चोपता घाटी की यात्रा और इसके पर्यटक स्थल –  Chopta Valley Uttarakhand Information in Hindi

Chopta Valley Uttarakhand Information in Hindi, चोपता उत्तराखंड में केदारनाथ की अद्भुत घाटी में बसा एक छोटा गाँव है जोकि एक बहुत ही आकर्षक पर्यटन स्थल है। चोपता ट्रेक सर्दियों के मौसम में ट्रेकिंग करने के लिए भारत के सबसे अद्भुद और रोमांचक ट्रेको में से एक है जो बड़ी संख्यां में ट्रेकर्स और पर्यटकों को अपनी और आकर्षित करता है। वास्तव में सर्दियों के मौसम में बर्फ से ढके हिमालय के पहाड़ों के बीच ट्रेकिंग करना जीवन के सबसे शानदार अनुभवों में से एक है जिसमे आप त्रिशूल, नंदा देवी और चौखम्भा की बर्फ से ढंकी चोटियों के सुंदर परिदृश्यों को देख सकते है।

इसके अलावा यह आकर्षक जगह अल्पाइन और देवदार के वृक्षो से सजी हुई है जो किसी भी पर्यटक का मन मोहने के लिए पर्याप्त है। चोपता घाटी अपने रोमांचक ट्रेक मार्ग के साथ – साथ अपने पर्यटक स्थलों के लिए भी काफी फेमस है जिन्हें पर्यटको द्वारा खूब पसंद किया जाते है। यदि आप भी उतराखंड की इस खुबसूरत जगह घूमने जाने का प्लान बना रहे है या इसकी रोमांचक ट्रिप के बारे में जानने के लिए उत्साहित है तो इसके लिए आप हमारे इस आर्टिकल को पूरा अवश्य पढ़े –

Table of Contents

 चोपता घाटी ट्रिप के लिए औसत बजट – Budget For Chopta Valley Trip in Hindi

यदि आप उत्तराखंड की मशहुर चोपता घाटी के लिए एक व्यक्तिगत ट्रेक के लिए योजना बना रहे हैं, तो आपको बता दे चोपता घाटी ट्रिप के लिए औसत बजट 15,000 से 20,000 के बीच हो सकता है। लेकिन यदि आप अपने फ्रेंड्स के साथ ग्रूप टूर पर घूमने जा रहे है, तो आपके बजट को थोड़ा कम भी किया जा सकता है। यदि आप दिल्ली के निवासी हैं, तो लागत को और कम किया जा सकता है क्योंकि किसी को उड़ान भरने की आवश्यकता नहीं है। लेकिन यदि आप किसी अन्य स्थान से यात्रा कर रहे हैं, तो उड़ान शुल्क की वजह से ट्रेक की लागत थोड़ी अधिक होगी।

इसके अलावा ट्रेकिंग पर जाने से पहले आपको कुछ आवश्यक चीजें खरीदनी पड़ सकती है, जो आपका थोड़ा अतिरिक्त खर्च करा सकती हैं। चोपता वैली में ट्रेकिंग के लिए कई पैकेज भी उपलब्ध है जिनका चुनाव आप अपने बजट और इच्छानुसार कर सकते है। इसलिए चोपता घाटी ट्रिप के लिए कम से कम 15,000 से 20,000 रूपये के बजट के साथ चलने की सलाह दी जाती है।

चोपता घाटी ट्रेक – Chopta Valley Trek in Hindi

चोपता घाटी ट्रेक - Chopta Valley Trek In Hindi in Hindi

चोपता चंद्रशिला ट्रेक भारत के सबसे प्रसिद्ध और उच्च ऊंचाई वाले ट्रेको में से एक है। चोपता घाटी ट्रेक चोपता से शुरू होता है जो तुंगनाथ (विश्व का सबसे ऊँचा शिव मंदिर) तक जाता है जो पांच किलोमीटर लंबा है। इस ट्रेक के दौरान केदारनाथ, चौखम्बा, नंदा देवी और त्रिशूल जैसे विभिन्न हिमालयी चोटियों के 360 ° दृश्यों को देखा जा सकता है। साथ ही यह क्षेत्र अल्पाइन वनस्पति की सुंदरता के लिए भी प्रसिद्ध है। जबकि ट्रेक का मुख्य आकर्षण भगवान शिव को समर्पित 1000 साल पुराना तुंगनाथ मंदिर हैं।

