Generic selectors
Exact matches only
Search in title
Search in content
Search in posts
Search in pages

Charminar In Hindi चारमीनार भारत की सबसे खूबसूरत इमारत में से एक है। हैदराबाद के केंद्र में स्थित चारमीनार अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर मान्यता प्राप्त ऐतिहासिक आइकन है। पर्यटन स्थल के रूप में यह स्मारक लोगों को बेहद आकर्षित करती है। जब कुतुब शाह ने अपनी राजधानी को गोलकोंडा से हैदराबाद स्थानांतरित कर दिया था तब यह स्मारक बनाई गई थी।

चारमीनार को इसकी संरचना से इसका नाम मिला क्योंकि इसमें चार मीनारें हैं। चारमीनार के आसपास का क्षेत्र रंग-बिरंगी चूड़ियों, आभूषणों, मोतियों और शानदार व्यंजनों के लिए लोकप्रिय है। चारमीनार और इसके आसपास के बाजरों की सैर किए बिना पयर्टक शायद ही कभी हैदराबाद शहर को छोड़े। कई लोगों का मानना ​​है कि ये चार मीनारें इस्लाम के पहले चार खलीफाओं के लिए है। यह मुसी नदी के पूर्वी तट पर स्थित है इसे भारत में अद्भुत संरचनाओं में से एक माना जाता है।

बता दें किे स्मारक हैदराबाद में एक महामारी के अंत का जश्न मनाने के लिए 1591 में बनाया गया था। चारमीनार, कुतुब शाही मकबरों और गोलकुंडा किले के साथ यूनेस्को की विश्व धरोहर स्थलों की “अस्थायी सूची” में जोड़ा गया है। अगर आप चारमीनार की यात्रा करने की सोच रहे हैं तो आपको चारमीनार की यात्रा से जुड़ा ये आर्टिकल बड़ा काम आएगा। तो चलिए जानते हैं चारमीनार से जुड़ी कुछ खास और जरूरी बातें।

  1. चारमीनार का अर्थ क्या है – What Is Meant By Charminar In Hindi
  2. चारमीनार का इतिहास – History Of Charminar In Hindi
  3. चारमीनार की संरचना – Structure Of Charminar In Hindi
  4. चारमीनार में भाग्यलक्ष्मी मंदिर – Bhagya Lakshmi Temple In Charminar In Hindi
  5. चारमीनार से जुड़े रोचक तथ्य – Interesting Facts About Charminar In Hindi
  6. चारमीनार में खरीदारी – Shopping In Charminar In Hindi
  7. चारमीनार में मोती की शॉपिंग – Shopping Of Pearl In Charminar In Hindi
  8. चारमीनार के संडे बाजार से खरीद सकते हैं ये चीजें भी – Sunday Market Of Charminar In Hindi
  9. चारमीनार खुलने का समय और एंट्री फीस – Charminar Opening Time, Entry Fee In Hindi
  10. चारमीनार घूमने का सही समय – Best Time To Visit Charminar In Hindi
  11. कैसे पहुंचे हैदराबाद की चारमीनार – How To Reach Charminar In Hindi
  12. चारमीनार में क्या खास है – What Is Special About Charminar In Hindi
  13. चारमीनार बनाने के लिए किस चट्टान का उपयोग किया जाता है – Which Rock Is Used To Make Charminar In Hindi
  14. चारमीनार में कितनी सीढ़ियां हैं – How Many Steps Are There In Charminar In Hindi
  15. 1947 में हैदराबाद पर किसका शासन था – Who Ruled Hyderabad In 1947 In Hindi
  16. क्या चारमीनार एक मस्जिद है – Is Charminar A Mosque In Hindi
  17. क्या चारमिनार एक विश्व धरोहर स्थल है – Is Charminar A World Heritage Site In Hindi
  18. चारमिनार का पता – Charminar Location
  19. चारमिनार की फोटो – Charminar Images

