करती हैं जबकि नर्मदा नदी के तट पर बसे होने की वजह से इसका आकर्षण और अधिक बढ़ जाता हैं।

मंडाव शहर का प्राचीन नाम मांडवगढ़ था जोकि दुनिया का सबसे बड़े किलों का शहर के नाम से जाना जाता था। दुनिया भर से हर साल हजारों की संख्या में पर्यटक यहाँ मांडू जहाज महल घूमने के लिए आते हैं। मांडू में रानी रूपमती महल, हिंडौला महल, होशंगशाह का मकबरा आदि प्रमुख आकर्षण हैं। यदि आप मांडू का किला घूमने और और इसके बारे में अधिक जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो हमारे इस लेख को पूरा जरूर पढ़े –

1. मांडू के किले का इतिहास – Mandu Fort History In Hindi

मांडू के किले का इतिहास

मांडू के किले(जहाज महल) का इतिहास लगभग 10 वीं शताब्दी से माना जाता है जब राजा भोज ने मांडू को एक किले के रूप में स्थापित किया था। राजा भोज के अनुसार मांडू सबसे सुरक्षित स्थान माना जाता था। सन 1304 में राजा भोज को हराकर दिल्ली के मुस्लिम शासकों ने मांडू पर जीत हासिल कर ली थी। इसके बाद 13 वीं शताब्दी में मांडू शहर का नाम मालवा के सुल्तानों द्वारा खुशियों का शहर रखा गया था। सन 1526 में गुजरात के बहादुर शाह ने मांडू के किले (जहाज महल) पर अपना अधिपत्य जमा लिया था। मांडू पर कई राजाओं ने राज्य किया परन्तु बाज बहादुर एक मात्र स्वतंत्र शासक बने जिन्होंने मांडू पर सबसे ज्यादा समय तक अपना अधिकार जमाए रखा।

और पढ़े: इंदौर में घूमने लायक पर्यटन स्थलों की जानकारी 

2. मांडू महल की संरचना – Mandu Mahal Architecture In Hindi

मांडू महल की संरचना

मांडू महल की संरचना तालाब में तैरते हुए जहाज की तरह प्रतीत होती हैं। मांडू का किला तालाब के बीच में बनी हुई एक आकर्षित संरचना हैं। जहाजनुमा 100 मीटर लम्बी संरचना को दूर से देखने पर यह पानी में खड़े हुए एक विराट (विशाल) जहाज की भाती दिखाई देता है। मांडू की खूबसूरत संरचना देखते ही बनती है। मांडू शहर में प्रवेश करने के लिए 12 दरवाजे है जोकि 45 किलोमीटर के क्षेत्र में फैले हुए है। उनमे से जो मुख्य दरवाजा है। इसके मुख्य दरवाजे दिल्ली दरवाजा के नाम से जाना जाता है और अन्य दरवाजे रामगोपाल दरवाजा, जहांगीर दरवाजा और तारापुर दरवाजा कहलाता है। ऐसा कहा जाता है की ये दरवाजे घुमावदार मोड़ पर स्थित है इसलिए यहाँ आते ही हाथियों की गति धीमी हो जाती थी। इन दरवाजो का निर्माण सन 1405 से सन 1407 के दौरान करबाया गया था।

3. जहाज़ महल के खुलने और बंद होने के समय – Jahaz Mahal Mandu Timing In Hindi

जहाज़ महल पर्यटकों के लिए सुबह 6 बजे से शाम के 7 बजे तक खुला रहता है। अगर आप जहाज़ महल मांडू अच्छे से घूमना चाहते है तो कम से कम 2 घंटे का समय आपके पास होना बहुत जरुरी है।

4. मांडू महल का प्रवेश शुल्क – Jahaz Mahal Entry Ticket In Hindi

मांडू महल का प्रवेश शुल्क

  • भारतीय के लिए :  5 रूपये प्रति व्यक्ति
  • विदेशी नागरिक के लिए : 100 रूपये प्रति व्यक्ति
  • विडियो कैमरा के लिए : 25

5. मांडू के किले का निर्माण किसने करवाया – Who Constructed The Jahaz Mahal In Hindi

मांडू के प्रसिद्ध किले का निर्माण राजा बाज बहादुर ने 16 वीं शताब्दी में अपनी रानी रानी रूपमती की याद में करवाया था।