बता दे चोपता चंद्रशिला ट्रेक की ट्रेकिंग बर्ष के किसी भी समय की जा सकती है, हालांकि सर्दियों के मौसम में बर्फबारी के कारण यह ट्रेक कठिन हो जाता है क्योंकि चोपता के लिए रास्ता बंद हो जाता है।

 चोपता घाटी का मौसम – Weather Of Chopta Valley In Uttarakhand in Hindi

किसी भी स्थान पर घूमने जाने या ट्रेक पर जाने से पहले उस जगह के मौसम की जानकारी होना अति आवश्यक है। इसीलिए यदि आप चोपता घाटी घूमने और ट्रेकिंग के लिए जाने वाले है तो जान लें अक्टूबर से जनवरी के बीच चोपता वैली का अधिकतम तापमान -15 डिग्री सेल्सियस से 15 डिग्री सेल्सियस के बीच कहीं भी रह सकता है और इस दौरान इस स्थान पर भारी बर्फबारी भी देखी जा सकती है। जबकि मार्च से मई के महीनों के दौरान औसत तापमान 12 डिग्री सेल्सियस से 21 डिग्री सेल्सियस के बीच कहीं भी रह सकता है। इसीलिए मौसम के आधार पर, चोपता घाटी के लिए ट्रेक की योजना बनाये।

चोपता वैली घूमने जाने का सबसे अच्छा समय – Best Time to visit Chopta Valley in Hindi

चोपता वैली घूमने जाने का सबसे अच्छा समय – Best time to visit Chopta Valley in Hindi
Image credit : Vineet Choudhary

उत्तराखंड में चोपता घाटी की यात्रा के लिए सर्दियों (अक्टूबर से जनवरी) का समय सबसे अच्छा समय होता है, खासकर जब आप बर्फ से ढके पहाड़ो के सुंदर परिदृश्यों देखते हुए ट्रेकिंग करना चाहते है। लेकिन यदि आप चोपता वैली में ट्रेकिंग के साथ साथ अन्य पर्यटक स्थलों की यात्रा भी करना चाहते हैं और हरे-भरे घाटी का एक अद्भुत दृश्य प्राप्त करना चाहते हैं, तो उसके लिए आपको मार्च से मई के महीनो के दौरान चोपता वैली की यात्रा करनी चाहिये। देखा जाये तो आप अपनी ट्रिप के अनुसार अक्टूबर से मई के बीच कभी भी चोपता घाटी की यात्रा कर सकते है।

और पढ़े : उत्तराखंड के पंच प्रयाग की यात्रा और इसके प्रमुख पर्यटन स्थल की जानकारी

चोपता में घूमने की जगहें – Places To Visit In Chopta in Hindi

यदि आप अपने दोस्तों के साथ चोपता वैली घूमने जाने का प्लान बना रहे है तो हम आपको बता दे चोपता घाटी अपने ट्रेक मार्ग के साथ साथ अपने पर्यटक और दर्शनीय स्थलों के लिए भी कभी प्रसिद्ध जिन्हें आप अपनी चोपता घाटी में ट्रेकिंग के दौरान घूम सकते है, तो हम आइये नीचे चोपता वैली के पर्यटक स्थलों के बारे में जानते है-

तुंगनाथ मंदिर – Tungnath Temple in Hindi

तुंगनाथ मंदिर - Tungnath Temple in Hindi

तुंगनाथ मंदिर चोपता के पहाड़ों की चोटी के बीच बसा हुआ एक प्रसिद्ध शिव मंदिर है। यह मंदिर 1000 साल पुराना है जो समुद्र तल से 3680 मीटर की उंचाई पर स्थित है। यह मंदिर भगवान शिव को समर्पित है, जो उत्तराखंड में स्थित पांच पवित्रतम शिव मंदिरों में से एक है। चोपता में घूमने की जगहों के रूप में सूचीबद्ध तुंगनाथ मंदिर चोपता से 4 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है जहाँ 2 घंटे की ट्रेकिंग करके पहुचा जा सकता है। यदि आप चोपता वैली घूमने जाने वाले है तो अपनी ट्रेकिंग के दौरान तुंगनाथ मंदिर अवश्य जायें।

और पढ़े : भगवन शिव का प्राचीन तुंगनाथ मंदिर चोपता उत्तराखंड के दर्शन की पूरी जानकारी

कंचुला खरक कस्तूरी मृग अभयारण्य चोपता – Kanchula Korak Musk Deer Sanctuary Chopta In Hindi