1. चारमीनार का अर्थ क्या है – What Is Meant By Charminar In Hindi

चारमीनार का अर्थ क्या है - What Is Meant By Charminar In Hindi

सामान्य तौर पर चारमीनार का अर्थ चार मीनारों या टॉवर से है। उर्दू में चार का अर्थ है “चार” और मीनार का अर्थ “टॉवर” से है। हर मीनार एक इस्लामी नेता को प्रदर्शित करती है। चारमीनार धार्मिक और ऐतिहासिक महत्व रखती है। इसके अलावा चारमीनार कुली कुतुब शाह और भागमती के बीच प्रेम और रोमांस का भी प्रतीक भी है।

2. चारमीनार का इतिहास – History Of Charminar In Hindi

चारमीनार को कुतुब शाही वंश के पांचवे शासक सुल्तान मुहम्मद कुली कुतुब शाह ने बनवाया था जब उन्होंने अपनी राजधानी को गोलकुंडा से हैदराबाद स्थानांतरित कर दिया था। इतिहासकारों के अनुसार, पानी की अपर्याप्तता और प्लेग ने कुली कुतुब शाही को अपनी राजधानी स्थानांतरित करने के लिए मजबूर किया। उन्होंने एक वादा किया था, कि अगर उनके शहर में लोगों की पीड़ा कम हो गई तो वह एक स्मारक बनवाएंगे। चारमीनार शहर से प्लेग के निर्णय और उन्मूलन के लिए बनाया गया था।

कुछ किंवदंतियों के अनुसार कुली कुतुब शाह ने अपनी प्यारी पत्नी बाघमती को इस स्थल पर देखा था। उन्होंने अपनी पत्नी के लिए अपने शाश्वत प्रेम के प्रतीक के रूप में चारमीनार का निर्माण किया। एक किंवदंती यह भी है कि चारमीनार के नीचे एक गुप्त सुरंग है जो इसे गोलकुंडा किले से जोड़ती है। यह आपात स्थिति के समय में शाही परिवार के पलायन के लिए बनाई गई थी।

3. चारमीनार की संरचना – Structure Of Charminar In Hindi

चारमीनार की संरचना - Structure Of Charminar In Hindi

चारमीनार की संरचना एक आदर्श है, जो शिया तज़ियास के आकार से प्रेरित है, जिसकी लंबाई 20 मीटर है। इसमें चार भव्य मेहराब हैं जो चार सड़कों में खुलता है। एक डबल बालकनी के साथ प्रत्येक कोने पर 56 मीटर लंबा मीनार है। प्रत्येक मीनार पर पंखुड़ियों जैसे डिजाइन के साथ एक गुंबद है। ऊपरी मंजिल तक पहुंचने के लिए आपको 149 सीढ़ियां चढ़नी पड़ती हैं। संरचना ग्रेनाइट, मोर्टार, संगमरमर और चूना पत्थर से बनी है। खुली छत के पश्चिमी छोर पर स्थित एक मस्जिद है, जहाँ शुक्रवार को सामूहिक प्रार्थना होती है। भक्त लोग मस्जिद के अंदर बहुत ही शांतिपूर्ण तरीके से नमाज अदा कर सकते थे। आप चारमीनार की बालकनियों से शहर का एक विहंगम दृश्य देख सकते हैं। चारमीनार की संरचना फारसी प्रभावों के साथ भारत-इस्लामी वास्तुकला का एक उत्कृष्ट उदाहरण है। स्मारक के मेहराब और गुंबद इस्लामी वास्तुकला के प्रभाव को परिभाषित करते हैं, जबकि फारसी प्रभाव इसके मीनारों से प्रमुख है। बालकनी और बाहर की दीवारें, छत पर प्लास्टर पुष्प अलंकरणों से अलंकृत हाँ जो वास्तुकला की हिंदू शैली के प्रभाव को प्रदर्शित करती हैं। चारमीनार की दूसरी मंजिल और ऊपरी स्तंभ जनता के लिए खुले नहीं हैं।