6. मंडाव किसके लिए प्रसिद्ध है – Why Mandav Is Famous In Hindi

मंडाव शहर अपने प्रसिद्ध किलों के लिए प्रसिद्ध है। मंडाव का सबसे आकर्षक किला रानी रूपमती का महल है जिसे बाज बहादुर ने बनबाया था। मांडू किला महल राजा बाज बहादुर और रानी रूपमती के अमर प्रेम की कहानी से जुड़ा हुआ है। इस किले के अलावा भी मांडू में अनेकों ऐसे आकर्षक स्थान है जो मांडू की प्रसिद्धि का कारण है।

और पढ़े: ग्वालियर घूमने की जानकारी और प्रमुख पर्यटन स्थल

7. जहाज महल मांडू के आसपास में घूमने के लिए प्रसिद्ध पर्यटन स्थल – Best Places To Visit Near Jahaz Mahal In Hindi

जहाज महल मांडू के आसपास घूमने के लिए आपको मांडू शहर के कई ऐतिहासिक और आकर्षित पर्यटन स्थल मिलेंगे जोकि पर्यटकों के आकर्षण का प्रमुख केंद्र बने हुए हैं। आप इन खूबसूरत स्थानों पर घूमने के लिए जा सकते हैं।

7.1 रानी रूपमती का मंडप – Rani Rupmati Pavilion In Hindi

रानी रूपमती का मंडप

रानी रूपमती का मंडाव मांडू का सबसे ज्यादा आकर्षित करने वाला किला है। रानी रूपमती और मांडू के राजा बाज बहादुर की प्रेम कहानी के लिए इस महल को जाना जाता हैं। प्राचीन इतिहासकारों द्वारा बताया गया था की रानी रूपमती बहुत ही खूबसूरत महिला थी और एक हिन्दू गायिका भी थी। रानी रूपमती से मोहित होकर बाज बहादुर ने उनसे विवाह कर लिया था। माना जाता हैं कि रानी रूपमती को नर्मदा नदी के दर्शन किए पानी का एक घूंट भी नही पीती थी। यही प्रमुख कारण था जिसकी वजह बाज बहादुर ने नर्मदा नदी के तट पर इस महल का निर्माण करबाया जहां से रानी नर्मदा नदी के दर्शन कर सके। रानी रूपमती महल बलुआ पत्थर से बने मंडप की की सुन्दर संरचना हैं।

7.2  बाज बहादुर महल – Baz Bahadur Palace In Hindi

बाज बहादुर महल

बाज बहादुर महल का निर्माण राजा बाज बहादुर द्वारा 16वीं शताब्दी में कराया गया था। बाज बहादुर महल मांडू के सबसे आकर्षक और दर्शनीय स्थानों में से एक है। बाज बहादुर महल ऊँचे छतों और बड़े-बड़े हॉल के साथ अपने सुन्दर आंगनों के लिए बहुत प्रसिद्ध है। बाज बहादुर महल रानी रूपमती महल के निचे स्थित है जिसे रानी रूपमती के मंडप से आसानी से देखा जा सकता है। मांडू के अंतिम स्वतंत्र नेता बाज बहादुर के इस महल में इस्लामिक शैली देखने को नही मिलती बल्कि यह राजस्थानी शैली में डिजाईन किया गया महल है।

7.3 जहाज महल – Jahaz Mahal In Hindi

जहाज महल

जहाज महल मांडू का बहुत ही आश्चर्यजनक महल है। इस महल का निर्माण मांडू सुल्तान गियास-उद-दीन खिलजी द्वारा करवाया गया था। जहाज महल दो तालाबों के बीच बना हुआ है जोकि पानी में तैरते हुए जहाज के जैसा दिखाई देता है। जहाज महल को शिप पैलेस के नाम से भी जाना जाता है। इसकी अद्भुत संरचना के कारण जहाज महल मांडू के प्रसिद्ध दर्शनीय स्थलों में से एक बन गया है जहां हर साल पर्यटक घूमने आते है।

7.4 जामा मस्जिद – Jama Masjid In Hindi

जामा मस्जिद

जामा मस्जिद को होशंगशाह गौरी के मकबरे के नाम से भी जाना जाता है। जामा मस्जिद का निर्माण होशंगशाह गौरी द्वारा शुरू किया गया था जोकि मांडू का प्रथम इस्लामिक सुलतान था। परन्तु इस मस्जिद के निर्माण कार्य को पूरा करने का श्रेय मोहम्मद खिलजी को जाता है। खूबसूरत लाल पत्थरों से बनी यह मस्जिद आज भी मांडू के आकर्षण का केंद्र बनी हुई है।