कंचुला खरक कस्तूरी मृग अभयारण्य चोपता – Kanchula Korak Musk Deer Sanctuary Chopta In Hindi

(Places To Visit In Chopta in Hindi) कंचुला खरक कस्तूरी मृग अभ्यारण्य चोपता का प्रमुख पर्यटक स्थल है जोकि चोपता में घूमने के लिए सबसे अच्छी जगहों में शामिल हैं। यह अभयारण्य कई प्रकार की वनस्पतियों से घिरा हुआ है जो प्रजनन कस्तूरी मृग और अन्य हिमालयी जानवरों के लिए भी जाना जाता है। यदि आप एक वन्यजीव प्रेमी हैं, तो आप निश्चित रूप से इस खूबसूरत अभयारण्य में समय बिताना पसंद करेंगे।

देवरिया ताल – Deoria Tal in Hindi

देवरिया ताल – Deoria Tal in Hindi
Image credit : Sandeep Bangwal

देवरिया ताल उखीमठ-गोपेश्वर मार्ग पर स्थित है जो चोपता ट्रेक का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है। चोपता में बर्फ से ढके पहाड़ों के बीच सुबह-सुबह झील का अनुभव करना जीवन के सबसे यादगार अनुभवों में से एक हो सकता है। झील चारों तरफ से चीड़ से घिरी हुई और इस झील का अन्य आकर्षण चौखम्बा पीक का प्रतिबिम्ब है जो वास्तव देखने योग्य है। देवरिया ताल का दौरा करना अपने आप में एक शानदार अनुभव है जिसमे आप सारी गाँव के सुंदरा नजारों को समेटते हुए देवरिया ताल की तरफ बढ़ते है।

सारी गाँव – Sari Village in Hindi

सारी गाँव – Sari Village in Hindi
Image credit : Dibyendu Dey

सारी गाँव उत्तराखंड के सबसे खूबसूरत गाँवों में से एक है जो बहुत सारे ट्रेकर्स और यात्रियों को आकर्षित करता है। यह गाँव ट्रेकर्स के लिए एक आधार शिविर के रूप में कार्य करता है, जहाँ पर्यटकों और ट्रेकर्स के रुकने के लिए आवासीय सुविधाएं उपलब्ध हैं, और अक्सर मौसम ख़राब होने पर ट्रेकर्स इस सुंदर गाँव में रुकते है। देखा जाये तो सारी गाँव पर्यटकों और ट्रेकर्स सभी के दृष्टिकोण से चोपता में घूमने के लिए सबसे अच्छी जगहों में से एक है जो सुंदर परिदृश्यो के साथ साथ उत्तराखंड के लोगों की जीवन शैली और संस्कृति के बारे में जानने का अवसर प्रदान करती है।

उखीमठ – Ukhimath in Hindi

उखीमठ - Ukhimath in Hindi

उखीमठ चोपता की यात्रा में घूमने के लिए सबसे प्रमुख तीर्थ स्थलों में से एक है जहाँ आज भी भगवान शिव और माता पार्वती के कई सारे पुराने मंदिर स्थित है। इसके साथ ही वाणासुर, उषा और अनिरुद्ध की कहानियों की जानकारी भी इसी स्थान पर छुपी हुई है। उखीमठ एक प्रसिद्ध धार्मिक स्थल के साथ साथ एक बहुत ही खूबसूरत हिल स्टेशन है जो हिमालय के शानदार दृश्य प्रदान करता है। रुद्रप्रयाग जिले की निचली पहाड़ियों में, 1300 मीटर की ऊंचाई पर बसा यह हिल स्टेशन श्रद्धालुओं और यात्रियों दोनों को समान रूप से आकर्षित करता है।

बनियाकुंड – Baniyakund in Hindi

बनियाकुंड – Baniyakund in Hindi
Image credit : Narinder Singh

बनियाकुंड चोपता के आकर्षक घास के मैदानों में से एक है जिनमें ट्रेकर्स के लिए कई आवास विकल्प उपलब्ध हैं। इसलिए बनियाकुंड को ट्रेकर्स के लिए एक निवास स्थान कहना गलत नही होगा। चोपता ट्रेकिंग के दौरान अधिकाँश ट्रेकर्स अपने ट्रेक के दौरान बेस कैंप के रूप में इस स्थान का चयन करते हैं। ट्रेकर्स के साथ साथ पर्यटकों के लिए भी यह जगह पसंदीदा बनी हुई है जहाँ आप हरे-भरे घास के मैदान में आराम कर सकते है और इसके आसपास के सुंदर परिदृश्यों को देख सकते है।