4. चारमीनार में भाग्यलक्ष्मी मंदिर – Bhagya Lakshmi Temple In Charminar In Hindi

चारमीनार के बेस पर एक छोटा मंदिर है जिसे “भाग्यलक्ष्मी मंदिर” कहा जाता है जो काफी समय से विवादों का केंद्र रहा है। प्रमुख इस्लामी स्थलों में से एक में मौजूद मंदिर की विडंबना को परिभाषित करते हुए, इसकी उम्र के बारे में तर्क दिए गए हैं। हिंदू अखबार ने 2012 में एक फोटो प्रकाशित की जिसमें दावा किया गया कि मंदिर चारमीनार जितना पुराना नहीं है। कई लोगों ने कहा कि यह हालिया संरचना है, स्पष्ट रूप से कहा गया है कि 1957 और 1962 में चारमीनार में ली गई तस्वीरों में कोई भी मंदिर मौजूद नहीं था। चारमीनार देखने आने वाले लोग इस मंदिर में दर्शन करने जरूर आते हैं।

5. चारमीनार से जुड़े रोचक तथ्य – Interesting Facts About Charminar In Hindi

चारमीनार से जुड़े रोचक तथ्य - Interesting Facts About Charminar In Hindi

  • चारमीनार की ऐतिहासिक आयु 450 वर्ष है जो इसे भारत में सबसे पुराना स्मारक बनाती है। उम्र के अनुसार, इस स्मारक की संरचना अभी भी अच्छी तरह से बनाए रखी गई है और मजबूत है।
  • चारमीनार को जानबूझकर शहर हैदराबाद के बीच में बनाया गया है। यह शहर की 2 वर्ग मीटर की सड़क के साथ चारमीनार के पास एक ग्रिडिरॉन डिज़ाइन के ऊपर बना हुआ था।
  • चारमीनार का आध्यात्मिक महत्व बहुत अधिक है। यह समझा जाता है कि चारमीनार का निर्माण एक उपक्रम का सम्मान करने के लिए किया गया था, जिसे राजा कुलीकुतब शाह ने अल्लाह को दिया था।
  • हैदराबाद का निर्माण एक अद्भुत सोच के साथ किया गया है। महान राजा कुलीकुतुब शाह ने इस स्मारक का निर्माण एक स्मरण के रूप में करने का फैसला किया था जब शहर के लोगों को हानिकारक प्लेग से मुक्ति मिल गई थी।
  • आपको चारमीनार के अंदर एक बिल्ली का सिर मिलेगा जो पूर्वी दिशा में थोड़ा झुकता है। क्या आप सोच सकते हैं कि बिल्ली का सिर क्यों बनाया गया था। इसका निर्माण यह संकेत देने के लिए किया गया था कि बिल्ली शहर में चूहों को नष्ट कर देती है जो एक बार हैदराबाद को तबाह कर चुके हैं।
  • क्या आपने कभी ईरानी शहर इस्फ़हान के स्मारकों के बारे में सुना है? अगर नहीं तो हम आपको बताते हैं।
  • हैदराबाद के निर्माता यानी कुली कुतुब शाह को इस्फ़हान शहर के स्मारकों से इतना रोमांचित किया गया कि उन्होंने हैदराबाद शहर में ही इसे बनाने का फैसला किया।
  • यह भी कहा जाता है कि चारमीनार को राजा कुलीकुतुब शाह ने अपनी दिवंगत पत्नी भागमथी की यादों के बदले बनवाया था। चारमीनार को प्यार और स्नेह का प्रतीक भी माना जाता है।