7.5 हिंडोला महल – Hindolamahal In Hindi

हिंडोला महल

हिंडोला महल मांडू का बहुत ही आकर्षक और लोकप्रिय पर्यटन स्थल है जिसका निर्माण बलुआ पत्थरों द्वारा किया गया था। हिंडोला महल का निर्माण होशंगशाह के शासन के समय शुरू हुआ था और गियास-अल-उद-दीन के शासन काल में समाप्त किया गया था। हिंडोला महल की टेढ़ी दीवारों के कारण इस महल को हिंडोला महल या झूला महल कहा जाता है। महल के चारों और कई देखने लायक आकृतियाँ बनी हुई है।

और पढ़े: साँची स्तूप घूमने की जानकारी और इसके पर्यटन स्थल 

7.6 रीवा कुण्ड – Rewa Kund In Hindi

रीवा कुण्ड

रीवा कुण्ड मांडू का वह कुण्ड है जो पर्यटकों को आश्चर्य में डाल सकता है। राजा बाज बहादुर द्वारा बनबाया गया रीवा कुण्ड रानी रूपमती महल के नीचे स्थित है। रीवा कुण्ड से ही रानी रूपमती मंडप महल में जल की पूर्ती होती थी।

7.7 अशर्फी महल – Ashrafi Mahal In Hindi

अशर्फी महल

अशर्फी महल मांडू के उन लोकप्रिय स्थानों में से एक है जिसे महमूद शाह खिलजी द्वारा बनाया गया था। अशर्फी महल शिक्षा को बढ़ाबा देने के उद्देश्य से बनाया गया था ताकि मांडू की जनता में शिक्षा का प्रचार-प्रसार हो सके। इस महल की वास्तुकला देखने लायक थी लेकिन अब यह महल पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गया है। खंडहरों के रूप में दिखने वाला यह महल आज भी लोकप्रिय स्थानों में गिना जाता है।

7.8 जैन मंदिर – Jain Temple In Hindi

जैन मंदिर

जैन मंदिर मांडू के प्राचीन जैन तीर्थों में गिना जाने वाला आकर्षक पर्यटन स्थल है। जैन मंदिर में प्रसिद्ध जैन तीर्थकरों की सोने, चांदी और संगमरमर की मूर्तियाँ स्थापित है। जैन मंदिर में एक ऐतिहासिक संग्रहालय भी स्थित है जिसका नाम थीम पार्क ऐस्क जैन संग्रहालय है। जैन मंदिर पहाड़ों के ऊपर स्थित होने के कारण पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करता है।

7.9 श्री चतुर्भुज राम मंदिर – Shree Chaturbhuj Ram Mandir In Hindi

श्री चतुर्भुज राम मंदिर
Image Credit: Jaimin Patel

श्री चतुर्भुज राम मंदिर मांडू में स्थित है जोकि दुनिया का एक मात्र ऐसा मंदिर है जिसमे राम भगवान की चार भुजाओं वाली प्रतिमा स्थापित है। यही कारण है कि यह दुनिया के सबसे ज्यादा देखे जाने वाले स्थानों में शामिल है। श्री चतुर्भुज राम मंदिर का निर्माण मधुकर शाह ने 17वी शताब्दी में करवाया था।

7.10 होशंगशाह का मकबरा – Hoshangshah Tomb In Hindi

होशंगशाह का मकबरा

होशंगशाह का मकबरा मांडू का बहुत ही आकर्षक स्थान है जहां प्रसिद्ध सुल्तान होशंगशाह की समाधि है। इसी मकबरे से प्रेरित होकर शाहजहाँ ने ताजमहल का निर्माण करवाया था। होशंगशाह मकबरा संगमरमर से बना हुआ है। इसमें कब्र के सबसे ऊपर आधे चन्द्रमा के मुकुट के समान संरचना है जोकि अफगानी शैली में बनी हुई है।

और पढ़े: उज्जैन के आध्यात्मिक शहर की यात्रा

8. मांडू का किला घूमने जाने का सबसे अच्छा समय – Best Time To Visit Jahaz Mahal Mandu In Hindi

मांडू का किला घूमने जाने का सबसे अच्छा समय

अगर आप मांडू का किला घूमने जाने का सही समय जानना चाहते है तो हम आपको बता दे कि मांडू का किला घूमने जाने का सबसे अच्छा समय अक्टूबर से मार्च महीने के बीच का माना जाता है। क्योंकि समय के दौरान मौसम सुखद और अनुकूल रहता हैं जिसमे आप मांडू की यात्रा आसानी से सुखद माहौल में कर सकते है ।