रोहिणी बुग्याल – Rohini Bugyal in Hindi

रोहिणी बुग्याल कैम्पिंग के लिए चोपता की सबसे अच्छी जगहों में से एक है, क्योंकि यह स्थान घने जंगलों से भरा हुआ है। राजसी हिमालय की गोद में बसा रोहिणी बुग्याल चोपता के सबसे विचित्र गाँवों में से एक है जो सभी ट्रेकर्स के लिए स्वर्ग है। रोहिणी बुग्याल में कैम्पिंग के दौरान गढ़वाल हिमालय के दूरगामी नजारे देखे जा सकते है और अक्सर ट्रेकर्स चोपता ट्रेक के दौरान रोहिणी बुग्याल में कैम्पिंग करते हुए देखे जाते है।

और पढ़े : तुंगनाथ की चंद्रशिला शिखर घूमने की पूरी जानकारी 

चोपता वैली की यात्रा के लिए टिप्स – Tips for Travel to Chopta Valley in Hindi

चोपता वैली की यात्रा के लिए टिप्स - Tips for Travel to Chopta Valley in Hindi

  • यदि आप चोपता घाटी में ट्रेक करने वाले है तो ध्यान रखें की ट्रेकिंग के लिए उस ट्रेक का चुनाव करे जो आपके लिए सुविधाजनक हो।
  • ट्रेक पर जाने से पहले सुनश्चित कर लें की आपके पास ट्रेकिंग के लिए आवश्यक चीजें है। (Chopta Valley Uttarakhand Information in hindi)
  • चोपता घाटी घूमने जाने से पहले आवास और रहने के विकल्पों पर शोध अवश्य कर लें, क्योंकि यहाँ रुकने के लिए काफी सीमित विकल्प मौजूद है।
  • यात्रा पर जाने से पहले ध्यान रहे की आप अपने बजट के अनुसार चोपता वैली की यात्रा की प्लानिंग करें।
  • सबसे महत्वपूर्ण बात चोपता घाटी में ट्रेकिंग करने से पहले यह अच्छी तरह से जांच कर लें की आप ट्रेकिंग और अन्य एक्टिविटिज में शामिल होने के लिए पूर्ण फिट है।

चोपता वैली की यात्रा के लिए पैकिंग – Packing for a Trip to Chopta Valley in Hindi

पेकिंग यात्रा का सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा होता है जिस पर पूरी ट्रिप निर्भर करती है। अगर पेकिंग में थोड़ी सी भी कमी रह जाती है, तो पूरी यात्रा अधूरी-अधूरी सी लगती है। इसीलिए अगर आप चोपता घाटी घूमने जा रहे है तो नीचे दी गयी कुछ महत्वपूर्ण चीजो की पेकिंग करना बिलकुल ना भूलें, इनके अलावा आप मौसम के अनुसार पैकिंग में बदलाव कर सकते है।

  • गरम कपड़े
  • थर्मल
  • ट्रेकिंग जूते
  • लंबी पैदल यात्रा की लाठी
  • बारिश की जैकेट
  • दस्ताने
  • मोज़े
  • ऊनी टोपी
  • सनग्लासेस
  • टूथब्रश
  • टूथपेस्ट
  • लिप बाम
  • सन प्रोटेक्शन क्रीम
  • मॉइस्चराइज़र
  • फर्स्ट ऐड किट (प्राथमिक चिकित्सा किट)

चोपता के रेस्टोरेंट और कैफे – Restaurants & Cafes In Chopta in Hindi

रेस्टोरेंट और कैफे - Restaurants & Cafes In Chopta
Image credit : Bimalnarayan Rath

(Chopta Valley Uttarakhand Information in hindi) जब आप चोपता में ट्रैकिंग कर रहे होगे, तो उस दौरान खाने के लिए आपके पास बहुत सारे विकल्प नहीं होंगे। लेकिन जब आप चोपता में रहेगे तो उस दौरान आपको खाने के लिए बिभिन्न विकल्प मिल जायगें। शिवांश कैफे एंड रेस्टोरेंट, चोपता और उसके आसपास के प्रसिद्ध कैफ़ो में से एक है जहाँ आप कुछ स्नैक्स खाने के लिए जा सकते हैं। इसके अलावा जब आप इस कैफ़े में होते हैं तो चिकन सिज़लर और पैन ऑमलेट को चखना बिलकुल ना भूलें। बता दे स्नैक्स के अलावा, इस स्थान पर दोपहर के भोजन की सुविधा भी है।