6. चारमीनार में खरीदारी – Shopping In Charminar In Hindi

चारमीनार में खरीदारी - Shopping In Charminar In Hindi

चारमीनार कई चीजों के लिए प्रसिद्ध है, लेकिन लिप स्मैकिंग डिशेज और शानदार सौदेबाजी के लिए सबसे ज्यादा जानी जाती है। चारमीनार क्षेत्र में लाड बाज़ार सबसे पुराना और मुख्य बाजार है। यह चूड़ी, मोती, आभूषण, अर्ध-कीमती पत्थरों, चांदी के बर्तनों, कलामकारी चित्रों, साड़ियों, रेशम सामग्री, सोने की कढ़ाई वाले कपड़े, लाह की चूड़ियों, इटार और पारंपरिक खरा दुपट्टे के लिए लोकप्रिय है। इसके अलावा पर्यटक यहां से गोलकोंडा पेंटिंग, बिद्री वर्क और गोंगुरा अचार भी खरीद सकते हैं। चारमीनार क्षेत्र मनोरम खाद्य पदार्थों के लिए भी प्रसिद्ध है जो हैदराबादी व्यंजनों का गौरव हैं। भीड़-भाड़ वाली सड़कों पर खरीदारी करते हुए आप यहाँ उपलब्ध पारंपरिक खाद्य पदार्थों जैसे कि बिरयानी, मिर्ची का सालन, हलीम का स्वाद चख सकते हैं। इसके अलावा यहाँ प्रसिद्ध ईरानी चाय की चुस्की लेना न भूलें।

7. चारमीनार में मोती की शॉपिंग – Shopping Of Pearl In Charminar In Hindi

चारमीनार में मोती की शॉपिंग – Shopping Of Pearl In Charminar In Hindi

शॉपिंग के लिहाज से चारमीनार के पास का बाजार बेहद आकर्षित कर देने वाला है। हैदराबाद की दुकानों में मोतियों की कोई कमी नहीं है, लेकिन बाजार नकली मोतियों से भी भरा पड़ा है। शॉपिंग करने के दौरान दुकानदारों से सावधान रहने की जरूरत है। एक वास्तविक मोती की भावना को पहचानना महत्वपूर्ण है। मोती की शॉपिंग करने से पहले आपको असली मोती की क्वालिटी जरूर पता होनी चाहिए, अगर आपको असली मोती की पहचान है तो आप ठगी से बच जाएंगे। उच्च गुणवत्ता वाले मोती बहुत चिकने और गोल चिंतनशील होते हैं। मोती को अपने दांतों से रगड़ने से असली मोती की पहचान आसानी से हो जाती है। दांत से रगड़ने पर अगर मोती किरकिराए तो यह असली मोती की पहचान है और अगर ऐसा ना हो तो वह मोती नकली है।

8. चारमीनार के संडे बाजार से खरीद सकते हैं ये चीजें भी – Sunday Market Of Charminar In Hindi

छोटी-छोटी चीजों के लिए चारमीनार का संडे बाजार बहुत मशहूर है। यहां पर आपको कबाब और ईरानी चाय का स्वाद लेने के साथ तमाम खूबसूरत चीजों की झलक देखने को मिलेगी। यहां आपो मोती, डैंटी क्रॉकरी, ताजे फूल और सबसे महत्वपूर्ण पारंपरिक चीजें आप यहां से खरीद सकते हैं। अगर आप पुराने सिक्कों का अच्छा कलेक्शन देखना चाहते हैं तो संडे का घंसी बाजार इसके लिए बहुत प्रसिद्ध है। मक्का मस्जिद और चारमीनार के बीच बने फुटपाथ के स्टॉलों पर सिक्कों का संग्रह आपको आश्चर्यचकित कर देगा। जबकि चारमीनार का लाड बाजार रंग-बिरंगी और डिजाइनर चूढिय़ों के लिए खासा प्रसिद्ध है। यहां आपको ऐसी चूढिय़ां मिलेंगी जो भारत में कहीं और देखने को नहीं मिलेंगी। लाड बाजार के अधिकांश स्टोर पर ब्लैक मेटल के स्लिंग बैग्स आपके खूब मिल जाएंगे।