9. मांडू का प्रसिद्ध भोजन – Famous Food Of Mandu In Hindi

मांडू का प्रसिद्ध भोजन

मांडू के प्रसिद्ध भोजन में मुख्य रूप से पोहा, दाल-बाफले, दाल-बाटी और मीठे पकवानों में मालपुआ बहुत लोकप्रिय व्यंजन है। मांडू में पर्यटकों को शाकाहारी व्यंजन ज्यादा देखने को मिलेगा।

10. मांडू किले के आस-पास कहाँ रुके – Where To Stay Near Jahaz Mahal In Hindi

मांडू किले के आस-पास कहाँ रुके

मांडू का किला और यहाँ के प्रमुख पर्यटन स्थल घूमने के बाद यदि आप यहाँ किसी आवास स्थान की तलाश में हैं तो हम आपको बता दें कि मांडू में आपको लो-बजट से लेकर हाई-बजट तक होटल आसानी से मिल जाएंगे है। आप अपने बजट के अनुसार गेस्ट हाउस और लक्जरी होटलों में रुक सकते हैं।

  • मालवा रिसोर्ट (Malwa Resort)
  • मांडू सराई  (Mandusarai)
  • जहाज महल होटल मांडू  (Jahajmahal Hotel Mandu)
  • होटल शिवानी रिसोर्ट  (Hotel Shivani Resort)
  • गवर्नमेंट रेस्ट हाउस मांडू (Government Rest House Mandu)

और पढ़े: खजुराहो दर्शनीय स्थल, मंदिर और घूमने की जगह 

11. मांडू कैसे पहुंचे – How To Reach Mandu In Hindi

मांडू का किला घूमने जाने के लिए पर्यटक फ्लाइट, ट्रेन और बस में से किसी का भी चुनाव कर सकते है। तो आइये जानते है की हम फ्लाइट, ट्रेन और सड़क मार्ग से मांडू केसे पहुचें –

11.1 मांडू फ्लाइट से कैसे पहुंचे – How To Reach Mandu By Flight In Hindi

मांडू फ्लाइट से कैसे पहुंचे

अगर आपने मांडू का किला जाने के लिए हवाई मार्ग का चुनाव किया है तो हम आपको बता दे कि मांडू का सबसे निकटतम हवाई अड्डा देवी अहिल्या बाई होल्कर हवाई अड्डा (Devi Ahilya Bai Holkar Airport) है जोकि इंदौर शहर में स्थित है। मांडू से देवी अहिल्या बाई होल्कर हवाई अड्डे की दूरी लगभग 96 किलोमीटर हैं। आप इस हवाई अड्डे से किसी स्थानीय साधन के माध्यम से मांडू आसानी से पहुँच सकते है।

11.2 मांडू ट्रेन से कैसे पहुंचे – How To Reach Mandu By Train In Hindi

मांडू ट्रेन से कैसे पहुंचे

अगर आपने मांडू का किला जाने के लिए रेलवे मार्ग का चुनाव किया है तो हम आपको बता दे कि मांडू का अपना कोई रेलवे स्टेशन नही है। परन्तु मांडू के सबसे नजदीक रतलाम रेलवे स्टेशन है जोकि मांडू से लगभग 130 किलोमीटर की दूरी पर स्थित हैं। रतलाम से आप किसी बस या टैक्सी के माध्यम से मांडू आसानी से पहुँच सकते है।

11.3 मांडू सड़क मार्ग से कैसे पहुंचे – How To Reach Mandu By Road In Hindi

मांडू सड़क मार्ग से कैसे पहुंचे

मांडू सड़क मार्ग द्वारा भारत के सभी प्रमुख शहरों अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है आप बस या किसी अन्य साधन से सड़क मार्ग के माध्यम से आसानी से मांडू पहुँच सकते है।

और पढ़े: भोपाल के प्रमुख दर्शनीय और पर्यटक स्थल 

इस आर्टिकल में आपने मांडू किला का इतिहास और इसकी यात्रा से जुड़ी जानकारी को जाना है आपको हमारा यह लेख केसा लगा हमे कमेंट करके जरूर बतायें।

इसी तरह की अन्य जानकारी हिन्दी में पढ़ने के लिए हमारे एंड्रॉएड ऐप को डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक करें। और आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं।

12. जहाज महल मांडू का नक्शा – Jahaz Mahal Mandu Map

13. मांडू महल की फोटो गैलरी – Jahaz Mahal Images

https://www.instagram.com/p/B4Ot_Wbl6We/?utm_source=ig_web_button_share_sheet

https://www.instagram.com/p/B1RDVbqAHiX/?utm_source=ig_web_button_share_sheet

और पढ़े:

Leave a Comment