और पढ़े : उत्तराखंड के प्रसिद्ध हिल स्टेशन लैंसडाउन यात्रा की पूरी जानकारी

चोपता में रुकने के लिए होटल्स – Chopta Hotels and Resorts in Hindi

चोपता में रुकने के लिए होटल्स – Chopta Hotels and Resorts in Hindi

यदि आप अपने दोस्तों के साथ चोपता वैली घूमने जाने का प्लान बना रहे है और अपनी यात्रा के दौरान चोपता में रुकने के लिए होटल्स की तलाश में है, तो हम आपकी जानकारी के लिए चोपता में सभी बजट की होटल्स उपलब्ध है जिनकी आप अपनी सुविधानुसार चुनाव कर सकते है-

  • द मीडोस चोपता रिसोर्ट एंड कैंप (The Meadows Chopta Resort And Camp)
  • श्रृष्टि लॉज होटल (Shrishti Lodge Hotel)
  • मोक्ष होटल (Moksha Hotel)
  • फारेस्ट इको रिसोर्ट(Forest Eco Resort)
  • गुरु कृपा पैलेस एंड अंशु होटल (Guru Kripa Palace And Anshu Hotel)
  • हॉलिडे पार्क होटल (Holiday Park Hotel)

चोपता घाटी केसे जायें – How to Reach Chopta Valley in Hindi

(Chopta Valley Uttarakhand Information in Hindi) चोपता एक छोटा शहर है, इसलिए वहां पर कोई हवाई अड्डा या ट्रेन स्टेशन नहीं हैं। चोपता का सबसे नजदीकी हवाई अड्डा देहरादून अड्डा है जबकि निकटतम रेलवे स्टेशन हरिद्वार में स्थित है। इसीलिए बसों, टैक्सियों या निजी कारों से यात्रा करके चोपता पहुचना सबसे बेहतर विकल्प हो सकता हैं। लेकिन उसके बाद भी यदि आप फ्लाइट या ट्रेन से यात्रा करना चाहते है तो आइये विस्तार से जानते है की हम फ्लाइट,ट्रेन और सड़क मार्ग से चोपता केसे पहुंचे।

फ्लाइट से चोपता घाटी केसे जायें – How to Reach Chopta Valley by Flight in Hindi

फ्लाइट से चोपता घाटी केसे जायें - How to Reach Chopta Valley by Flight in Hindi

चोपता घाटी का सबसे नजदीकी हवाई अड्डा जॉली ग्रांट हवाई अड्डा है जो चोपता से लगभग 226 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। फ्लाइट से चोपता घाटी पहुचने के लिए देहरादून के लिए उड़ान भरना सबसे अच्छे विकल्पों में से एक है। एयरपोर्ट पहुचने के बाद आप टैक्सी या बस की मदद से चोपता घाटी पहुँच जायेगे।

ट्रेन से चोपता घाटी केसे पहुचें – How to Reach Chopta Valley by Train in Hindi

ट्रेन से चोपता घाटी केसे पहुचें - How to Reach Chopta Valley by Train in Hindi

यदि आपने चोपता वैली की यात्रा के लिए रेल मार्ग का चुनाव किया है तो हम आपकी जानकारी के लिए बता दे चोपता का सबसे निकटतम रेलवे स्टेशन ऋषिकेश रेलवे स्टेशन है जो चोपता से लगभग 100 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। ट्रेन से यात्रा करके ऋषिकेश रेलवे स्टेशन पहुचने के बाद आप बस या एक टेक्सी किराये पर लेकर चोपता घाटी जा सकते है।

सड़क मार्ग से चोपता घाटी केसे पहुचें – How to Reach Chopta Valley by Road in Hindi

सड़क मार्ग से चोपता घाटी केसे पहुचें - How to Reach Chopta Valley by Road in Hindi

सड़क मार्ग से चोपता घाटी की यात्रा करना सबसे अच्छा तरीका है। चोपता पहुचने के लिए आप उत्तराखंड के प्रमुख शहरों से बस ले सकते है या एक टेक्सी बुक कर सकते है। इसके अलावा आप NH58 के माध्यम से अपने निजी वाहन से यात्रा करके भी चोपता वैली जा सकते है।

और पढ़े : उत्तराखंड के प्रमुख पर्यटन स्थल और घूमने की जानकारी

चोपता घाटी का मेप – Map of Chopta Valley in Hindi

और पढ़े :

Leave a Comment