9. चारमीनार खुलने का समय और एंट्री फीस – Charminar Opening Time, Entry Fee In Hindi

चारमीनार की एंट्री टिकट मात्र 5 रूपए है जो विदेशियों के लिए 100 रूपए है। चारमीनार पयर्टकों के लिए सुबह 9:30 बजे से शाम 5:30 तक खुला रहता है। चारमीनार के अंदर कैमरा ले जाने की अनुमति नहीं है। लेकिन अगर आप अपने साथ कैमरा ले जाना चाहते हैं तो उसके लिए अलग से चार्ज देना होगा।

10. चारमीनार घूमने का सही समय – Best Time To Visit Charminar In Hindi

चारमीनार घूमने का सही समय - Best Time To Visit Charminar In Hindi

वैसे तो हैदराबाद में स्थित राजसी इमारत चारमीनार की यात्रा आप साल में कभी भी कर सकते हैं, लेकिन अगर खासतौर पर आप चारमीनार देखने जा रहे हैं तो अक्टूबर से मार्च तक का समय बहुत अच्छा है। इस समय हैदराबाद का मौसम बेहद सुखद होता है। इस मौसम में आप चारमीनार के अलावा चौमुहल्ला पैलेस, शाहली बंदा, काली कामन, पत्थर गट्टी और पास में स्थित मक्का मस्जिद भी देख सकते हैं।

11. कैसे पहुंचे हैदराबाद की चारमीनार – How To Reach Charminar In Hindi

चारमीनार के नजदीक मेट्रो स्टेशन: वर्तमान में, चारमीनार के लिए कोई मेट्रो कनेक्टिविटी नहीं है, लेकिन ग्रीन लाइन मेट्रो जल्द ही शहर के अन्य हिस्सों में चारमीनार को जोड़ने वाले मार्ग को रोल आउट करेगी।

चारमीनार का सबसे नजदीकी बस अड्डा:

पंच मोहल्ले में चारमीनार रोड पर मक्का मस्जिद के पास चारमीनार बस स्टॉप चारमीनार का सबसे नजदीकी बस स्टैंड है। यह लगभग 800 मीटर की दूरी पर है और साइट पर जाने के लिए 10-12 मिनट का समय लगेगा। वहां बहुत सारे आंध्र प्रदेश राज्य सड़क परिवहन निगम (APSRTC) की बसें हैं जो हैदराबाद को शहर के अन्य छोटे, यहाँ तक कि छोटे हिस्सों से जोड़ती है। चारमीनार हैदराबाद बस स्टेशन से 5 किमी की दूरी पर स्थित है। APSRTC (आंध्र प्रदेश राज्य सड़क परिवहन निगम) शहर के हर हिस्से से नियमित बसें चलाता है। आप शहर के किसी भी स्थान से ऑटोरिक्शा या टैक्सी किराए पर लेकर चारमीनार तक पहुँच सकते हैं।

चारमीनार का सबसे नजदीकी रेलवे स्टेशन:

हैदराबाद डेक्कन रेलवे स्टेशन (HYB) जिसे नामपल्ली रेलवे स्टेशन के रूप में भी जाना जाता है लगभग 4 किलोमीटर पर चारमीनार का निकटतम रेलवे स्टेशन है। हैदराबाद डेक्कन या नामपल्ली से लिंगमपल्ली / फलकनुमा तक चलने वाली हैदराबाद एमएमटीएस (मल्टी-मोडल ट्रांसपोर्ट सिस्टम) ट्रेनें हैं, और शहर के अन्य स्थानों के लिए जाने का एक शानदार तरीका है।

चारमीनार का सबसे नजदीकी हवाई अड्डा:

शमशाबाद में राजीव गांधी अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा शहर में घरेलू और अंतरराष्ट्रीय यातायात को पूरा करता है। इस हवाई अड्डे से सभी प्रमुख घरेलू और अंतर्राष्ट्रीय विमान सेवाएं संचालित होती हैं, जिनमें से कुछ में एयर एशिया, इंडिगो, जेट एयरवेज, एयर इंडिया से लेकर श्रीलंकन ​​एयरलाइंस, मलेशिया एयरलाइंस, ब्रिटिश एयरवेज, कैथे पैसिफिक, एमिरेट्स और एतिहाद एयरवेज शामिल हैं। चारमीनार से राजीव गांधी अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा लगभग 20 किलोमीटर दूर है और आपको वहां पहुंचने में लगभग 45 मिनट लगेंगे।

12. चारमीनार में क्या खास है – What Is Special About Charminar In Hindi

चारमीनार में क्या खास है - What Is Special About Charminar In Hindi

चारमीनार भारत में एक स्मारक है। यह स्मारक 1591 ईस्वी में बनाई गई थी। यह हैदराबाद की सबसे प्रसिद्ध इमारत है और भारत की सबसे प्रसिद्ध इमारतों में से एक है। इसका निर्माण एक घातक प्लेग के अंत का जश्न मनाने के लिए मुहम्मद कुली कुतुब शाही द्वारा कराया गया था।

13. चारमीनार बनाने के लिए किस चट्टान का उपयोग किया जाता है – Which Rock Is Used To Make Charminar In Hindi

चारमीनार दुनिया का पहला स्मारक था जिसका निर्माण लाइम मोर्टार, पलवराइज्ड मार्बल और ग्रेनाइट का उपयोग करके किया गया था। इसके निर्माण के बाद ही दुनिया भर के वास्तुकारों ने विशाल संरचनाओं को बनाने में चूने-मोर्टार की ताकत को पहचान लिया था।

14. चारमीनार में कितनी सीढ़ियां हैं – How Many Steps Are There In Charminar In Hindi

ताजमहल की मीनारों के विपरीत, चारमीनार की चार मीनारें मुख्य संरचना में निर्मित हैं। ऊपरी मंजिल तक पहुंचने के लिए 149 घुमावदार सीढ़ियां हैं।

15. 1947 में हैदराबाद पर किसका शासन था – Who Ruled Hyderabad In 1947 In Hindi

सात निज़ामों ने 1947 तक दो शताब्दियों तक हैदराबाद पर शासन किया। आसफ़ जाही शासक साहित्य, कला, वास्तुकला और संस्कृति और समृद्ध भोजन के महान संरक्षक थे।

16. क्या चारमीनार एक मस्जिद है – Is Charminar A Mosque In Hindi

1591 में निर्मित चारमीनार (“चार मीनारे”) भारत के हैदराबाद, तेलंगाना में स्थित एक स्मारक और मस्जिद है। भारत के सबसे अधिक पहचाने जाने वाले स्ट्रक्चर में चारमीनार हैदराबाद का वैश्विक चिह्न बन गया है।

17. क्या चारमिनार एक विश्व धरोहर स्थल है – Is Charminar A World Heritage Site In Hindi

चारमीनार, हैदराबाद के कुतुब शाही स्मारकों के साथ गोलकोंडा किला, कुतुब शाही मकबरे, यूनेस्को की विश्व विरासत स्थल की “अस्थायी सूची” में शामिल थे। 10 सितंबर, 2010 को यूनेस्को के भारत के स्थायी प्रतिनिधिमंडल द्वारा चारमीनार को वल्र्ड हैरिटेज साइट घोषित किया गया।

और पढ़े: क़ुतुब मीनार की जानकारी – Qutub Minar Information In Hindi

18. चारमिनार का पता – Charminar Location

19. चारमिनार की फोटो – Charminar Images

View this post on Instagram

7.20 AM. #charminar #hyderabad

A post shared by tej (@krishnatejjami) on

और पढ़े: सबरीमाला मंदिर के रोचक तथ्य – Sabarimala Temple Interesting Facts In Hindi

Write A Comment